POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: Hindi Stories

Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
Facebookiya Love..रात के करीब 11 बज रहे थे, कि होटल में मेरे रूम की घंटी बजी। मैं भुनभुनाते हुए, गुस्से में उठ के दरवाजा खोला तो स्तंभित रह गया। सामने "मनु" खड़ी थी। वैसे तो उसका नाम मंजुला था, लेकिन मैं उसको मनु कहने लगा था इधर कुछ दिनों से। अत्यंत साधारण सी खूबसूरती में भी, मुझे वो जान... Read more
clicks 273 View   Vote 0 Like   8:04pm 7 Dec 2016 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
Hindi Storyआज तरुण कुछ ज़्यादा ही देर से अपने घर आया था...शाम के साढ़े सात बज चुके थे ... घर में घुसते ही पापा ने पूछा -"कहाँ था इतनी देर तक ? मोबाइल भी बन्द पड़ा है तेरा ? खबर तो की होती कि देर हो जाएगी .""वो क्या है न पापा की हमलोग भारतीय सेना पर एक डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म बना रहे हैं .उसी की कहा... Read more
clicks 319 View   Vote 0 Like   7:43pm 1 Oct 2016 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
आज की कहानी है लिखी है Shivendra Shukla जी ने ! और जबरदस्त लिखी है बस आराम से पढ़िए कहानी के अंत तक ! रिश्ता हमारा हमेशा से मजबूत था । चाय के बहाने ही सही , छुप छुप के घर उसके हम हो ही आते थे ।हमसे उम्र में बड़ी होने के कारण खुद को ज्यादा बुद्धिमान समझती थी , रोज रात को एक ही सवालशादी कब क... Read more
clicks 257 View   Vote 0 Like   8:21pm 12 Sep 2016 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
Sad Story in Hindiडाकिया बाबा मेरी कोई चिट्ठी आई क्या....? घर के सामने से अपनी पुरानी साइकिल से गुजर रहे भूखन डाकिया दरवाजे के पीछे से प्रीतो की आवाज सुन के एक पल के लिये रुक गए....चश्मे के कोने को आँखों पर सही करके वह चिट्ठियों का बंडल देखने लग जाते है..... एक मिनट बाद बड़ी निराशा के साथ व... Read more
clicks 206 View   Vote 0 Like   6:50pm 4 Sep 2016 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
सपनों से समझोतों तक‬.........Sapneबमुश्किल चौदह साल की उम्र रही होगी जब एक दिन अचानक उसकी पढ़ाई छुड़वा कर उससे कहा गया की अब तुम बड़ी हो रही हो यू इस तरह घर से बाहर निकलना अच्छी बात नही है....!किताबों और कापियों से भरे बस्ते को जिसको वह हरदम पास ही रखती थी.. उससे छीन कर एक ऐसी ऊँची जगह पर ... Read more
clicks 221 View   Vote 0 Like   7:36pm 29 Jul 2016 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
Image Sourceवो बार बार आपने केबिन से ऑफिस की एन्ट्रेंस की ओर देख रहा था ,, तलाश रहा था किसी को या फिर शायद इन्तजार था उसे किसी का ...प्रताप नाम था उसका ,, मैनेजर के पद पर कार्यरत था वो उस कम्पनी में ,,और उसी कम्पनी में कार्यरत थी वो ,,,,संगीता ,,,सांवली किन्तु सुन्दर नैन नख्श वाली एक लड़की !... Read more
clicks 208 View   Vote 0 Like   4:18pm 11 May 2016 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
Image Sourceवो बार बार आपने केबिन से ऑफिस की एन्ट्रेंस की ओर देख रहा था ,, तलाश रहा था किसी को या फिर शायद इन्तजार था उसे किसी का ...प्रताप नाम था उसका ,, मैनेजर के पद पर कार्यरत था वो उस कम्पनी में ,,और उसी कम्पनी में कार्यरत थी वो ,,,,संगीता ,,,सांवली किन्तु सुन्दर नैन नख्श वाली एक लड़की !... Read more
clicks 275 View   Vote 0 Like   4:18pm 11 May 2016 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
Sourceसुबह से कम से कम यह दसवीं बार होगा जब रितु के फोन पर अमित ने कॉल किया होगा.....आफिस के तमाम जरूरी कामों के बीच भी उसे यह बखूबी याद है की आज सुबह से ही रितु कॉल नही रिसीव कर रही....शुरू में जब दो तीन बार उसने कॉल रिसीव नही किया तो अमित को लगा की सो रही होगी पर जब ग्यारह बजने को आय... Read more
clicks 577 View   Vote 0 Like   9:53am 28 Feb 2016 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
Sourceशिवप्रसाद एकाएक बम की तरह फूट पड़े। क्रोध से उनका दुबला-पतला शरीर काँपने लगा। सामने, नीचे फर्श पर दीवार से पीठ टिकाये उनकी बेटी सुषमा जिसे वह प्यार से बिट्टी कहकर बुलाते थे, बैठी थी और उनके आगे किताबें-कापियाँ बिखरी पड़ी थीं। पापा का तमतमाया चेहरा और गुस्सा देख वह का... Read more
clicks 238 View   Vote 0 Like   6:29pm 27 Feb 2016 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
(मेरी एक लघु प्रेम कहानी, ज़रूर पढ़े, प्रतिक्रिया और सुझाव के लिए आमंत्रित)Image Source---"एक नज़र में भी प्यार होता है"------"देर लगी आने में तुमकोशुक्र है फिर भी आये तो"ऑटो में ये गाना उस वक़्त और भी शानदार लगने लगा, जब ऑटो रुकी और एक बेहद खूबसूरत लड़की 'जो शायद जन्नत से भटककर यहाँ चली ... Read more
clicks 304 View   Vote 0 Like   6:23pm 17 Feb 2016 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
sourceएक पिता का ख़त उस बेटे के लिए जो इस दुनिया में आ न सका...डियर प्लेसेंटा,तुम सोच रहे होगे कि पापा ने ये कैसा नाम रखा मेरा। पर क्या करूं, जब से तुमने मम्मी के पेट में उलछ कूद शुरू की, तब से एक ही तो शब्द सुना मैंने- प्लेसेंटा। डॉक्टर आंटी बोली कि प्लेसंेटा खिसक गया है, नर्स बोल... Read more
clicks 304 View   Vote 0 Like   4:37pm 15 Dec 2015 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
Source- moralstories26हाँ प्यार एक पल में नही हो सकता उसे हम crush या आकर्षण कह के भूल सकते है लेकिन जिन्दगी में कई बार ऐसे पल होते है जो चाहे कुछ पल के मोहताज हो उन्हें हम साड़ी जिन्दगी नही भूल सकते | ऐसे ही पल को समेटती एक Short Hindi Love Story पेश कर रहा हूँ पढ़िए और शेयर करिए !कुछ सालों पहले की बात हैं , ... Read more
clicks 153 View   Vote 0 Like   6:53am 26 Oct 2015 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Interesting Post...
Source- moralstories26हाँ प्यार एक पल में नही हो सकता उसे हम crush या आकर्षण कह के भूल सकते है लेकिन जिन्दगी में कई बार ऐसे पल होते है जो चाहे कुछ पल के मोहताज हो उन्हें हम सारी जिन्दगी नही भूल सकते | ऐसे ही पल को समेटती एक Short Hindi Love Story पेश कर रहा हूँ पढ़िए और शेयर करिए !कुछ सालों पहले की बात हैं , ... Read more
clicks 561 View   Vote 0 Like   6:53am 26 Oct 2015 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
Heart TouchingHindi love story-मेरी अधूरी प्रेम कहानी Heart Touching Hindi love story- मेरी अधूरी प्रेम कहानीवो दिन अभी भी याद आता है जब पापा से बहुत जिद करने के बाद 5 रूपए मांगे थे क्यूंकि क्लास में तुमने कहा था तुम्हे गोलगप्पे बहुत पसंद हैं...और मुझे तुम अच्छी लगती थीं...तुम्हारा और मेरा घर आजू बाजू था और रास्... Read more
clicks 391 View   Vote 0 Like   7:45pm 11 Oct 2015 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Interesting Post...
Heart TouchingHindi love story-मेरी अधूरी प्रेम कहानीPhoto courtesy- Google imageवो दिन अभी भी याद आता है जब पापा से बहुत जिद करने के बाद 5 रूपए मांगे थे क्यूंकि क्लास में तुमने कहा था तुम्हे गोलगप्पे बहुत पसंद हैं...और मुझे तुम अच्छी लगती थीं...तुम्हारा और मेरा घर आजू बाजू था और रास्ते में 'कैलाश गोलगप्पे वा... Read more
clicks 397 View   Vote 0 Like   7:45pm 11 Oct 2015 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
दोस्तों आज में आपके साथ शेयर कर रहा हूँ श्री वरुणेन्द्र त्रिवेदी जी द्वारा लिखी हुई दिल को छूने वाली short hindi story- सोम संवेदना-२ ! उम्मीद है ये short hindi story आपको जरूर पसंद आएगी ! आप वरुणेन्द्र त्रिवेदी से फेसबुक पर भी जुड़ सकते है !                              &... Read more
clicks 209 View   Vote 0 Like   3:17pm 5 Oct 2015 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
दोस्तों आज में आपके साथ शेयर कर रहा हूँ श्री वरुणेन्द्र त्रिवेदी जी द्वारा लिखी हुई दिल को छूने वाली short hindi story- सोम संवेदना-२ ! उम्मीद है ये short hindi story आपको जरूर पसंद आएगी ! आप वरुणेन्द्र त्रिवेदी से फेसबुक पर भी जुड़ सकते है !                             ... Read more
clicks 236 View   Vote 0 Like   3:17pm 5 Oct 2015 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
दोस्तों आज में आपके साथ शेयर कर रहा हूँ श्री वरुणेन्द्र त्रिवेदी जी द्वारा लिखी हुई दिल को छूने वाली short hindi story- सोम संवेदना-२ ! उम्मीद है ये short hindi story आपको जरूर पसंद आएगी ! आप वरुणेन्द्र त्रिवेदी से फेसबुक पर भी जुड़ सकते है !                              &... Read more
clicks 139 View   Vote 0 Like   3:17pm 5 Oct 2015 #hindi stories
Blogger: Pushpendra Kumar Singh at Gyan Versha...
एक फकीर 50 साल से एक ही जगह बैठकर रोज़ाना 5 वक़्त की नमाज पढता था | एक दिन आकाश से आकाशवाणी हुई और खुदा की आवाज आई……….. “हे फकीर.! तू  50 साल से नमाज पढ रहा है, लेकिन तेरी एक भी नमाज कबूल नही हुई है ” फकीर के साथ नमाज पढ़ने वाले दूसरे बंदो को बहुत दु:ख हुआ कि, यह बाबा 50 साल से नमाज पढ ... Read more
clicks 319 View   Vote 0 Like   2:48pm 22 Sep 2015 #Hindi Stories
Blogger: Pushpendra Kumar Singh at Gyan Versha...
किसी गाँव में एक व्यक्ति रहता था |  एक बार वह किसी काम से अपने गाँव से शहर की ओर जा रहा था | रास्ते में एक जंगल पड़ता था | जब वह उस जंगल से गुजर रहा था तो उसे प्यास लगी | वह पास ही जंगल में बहने वाली नदी की तरफ गया | उसने पानी पिया और पानी पीने के बाद वापस लौटने लगा तो उसने देखा कि….... Read more
clicks 308 View   Vote 0 Like   2:37pm 22 Sep 2015 #Hindi Stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
“भक्क ! ना जाने कहां से चले आते हैं हर चौराहे पर ,, पता नहीं कहां की पैदाइश हैं ,, माँ बाप जब पाल नहीं पाते तो अय्याशी ही क्यूं करते हैं ?” सुनकर मेरा ध्यान सिग्नल पर मुझसे कुछ दूर खड़ी कार की ओर गया । “बाबूजी खाली 25 रुपिया दई देओ ,, अम्मा […]... Read more
clicks 103 View   Vote 0 Like   6:16pm 21 Sep 2015 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
short hindi story शिक्षाप्रद कहानी: अवसर: Short Hindi Story : शिक्षाप्रद कहानी: अवसरएक नौजवान आदमी एक किसान की बेटी से शादी की इच्छा लेकर किसान के पास गया.किसान ने उसकी ओर देखा और कहा," युवक, तुम मेरे खेत में जाओ. मैं एक एक करके तीन बैल छोड़ने वाला हूँ. अगर तुम तीनों बैलों में से किसी भी एक की&nbs... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   12:02am 20 Sep 2015 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
ज़िन्दगी अवसरों से भरी हुई है. कुछ सरल हैं और कुछ कठिन. पर अगर एक बार अवसर गवां दिया तो फिर वह अवसर दुबारा नहीं मिलेगा. अतः हमेशा प्रथम अवसर को हासिल करने का प्रयास करना चाहिए....... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   6:32pm 19 Sep 2015 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
Must Read : Hart touching Hindi Story किसी कोठी के गेट पर पङी गाय को खिलाने वाली दो रोटी उस मैले कुचैले बच्चे ने उठा ली है ! मुस्करा रहा है वो, संतुष्ट है, लगता है जैसे पगले ने अरबों की दौलत कमा ली है !! बहुत छोटी सी सुकुमार उम्र, पर आँखे भीतर को […]... Read more
clicks 107 View   Vote 0 Like   6:46pm 18 Sep 2015 #hindi stories
Blogger: Dinesh pareek at Ignored Post | Top Intereating Post...
photo courtesy- amarujala.comएक औरत अपने परिवार के सदस्यों के लिए रोज़ाना भोजन पकाती थी और एक रोटी वह वहाँ से गुजरने वाले किसी भी भूखे के लिए पकाती थी..। वह उस रोटी को खिड़की के सहारे रख दिया करती थी, जिसे कोई भी ले सकता था..।एक कुबड़ा व्यक्ति रोज़ उस रोटी को ले जाता और बजाय धन्यवाद देने के अपने... Read more
clicks 95 View   Vote 0 Like   12:57pm 12 Sep 2015 #hindi stories
[Prev Page] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3997) कुल पोस्ट (196200)