POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: दिल

Blogger: श्रवण कुमार शुक्ल at जीवन: एक संघर...
श्रवण शुक्लप्रेम पर क्या लिखूं...सबकुछ तो लिखा जा चुका हैगजलों, नज्मों, शेरोंके रुप में।मैं तो जरा सा सिपाही हूंजो प्रेमी भी है,लड़ता भी है..ये भी लिख चुके हैं सभी।मगर दिल नहीं मानताकहता है कि बोलो कुछअरे हद है यारक्या दादा गिरी...।कह तो रहे हो लिखने कोलेकिन तुम तो खाली हो... Read more
clicks 201 View   Vote 0 Like   7:20am 18 Feb 2014 #दिल
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" at सृजन मंच ऑनला...
तुमको देखा तुमको जाना तुमको चाहा जांना ;जानकर आपको कुछ और नहीं जाना जांना |आपकी चाह में कुछ और की चाहत न रही -तेरी चाहत को ही पूजा और पूजा  जाना || लिख दिया अपने  दिल पे तुम्हारा नाम यारा ,गुल से भी नाज़ुक है ये दिल हमारा यारा |आप यूं  तोड़कर इसको न जाइयेगा कभी -अक्स बसता ह... Read more
clicks 90 View   Vote 0 Like   5:53am 10 Sep 2013 #दिल
Blogger: Ashutosh Mishra at My Unveil Emotions...
दिले नादान को बहला रहा हूँ अभी सावन के नगमे गा रहा हूँ मिला है चाँद यूं तनहा फलक पर अभी मैं चाँद से बतिया रहा हूँ मिटा दूं कैसे वो यादें तुम्हारी तुम्हे सीने में जब धड़का रहा हूँ भुलाना तुम को चाहा पर ना भूला भुलाता कैसे जब याद आ रहा हूँ तेरे क़दमों की आहट रोज सुनकर गुलों क... Read more
clicks 181 View   Vote 0 Like   10:19am 30 Jul 2013 #दिल
Blogger: डा.राजेंद्र तेला "निरंतर at "निरंतर" क...
क्यूं दिल कीपरवाह करूँदिल तोबना ही टूटने के लिएकभी अपनों सेकभी परायों सेकोई तोड़े नहीं तोकभी खुद अपने हाथों सेखुद ही मार लेगाकुल्हाड़ी अपने पैरों परलग जाएगाकिसी के दिल से858-42-23-11-2012दिलDr.Rajendra Tela"Nirantar"... Read more
clicks 74 View   Vote 0 Like   1:30pm 24 Dec 2012 #दिल
Blogger: डा.राजेंद्र तेला "निरंतर at "निरंतर" क...
दिल ना जानेकितनी बार टूटा हैतुम हमसे मोहब्बत कामतलब पूछ रहे होहसरतों की उम्मीद मेंरोता रहा हैतुम हमसे मंजिल कापता पूछ रहे होआइना भी अब हमेंपहचानता नहींतुम हमारे घर का पतापूछ रहे होतन्हाई अब हमारा घरकब्रिस्तान हमारी मंजिलतुम हमसे जीने कामकसद पूछ रहे हो827-11-06-11-2012दिल,मो... Read more
clicks 87 View   Vote 0 Like   1:49pm 9 Dec 2012 #दिल
Blogger: डा.राजेंद्र तेला "निरंतर at "निरंतर" क...
यूँ ही मिल गया कोईचलते चलतेदिल में चिराग लिएदेखा जो अन्धेरा उसनेदिल में मेरेचिराग मुझे थमा दियाहो गया मैं भी रोशनउसके इस कारनामे सेखुश हो करजब पूछा मैंने उससेतुम्हारे दिल का क्या होगाबड़ी शिद्दत से वोकहने लगेजिसको चिराग समझा तुमनेवो चिराग नहींमोहब्बत है मेरीजब त... Read more
clicks 88 View   Vote 0 Like   5:59pm 27 Sep 2012 #दिल
Blogger: डा.राजेंद्र तेला "निरंतर at "निरंतर" क...
रात भरदिल को समझाता रहायादों को भगाता रहादिल इतना बेचैनमाना ही नहींमहबूब की यादों मेंखोने को मचलता रहानादाँइतना भी नहीं समझादिल एक बार टूट करबिखर गयातो फिर कभी नहींजुड़ता24-07-2012621-17-07-12Dr.Rajendra Tela"Nirantar"... Read more
clicks 67 View   Vote 0 Like   7:33pm 27 Aug 2012 #दिल
Blogger: डा.राजेंद्र तेला "निरंतर at "निरंतर" क...
इस दिल पर बस नहीं मेराकितना भी समझाऊँसमझता नहीं हैबार बार मचलता हैकोई अपना सा ढूँढने कीजिद करता हैनिरंतर भटकता है  दिल मेरा24-07-2012618-15-07-12Dr.Rajendra Tela"Nirantar"... Read more
clicks 37 View   Vote 0 Like   6:11am 27 Aug 2012 #दिल
Blogger: डा.राजेंद्र तेला "निरंतर at "निरंतर" क...
उसके रुसवा होना सेज़िंदा रहना दुश्वारहो गयाकिस उम्मीद सेघर के दरवाज़े परखडा होऊँ ?अब तो घर के सामने से भीकोई गुज़रता नहीं दिल के आँगन जैसेमेरे घर की गली भीसुनसान हो गयीदिल टूट कर बिखरना जाए कहींवक़्त से पहले हीतन्हायी जान ना ले लेअब शहर से ही रुखसत लेनी होगीउम्मीद... Read more
clicks 53 View   Vote 0 Like   5:59pm 13 Jun 2012 #दिल
Blogger: Hardeep Rana at kunwarji's...
हर और आग थी,जलन थी,धुआँ...बड़ी मुश्किल से एक कोना ढूँढा ...बैठे,कुछ अपने दिल में झाँका,देखा...कुछ लपटे तो वहा भी उठ रही थी!अब..?जय हिन्द,जय श्रीराम!कुँवर जी,  ... Read more
clicks 181 View   Vote 1 Like   7:12am 12 Jun 2012 #दिल
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" at उच्चारण...
मुहब्बत की इबारत को, कभी वो पढ़ नही सकते।पुराने जेवरातों में, नगीने जड़ नहीं सकते।।सफीना चलते-चलते ही, भँवर में फँस गया अपना,उन्हें मिलने की आदत है, मगर हम बढ़ नही सकते।समर में इश्क के हम तो, बिना हथियार के उतरे,उन्हें भिड़ने की आदत है, मगर हम लड़ नही सकते।जरा सी मय को ... Read more
clicks 29 View   Vote 1 Like   5:53am 12 Jun 2012 #दिल
Blogger: डा.राजेंद्र तेला "निरंतर at "निरंतर" क...
दबेहैदिलमेंदर्दबहुतखाएहैंज़ख्मअपनोंसेबहुतजबभीमिलतेगलेलगकरमिलतेफिरचुपकेसेवारकरतेखुशहैंकीज़िंदाहैंअबतकहमअबभीउनसेहंसकरमिलतेहैंहमघबरातेनहींकबफिरज़ख्मोंसेनवाज़ंगेपहलेभीसहेहैंफिरसहलेंगे हमनिरंतर हँसतेरहेंगे लाखकोशिशकरलेंरोयेंगेनहींहम17-01-201255-55-01-12Dr.R... Read more
clicks 17 View   Vote 0 Like   5:46pm 26 Jan 2012 #दिल
[Prev Page] [Next Page]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3990) कुल पोस्ट (194340)