POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: प्रेम

Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
           हमारी छोटी सी मसीही मण्डली के लोगों ने मेरे बेटे को,उसके छटे जन्मदिन पर उसे अनपेक्षित उपहार देने की योजना बनाई। मण्डली के लोगों ने जिस कमरे में उसके सन्डे स्कूल की क्लास होती थी,उस कमरे को गुबारों से सजाया और एक छोटी मेज़ पर उसके लिए केक को लाकर रख ... Read more
clicks 37 View   Vote 0 Like   3:00pm 19 Apr 2021 #प्रेम
Blogger: surenda kumar shukla bhramar5 at BHRAMAR KI MADHURI KAARAN AUR NIVAR...
गांव की गोरी ने लूट लिया तन मन-----------------------आम्र मंजरी बौराए तन देख देख केबौराया मेरा निश्च्छल मनफूटा अंकुर कोंपल फूटीटूटे तारों से झंकृत हो आया फिर से मनकोयल कूकी बुलबुल झूलीसरसों फूली मधुवन महका मेरा मनछुयी मुई सी नशा नैन का यादों वादों का झूला वो फूला मनहंसती और लजात... Read more
clicks 16 View   Vote 0 Like   8:56am 19 Mar 2021 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
           स्थानीय समाचार पत्र में छपा लेख छोटा,किन्तु हृदय-स्पर्शी था। बंदी-गृह में कैदियों के लिए आयोजित किए गए एक कार्यक्रम में,जिसमें मसीही विश्वास पर आधारित होकर अच्छे और दृढ़ पारिवारिक संबंध बनाने के बारे में बताया गया,उस कार्यक्रम में भाग लेने वाले... Read more
clicks 63 View   Vote 0 Like   3:00pm 28 Feb 2021 #प्रेम
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5 at BHRAMAR KA DARD AUR DARPAN...
तिरछे नैनों से संधान मत कर प्रिये-----------------------------तिरछे नैनों से संधान मत कर प्रियेछलनी दिल में भी मूरत दिखेगी तेरीढूंढता पूजता रात दिन मै जिसेप्यासा चातक निगाहें तो बरसें तेरी-----------मोम की तू बनी लेे के कोमल हियामत जला मुझको री तू पिघल जाएगीप्रेम दर्पण में तेरे है अटका जिया... Read more
clicks 35 View   Vote 0 Like   7:44am 28 Feb 2021 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
           एक रेडियो कार्यक्रम के प्रस्तुतकर्ता ने अपने श्रोताओं से पूछा,“वह एक चीज़ बताएँ जिसे आप कभी नहीं त्यागेंगे। प्रत्युत्तर में श्रोताओं ने रोचक उत्तर भेजे। कुछ ने अपने परिवारों के लिए कहा,एक आदमी ने अपनी दिवंगत पत्नी की यादों के लिए कहा। कुछ ने अप... Read more
clicks 183 View   Vote 0 Like   3:00pm 17 Jan 2021 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
           मैं शांत होकर उस मशीन में लगे स्ट्रेचर पर लेटी हुई थी, और जब मुझसे कहा जाता था,मैंने अपनी साँस रोक लेती थी, और वह मेरे चारों ओर मशीन घरघराती हुई घूमने लगती थी। मैं जानती थी के अन्य बहुत से लोगों ने एमआरआई जाँच करवाई है;परन्तु मैं कम स्थान वाली जगहों ... Read more
clicks 135 View   Vote 0 Like   3:00pm 11 Jan 2021 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
           हमारे चर्च की सभाएं एक पुराने प्राथमिक विद्यालय में होती हैं। सन 1958 में,अफ्रीकी मूल के विद्यार्थियों को भी श्वेत अमरीकी विद्यार्थियों के साथ बैठकर समान शिक्षा पाने का अधिकार रखने के अमेरिका के न्यायालय के आदेश का पालन करने की बजाए स्कूल के प्र... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   3:00pm 10 Jan 2021 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
           गीत लेखक बिली हिल ने 1936 में एक गाना प्रकाशित किया,जिसका शीर्षक था “The Glory of Love” (प्रेम की महिमा), जो शीघ्र ही सारे देश में बहुत लोकप्रिय हो गया। उस गाने का विषय था एक दूसरे के प्रति प्रेम के कारण छोटे छोटे कार्य भी एक दूसरे के लिए करते रहना। इसके पचास वर्... Read more
clicks 219 View   Vote 0 Like   3:00pm 14 Dec 2020 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
         मुझे ध्यान है कि मेरे पिता बताया करते थे कि परमेश्वर के वचन बाइबल की बातों की भिन्न व्याख्याओं के कारण होने वाले और कभी समाप्त न होने वाले विवादों से अपने आप को पृथक कर लेना कितना कठिन होता था। लेकिन साथ ही वे यह भी स्मरण करते थे कि कितना भला होता था जब ... Read more
clicks 105 View   Vote 0 Like   3:00pm 30 Oct 2020 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
          मैं अपनी पर-नानी की बाइबल के पन्ने पलट रहा था,और मेरी गोदी में एक खज़ाना आ गिरा – कागज़ का एक छोटा टुकड़ा,जिस पर एक बच्चे की लिखाई में लिखा हुआ था, “धन्य हैं वे, जो मन के दीन हैं, क्योंकि स्वर्ग का राज्य उन्‍हीं का है। धन्य हैं वे, जो शोक करते हैं, क्योंकि वे ... Read more
clicks 232 View   Vote 0 Like   3:00pm 17 Sep 2020 #प्रेम
Blogger: कुमारेन्द्र सिंह सेंगर at रायटोक्रेट क...
सबसे बड़ा है प्यार,उसके बाद सारा संसार. प्यार के प्रतीक माने जाने वाले राधा-कृष्ण को पूजने के बाद भी प्यार शब्द के साथ भ्रान्ति क्यों? प्यार के साथ संकुचन क्यों? प्यार के साथ एकतरफा व्यवहार क्यों?क्या समझा है कभी कि प्यार है क्या? क्या जाना है कभी कि प्यार कहते किसे हैं? ... Read more
clicks 100 View   Vote 0 Like   6:06pm 5 Sep 2020 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
     मैंने और मेरे बच्चों ने एक नई दैनिक बात आरम्भ की है, प्रत्येक रात्रि को सोने जाने के समय, हम रंगीन पेंसिलें लेते हैं, एक मोमबत्ती जलाते हैं, और परमेश्वर से प्रार्थना करते हैं कि हमें अपनी ज्योति से मार्गदर्शन प्रदान करे। फिर हम अपनी कॉपियाँ निकाल कर उसमें दो प्... Read more
clicks 368 View   Vote 0 Like   3:00pm 29 Jun 2020 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
     मेरी बेटी एक प्रातः तैयार हो रही थी, और अचानक ही बड़े उत्साह और आनन्द के साथ ऊँची आवाज़ में बोली “Lovable (प्रेम-योग्य);” मुझे समझ नहीं आया उसका अभिप्राय क्या था। मेरे चहरे के भाव को देखकर उसने अपनी टी-शर्ट पर लिखे हुए शब्द की ओर संकेत किया, जहाँ पर बड़े अक्षरों में लिखा थ... Read more
clicks 241 View   Vote 0 Like   3:00pm 15 Jun 2020 #प्रेम
Blogger: Anita nihalani at मन पाए विश्रा...
श्रद्धा सुमन  एक ही शक्ति एक ही भक्ति  एक ही मुक्ति एक ही युक्ति  एक सिवा नहीं दूजा कोई  एकै जाने परम सुख होई तुझ एक से ही सब उपजा है  यह जानकर हमें पहले तृप्त होना है भीतर  फिर द्वैत के जगत में आ  आँख भर जगत को देखना है  हर घटना के पीछे तू ही है  हर व्यक्ति के पीछे तेरी अ... Read more
clicks 103 View   Vote 0 Like   12:26pm 11 Jun 2020 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
     मेरे पालतु बिल्ली के बच्चे वेलवेट को मेरी माँ ने घर में बनी रोटी को उठा कर, रसोई की अलमारी के ऊपर चढ़कर खाते हुए देखा। गुस्से में मेरी माँ ने उसे भगाया तो वह घर के दरवाज़े के बाहर भाग गई। कुछ घंटे के बाद भी जब वह अन्दर नहीं आई तो हम बाहर निकल कर उसे ढूँढने लगे, किन्तु ... Read more
clicks 207 View   Vote 0 Like   3:00pm 22 May 2020 #प्रेम
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
स्वाद / बेस्वाद******* 1. तेरे इश्क का स्वाद   मीठे पानी के झरने-सा   प्यास से तड़पते राही को   इक घूँट भर भी मिल जाए   पीर-पैगंबर की दुआ   कुबूल हो जाए।   2. एक घूँट इश्क   और तेरा स्वाद   अस्थि-मज्जा में जा घुला   जिसके बिना   जीवन नामुमकिन।   ... Read more
clicks 208 View   Vote 0 Like   12:53pm 22 May 2020 #प्रेम
Blogger: Anita nihalani at मन पाए विश्रा...
देना  बादल बनकर बरसें नभ से  यह तो हो नहीं सकता  क्यों न उड़ा दें सारी वाष्प मन से  वाष्प जो कर देती है असहज  नहीं आता रवि किरणों सा  फूलों को खिलाना  तो क्या हुआ  प्रेम की ऊष्मा से सुखा दें अश्रु किसी के  जब देने का ही ठान लिया है  तो दे डालें स्वयं को पूरी तरह  नहीं रखें... Read more
clicks 99 View   Vote 0 Like   5:54am 16 Mar 2020 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
      सदियों से युद्ध और लड़ाईयाँ झेल रहे यरूशलेम शहर का वर्तमान आधुनिक भाग, उसके अपने ही मलबे पर बना हुआ है। जब हम पारिवारिक भ्रमण पर यरूशलेम गए हुए थे , तो हम ‘विया डोलोरोसा’ अर्थात पीड़ा के मार्ग पर से भी होकर चले, जिसके लिए कहा जाता है कि प्रभु यीशु मसीह अपने क्रूस... Read more
clicks 151 View   Vote 0 Like   3:15pm 18 Oct 2019 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
      मैं अपनी बहिन के घर गई हुई थी; दोपहर के भोजन के समाप्ति के समय मेरी बहिन ने अपने बेटी से कहा कि अब उसके जाकर सोने का समय हो गया है। मेरी वह तीन वर्षीय भांजी चौंक गई, उसकी आँखों में आँसू आ गए, और उसने शिकायत की, “लेकिन आंटी मोनिका ने मुझे अभी तक तो गोद में लिया ही नह... Read more
clicks 143 View   Vote 0 Like   3:15pm 14 Oct 2019 #प्रेम
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at साझा संसार...
जन्मदिन मुबारक हो माझा! सौ साल की हो गई तुम, मेरी माझा। गर्म चाय की दो प्याली लिए हुए इमा अपनी माझा को जन्मदिन की बधाई दे रहे हैं।माझा कुछ नहीं कहती बस मुस्कुरा देती है। इमा-माझा का प्यार शब्दों का मोहताज़ कभी रहा ही नहीं। चाय धीरे-धीरे ठंडी हो रही है। माझा अपने कमर... Read more
clicks 200 View   Vote 0 Like   7:15pm 30 Aug 2019 #प्रेम
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at साझा संसार...
जन्मदिन मुबारक हो माझा! सौ साल की हो गई तुम, मेरी माझा। गर्म चाय की दो प्याली लिए हुए इमा अपनी माझा को जन्मदिन की बधाई दे रहे हैं।माझा कुछ नहीं कहती बस मुस्कुरा देती है। इमा-माझा का प्यार शब्दों का मोहताज़ कभी रहा ही नहीं। चाय धीरे-धीरे ठंडी हो रही है। माझा अपने कमर... Read more
clicks 164 View   Vote 0 Like   7:15pm 30 Aug 2019 #प्रेम
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at साझा संसार...
जन्मदिन मुबारक हो माझा! सौ साल की हो गई तुम, मेरी माझा। गर्म चाय की दो प्याली लिए हुए इमा अपनी माझा को जन्मदिन की बधाई दे रहे हैं।माझा कुछ नहीं कहती बस मुस्कुरा देती है। इमा-माझा का प्यार शब्दों का मोहताज़ कभी रहा ही नहीं। चाय धीरे-धीरे ठंडी हो रही है। माझा अपने कमर... Read more
clicks 166 View   Vote 0 Like   7:15pm 30 Aug 2019 #प्रेम
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
क्षणिकाएँ (10 क्षणिका)   1.चुटकी   *******   एक चुटकी नमक   एक चुटकी सिन्दुर   एक चुटकी ज़हर   मुझे औरत करते रहे   ज़िन्दगी भर।   2. विद्रोही औरतें   *******   यूँ मुस्कुराना   ख़ुद से विद्रोह सा लगता है   पर समय के साथ चुपचाप   विद्रो... Read more
clicks 162 View   Vote 0 Like   6:17pm 20 Aug 2019 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
      अपने विद्यार्थियों की ख़राब लिखने की आदतों से परेशान, विख्यात लेखक और कॉलेज के प्रोफ़ेसर डेविड फ़ॉस्टर वॉलेस विचार करने लगे कि वे उनके कौशल को कैसे सुधार सकते हैं। ऐसे में एक चौंका देने वाला प्रश्न उनके सम्मुख आया। प्रोफ़ेसर को अपने आप से पूछना पड़ा कि क्यों क... Read more
clicks 170 View   Vote 0 Like   3:15pm 2 Aug 2019 #प्रेम
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
      हमने अनाथालय से एक लड़के को गोद लिया और उसे अपना पुत्र बनाकर हमारे परिवार में उसके नए जीवन के अनुकूल बनने में उसकी सहायता और मार्गदर्शन करने लगे। अनाथालय में उसके जीवन के आरंभिक दिनों में मिले मानसिक आघात उसके अंदर से कुछ नकारात्मक व्यवहार को उत्पन्न कर रह... Read more
clicks 196 View   Vote 0 Like   3:15pm 6 Jul 2019 #प्रेम
[Prev Page] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3990) कुल पोस्ट (194136)