POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: तीज-त्यूँवार

Blogger: Dr.Monica Sharrma
चौक पुरावो मंगळ गावो.........ई तिरियाँ ई सरू होवै है आपणी मरुधरा माळै तीज तेवार अर सुभ कारज। जणा ई अठे सगळा बरत-बड़ूल्यां  अर तीज तेवारां कै खातर न्यारा-न्यारा माँडणा माँड्या जाय है। आं माँडणा नै दीवाल कै माळै अर आँगणां कै मायनैँ उकेरण रो रिवाज है। शादी-ब्याव सैँ लेर होळी ... Read more
clicks 276 View   Vote 0 Like   5:11am 2 Nov 2016 #
Blogger: Dr.Monica Sharrma
आपणी संस्करती अर सभ्याचार नै नुईं पीढ़ी नै सूंपणै री खातर भोत जरूरी है कै  आपां सरुआत सैँ ई टाबरां नैँ आपणा बार-त्यूँवार अर नेगचारां कै बारै मैं बतावां। रीत रिवाज अर धरम दस्तूर नै समझण को सबसूं चोखो मोको आपणा ही तीज-तेवार होवैँ हैं। क्यूंकि आं मोकां माळै टाबरां नै बडा-... Read more
clicks 228 View   Vote 0 Like   2:38pm 14 Dec 2014 #
Blogger: Dr.Monica Sharrma
राजस्थान मैं गहणा नैं ठाँव भी कह्यो जाय है | हमेल अठे को पारंपरिक गहणों है |हमेल [Hamel]... Read more
clicks 467 View   Vote 0 Like   2:45am 7 Feb 2013 #Rajasthani jwellary
Blogger: Dr.Monica Sharrma
म्हारा बिंदायकजी स्याणा ल्यावैं बै तो धन का बाणाम्हारा बिंदायकजी भोळा, ल्यावैं भर कै धन का झोळाम्हारा बिंदायकजी सूदा, करदीं बै तो धन का कुड्डाम्हारा बिंदायकजी ठाडा, ल्यावैं बैं तो धन का गाडा हे बिंदायकजी महाराज, भरया ई आइयो रीता जाइयोबिंदायक बाबो रंग्यो चंग्यो, भरी ... Read more
clicks 242 View   Vote 0 Like   4:45am 31 Aug 2011 #Dr. Monica Sharrma
Blogger: Dr.Monica Sharrma
म्हारा माथा नै मैमंद ल्यावो म्हारा हंजा मारू येईं रहो जी। म्हारा हाथां नै चुङलो ल्यावो म्हारा हंजा मारू येईं रहो जी। गणगौरयां रो बडो है त्युंआर म्हारा हंजा मारू येईं रहो जी..... जाबा देओ नखराळी नार जाबा देओ ऐ, जाबा देओ चिरतांळी नार जाबा देओ ऐ, म्हारा साथीङा ऊबा ड्योड्याँ ... Read more
clicks 309 View   Vote 0 Like   11:25pm 13 Aug 2010 #गणगौर के गीत
Blogger: Dr.Monica Sharrma
एक साहूकार कै दो बेट्याँ ही। दोनी भाणां चाँद पून्यू को बरत करती। बड़ी भांण तो पूरो बरत करती अर छ्योटी भांण अधूरो बरत करती। अधूरो बरत करबा सैं छ्योटी भांण का टाबर जनम लेतां ई मर जाता। जद बा पंडित नै पूछ्यो की के बात है कि म्हारा टाबर होतां ई मर जावै है। तो बै बोल्या कि तू प... Read more
clicks 280 View   Vote 0 Like   9:05pm 10 Aug 2010 #चाँद पूर्णिमा
Blogger: Dr.Monica Sharrma
एक आसळियो बावळियो हो। बिकी जुओ खेलबा की बांण ही, अर बो हरबा अर जीतबा दोन्यां का बामण जिमातो। जद बिकी भाभ्याँ बोली की ओ तो हारै तो बामण जिमावै जीतै तो बामण जिमावै, इयाँ कियां पार पड़सी। इनै गाँव मां ई काड दयो। जद आसळियो बावळियो भी घरां सैं निकळकै शहर चल्योगो अर आसमाता की आ... Read more
Blogger: Dr.Monica Sharrma
काती का मैहना मैं सै लुगायां तुळसां जी सींचबा जाती। सगळी लुगायां कै जातांई बठे एक बुढ़िया माई आती अर तुलसां जी सैं कह्या करती कै तुळसी माता सत की दाता मैं बिङलो सीचुं तेरो तू निस्तारो कर मेरो.......... अडुवा दे लडुवा दे , पीताम्बर की धोती दे , मीठा मीठा गास्या दे , बैकुठां का बा... Read more
clicks 231 View   Vote 0 Like   6:23pm 1 Aug 2010 #Dr. Monika Sharma
Blogger: Dr.Monica Sharrma
एक साहूकार कै सात बेटा अर एक बेटी ही। सातूं भाई जद भी जीमणै बैठता भांण नै सागै लेर बैठता । बै कदे ई एकला कोनी जीमता। फेर काती की चौथ का बरत कै दिन सारा भाई बोल्या आव बाई जीम लै। जद भांण बोली आज तो म्हारो करवा चौथ को बरत है। ई खातर चाँद उगण कै पाछै ई जीम स्यूं। भाई सोचण लाग्या... Read more
clicks 303 View   Vote 0 Like   2:24am 27 Jul 2010 #Dr. Monika Sharma
Blogger: Dr.Monica Sharrma
राजा कै बाया जौ चिणा, माळी कै बाई दूब। राजा का जौ चिणा बढ़ता जांय माळी की दूब घटती जाय । एक दिन माळी कै मन मैं बिचार हुयो की बात के है? राजा का जौ चिणा तो बढ़ता जा रह्या है अर म्हारी दूब घटती जा रह्यी है। फेर एक दिन बो गाडा कै ओलै ल्हुक कै बैठगो अर सोच्यो की देखां तो सरी बात कै है... Read more
clicks 280 View   Vote 0 Like   8:19pm 26 Jul 2010 #गणगौर की कहानी
Blogger: Dr.Monica Sharrma
सांपदा को उज्मणों डोरा लेणा सरू करनै कै कुछ बरस पाछै ई करयो जाय है। पैलै दिन मैंदी लगा कै ई दिन बरत राख्यो जाय है और कहाणीँ सुणी जाय है। कहाणीँ सुणै जद एक पाटा माळै पाणी को लोट्यो, रोळी, चावळ अर सीरो-पूड़ी मेलकै पूजा करी जाय है। लोट्या पर सात्यो बणा अर टीका काड कै कहाणीँ स... Read more
clicks 243 View   Vote 0 Like   7:42pm 26 Jul 2010 #होली
Blogger: Dr.Monica Sharrma
आपणी संस्करती अर सभ्याचार नै नुईं पीढ़ी नै सोंपणैँ की खातर भोत जरूरी है की आपां सरुआत सैँ ई टाबरां नैँ आपणा बार-त्यूँवार अर नेगचारां कै बारै मैं बतावां। रीत रिवाज अर धरम दस्तूर नै समझण को सबसूं चोखो मोको आपणा ही तीज-तेवार होवैँ हैं। क्यूंकि आं मोकां माळै टाबरां नै बडा-ब... Read more
clicks 236 View   Vote 0 Like   11:06pm 16 Jul 2010 #टाबरियां री टोळी
Blogger: Dr.Monica Sharrma
चौक पुरावो मंगळ गावो.........ई तिरियाँ ई सरू होवै है आपणी मरुधरा माळै तीज तेवार अर सुभ कारज। जणा ई अठे सगळा बरत बङू्ल्याँ अर तीज तेवारां कै खातर न्यारा-न्यारा माँडणा माँड्या जाय है। आं माँडणा नै दीवाल कै माळै अर आँगणां कै मायनैँ उकेरण रो रिवाज है। शादी-ब्याव सैँ लेर होळी दि... Read more
clicks 260 View   Vote 0 Like   6:08pm 16 Jul 2010 #माँडणा
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3991) कुल पोस्ट (194994)