POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: मंथन

Blogger: Mukund Keshoraiya
आदमी बातों से नहीं,हालातों से परिभाषित होता है। वो उन निर्णयों का परिणाम है,जो उसने लिए - सही और गलत,और वो भी जो लिए ही नहीं,जिसका उसे प्रायश्चित होता है। हमारे सोचने, कहने और करने में,वो झलकता है जो बीत चुका, इसलिएभूत भविष्य में प्रतिबिंबित होता है। बीता कल जो हम पर ... Read more
clicks 13 View   Vote 0 Like   3:58pm 20 Sep 2021 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
साक्षीहैइतिहासवीरोंकीअमरकहानीका,मिटनहींसकतावोअध्यायक़ुरबानीका,लाखझूठघोलदोतुममुगलईविचारोंका,मिटानसकतेसत्य, हैअसरसंस्कारोंका.जबतकगगनमेंचाँद, तारे, औरखूनमेंरवानीहै,जबतकउद्धघोषहर-हरमहादेवऔरसमरभवानीहै,तबतलकदुनियाकहतीरहेगीयहऐसीअमरकहानीहै. जोमज़हबीआं... Read more
clicks 15 View   Vote 0 Like   4:54am 14 Sep 2021 #India
Blogger: Mukund Keshoraiya
दिए जले पर उजाला न हो पाया,झोंपड़ी में अँधेरे का मुंह काला न हो पाया। समाजवाद का नारा लगाया था बड़ी उम्मीदों से,पर गरीब की किस्मत का ताला न खुल पाया। खाली मर्तबान में उड़ेल दिया पानी उसने,पर भूख का वो जिद्दी एहसास न घुल पाया।  तमाम उम्र किस्मत चमकाता रहा वो,ग़रीबी क... Read more
clicks 73 View   Vote 0 Like   1:08am 13 Sep 2021 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
है बेपनाह मोहब्बत ज़िन्दगी से पर,जब आएगी मौत, चेहरे पे शिकन न होगी। न कोई परहेज़ है जन्नत के ख़्वाबों से मुझे,ग़म होगा तो बस ये, कि हिंदुस्तान की मिट्टी न होगी। रहूं भले मरहूम दुनिया भर की सरवत से,परचम हिन्द का लहरे, मेरे ही दम से। उठा कर देख लो दुनिया भर की तारीख़ को,... Read more
clicks 21 View   Vote 0 Like   6:42am 15 Aug 2021 #shayari
Blogger: Mukund Keshoraiya
आज १२०० का ओक्सिमीटर, २००० में बिक गया,इन्सां नाम का भेडिया, और नीचे गिर गया। य़े कोरोना म्युटेन्ट भी अजब रंग बदल गया,पर रंग स्याह, इन्सानी चेहरे का हो गया। अपनी मतलब परस्ती की खातिर, हम आपकी जिन्दगी से खेल जायेगें,क़ोइ मरता है तो मरे, हम आगे ही बढते जायेंगे। उन्चीं ईम... Read more
clicks 49 View   Vote 0 Like   4:01pm 20 Apr 2021 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
Rig Veda 5.40.5,5.40.9यत् त्वा सूर्य स्वर्भानुस्तमसाविध्यदासुर∶Ι     अक्षेत्रविद् यथा मुग्धो भुवनान्यदीधयुःΙΙ5ΙΙयं वै सूर्यं स्वर्भानुस्तमसाविध्यदासुर∶Ιअत्रयस्तमन्वविन्दन् नह्यन्ये अशक्नुवन्ΙΙ9ΙΙ"हे सूर्य! जब आप किसी एक ऐसे से अवरुद्ध हो जाते हैं, जिसे आपने अपना प्रकाश उ... Read more
clicks 63 View   Vote 0 Like   5:23am 21 Jun 2020 #History
Blogger: Mukund Keshoraiya
Ongoing violent protest against citizenship Amendment Act clearly reveals the true character of leftist and separatist elements. These elements always accuse BJP government for intolerance and fascist approach. In 2019 general elections BJP forthrightly mentioned CA and other issues like Article 370, Triple Talaq in their Manifesto and with this Manifesto BJP entered in elections saying that if they come to power they will fulfill these promises.In a democracy (in which leftist have little faith) people choose a party or parties to do what they have promised. In 2019 elections, majority of people voted in favour of BJP means majority of Indians want these issues to be address in the manner B... Read more
clicks 150 View   Vote 0 Like   4:03pm 17 Dec 2019 #Politics
Blogger: Mukund Keshoraiya
तू तन्हा नहीं, देख, वो हमेशा तेरे साथ खड़ी है।वो शरारतें भी पाक़ हो जाएँ, जिनकी यादों से माँ जुडी है ॥दूर हो जाऊं उससे, ये मुमकिन नहीं।मेरी हर सांस उसकी मौजूदगी की मुनादी है ॥... Read more
clicks 193 View   Vote 0 Like   6:25pm 23 Apr 2016 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
Media is meant to be unbiased and neutral, if not indifferent which at times BBC seems to do. In the past few years, ever since the Indian Television is flooded with so many news channels, all of them had started facing the challenge of being different. It is out of this burden that almost all of them have chosen a different style of presenting news, which in turn have lead them to create news, other then modifying news according to their personal goals(economical or ideological).Creation of news is done according to the convenience of their ideology and saleability of the news. In the last general elections, almost all of them divided in two groups. Either they supported Modi, or they were ... Read more
clicks 289 View   Vote 0 Like   5:04pm 5 Aug 2014 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
सजा के सपने आँखों में चले थे हम वहांस्वर्णिम आभा माँ की आलोकित होगी जहाँ.माँ तुझे समर्पित थी जवानी, और बाकि जिंदगानी,तेरे ही दम से दफ़न कर दी दुष्ट फिरंगी की मनमानी.सींचकर अपने लहू से आजाद तुझे कराया था,हम कि जिसके सर पे मेहरबान तेरा साया था.जुबाँ पे हिन्द, लहू में हिन्द, ... Read more
clicks 269 View   Vote 0 Like   4:27pm 27 Aug 2013 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
आज सुबह जब खिड़की खोली,नीम की पत्ती मुझसे बोली,में तो हूँ इतनी कडवी,फिर भी तुम रोज निहारते, मुझे देखकर खुश हो जाते.कारण क्या है ये तो बताओ,ऐसे ना तुम मुझे सताओ.प्रश्न सुन में मुस्काया, हुआ चकित, थोडा भरमाया,होठों पर मुस्कान बन, आये दिन पुराने याद,याद आई वो पकी निमोरियां बहुत... Read more
clicks 265 View   Vote 0 Like   8:28am 19 May 2013 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
Belief can change our world,It makes us realize our potential,               But it needs something,Something which is essential,Something which we all own.But it remains unknown under the curtain of negligence,We’ll be able to unhide it if we show some prudence.& this prudence will lead us to our transformation,Only, & if only, we follow our true passion!It is the courage! Courage of moving that extra inch when going gets tough, courage of trying new things in life, courage of overcoming the fear of failure. But the question remains how’ll we do that? Luckily, answer is in one word – PASSION.I’ve realised ... Read more
clicks 269 View   Vote 0 Like   4:02pm 7 May 2013 #motivational
Blogger: Mukund Keshoraiya
विवशता की इस घडी में भी,पौरुष को महसूस कर पा रहा हूँ मैं,तोड़ रहा था जो शरीर को कल तक,वही दर्द आज धमनियों में उफान ला रहा है. ऐसा नहीं है कि जीवन से घृणा है मुझे,ये आकर्षण है मृत्यु का, जो अपने पास बुला रहा है.खींच रहा है पास अपने वो ढलता हुआ सूरज,अंत निश्चित है,पर नहीं है अंश ... Read more
clicks 266 View   Vote 0 Like   2:30am 23 Apr 2012 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
आज फिर कहीं दूर जाने को मन करता है,ज़िन्दगी से मुंह चुराने को मन करता है.न जाने क्यूँ होता है ऐसा,जब खुद से ही सवाल करने को मन करता है.इस अँधेरी काली रात में,जब कि सवेरा नजदीक है, न जाने क्यूँ ये मन,सवेरे के उजालेपन पर शक करता है.अटल है नियम प्रकृति का, जानता है, समझता भी है,फि... Read more
clicks 297 View   Vote 0 Like   9:23am 18 Jan 2012 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
हम भी आँखों में सपने,दिल में हसरतें रखते हैं,ये तो सुरूर है मोहब्बत-ए-वतन का,जो जान हथेली पे लिए फिरते हैं.सुकून से ज़िन्दगी फिर जियेंगे कभी,अभी तो जान न्योछावर किये चलते हैं.सूखा नहीं है हमारी आँखों का पानी, ये तो वक्त का तकाजा कुछ और है,वरना हम भी आँखों में नमी रखते हैं. ... Read more
clicks 241 View   Vote 0 Like   1:29pm 15 Dec 2011 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
नव सृजन करें प्रकाश का,अंधियारे को दूर भगाएं,आओ फिर से दिया जलाएं.हम संस्कृति के वाहक,सनातन धर्मं के सेनानी,करके अपना पुण्य प्रबल,लिख जाएँ एक अमर कहानी.निर्बल का बनें संबल,गिरते को ऊपर उठायें,अपनी सोच को विस्तृत करलें,संपूर्ण जग को सुखी बनायें.बन जाएँ हम भी दियें समान,स... Read more
clicks 241 View   Vote 0 Like   11:01am 27 Oct 2011 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
कुछ कहतीं है ये राहें,पर तू है मंजिल पाने को बेताब,अपनों को कर नज़रंदाज़, चला जा रहा बेखबर.कल मंजिल तो होगी पर ना होगा कोई साथी,जश्न मानाने को, खुशियाँ बाँटने को.तू चला है अपनों को भूलकर,अपनों के सर पर पाँव रखकर.आगे बढने की भूख, पैसा कमाने की हवस,इन्सान को कर रही इन्सान से अल... Read more
clicks 255 View   Vote 0 Like   2:35pm 22 Sep 2011 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
Once again blood spilt on streets,Once again we were brought to our knees.Once again innocent people put to death,Once again Mumbai is in grip of wrath.But this didn’t come as a surprise,It was expected, waiting to happen,Anytime it could be sudden demise.What else can be expected from an impotent government, For past 7 years they have been painfully reluctant. And what message they have sent to the world,Come & slaughter us, we will remain lulled.Even if we got you, even if our court prosecute you,We won’t hang you, we won’t execute you.Once again there left a huge question mark,Why can’t we become unassailable?When will we learn to retaliate?Sadly there is no one to give t... Read more
clicks 229 View   Vote 0 Like   5:53am 17 Jul 2011 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
आज एक नहीं दो देश दिखाई देते हैं,एक को भारत एक को लोग इंडिया कहते हैं.भारत-पाकिस्तान का विभाजन अंग्रेजों की देन था,भारत-इंडिया का विभाजन अंग्रेजियत का परिणाम है.और ये विभाजन राजनितिक न होकर सामाजिक-आर्थिक ज्यादा है,  पर इसके भी मूल में मेकोले वाली विचारधारा है.वैसे सच ... Read more
clicks 246 View   Vote 0 Like   2:58pm 26 Jun 2011 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
अब ना सहेंगे तेरे ज़ुल्मों को,इस सत्ता की ठनक को,शेर-ऐ-इन्कलाब है हम,हमारे खू से क्रांति की इबारत लिखी जाएगी.तुझे तेरी औकात बताने ऐ सत्ताधीश,एक बार फिर नई दिल्ली की घेरेबंदी की जाएगी.भगवा पर चली लाठी की गूँज तुझे बहरा बनाएगी,ऐ सल्तनत-ऐ-दिल्ली इस कहर से ना तू बचने पायेगी.नि... Read more
clicks 288 View   Vote 0 Like   3:22pm 18 Jun 2011 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
Tirunellai Narayana Seshan(T N Seshan) was the 10th Chief Election Commissioner of India from 1990 to 1996. Because of his contributions he is often referred as Father of Electoral Reforms in India.He was born in Kerala. After doing Graduation from Madras Christian College, he started teaching there. Seshan topped the Indian Police Service Exam in 1953, and in next attempt got selected for Indian Administrative Service in 1954. His first posting was as Sub collector in Madurai district, Tamil Nadu. After working as Director of Programs in Secretariat for Rural Development in Madras he was appointed as collector of Madurai district. And there he got a fellowship to Harvard University to earn ... Read more
clicks 306 View   Vote 0 Like   2:57pm 16 Jun 2011 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
A new beginning, a new journey,emerging a new destination, in the horizon.I dunno what way will i go, I dunno where will I reach,All I know is to move forward, that is what they preach.Sometimes the journey becomes your destination,Never stop, never look behind,That is how you draw your inspiration.What lies ahead are obscured, galore fortunes waiting to be explored, But If you gonna get’em, you’ll be soared. To strike balance you need to keep moving,            so go ahead and never let your past haunt you,move on & let your belief propel you.  ... Read more
clicks 260 View   Vote 0 Like   5:19pm 15 Jun 2011 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
घर के बाहर खड़ा हूँ, सामने सड़क है,सड़क क्या है आरक्षण का अखाडा है.इसी अखाड़े में आरक्षण के दाव-पेंच चले जाते है,बसे तोड़ी जाती है पुतले फूके जाते है.सोचता हूँ अगर सड़क भी आरक्षित होती तो,तो शायद कुछ ही सड़क पर चल पाता,विप्रसमाज में जन्म लेने की कुछ तो सजा पाता.वैसे ये सड़क राजनीत... Read more
clicks 240 View   Vote 0 Like   8:28am 24 May 2011 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
आज समय आया है.खोया वैभव लोटाने का,माँ भारती को पुनः विश्व-गुरु बनाने का.अब धूल छटेंगी उस स्वर्णिम आभा से,जिससे प्रदीप्त यह विश्व हुआ,अब पुनः बहेगी वह ज्ञान-धारा,जिसने संसार को सभ्य किया.पुण्य तुम्हारा होगा यदि माँ के काम आ जाओगे,इस पावन यज्ञ में अपनी आहुति चढ़ाजाओगे.माँ ... Read more
clicks 256 View   Vote 0 Like   4:30pm 16 May 2011 #
Blogger: Mukund Keshoraiya
 He was an Indian civil service officer. He was the constitutional advisor to the last three viceroys during British rule. He was the only Indian in Mountbatten’s core team. In Independent India he became Secretary of the Ministry of States. And more importantly, he was the person who along with Sardar Patel achieved the integration of Indian states.He was Vapal Pangunni Menon. To his friends he was known as V P Menon. Menon played a vital role in shaping Independent India’s fate, but he never received the recognition he deserved. He came from a very humble background and yet reached the heights of the Indian Government Services. Born in Kerala in 1894, Menon joined Government servi... Read more
clicks 334 View   Vote 0 Like   4:56pm 22 Apr 2011 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3993) कुल पोस्ट (195281)