POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: इश्क

Blogger: sunny kumar at Life iz Amazing...
सारी-सारी रात जागे, तुमसे मुहब्बत की आग जागे, हूँ मैं दरिया खुद में लेकिन, तुमसे ही अब प्यास जागे, सारी-सारी रात जागे… मुझमें है जो ख़्वाब सारे, तुमसे ही अब मिलना चाहे, हूँ मैं खुद में ख़ल्क़त लेकिन, तुझमें ही अब बसना चाहे, सारी सारी रात जागे… ©सन्नी कुमार ‘अद्विक’ ख़ल्क़त... Read more
clicks 99 View   Vote 0 Like   11:07am 9 Mar 2019 #इश्क
Blogger: sunny kumar at Life iz Amazing...
कभी मुग्ध हो मेरी कविता पर, तुम अपने कहानी में जो मोड़ बनाओ, कभी मान मेरी बातों को, तुम अपने जीवन में जो नए अर्थ सजाओ, कभी खोकर मेरी आँखों में, तुम अपने ख़्वाबों में जो मुझे बसाओ, हो सरस-सुफल मेरा यह जीवन, तुम अपने में जो मुझे बसाओ.. ©सन्नी कुमार ‘अद्विक’ ... Read more
clicks 124 View   Vote 0 Like   5:12pm 11 Feb 2019 #इश्क
Blogger: दिगम्बर नासवा at स्वप्न मेरे...
एक दो तीन ... कितनी बार  फूंक मार कर मुट्ठी से बाल उड़ाने की नाकाम कोशिशआस पास हँसते मासूम चेहरे सकपका जाता हूँ चोरी पकड़ी गयी हो जैसे  जान गए तुम्हारा नाम सब अनजाने हीकितना मुश्किल हैं न खुद से नज़रें चुराना इश्क से नज़रें चुराना इंसान जब इश्क हो जाता है उतरना चाहता है किस... Read more
clicks 211 View   Vote 0 Like   7:14am 7 Jan 2019 #इश्क
Blogger: sunny kumar at Life iz Amazing...
To my beautiful wife on our Anniversary.. आज हमारा इश्क़ थोड़ा और सयाना हो गया, दिल ने कभी जो ख्वाब न देखे, वो सब अब हक़ीक़त हो गया… हर लत से मुझको तौबा ही था, पर तुम्हारे साथ का आदत हो गया, जो कभी जीवन मे उतरेगा नहीं, वो नशा है मुझको हो गया.. तुमसे मिलके दिल ये मेरा, है खुदा का जन्नत हो गया, पलते है मुझमें ह... Read more
clicks 126 View   Vote 0 Like   8:13am 28 May 2018 #इश्क
Blogger: anil kant at मेरी कलम - मेर...
उन ऊँघती शामों को जो धीमे धीमे अँधेरे की गिरफ़्त में चले जाने को हुआ करतीं किन्तु कहीं से भी उनकी उन क्षणों की आभा से लगता बिल्कुल नहीं था. सूरज गुलाबी हुआ करता और रात की देहरी पर टंगा हुआ सा जान पड़ता था. हाँ तमाम किस्म के पंक्षी अवश्य ही अपने घरों को लौट जाने के लिए आतुर द... Read more
clicks 117 View   Vote 0 Like   7:33am 7 Jul 2015 #इश्क
Blogger: vijay kumar sappatti at कविताओं के मन...
कुछ दिन पहले मेरा कुछ सामानमैंने तुम्हारे पास रख छोडा था !वो पहली नज़र ..जिससे तुम्हे मैंने देखा था ;मैं अब तक तुम्हे देख रहा हूँ..वो पहली बार तुम्हे छूना..तुम्हारे नर्म लबो के अहसास आज भीअक्सर मुझे रातों को जगा देते है ..वो सारी रात चाँद तारो को देखना ..वो सारी सारी रात बाते क... Read more
clicks 216 View   Vote 0 Like   10:40am 2 Jun 2015 #इश्क
Blogger: Sandeep jaiswal at ज़िंदगी की कित...
चल उन शामों को याद करें,जो हमने साथ बिताईं...उन पलों को फ़िर जियेंजिनमें पूरी कायनात पाई,बस वो जुस्तज़ूं पूरी हो,उसका इंतज़ार &... Read more
clicks 260 View   Vote 0 Like   3:12pm 28 Mar 2015 #इश्क
Blogger: vijay kumar sappatti at कहानियो के मन...
कोलाज़ ::: प्रेमकथा - मैं, तुम और प्रेम :::विजय कुमार सप्पत्ति  :: Address  ::  VIJAY KUMAR SAPPATTI ,  FLAT NO.402, FIFTH FLOOR, PRAMILA RESIDENCY; HOUSE NO. 36-110/402, DEFENCE COLONY, SAINIKPURI POST,  SECUNDERABAD- 500 094 [TELANGANA]M : 09849746500  E : vksappatti@gmail.com::: प्रेमकथा - मैं, तुम और प्रेम  :::खुदा से बड़ा रंगरेज कोई दूसरा नहीं है वो किसे क्या देता है, क्यों देता ... Read more
clicks 366 View   Vote 0 Like   3:09am 25 Mar 2015 #इश्क
Blogger: शिल्पा भारतीय at अभिव्यक्ति-अ...
कुछ इस तरह से लोग अब मोहब्बत का कर्ज अदा कर रहे कि प्यार की कीमत वो तोहफों से अदा कर रहे ---------------------------------------------------क़त्ल करके तमाम एहसासों का सीने में बाज़ारों की चौखट पर अब वो तौबा कर रहे  ----------------------------------------------------रखेंगे छुपा के तुझे ज़माने की नजर से जो कहते थे कभी आज ज़माने भर में वोही ... Read more
clicks 256 View   Vote 0 Like   8:00pm 13 Feb 2015 #इश्क
Blogger: शिल्पा भारतीय at अभिव्यक्ति-अ...
लोग इस तरह से अब मोहब्बत का कर्ज अदा कर रहे कि प्यार की कीमत वो पैसों से अदा कर रहे ---------------------------------------------------क़त्ल करके तमाम एहसासों का सीने में बाज़ारों की चौखट पर अब वो तौबा कर रहे  ----------------------------------------------------रखेंगे छुपा के तुझे ज़माने की नजर से जो कहते थे कभी आज ज़माने भर में ही उसे वो र... Read more
clicks 236 View   Vote 0 Like   8:00pm 13 Feb 2015 #इश्क
Blogger: vijay kumar sappatti at कहानियो के मन...
आंठवी सीढ़ी ::: बीतता हुआ आज, बीता हुआ कल और आने वाले कल की गूँज ::::मैं, पहली मंजिल पर स्थित अपने घर की बालकनी में बैठी नीचे देख रही थी ।  आज मेरे सर में हल्का हल्का सा दर्द था ।  मैंने अपने लिये अदरक वाली चाय बनाई और धीरे धीरे उसकी चुस्कियां लेते हुये सड़क को निहार रही थी । सड़क... Read more
clicks 287 View   Vote 0 Like   6:03am 9 Oct 2013 #इश्क
Blogger: vijay kumar sappatti at बस यूँ ही..........WR...
कभी कभी बीच का फासला एक जमीन से एक आसमान की दूरी पर हो जाता है  / बन जाता है . और कई जन्म इस फासले को तय करने में कम पड़ते है . कभी हम जमीन पर खड़े नज़र आते है और कभी वो आसमान /फलक पर सितारे बन उड़ते है ......और ये बेमज़ा ज़िन्दगी यूँ ही बस कट जाती है ......... Read more
clicks 239 View   Vote 0 Like   3:52pm 5 Aug 2013 #इश्क
Blogger: अपर्णा त्रिपाठी at palash "पलाश"...
जो  सोचने को है कुछ अब भीतो ना चल इश्क की राहों मेंजो दुनिया का खौफ है अब भीतो ना चल इश्क की राहों मेंजो परेशां होना, देता सुकू नही तो ना चल इश्क की राहों मेंजो चाहत है सिर्फ खुशियों कीतो ना चल इश्क की राहों मेंजो जज्बातों में है दुनियादारी तो ना चल इश्क की राहों मेंजो नै... Read more
clicks 153 View   Vote 0 Like   7:51pm 22 Sep 2012 #इश्क
Blogger: अपर्णा त्रिपाठी at palash "पलाश"...
जो  सोचने को है कुछ अब भीतो ना चल इश्क की राहों मेंजो दुनिया का खौफ है अब भीतो ना चल इश्क की राहों मेंजो परेशां होना, देता सुकू नही तो ना चल इश्क की राहों मेंजो चाहत है सिर्फ खुशियों कीतो ना चल इश्क की राहों मेंजो जज्बातों में है दुनियादारी तो ना चल इश्क की राहों मेंजो नै... Read more
clicks 148 View   Vote 0 Like   7:51pm 22 Sep 2012 #इश्क
Blogger: अपर्णा त्रिपाठी at palash "पलाश"...
हरचीजदुनियाकीखूबसूरतनजरआनेलगी, जबसेवोबसनेलगे मेरी निगाहोंमें.........मोहब्बत की रूह से रू-ब-रू हुये तब, जब कही हर बात उन्होने इशारों में...........देखा सुना पढा लिखा भीयूं तो बहुत इश्क के बारे में....मगर दिखा ना था अब तकजो दिखता है अब हर नजारे मेंहर बात भली सी लगने लगी जबसे, बसने ल... Read more
clicks 156 View   Vote 1 Like   11:43am 10 Jul 2012 #इश्क
[Prev Page] [Next Page]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3990) कुल पोस्ट (194336)