POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: History

Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
सय्यिद नसीरुद्दीन ने जो चिराग़ ऐ दिल्ली के नाम से भी जाने जाते हैं एक ख्वाब देखा की हजरत मुहम्मद (स.अ.व) आये हैं और उनसे कह रहे है कि सय्यिद बरे नाम के शख्स को अपनी शागिर्दी में ले लो और उसे अपने ज्ञान से मालामाल करो |सय्यिद नसीरुद्दीन ने अपने दिल्ली में तलाशा तो उन्हें तीन... Read more
clicks 316 View   Vote 0 Like   12:49am 27 Aug 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
डॉ 0 सज़ल सिंह इतिहासकार आदि गंगा गोमती के पावन तट पर बसा जौनपुर भारत के इतिहास में अपना विशेष स्थान रखता है। अति प्रचीन काल में इसका आध्यात्मिक व्यक्तित्व और मध्यकाल में सर्वागिक उन्नतिशील स्वरूप इतिहास के पन्नो पर दिखाई पड़ता है। शर्कीकाल में यह समृध्दशाली राजवंश क... Read more
clicks 199 View   Vote 0 Like   4:01am 28 Jul 2017 #history
Blogger: Bharat Bhushan at MEGHnet...
Sh. R.L. Gottraमैंने श्री आर.एल. गोत्राजी को पहले पहल सोशल मीडिया से जाना फिर उनसे व्यक्तिगत रूप से मिला. वे सन् 1998 में सरकारी नौकरी से रिटायर हुए और तीन चार साल बिजनेस में रहे. फिर बिजनेस छोड़ कर धार्मिक पुस्तकें पढ़नी शुरू कीं. वेद पढ़े, मनुस्मृति और गुरुइज़्म से संबंधित पुस्तक... Read more
clicks 155 View   Vote 0 Like   12:34pm 9 Jul 2017 #History
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
कभी महर्षि यमदग्नि की तपोस्थली व शर्की सल्तनत की राजधानी रहा जौनपुर आज भी अपने ऐतिहासिक एवं नक्काशीदार इमारतों के कारण न केवल प्रदेश में बल्कि पूरे भारत वर्ष में अपना एक अलग वजूद रखता है. प्राचीन काल से शैक्षिक व ऐतिहासिक दृष्टि से समृद्धिशाली शिराजे हिन्द जौनपुर नग... Read more
clicks 113 View   Vote 0 Like   4:14am 20 Jun 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
शहर के पूर्वी छोर पर स्थित राजा साहब का पोखरा बतौर उत्सव स्थल जाना जाता है.पोखरे के आस-पास का विस्तृत मैदान कार्तिक पूर्णिमा और विजयादशमी के अवसर पर गुलजार होता है|इन दोनों मेलों में शहर और ग्रामीण क्षेत्रों से काफी भीड़ जुटती है.दसहरा मेला का मुख्य आकर्षण राजा जौनप... Read more
clicks 167 View   Vote 0 Like   2:29pm 7 Jun 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
जौनपुर के मेरे मस्त इलाके में जो बड़ी मस्जिद के पास है आज भी ३५० वर्ष पुरानी खानकाह (धर्मशाला) रशीदिया मौजूद है जिसे शाखें पूरे देश में फैली हुयी हैं |इसे शाजहान के ज़माने में दीवान मकदूम अब्दुल रशीद साहब ने बनवाया था जिनके नाम पे जौनपुर का रशीदाबाद इलाका आबाद है |खानकाह... Read more
clicks 111 View   Vote 0 Like   4:34am 29 May 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); जौनपुर शहर के भंडारी इलाके में बना जौनपुर रेलवे स्टेशन उत्तर रेलवे का हिस्सा है जिसे आज से १४४ वर्ष पहले सन १८७२ में अवध और रोहैलखंड रेलवेज शुरू किया था | ये रेलवे स्टेशन वाराणसी -लखनऊ लाइन पे बना हुआ है |इसे जौनपुर भंडारी रेलवे स्टेशन के नाम  से आमत... Read more
clicks 99 View   Vote 0 Like   10:51pm 20 May 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
जो लोग जौनपुर और आसपास के इलाक़े में आया जाया करते हैं उन्होंने यह अवश्य देखा होगा की   यहाँ जगह जगह  क़ब्रें और रौज़े बने हैं जिनपे हरी चादरें पडी रहती है या उनपे उर्स साल में एक बार लगता है या फिर ऐसी मजारें हैं जहाँ  गाँव वाले मुरादें मांगने जाया करते हैं ।हर इंसान ... Read more
clicks 82 View   Vote 0 Like   8:45am 15 May 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); प्रतापगढ़ में इस साल अगस्त के महीने में इसे बहती हुयी देख के  अच्छा लगा |हरदोई जनपद के भिजवान झील से निकली सई नदी 715 किलोमीटर का सफर तय करने के बाद जौनपुर के राजघाट पर गोमती में मिल जाती है। पूरे सफर में सई नदी हरदोई, रायबरेली, प्रतापगढ़ और जौनपुर जनपद ... Read more
clicks 175 View   Vote 0 Like   8:36am 15 May 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
Bazar Bhuaजौनपुर के मुहल्लों के नए और पुराने नाम और उनका इतिहास  जौनपुर शहर के मुहल्ले तो लगभग ७६ है जिनका जिक्र  पुराने इतिहासकारो ने अपनी किताबो में किया है लेकिन बहुत से मुहल्ले अब आपस मे मिल गये है और कुछ का नाम बिगड गया है | जैसे फतेहपुर अब फत्तुपूर हो गया है और राजघ... Read more
clicks 124 View   Vote 0 Like   6:05pm 13 May 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
जौनपुर के क़िले से शाही पुल की ली गयी दो तस्वीरे और समय का अंतर ३५ वर्ष लेकिन कोई अंतर नही | वैसे ही पेड , वैसे ही मकान और वही एक मंदिर |यह है शाही पुल की आज की तस्वीर दिन और रात दोनों में | (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); ... Read more
clicks 88 View   Vote 0 Like   7:11am 13 May 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
राजा इदारत जहां १८५७ जनक्रांति का प्रथम शहीद किस परिवार से थे ?राजा इदारत जहां के पूर्वज सैयद आख्वंद मीर थे जो हुमायूँ के साथ ईरान से भारत आये थे । आख्वंद मीर की औलाद में  सैयदजान अली थे जो खान ज़मा अली कुलीच खान के  लिए जौनपुर सेना के साथ  भेजे गए  । उन्होंने राजा म... Read more
clicks 74 View   Vote 0 Like   6:43am 13 May 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
मैं यह बात हमेशा से कहता रहाहूँ की जौनपुर अपनी ऐतिहासिक धरोहरों को सँभालने में नाकाम रहा है और पिछले आठ वर्षों से अपने दोनों वेबपोर्टल के द्वारा जौनपुर की उन ऐतिहासिक धरोहरों और रहस्यों को समय समय पे आप सभी के सामने पेश करता रहा हूँ और मुझे यह ख़ुशी है की मैं पूरे विश्व ... Read more
clicks 177 View   Vote 0 Like   1:52am 12 May 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
इब्राहिम शाह ने अपने  समय में बहुत से शानदार महलात बनवाए और उनकी हिफाज़त के लिए अपनी सेना में एक तथ्था बनाया जिसके सेनापति सय्यिद मुख्लिस थे । इस जथ्थे में कोई भारतीय नहीं बल्कि अरबी और बलोची हुआ करते थे । यह जथ्था बाहर जंग करने को नहीं भेजा जाता था बल्कि ये इन महलात और ... Read more
clicks 212 View   Vote 0 Like   12:03pm 9 May 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
लाल दरवाज़ा १४४७  लाला दरवाज़ा मस्जिद का निर्माण १४४७ में सुलतान महमूद शार्की के दौर में उनकी पत्नी बीबी राजे ने करवाया और उसे उस दौर के एक सैय्यद आलिम जनाब सयेद अली दाउद कुतुब्बुद्दीन को समर्पित कर दिया | लाला दरवाज़ा इस इलाके का नाम बीबी राजे के महल के गगनचुम्बी दर... Read more
clicks 253 View   Vote 0 Like   12:18am 2 May 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
जौनपुर का इतिहास अपने आपमें बहुत से रहस्यों को समेटे हुए है |  आज लखनऊ में मैंने  काशी नरेश महाराजा  विभूति नारायण के दीवान अली जामिन जैदी के दोनों पुत्र मुहम्मद जामिन और अहमद जामिन से मुलकात लखनऊ में की जो की विदेश से लखनऊ कुछ घंटो के लिय आये थे | बात चीत कुछ घंटो... Read more
clicks 198 View   Vote 0 Like   6:04pm 4 Apr 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
जौनपुर तो वैसे भी  मकबरों और क़ब्रों का शहर है | जिधर देखिये मकबरे और कब्रें बनी पड़ी हैं जिनका इतिहास अब  बहुत की कम लोगों को मालूम है | हाँ यह अवश्य यहाँ के लोग जानते हैं की यह कब्रें ,मकबरें शार्क़ि  समय की या तुगलक और लोधी परिवार की होती है| जौनपुर के सिपाह मोहल्ले के प... Read more
clicks 177 View   Vote 0 Like   4:12pm 19 Feb 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
कीर्तिलता में पुराने जौनपुर के रमणीक दृश्यों का वर्णन|विद्यापति का कीर्तिलता में जौनपुर कर रमणीक दृश्यों का वर्णन एक बार अवश्य पढ़ें ।चौदहवीं शताब्दी के जौनपुर को विद्यापति कुछ इस प्रकार देखते है । "जूनापुर नामक यह नगर आँखों का प्यारा तथा धन दौलत का भण्डार था । देखन... Read more
clicks 335 View   Vote 0 Like   6:03pm 17 Feb 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
पांचो शिवाला , पानदरीबा जौनपुर यह मंदिर जौनपुर के पानदरीबा मोहल्ले में स्थित है जिसे दीवान काशी नरेश बन्धुलाल के बनवाया था । ये पहले वहाँ पे उप दीवान थे फिर जब  राजा चेट सिंह ने रियासत संभाली तो इन्हे दीवान बना दिया ।इन्होने दीवान रहते समय प्रचुर धन एकत्रित किया और ... Read more
clicks 305 View   Vote 0 Like   11:25am 17 Feb 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हक और बातिल...
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); हजरत मुहम्मद (स.अ.व) के समय में बनी हिन्दुस्तान की पहली मस्जिद " चेरमान मस्जिद" कोडुनगल्लूर (Cranganore) केरल में है  | यह सुन के ताज्जुब न करें क्यूँ की यह सत्य है | हकीकत में भारत में मुसलमानों का आगमन अरब से व्यापार करने भारत आने वालों की वजह से हुआ | हजर... Read more
clicks 426 View   Vote 0 Like   7:53am 16 Feb 2017 #history
Blogger: sagar das at Fokat ka gyan फोकट का ...
रानी रूपमती और बाज बहादुर की अमर प्रेम कहानी।भारत कई अनूठी कहानियों और घटनाओं का साक्षी रहा है. यहां हर मोड़ पर कुछ ना कुछ ऐसा सुनने को जरूर मिल जाता है जो आपको हैरान कर देता है कि क्या वाकई ऐसा हो सकता है आज हम आपको ऐसे ही एक स्थान के बारे में बताने जा रहे हैं जो अपनी अमर... Read more
clicks 221 View   Vote 0 Like   12:03pm 12 Feb 2017 #History
Blogger: Nalin Chauhan at झरोखा-jharoka...
सांध्य टाइम्स, 10/01/2017दिल्ली के स्थानीय प्रशासन का इतिहास पुराना होने के साथ रोचक भी है। ईस्ट इंडिया कंपनी ने 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम को छल-बल से विफल तो कर दिया पर इसका परिणाम यह हुआ कि भारत के शासन सूत्र की बागडोर व्यापारिक कंपनी ईस्ट इंडिया के हाथ से निकलकर अंग्र... Read more
clicks 94 View   Vote 0 Like   12:35pm 10 Jan 2017 #history
Blogger: Nalin Chauhan at झरोखा-jharoka...
0701201, दैनिक जागरण दिल्ली के स्थानीय प्रशासन यानि नगरपालिका का इतिहास देश के समस्त नागरिक प्रशासनों में सबसे पुराना है। 1857 के पहले स्वतंत्रता संग्राम में भारतीयों की हार के बाद 1858 में दिल्ली में ईस्ट इंडिया कंपनी का राज ख़त्म हो गया। दिल्ली अंग्रेजी साम्राज्य का हिस्स... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   1:53am 7 Jan 2017 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
जैसा की मैं हमेशा कहता रहा हूँ की जौनपुर अपनी धरोहरों को सँभालने में पूरा नाकाम रहा है और यह बात जौनपुर की पहचान रहे व्यंजनों के मामले में भी सत्य साबित होती है | आज दुनिया भर में लखनऊ का क़लिया और कोरमा , रामपुर का तार गोश्त वहाँ की पहचान माना जाता है लेकिन जौनपुर जो सबसे प... Read more
clicks 299 View   Vote 0 Like   2:28am 26 Dec 2016 #history
Blogger: S.M.MAasum at हमारा जौनपुर ...
जौनपुर  का अतीत बहुत स्वर्णिम रहा है ,इस को कभी शिराज   -ए -हिंद की खिताब से नवाजा गया था . कहा जाता है कि जौनपुर में इब्राहिमशाह शर्की के समय में इरान से 1000 के लगभग आलिम (विद्वान् ) आये थे जिन्होंने पूरे भारत में जौनपुर को शिक्षा का बहुत बडा केंद्र बना दिया था . इसी कारण ज... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   6:14am 23 Dec 2016 #history

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3993) कुल पोस्ट (195282)