POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: MEGHnet

Blogger: Bharat Bhushan
 नवल वियोगी ने हाशिए की उन जातियों का इतिहास ढूँढा है जो आज अलग-अलग पहचान रखती हैं लेकिन अतीत में एक ही बड़े कबीले के रूप में दिखाई देती हैं.    डॉ नवल वियोगी ने अपनी पुस्तक 'मद्रों और मेघों का प्राचीन और आधुनिक इतिहास'में महामहिम बाबू परमानंद को मेघ जाति का बताया ह... Read more
clicks 34 View   Vote 0 Like   1:12am 25 Apr 2021 #Megh
Blogger: Bharat Bhushan
महामहिम बाबू परमानंद जी(10-08-1932 से 24-04-2008)    डॉ नवल वियोगी की पुस्तक 'मद्र और मेघों का प्राचीन और आधुनिक इतिहास'का 9वां अध्याय देखा जो पूरा बाबू परमानंद जी के बारे में है. पहले पैरा में ही लिखा है कि महामहिम बाबू परमानंद जी मेघ समुदाय से थे. स्वभाविक ही इससे एक सुखद आश... Read more
clicks 27 View   Vote 0 Like   12:29am 18 Apr 2021 #Megh
Blogger: Bharat Bhushan
डॉ नवल वियोगीने मेघों की लगभग पूरी कथालिख डाली। यह बात समझी जा सकती है कि उनके द्वारा इकट्ठी की गई जानकारी पूरे मेघ समाज तक जल्द पहुंचने वाली नहीं है। यह चिट्ठा एक कोशिश है कि नवल जी ने जो खोजा-पाया है उसकी कहानी का सार मेघनेट के पाठकों तक पहुंचाने की कोशिश की जाए। यह स्क... Read more
clicks 47 View   Vote 0 Like   2:50am 3 Apr 2021 #Megh
Blogger: Bharat Bhushan
        मुझे ‘मानव मंदिर’ पत्रिका के 1968 के कुछ अंकों की तलाश थी. उन्हीं की तलाश में लगभग पाँच वर्ष पहले मैं मानवता मंदिर, होशियारपुर, पंजाब गया था. मुझे ऐसी पुस्तक की भी तलाश थी जिसमें परमदयाल फ़कीर चंद जी की जीवनी हो.    फ़कीर ने अपने बारे में सत्संगों में हालाँक... Read more
clicks 68 View   Vote 0 Like   4:52am 7 Mar 2021 #The Unknowing Sage
Blogger: Bharat Bhushan
    कई जगह मैंने लिखा है कि मैं नास्तिक-सा हो गया हूं. इसका अर्थ यह है कि मैं आस्तिकता और नास्तिकता के बीच झूल रहा हूं.    झूलना अच्छी बात नहीं होती. कहते हैं कि कहीं टिक जाना अच्छा होता है. और कहा यह भी जाता है कि टिकने से कुछ नहीं होता, वहां से निकल जाना ही अल्टीम... Read more
clicks 64 View   Vote 0 Like   7:30am 2 Mar 2021 #Religion
Blogger: Bharat Bhushan
    लगभग एक वर्ष पहले मैंने एक ब्लॉग लिखा था - गुंजलिका में एक कथा    ‘मेंग’ को ढूँढने निकले मेरे ख़्यालों के जंगली घोड़े दूर-दूर तक घूम आए थे. उत्तर-पूर्व में, बल्कि उससे भी आगे. उसी ब्लॉग में लार्डअलेग्ज़ैंडरकन्निंघमको भी उद्धृत किया था.    अब इतिहासकार श्र... Read more
clicks 82 View   Vote 0 Like   9:47am 27 Feb 2021 #
Blogger: Bharat Bhushan
    मानव इतिहास की हर तारीख को कुछ न कुछ घटित हुआ होता है. 14 फरवरी 2021 को मेघ समुदाय के श्री संतराम बी.ए. (14-02-1887 से 31-05-1988) की जयंती थी. फेसबुक पर बहुत पोस्ट उनके बारे में आईं. दो का उल्लेख कर रहा हूँ जो उनके बारे में लेखकों की भावनाओं और संतराम जी के जीवन और कार्य पर प्रकाश डा... Read more
clicks 70 View   Vote 0 Like   4:06am 20 Feb 2021 #
Blogger: Bharat Bhushan
जाटों और मेघों का सह-अस्तित्व रहा है. दोनों का सांस्कृतिक संघर्ष और धार्मिक नज़रिया भी लगभग एक जैसा है. आर्य समाज द्वारा शुद्धीकरण के बाद दोनों के अनुभव भी लगभग एक जैसे रहे. जनेऊ पहनने के बाद जिन मेघों ने अपने आसपास की उँची जाति वालों को ‘गरीब नवाज़’ कहना छोड़ कर अभिवाद... Read more
clicks 83 View   Vote 0 Like   12:47am 12 Feb 2021 #Purification
Blogger: Bharat Bhushan
एक परंपरा है कि कोई धार्मिक अनुष्ठान करने के बाद, कीर्तन-आरती करने के बाद हम उस अनुष्ठान का भोग भी लगाते हैं. उक्त पुस्तक का अनुवाद संपन्न हुआ है. उस पर लिखे गए ये चार ब्लॉग एक प्रकार का भोग हैं और यह चौथा ब्लॉग उस भोग का भी अंतिम पड़ाव है.यहां पहुंच कर मैं सबसे पहले परम दया... Read more
clicks 68 View   Vote 0 Like   1:39am 6 Feb 2021 #The Unknowing Sage
Blogger: Bharat Bhushan
 The Unknowing Sage (अनजान वो फकीर) के अनुवाद के बारे में जो कुछ मैंने अभी तक कहा है वह तब तक अधूरा रहेगा जब तक मैं यह ना बता दूं कि इसके अनुवाद की प्रक्रिया के दौरान मेरे मन पर क्या-क्या बीती. मैं किन-किन स्मृतियों के बीच से गुजरा. फ़कीर से मेरा पहला परिचय संभवतः 1962 में हुआ था जब पिता... Read more
clicks 50 View   Vote 0 Like   9:34am 3 Feb 2021 #The Unknowing Sage
Blogger: Bharat Bhushan
The Unknowing Sage का अनुवाद करते हुए पिछले चार महीने तो ऐसे गुज़र गए जैसे सपना जल्दी-जल्दी गुजरता है. लैपटॉप की स्क्रीन के सामने घंटों बैठा, कई बार खाना ठंडा हुआ, कई बार मेहमानों को थोड़ा इंतजार करना पड़ा. आंखों पर दबाव भी पड़ा लेकिन धुन थी कि कार्य पूरा करना है. वादा किया है और निभा... Read more
clicks 67 View   Vote 0 Like   2:27am 31 Jan 2021 #
Blogger: Bharat Bhushan
आज से कई वर्ष पहले मैंने डॉ डेविड सी. लेनसे वादा किया था कि उनकी पुस्तक द अननोइंग सेज (The Unknowing Sage) का एक समर्पित अनुवाद ज़रूर दूंगा.पिछले कुछ वर्षों में इसके ऐसे अंशों का अनुवाद मैं करता रहा जो इस कृति का आधार बने थे. उनसे संतुष्ट हो कर शेष पुस्तक का अनुवाद किया. लेकिन मुश्किल ... Read more
clicks 54 View   Vote 0 Like   1:28am 30 Jan 2021 #
Blogger: Bharat Bhushan
    ऐतिहासिक (historical) सूचनाओं से स्पष्ट है कि पूरा भारत कभी बौद्धमय था. इस ऐतिहासिक प्रभाव से भारत का कोई धरा-खंड या समाज-खंड इससे अप्रभावित रहा होगा ऐसा सोचना कठिन हो जाता है. मेघ समाज भी इसके प्रभाव में रहा होगा इस बात को सहज ही समझा जा सकता है।     समाज में यह व... Read more
clicks 52 View   Vote 0 Like   1:41am 25 Jan 2021 #Kabir
Blogger: Bharat Bhushan
    मैंने पहले भी बाबा फ़कीर चंद पर कुछ ब्लॉग लिखे हैं. उन्हीं की निरंतरता में एक ब्लॉग यह भी है जिसे मैं महत्व देता हूँ. यह डेविड सी लेन की पुस्तक द अननोइंग सेज (The Unknowing Sage) पुस्तक का एक अंश है.       "खुशहाल ज़िंदगी जीओ और अपनी आमदनी से ज़्यादा खर्च न करो। अपनी हैसिय... Read more
clicks 67 View   Vote 0 Like   12:47am 2 Jan 2021 #
Blogger: Bharat Bhushan
बहुत से लोगों को याद होगा कि कई वर्ष पहले भगत महासभा ने जालंधर से सोशल मीडिया पर एसएमएस के ज़रिए मेघ समुदाय के बारे में छोटी-मोटी जानकारियाँ भेजने का सिलसिला शुरू किया था. मेघ समुदाय के किसी भी सामाजिक संगठन की सोशल मीडिया पर यह एक पहलकदमी थी. कई लोगों के लिए यह चौंकाने व... Read more
clicks 101 View   Vote 0 Like   2:37am 2 Nov 2020 #
Blogger: Bharat Bhushan
 मद्रों, मेघों के संदर्भ में कई जगह ‘वितस्ता’ का उल्लेख पढ़ा है जिसे कई जगह वैदिक काल की ‘झेलम’ नदी या झेलम का वैदिक कालीन नाम बताया गया है. इसी तरह झेलम शब्द की उच्चारण ध्वनि इतनी सख़्त है कि संदर्भित क्षेत्र में उसकी लोक प्रयुक्ति का काल लंबा नहीं हो सकता. इसकी उच्चा... Read more
clicks 95 View   Vote 0 Like   2:38am 29 Oct 2020 #Madra
Blogger: Bharat Bhushan
उप जातियों की उत्पत्ति के बारे में विद्वानों में मतभेद नजर आते हैं.  कुछ विद्वान मानते हैं की जाति के भीतर भौगोलिक दूरी के कारण, व्यवसाय बदल जाने की वजह से, रीति-रिवाजों में कुछ अंतर आ जाने की वजह से, व्यवसाय की तकनीक में अंतर आ जाने आदि के कारण कुछ उप जातियाँ वजूद में आ ज... Read more
clicks 123 View   Vote 0 Like   5:23am 11 Oct 2020 #Megh
Blogger: Bharat Bhushan
आज से लगभग 7 वर्ष पहले श्री गिरधारी लाल डोगरा (जी.एल. भगत), आईआरएस (आज सेवानिवृत्त इनकमटैक्स कमिश्नर) ने बताया था कि मेघ समुदाय पर स्वनामधन्य इतिहासकार नवल वियोगी जी ने एक पुस्तक पर कार्य किया है. तब से एक उत्सुकता बनी हुई थी. फिर 18 अक्तूबर 2019 को जब ताराराम जी चंडीगढ़ आए तब उन... Read more
clicks 121 View   Vote 0 Like   5:26am 25 Aug 2020 #Megh
Blogger: Bharat Bhushan
पंजाब में सन 1891 में मेघ जनसंख्या 49301 थी, जिस में ब्रिटिश प्रोविंस (पंजाब) में 48035 हिन्दू, 65 सिख व 1201 मुसलमान थे। और नेटिव स्टेट्स(पंजाब के) में मेघ जनसंख्या 7356 थी, जिस में 7223 हिन्दू व 133 सिख थे। - ब्रिटिश टेरिटी में 41712 हिन्दू, 65 सिख व 1006 मुसलमान। -दिल्ली में कुल 477 , सभी हिन्दू। -करनाल मे... Read more
clicks 112 View   Vote 0 Like   7:42am 15 Aug 2020 #
Blogger: Bharat Bhushan
बाबा फकीर चंद (एकदम बाएँ) और भगत मुंशीराम (एकदम दाएँ)जीवन में बहुत कुछ प्रवाह के रूप में बीतता जाता है. कभी-कभार उसमें कुछ अचानक और अद्भुत हो जाता है.David C. Laneके बारे में मैंने 1978 में अपने पिता भगत मुंशीराम जी से जाना था जब उन्होंने बताया था कि अमेरिका से दो स्कॉलर मानवता मंदिर... Read more
clicks 86 View   Vote 0 Like   2:15am 24 Jul 2020 #Bhagat Munshi Ram
Blogger: Bharat Bhushan
इतिहास में हमारे छात्रों की रुचि क्यों नहीं बैठती इस बारे में पहले भी पोस्ट की है. जब कोई इतिहास के आइने में ख़ुद को  देख ही नहीं पाता तो वो आइना खरीदे ही क्यों.यह बात भारतीय छात्रों के संदर्भ में सटीक है जबकि कई देशों के छात्र समाजशास्त्र से लेकर इतिहास और धर्म तक म... Read more
clicks 112 View   Vote 0 Like   1:56am 30 Jun 2020 #
Blogger: Bharat Bhushan
कई वर्षों से यह विचार मन में उमड़-घुमड़ रहा था कि हमारे मेघ समुदाय से जो लोग सेना में गए हैं और युद्ध क्षेत्र में अपनी शूरवीरता के लिए कई पदक आदि भी प्राप्त किए हैं उनका कोई एक समेकित रिकॉर्ड होना चाहिए. इस बारे में मैंने एक-दो मंचों पर बात रखी थी कि किसी व्यक्ति को इस बारे... Read more
clicks 109 View   Vote 0 Like   1:46am 6 Jun 2020 #
Blogger: Bharat Bhushan
इससेपहलेमैंनेअसुरशब्दकीव्याख्यावालाएकब्लॉगलिखाथा. लेकिनवोकाफीनहींथा. इसबीचहमारेश्रीआर.एल. गोत्राजीनेकाफीछानबीनकरनेकेबादजोशुआजे. मार्ककेएकशोधआलेखकालिंकभेजाजिसेपढ़करअसुरशब्दकेकईआयामखुलतेनज़रआए. मालूमपड़ाकिशब्दावलियोंमेंचाहेकितनीभीभिन्नताहोसभी... Read more
clicks 147 View   Vote 0 Like   11:40pm 26 Apr 2020 #Religion
Blogger: Bharat Bhushan
इतिहास का प्रवाह और भाषा का प्रवाह दो ऐसी रेखाएँ हैं जो एक दूसरे से लिपट कर चलती हैं. यदि एक रेखा छिटक कर अलग दिखती है तो दूसरी उसके व्यवहार की ओर इशारा कर देती है. मेघ’ शब्द की तलाश में निकले लोग ‘म’, ‘मे’, ‘में’ का पीछा करते कहाँ-कहाँ पहुँचे इसका कुछ अनुभव हुआ है.शब्दकोश म... Read more
clicks 135 View   Vote 0 Like   12:11pm 16 Jan 2020 #Meghvansh
Blogger: Bharat Bhushan
पुरातत्वविद एलेग्ज़ेडर कंन्निघमआदि पुरातत्व वेत्ताओं का ऐसा मत है कि प्राचीन काल के मेगरी, मेगल्लाए ही वर्तमान समय के मेग या मेघ हैं. नृविज्ञान (anthropology) और अन्य इतिहासिक कड़ियों से मेघवाल भी मेगरी और मेगल्लाए से आ जुड़ते हैं. इन सभी शब्दों के मूल में मेग और मेगल्लाए की प... Read more
clicks 219 View   Vote 0 Like   7:46am 12 Jan 2020 #Meghs
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3991) कुल पोस्ट (194953)