POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: चेहरा

Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
      एक लेखक के रूप में मेरी अधिकांश जीविका दुःख की समस्या को संबोधित करने में व्यतीत हुई है। मैं बारंबार लौट कर उन्हीं प्रश्नों पर आ जाता हूँ, मानो एक ऐसे घाव को कुरेदता रहता हूँ जो कभी भरने का नहीं। मुझे अपने पाठकों की प्रतिक्रियाएं प्राप्त होती हैं, और उनकी दु... Read more
clicks 235 View   Vote 0 Like   3:15pm 22 Jan 2019 #चेहरा
Blogger: VIMAL KUMAR SHUKLA at मेरी दुनिया...
हर किसी के वास्ते ठहरा नहीं जाता। टोटकों से प्रेंम सच गहरा नहीं जाता।नेह उर  में हो अगर स्वारथ रहित प्यारे,तो हृदय में बì... Read more
clicks 141 View   Vote 0 Like   2:54am 20 Apr 2018 #चेहरा
Blogger: Kopal at नन्ही कोपल...
मित्रों हम रोज घर से बाहर निकलते है धूल ,गन्दगी , धुआं प्रदूषण से हमारे चेहरे का सामना होता है और भागदौड़ के चलते एक बेहतरीन देखभाल नहीं हो पाती है हमारी त्वचा के लिए हमारे चेहरे के लिए वक्त तो निकालना ही है  सौंदर्य प्रसाधनों, तनाव, गलत खाने की आदतें आदि हमारी  त्वचा की... Read more
clicks 120 View   Vote 0 Like   10:36am 15 Jan 2018 #चेहरा
Blogger: kushwansh at अनुभूतियों क...
कभी सोचता हूँतो याद आता है मुझेअपना अक्श,गड्ड मड्ड,आकार रहित,बिना आँख कान नाक ,एकदम सपाट चेहराशायद अनगढ़,संवेदना व्यक्त करती आंखे,शायद बनी ही नहींमाथे पर आडी तिरछी लकीरेंजो बस आंतरिक सुनामी कोआयाम देतीं,कोई देखे तो  दूर से ही समझ लेकटीली झड़ियोंऔर अनेकों झंझावातों से... Read more
clicks 169 View   Vote 0 Like   6:14am 20 Apr 2016 #चेहरा
Blogger: Anita nihalani at मन पाए विश्रा...
हम और वह हम नहीं होते जब वह होता है बंद हो जाती है आँख जब वह  अपने आप में समोता है हमारा होना ही उसका न होना है उसका होना ही हमारा खोना है उतार सारे मुखौटे जब जाते हैं हम उसके करीब हम में कुछ बचता ही नहीं बस रह जाता है वह रकीब हर चाहत एक चेहरा है हर लक्ष्य सबब बनता उस... Read more
clicks 130 View   Vote 0 Like   7:27am 3 Nov 2015 #चेहरा
Blogger: डा. सुशील कुमार जोशी at उलूक टाइम्स...
भीड़ वही थी चेहरे वही थे कुछ खास नहीं बदला था एक दिन इसी भीड़ के बीच से निकल कर उसने उसको सरे आम एक चोर बोला था सबने उसे कहते हुऐ देखा और सुना था उसके लिये उसे इस तरह से ऐसा कहना सुन कर बहुत बुरा लगा था कुछ किया विया तो नहीं था बस उस कहने वाले से किनारा कर लिया था पता ही नहीं था... Read more
clicks 53 View   Vote 0 Like   5:33pm 28 Feb 2015 #चेहरा
Blogger: पत्रकार रमेश कुमार जैन उर्फ निर्भीक at रमेश कुमार नि...
सुंदर चेहरा दिखाओ प्रतियोगिता की मालिकन फेसबुक (चेहरे की किताब) पर दोस्तों मैं अपने विचारों का लेखन (कुछ हीरे-मोती समान कीमती शब्दों का खजाना लुटाना) करके बस कुछ यह ही मंथन (कुछ सार्थक विचार देने का दृढ निश्चय, क्योंकि शरीर मर जाता है मगर विचार हमेशा जिन्दा रहते हैं) कर ... Read more
clicks 310 View   Vote 0 Like   8:06pm 25 Jun 2014 #चेहरा
Blogger: विभूति कुमार at स्पर्श ......
                                                                दोस्ती                                                                 दोस्ती में चेहरा नहीं देखा जाता                                                                माना मगर                                                               प्रेम                            ... Read more
clicks 289 View   Vote 0 Like   9:05am 19 Nov 2012 #चेहरा
Blogger: डा.राजेंद्र तेला "निरंतर at "निरंतर" क...
अब अपने आप सेनफरत करने लगा हूँजो नहीं कहना चाहिएकह देता हूँजो नहीं सुनना चाहिएसुन लेता हूँदिल के हाथो कमज़ोरहो जाता हूँहर बार खुद को बेबससिलाउम्मीद से उलटापाता हूँलोगों की नज़रों सेउतर जाता हूँअब सोच रहा हूँदिल की सुनना छोड़ दूंदिमाग से काम लूंचेहरे पर चेहरा चढ़ा ... Read more
clicks 79 View   Vote 0 Like   9:11am 24 Aug 2012 #चेहरा
Blogger: sanjay kumar chourasia at "जीवन की आपाध...
उस नव पल्लवित कोमल कोरे मन पर संस्कारों की कलम से पवित्र चरित्र की तस्वीर लिखी गयी और कहा गया यह मानव है !उस नवजात को लगा हर कोई यहाँ मानव है !पर जब वो आगे बढ़ा वह जिससे भी मिला जिससे भी जुड़ा उसमें खुद की तस्वीर को उतार कर ही मिला पर जब उसे कुछ खटका वह रुका , और गौर से दे... Read more
clicks 153 View   Vote 0 Like   7:46am 24 Jul 2012 #चेहरा
Blogger: डा.राजेंद्र तेला "निरंतर at "निरंतर" क...
पुरानी तसवीरें देखता हूँ सोच में डूब जाता हूँ उन हँसते हुए चेहरों को आसपास ढूंढता हूँकुछ चेहरे नहीं दिखतेकाल के गाल में समा गए पर अधिकतर दिख जाते चेहरे वही पर अब चिंताग्रस्तझुर्रियां लिए हुए  ह्रदय में बुढापे का दर्द छुपाये खोखली हंसी से मेरा स्वागत करते हैं मानों म... Read more
clicks 104 View   Vote 0 Like   8:23am 13 May 2012 #चेहरा
Blogger: धीरेन्द्र सिंह at काव्यान्जलि...
तुम्हारा चेहराचाँदसेभीखूबसूरतहैतुम्हाराचेहराहमनेसौबार निगाहोंमेंउताराचेहरा,सबकीनजरोंसेमहफिलमेंबचाकर नजरेंचुपके-चुपकेसे हर नजर ने निहारा चेहरा,देखकरआपकोकुछवोभीतोहैरानहोगाआपने आईने में जिस वक्त संवारा चेहरा,तेरेचेहरेकेसिवाकुछभी "धीर" कोयादनहीमेर... Read more
clicks 152 View   Vote 0 Like   7:56am 27 Mar 2012 #चेहरा
Blogger: rajneesh at रजनीश का ब्लॉ...
दूर से मिलते आकर और चले जाते हैं दूरदूर से ही दूर क्यों सीधे निकल नहीं जातेदुहाई रिश्तों की और बयां हमनिवाला दिनों का जाया करते हैं वक़्त क्यों मुद्दे पर नहीं आते सारी रात चले महफिल और उनकी जाने की रट पर जमे रहते हैं क्यों उठकर चले नहीं जातेवादा मदद का और साथ मुश्किलों... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   1:52am 29 Feb 2012 #चेहरा
Blogger: डा.राजेंद्र तेला "निरंतर at "निरंतर" क...
इस झूठ प्रपंच की दुनिया में कोई खुश नहीं किसी सेहर मन में प्रश्न हर ह्रदय व्यथित दूसरों के कार्यकलापों सेसुनना नहीं चाहता सच कहना चाहता मन के विचारों को चुप हो जाता कह ना पाताकहीं हो ना जाए रुष्ट  यह सोच कर  करता है प्रपंच कहता है वही बातजो उसके मन को भायेचेहरे से मुस्क... Read more
clicks 55 View   Vote 0 Like   9:32am 19 Feb 2012 #चेहरा
Blogger: अपर्णा त्रिपाठी at palash "पलाश"...
राधा जिसकी तारीफ करते लोग थकते नही, चाहे वो उसके रिश्तेदार हो, आस- पडोस के लोग हों या उसके मित्र । सभी कहते जिस घर जायगी, वो बहुत ही भाग्यवान होगा । मगर फिर भी ३२ सावन पार करने के बाद भी , अभी तक उसके पिता उसके लिये वर की खोज में ही लगे थे । स्वभाव से सुशील, काम काज में पारंगत, औ... Read more
clicks 116 View   Vote 0 Like   5:25pm 2 Feb 2012 #चेहरा
Blogger: डा.राजेंद्र तेला "निरंतर at "निरंतर" क...
चेहरा कभीसच नहीं बताताभेड़ की खाल मेंभेड़िया छुपा होताचेहरों परकभी ना रीझनाकौन चोरकौन साहूकारपता नहीं चलतानिरंतर विश्वास में हीविश्वासघात होतासफ़ेद झूठकाले झूठ से ज्यादाखतरनाक होतासच,झूठ के फैसले मेंज़ल्दी ना करनाअनुभवअपना काम में लेनासफ़ेद पोशों से बच कररहन... Read more
clicks 81 View   Vote 0 Like   12:19pm 25 Jan 2012 #चेहरा
Blogger: डा.राजेंद्र तेला "निरंतर at "निरंतर" क...
ये चेहरा आजकुम्हलाया हुआ क्यूं हैदिल किसने दुखायाउसका पता क्या हैजा कर पूछूंगा उससेउसके वहशीपन कीवजह क्या हैक्यूं उसेखूबसूरत चेहरेनहीं भातेक्यूं इमानदारी सेजीने वाले उसे बुरेलगतेक्यूं इतना बेदिल हैदिलदार उसे खारेलगते15-01-201244-44-01-12Dr.Rajendra Tela"Nirantar"... Read more
clicks 68 View   Vote 0 Like   5:54pm 23 Jan 2012 #चेहरा
[Prev Page] [Next Page]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3990) कुल पोस्ट (194091)