POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan

Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
विगत चार-पाँच महीनों से पूरे विश्व के लिए जी का जंजाल बनी कोविड -19 महामारी से आज हर व्यक्ति आतंकित है। चीन के वुहान शहर से प्रसारित इस महामारी ने समूचे विश्व को अपने पंजे में जकड़ लिया है। विश्व के कई देशों की अर्थव्यवस्थाएँ ध्वस्त होने के कगार पर हैं, स्वास्थ्य सेवाएँ चरमरा गई हैं। बड़े पैमाने पर जिंदगियों क... Read more
clicks 222 View   Vote 0 Like   7:47am 28 Apr 2020 #Lifestyle
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
(विनोद गौड़ सेवानिवृत्त बैंक अधिकारी हैं। श्री गौड़ एक अच्छे विचारक, प्रेरक तथा समाजसेवी हैं। हिन्दी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में अपनी कलम का जादू बिखेरते हैं। शब्दमंच के अनुरोध पर  चंद्रयान पर लिखी गई इनकी कविता 'अतिथि पन्ने'पर प्रस्तुत है-)'चन्दा मामा दूर के'येकविता ... Read more
clicks 148 View   Vote 0 Like   4:34am 17 Sep 2019 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
भारत की राष्ट्रीय एकता का बीज वपन करने वाले लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की 143 वीं जयंती पर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने सरदार पटेल की विशालकाय प्रतिमा का लोकार्पण किया।राष्ट्रीय एकता दिवस 31 अक्टूबर 2018 पर लोकार्पित की गई यह प्रतिमा सरदार पटेल के विशाल व्यक्... Read more
clicks 224 View   Vote 0 Like   12:24pm 26 Feb 2019 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
पुस्तक समीक्षापुस्तक का नाम:  शिक्षा का अधिकार               स्थिति और प्रभाव लेखक :डॉ.सुनील कुमार गौड़ मूल्य: रु.120   पृष्ठ :106 प्रकाशक : समय साक्ष्य,        15 फालतू लाइन,         देहरादून-248001  शिक्षा समाज की आधारशिला है।प्रत्... Read more
clicks 256 View   Vote 0 Like   2:19pm 9 Oct 2018 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
किसी बुरी शै का असर देखता हूं ।जिधर देखता हूं जहर देखता हूं ।।रोशनी तो हो गई अंधेरों में जाकर।अंधेरा ही शामो सहर देखता हूं ।।किसी को किसी की खबर ही नहीं है।जिसे देखता हूं बेखबर देखता हूं ।।ये मुर्दा से जिस्म जिंदगी ढो रहे हैं।हर तरफ ही ऐसा मंजर देखता हूं ।।लापता है मंज... Read more
clicks 258 View   Vote 0 Like   4:09pm 2 Aug 2018 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
बसाकर दिल में मस्ती का, घराना हम भी रखते हैं।जो दिल में सबके गूँजे वो, तराना हम भी रखते हैं। हम अपने पास में केवल गम ही गम नहीं रखते,लौटाने को तो खुशियों का, खजाना हम भी रखते हैं॥                                         ---अनीता  ... Read more
clicks 289 View   Vote 0 Like   1:11pm 25 Feb 2018 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
वर्ष नूतन आ गया है, प्यार और उल्लास लेकर।आ गया लेकर उमंगें, एक नया अहसास लेकर॥वर्ष नूतन..क्या खो दिया क्या पा लिया , तुम जरा ये सोच लो।वर्ष  आगत  के लिए नव, लक्ष्य  बिन्दु  खोज लो।।बढ़ चलो प्रगति के पाठ पर, जीत का विश्वास लेकर।वर्ष नूतन...खिल उठें फूलों की कलियाँ, उतारें... Read more
clicks 261 View   Vote 0 Like   9:33am 5 Jan 2018 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
न मैं हिन्दू होता ,न तू मुसलमाँ होता ।दरम्यां न फिर हमारे,फिर फासला होता।।न कहीं मंदिर गिरता,न मस्जिद कोई ढहती।न कहीं दंगे ही  होते, न जलजला होता॥न होती नफरत दिलों में,मेरे और तुम्हारे।दोस्ती और अमन का बस सिलसिला होता॥बंधी होती एक जिल्द में,गीता औ’कुरान भी।सिमटा ह... Read more
clicks 275 View   Vote 0 Like   1:19pm 12 Nov 2017 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
नव निशा की बेला लेकर,साँझ सलोनी जब घर आयी।पूछा मैंने उससे क्यों तू ,यह अँधियारा संग है लायी॥सुंदर प्रकाश था धरा पर,आलोकित थे सब दिग-दिगंत।है प्रकाश विकास का वाहक,क्यों करती तू इसका अंत॥जीवन का नियम यही है,उसने हँसकर मुझे बताया।यदि प्रकाश के बाद न आए,गहन तम की काली छाया॥... Read more
clicks 283 View   Vote 0 Like   4:02pm 8 Nov 2017 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
“भारत गांवों का देश है,भारत गाँव में बसता है। - आज से सात दशक पूर्व देश की आजादी के समय यह बात अक्षरश: सत्य थी। इसी आधार पर महात्मा गांधी,बिनोबा भावे,पंडित दीनदयाल उपाध्याय जैसे महापुरुषों ने ग्राम स्वराज की कल्पना की थी। आत्मनिर्भर व समृद्ध गाँव भारत की पहचान हुआ करते ... Read more
clicks 242 View   Vote 0 Like   6:49am 4 Nov 2017 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
      आज अपने काव्य में,विज्ञान की जय बोलता हूँ,चिर पुरातन नित्य नूतन ज्ञान की जय बोलता हूँ।।     हैं कहाँ से प्राणी आये,और मनुज आया कहाँ से।मूल सबका एक समझो, जन्मे हैं सब कोशिका से।।कोई जल में तैरता है, कोई दौड़े इस धरा पर।कोई पंख अपने फैलाये, है विचरता आसमा... Read more
clicks 264 View   Vote 0 Like   2:49pm 25 Aug 2017 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
जन्मदिवस पर आज तुम्हारे,सुने मेरी विनती भगवान । हर इच्छा हो पूर्ण तुम्हारी,सुख के नभ में भरो उड़ान।।बुरे-बुरे जो पल बीते हैं,उनकी याद कभी न आये।सुखद स्मृतियां मधुर क्षणों की,बहुगुणित हों तुम्हें  हंसायें।।इतनी खुशियां मिलें तुम्हें कि,रहे सदा मुख पर मुस्कान।जन्मद... Read more
clicks 229 View   Vote 0 Like   3:17pm 21 Mar 2017 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
दुख से अपना गहरा नाता, सुख तो आता है, और जाता. दुख ही अपना सच्चा साथी, हरदम ही जो साथ निभाता. जब से जग में आंखें खोली, सुनी नहीं कभी मीठी बोली. दिल को तोड़ा सदा उसी ने, जिसको भी समझा हमजोली. जिम्मेदारी का बहुत सा, बोझ उठाया कांधे पर. जिसको भी दिया सहारा. मार च... Read more
clicks 291 View   Vote 0 Like   7:09am 9 Mar 2017 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
विद्यालय और बच्चेआज के शैक्षिक ढांचे का सबसे बड़ा विद्रूप यह है कि इतन बड़ा ताम झाम जिन बच्चों के लिए खडा किया गया है, वही बच्चे विद्यालय की ओर आकर्षित नहीं हो पा रहे हैं. तरह तरह के अभियान और योजनाएं चलाने के बावजूद भी अपेक्षित परिणाम सामने नहीं आ रहे हैं. इसके कारणों पर व... Read more
clicks 370 View   Vote 0 Like   1:16pm 16 Jun 2016 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
आम पपीता केला लीची आडू हिसार और काफल अमरूद चुल्लू और खुबानी तरह तरह के खाए फल .इतना खाकर गोपी बोला पेट अभी भी भरा न भाई.टिहरी से सिंगौरी मंगा दो अल्मोड़ा से बालामिठाई.... Read more
clicks 292 View   Vote 0 Like   3:44pm 13 May 2016 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
रोटी सूरज भी लगता है फीका चाँद सी दिखती है रोटी।  धन्य हो  उठता है चूल्हा ,जब तवे पर सिकती है रोटी। । जिंदगी मिल जाती है जब भूख में मिलती है रोटी। पेट के उजड़े चमन में ,फूल सी खिलती है रोटी।।जान की कीमत पे देखो ,दुनिया में बिकती है रोटी। चीन लेती ताज भी तो,इति... Read more
clicks 347 View   Vote 0 Like   7:00am 7 Nov 2015 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
( हमारे विवाह की वर्षगांठ पर सिर्फ तुम्हारे लिए )तेरे अधरों की मुस्कान,भरती मेरे तन में प्राण. जीवन की ऊर्जा हो तुम,साँसों की सरगम की तान. मैं सीप तुम मेरा मोती ,मैं दीपक तुम मेरी ज्योति. कभी पूर्ण न मैं हो पाता ,संग मेरे जो तुम न होती. किन्तु दुख है कि मैं तुमको,कभी नहीं खुश र... Read more
clicks 340 View   Vote 0 Like   1:45pm 27 Jul 2013 #
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
जिन्दगी  को तेरी आदत यूं हो गयी ,कि तेरे बिना हर  पल दुश्वार हो गया .कुछ  न रहा बाकी अब मेरे हाथ में , हर सांस पर भी तेरा अधिकार हो गया .     ... Read more
clicks 335 View   Vote 0 Like   10:40am 6 Jun 2013 #Kavita
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
         ........1......तुम्हे जब देखते हैं हम , हमारा दिल  मचलता है .तुम्हारे दिल में भी शायद हमारा ख्वाब पलता है.समझते तुम भी सब कुछ हो, समझते हम भी हैं सब कुछ ,मगर मुंह से न कुछ मेरे न तेरे से निकलता है.                      ..... 2....एहसासों की बस्ती में इशारे तो  बेमानी हैं .जो बातें कह नहीं पाया वह... Read more
clicks 310 View   Vote 0 Like   1:24pm 15 Jun 2012 #Kavita
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
जीवन   में कुछ  पल आते हैं ,रह  जाते जो    यादें   बनकर.पर  कुछ  पल  ऐसे हैं  होते  , संग चलते  हैं  जो जीवन  भर .जीवन  की  भूलभुलैय्या  में ,विस्मृत हो  जाता  हर  चेहरा .लेकिन कुछ  चेहरों का   होता ,प्रभाव  आकुल मन पर गहरा .श्रद्धा की मूरत बनकर जो , अंकित होते ह्रदय पटल प... Read more
clicks 388 View   Vote 0 Like   5:44am 12 May 2012 #Kavita
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
जिन्दगी को  कुछ  लोग  इतना सस्ता समझ  लेते हैं कि खुदकुशी जैसा कायरतापूर्ण  कदम  उठाने  में भी गुरेज नहीं करते .   कल ही देहरादून  में एक   बी0 एस 0सी0 बायोटेक्नोलोजी  के  छात्र ने केवल  इस  कारण  मौत  को गले लगा लिया कि उसके परिवार वाले उसकी शादी उसकी प्रेमिका से ... Read more
clicks 389 View   Vote 0 Like   11:34am 6 May 2012 #articls
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
प्रेम तो है परमात्मा, पावन अमर विचार.इसको तुम समझो नहीं , महज देह व्यापार.प्रेम गली कंटक भरी, रखो संभलकर पांव.जीवन भर भरते नहीं, मिलते ऐसे घाव.'दर्पण' हमसे लीजिए, बड़े काम की सीख.दे दो, पर मांगो नहीं, कभी प्यार की भीख.मन से मन का हो मिलन, तो ही सच्चा प्यार.मन के बिना जो तन मिले, बड़... Read more
clicks 390 View   Vote 2 Like   3:26pm 22 Feb 2012 #Kavita
Blogger: Pradeep Bahuguna Darpan
प्रेम तो है परमात्मा, पावन अमर विचार.इसको तुम समझो नहीं , महज देह व्यापार.प्रेम गली कंटक भरी, रखो संभलकर पांव.जीवन भर भरते नहीं, मिलते ऐसे घाव.'दर्पण' हमसे लीजिए, बड़े काम की सीख.दे दो, पर मांगो नहीं, कभी प्यार की भीख.मन से मन का हो मिलन, तो ही सच्चा प्यार.मन के बिना जो तन मिले, बड़... Read more
clicks 332 View   Vote 0 Like   3:26pm 22 Feb 2012 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3991) कुल पोस्ट (194981)