POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: Daily Bread-रोज़ की रोटी

Blogger: rozkiroti
 प्रभु यीशु की कलीसिया में जुड़ना - भक्ति या परिवार और वंशावली से नहीं!       पिछले तीन सप्ताहों से हम प्रभु यीशु मसीह की कलीसिया के विषय बाइबल से अध्ययन करते आ रहे हैं। हमने मत्ती 16:18 में दिए प्रभु यीशु के कथन से इसे देखना आरंभ किया था, जहाँ बाइबल में पहली बार“कली... Read more
clicks 11 View   Vote 0 Like   3:04pm 20 Jan 2022 #परिवार
Blogger: rozkiroti
प्रभु यीशु के दूसरे आगमन पर उसके पास कौन उठाया जाएगा?पिछले कुछ लेखों में हम प्रभु यीशु की कलीसिया के लिए परमेश्वर के वचन बाइबल के नए नियम खंड में प्रयोग किए गए विभिन्न रूपक (metaphors), जैसे कि - प्रभु का परिवार या घराना; परमेश्वर का निवास-स्थान या मन्दिर; परमेश्वर का भवन; परमेश्... Read more
clicks 12 View   Vote 0 Like   3:00pm 19 Jan 2022 #दूसरा आगमन
Blogger: rozkiroti
प्रभु यीशु की कलीसिया संबंधी रूपकों में होकर कलीसिया के लिए प्रभु के प्रयोजन समझें - 5  पिछले कुछ लेखों में हम प्रभु यीशु की कलीसिया के लिए परमेश्वर के वचन बाइबल के नए नियम खंड में प्रयोग किए गए विभिन्न रूपक (metaphors), जैसे कि - प्रभु का परिवार या घराना; परमेश्वर का निवास-स्... Read more
clicks 22 View   Vote 0 Like   3:00pm 16 Jan 2022 #कलीसिया
Blogger: rozkiroti
प्रभु यीशु की कलीसिया संबंधी रूपकों में होकर कलीसिया के लिए प्रभु के प्रयोजन समझें - 3 प्रभु यीशु की कलीसिया के लिए परमेश्वर के वचन बाइबल के नए नियम खंड में विभिन्न रूपक (metaphors) दिए गए हैं, जैसे कि - प्रभु का परिवार या घराना; परमेश्वर का निवास-स्थान या मन्दिर; परमेश्वर का भव... Read more
clicks 35 View   Vote 0 Like   3:00pm 14 Jan 2022 #नींव
Blogger: rozkiroti
प्रभु यीशु की कलीसिया संबंधी रूपकों में होकर कलीसिया के लिए प्रभु के प्रयोजन समझें - 2  हमने प्रभु यीशु द्वारा कलीसिया को धर्मी और पवित्र बनाए जाने तथा उसके परमेश्वर की संगति एवं सहभागिता में बहाली के कार्य को, कलीसिया के लोगों के जीवनों में प्रभु परमेश्वर के उद्दे... Read more
clicks 50 View   Vote 0 Like   3:00pm 13 Jan 2022 #निवास स्थान
Blogger: rozkiroti
    प्रभु यीशु की कलीसिया संबंधी रूपकों में होकर कलीसिया के लिए प्रभु के प्रयोजन समझें       हमने पिछले लेखों में मत्ती 16:18 से देखा है कि प्रभु स्वयं ही अपनी कलीसिया को, अपने मानकों और निर्धारित गुणों एवं प्रक्रिया के द्वारा बना रहा है; वही उसका स्वामी है, उस... Read more
clicks 43 View   Vote 0 Like   3:00pm 12 Jan 2022 #परिवार
Blogger: rozkiroti
 प्रभु यीशु के“एकमात्र उद्धारकर्ता” होने का अर्थपिछले लेखों में हम मत्ती 16:18 के आधार पर प्रभु यीशु मसीह की कलीसिया या मण्डली, अर्थात उसके द्वारा चुने और बुलाए गए लोगों का समूह होने के बारे में देखते आ रहे हैं। हम देख चुके हैं कि प्रभु ने अपने इन चुने हुए लोगों पतरस पर आ... Read more
clicks 37 View   Vote 0 Like   3:00pm 7 Jan 2022 #एकमात्र
Blogger: rozkiroti
क्या पतरस मण्डली का डांवांडोल नहीं वरन दृढ़ आधार बन सकता था?पिछले लेखों में प्रभु यीशु की मण्डली या कलीसिया के बारे में देखते आ रहे हैं। हमने देखा है कि मूल यूनानी भाषा में, प्रभु यीशु द्वारा मत्ती 16:18 में प्रयुक्त शब्द का अर्थ बुलाए गए या एकत्रित किए गए लोगों का समूह है, न ... Read more
clicks 71 View   Vote 0 Like   3:00pm 5 Jan 2022 #नींव
Blogger: rozkiroti
बाइबल में दिए गए कलीसिया के आधार को समझें।   प्रभु परमेश्वर द्वारा लोगों को उद्धार देने, अपने साथी (मत्ती 28:20; यूहन्ना 14:3, 18), परमेश्वर की संतान (यूहन्ना 1:12-13), और अपने साथ स्वर्ग के वारिस (रोमियों 8:17) बनाने; उन्हें संसार भर में जाकर अपने सुसमाचार के प्रचार की सेवकाई सौंपने औ... Read more
clicks 76 View   Vote 0 Like   3:00pm 4 Jan 2022 #नींव
Blogger: rozkiroti
क्या प्रभु ने कलीसिया कंकर/छोटे पत्थर पर बनाई है अथवा चट्टान पर? ईसाई या मसीही समाज में एक बहुत आम धारणा पाई जाती है कि प्रभु यीशु ने पतरस पर अपने कलीसिया बनाने की बात कही है; और इस धारणा का आधार मत्ती 16:18 में प्रभु द्वारा कही गई बात -“और मैं भी तुझ से कहता हूं, कि तू पतरस है;... Read more
clicks 70 View   Vote 0 Like   3:00pm 3 Jan 2022 #चट्टान
Blogger: rozkiroti
परिचय आज ईसाई या मसीही होना,एक धर्म का निर्वाह करने वाला होना मान लिया जाता है, जो परमेश्वर के वचन बाइबल के अनुसार सही समझ नहीं है। इस ईसाई धर्म में भी ईसाई या मसीही कहलाने वाले लोग एक साथ और एक जुट रहकर एक उद्देश्य के लिए कार्य करने वाले नहीं, वरन अनेकों डिनॉमिनेशंस, अर... Read more
clicks 59 View   Vote 0 Like   3:00pm 1 Jan 2022 #चर्च
Blogger: rozkiroti
वरदानों का प्रयोग - रोमियों 12:6-8 - सौंपी गई सेवकाई के अनुसार परमेश्वर पवित्र आत्मा द्वारा प्रत्येक मसीही विश्वासी को सभी के भलाई और उन्नति के लिए उसे मिली उसकी सेवकाई के अनुसार दिए गए वरदानों के प्रयोग के लिए व्यक्तिगत रीति से तैयार होने को सिखाने के बाद, पवित्र आत्मा ... Read more
clicks 61 View   Vote 0 Like   3:00pm 30 Dec 2021 #निरंतर
Blogger: rozkiroti
निष्कर्ष - 1 कुरिन्थियों 12:28-31   हम पिछले लेखों में 1 कुरिन्थियों 12:28 में सूचीबद्ध किए गए कुछ आत्मिक वरदानों के बारे में देखते आ रहे हैं। यह पद हमें बताता है कि“परमेश्वर ने कलीसिया में अलग अलग व्यक्ति नियुक्त किए हैं...", और फिर उन व्यक्तियों को दिए गए वरदानों की सूची दी ग... Read more
clicks 48 View   Vote 0 Like   3:00pm 26 Dec 2021 #छल
Blogger: rozkiroti
आत्मिक वरदानों के प्रयोगकर्ता - प्रधान           मसीही विश्वासियों की मण्डलियों में विभिन्न कार्यों को करने और दायित्वों के निर्वाह के लिए परमेश्वर पवित्र आत्मा ने मसीही विश्वासियों को विभिन्न वरदान दिए हैं, जिनकी एक सूची 1 कुरिन्थियों 12:28 में दी गई है। इस ... Read more
clicks 58 View   Vote 0 Like   3:00pm 25 Dec 2021 #प्रधान
Blogger: rozkiroti
आत्मिक वरदानों के प्रयोगकर्ता - उपकार करने वाले – आवश्यकता मसीही विश्वासियों की मण्डली के कार्यों को सुचारु रीति से चलाने के लिए 1 कुरिन्थियों 12:28 में दी गई आत्मिक वरदानों की सूची के पहले तीन वरदान वचन की सेवकाई से संबंधित हैं; उसके बाद के तीन वरदान - सामर्थ्य के कार्य ... Read more
clicks 124 View   Vote 0 Like   3:00pm 23 Dec 2021 #पवित्र आत्मा
Blogger: rozkiroti
 आत्मिक वरदानों के प्रयोगकर्ता - भविष्यद्वक्ता और भविष्यवाणी    पिछले लेख में हमने 1 कुरिन्थियों 12:28 में दिए आत्मिक वरदानों में से दूसरे वरदान - भविष्यद्वक्ता होने के बारे में देखना आरंभ किया था। यह वरदान मसीही विश्वासियों की मण्डली में वचन की सेवकाई से संबंधि... Read more
clicks 94 View   Vote 0 Like   3:00pm 19 Dec 2021 #नबूवत
Blogger: rozkiroti
  आत्मिक वरदानों के प्रयोगकर्ता - भविष्यद्वक्ता  हम परमेश्वर के वचन से मसीही जीवन और सेवकाई के लिए परमेश्वर पवित्र आत्मा द्वारा दिए जाने वाले वरदानों के बारे में देख रहे हैं। यद्यपि पवित्र आत्मा के द्वारा दिए गए सभी आत्मिक वरदान और परमेश्वर द्वारा निर्धारित क... Read more
clicks 62 View   Vote 0 Like   3:00pm 18 Dec 2021 #पवित्र आत्मा
Blogger: rozkiroti
आत्मिक वरदानों के प्रयोगकर्ता (1)हमने पिछले लेख में 1 कुरिन्थियों 12:7 और 11 से देखा है कि  (1) मसीही विश्वासी से उसके आत्मिक वरदानों का सदुपयोग परमेश्वर पवित्र आत्मा ही करवाता है; पवित्र आत्मा की सामर्थ्य एवं मार्गदर्शन के बिना मसीही विश्वासी उन आत्मिक वरदानों को सहीरीति ... Read more
clicks 144 View   Vote 0 Like   3:00pm 14 Dec 2021 #उपयोग
Blogger: rozkiroti
  आत्मिक वरदानों का प्रयोग        पिछले लेख में हम 1 कुरिन्थियों 12:7-11 से देख चुके हैं कि परमेश्वर पवित्र आत्मा के द्वारा दिए जाने वाले सभी वरदान किसी के निजी प्रयोग अथवा लाभ के लिए नहीं, वरन मसीही विश्वासियों की मण्डली की उन्नति और परमेश्वर के सुसमाचार के प्... Read more
clicks 154 View   Vote 0 Like   3:00pm 13 Dec 2021 #उपयोग
Blogger: rozkiroti
 आत्मिक वरदान - उनके प्रकार तथा उनका विश्लेषण (2)पिछले लेख में हमने 1 कुरिन्थियों 12:7-11 में दिए गए आत्मिक वरदानों को देखना आरंभ किया था। यहाँ दिए गए 9 विभिन्न वरदानों:“बुद्धि का बातें”; “ज्ञान की बातें”; “विश्वास”; “चंगा करने का वरदान”; “सामर्थ्य के काम करने की शक्ति”; “भवि... Read more
clicks 72 View   Vote 0 Like   3:00pm 12 Dec 2021 #उपयोग
Blogger: rozkiroti
 पवित्र आत्मा के वरदानों की समझ मसीही जीवन और सेवकाई में परमेश्वर पवित्र आत्मा की भूमिका और उनके द्वारा दिए जाने वाले आत्मिक वरदानों के अध्ययन में हम यह देख चुके हैं कि परमेश्वर प्रत्येक मसीही विश्वासी से कुछ न कुछ कार्य, जो हर एक के लिए परमेश्वर द्वारा पूर्व-निर्... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   3:00pm 9 Dec 2021 #पवित्र आत्मा
Blogger: rozkiroti
 आत्मिकता का प्रमाण - आज्ञाकारिता या चिन्ह और चमत्कार?  पिछले लेख में हमने देखा है कि मनुष्य द्वारा परमेश्वर को प्रसन्न करने और उसके कार्य करने के लिए परमेश्वर की दृष्टि में परमेश्वर की आज्ञाकारिता का ही सर्वोपरि स्थान है। हम यह भी देख चुके हैं कि परमेश्वर अपने स... Read more
clicks 134 View   Vote 0 Like   3:00pm 7 Dec 2021 #चमत्कार
Blogger: rozkiroti
परमेश्वर की आज्ञाकारिता या‘धर्म’ और‘भलाई’ के काम?मसीही जीवन और सेवकाई में परमेश्वर पवित्र आत्मा द्वारा दिए जाने वाले वरदानों के विषय अध्ययन करते हुए, हम पिछले दोनों लेखों में देख चुके हैं कि परमेश्वर प्रत्येक मसीही विश्वासी को कार्यशील चाहता है, और उसने हर एक के लिए... Read more
clicks 107 View   Vote 0 Like   3:00pm 5 Dec 2021 #घमंड
Blogger: rozkiroti
परमेश्वर द्वारा दिए गए वरदानों का उद्देश्य         मसीही जीवन और सेवकाई से संबंधित बातों के अध्ययन की इस ज़ारी शृंखला में हम मसीही विश्वास, मसीही जीवन, मसीही सेवकाई, और मसीही सेवकाई में परमेश्वर पवित्र आत्मा की भूमिका के बारे में देख चुके हैं। पिछले कुछ लेखो... Read more
clicks 135 View   Vote 0 Like   3:00pm 3 Dec 2021 #पवित्र आत्मा
Blogger: rozkiroti
 पवित्र आत्मा का बपतिस्मा – निहितार्थ भाग 2 कल के लेख में हमने परमेश्वर पवित्र आत्मा के विषय फैलाई जा रही गलत शिक्षाओं के मसीही विश्वासी के जीवन और उसकी सेवकाई पर आने वाले दुष्प्रभावों के निहितार्थों और घातक परिणामों के पहले भाग को देखा था। इस शृंखला के निष्कर्ष प... Read more
clicks 58 View   Vote 0 Like   3:00pm 2 Dec 2021 #पवित्र आत्मा
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3997) कुल पोस्ट (196150)