POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: माही....

Blogger: Mahesh Barmate
गुजरती रात को दिन का सलाम मालूम हुआहवा का झोंका कुछ यूं गुजरा जैसे तुम्हारे दुपट्टे ने हो मुझे छुआ...।लोग बात करते हैं तेरीमेरे बहाने सेमैंने भी इन्कार न कियाकि तू ने मेरी धड़कनों को था छुआ..।लो फिर आ गए आँखों में आँसू तुम्हें याद करते करतेऔर मुझे याद नहींवो कौन सा प... Read more
clicks 10 View   Vote 0 Like   6:23pm 13 Jul 2021 #hindi
Blogger: Mahesh Barmate
तेरी सोच का मैं गुमान हूँमुझे इश्क़ की बहार न समझ।मैं मजबूरियों में जो चला गयामुझे बेवफा न समझ।किसी दिन वापस आऊँगामुझे कल की बात न समझ।मुझे समय पर है यक़ीनमुझे वस्ल-ए-रात न समझ।मेरी गुमनामियाँ तुझसे ही हैंजो तू न मिला तो मैं क्या रहालिख रहा हूँ आज भी एक खतमुझे डाकिया न सम... Read more
clicks 8 View   Vote 0 Like   1:29pm 20 Jun 2021 #dost
Blogger: Mahesh Barmate
मेरे शहर की खिड़कियाँअब जंगलों में सिमट रही हैंरौशनी का पता नहीं हैऔर ऑक्सीजन की भी कमी है।सुना है कोई बड़ी बीमारी आई हैमैंने नन्हें कंधों पे लाशें देखी हैंकोई आस्था के नाम पर लूट रहा हैकोई प्राइवेटाइजेशन में लुट रहा है।सरकारें धोखा दे रही हैंसरकारें धोखा खा रही हैंपह... Read more
clicks 14 View   Vote 0 Like   8:45am 16 Jun 2021 #hindi kavita
Blogger: Mahesh Barmate
मैंने कुछ कहानियाँ गढ़ींकुछ किस्से कहेवो शामिल थे मुझमेंवो सुनते रहे।वो दूर बैठे थे महफ़िल मेंतमाशबीन बन करसीने से लगने को जी कियाअश्क़ बहते रहे।महफ़िल में हर शख्स ने तारीफ में उनकी वाहवाही लुटाईइशारों - इशारों में नज़रें फिरा कर हम भीबस उनके चेहरे को ही देखते रहे।चार... Read more
clicks 132 View   Vote 0 Like   2:25pm 1 Aug 2020 #hindi
Blogger: Mahesh Barmate
मेरी लिखावटों के पीछेदरार हैमेरी लिखावटों के पीछे दरार हैहाथ काँपते हैं मेरेतेरा नाम लिखने सेहाँ! यही तो प्यार है।तुझसे छुपाया नहीं जातामुझसे बताया नहीं जाताआँख बंद करके भी हो जायेये कैसा दीदार है..?हाँ! यही तो प्यार है।दर-ओ-दीवार-ए-दिल पे तेरी तस्वीरजो लगा रखी हैइल्... Read more
clicks 93 View   Vote 0 Like   5:11pm 22 Jul 2020 #
Blogger: Mahesh Barmate
वो पक्के रंग वाला लड़कालोग उसे कालातो कभी सांवला कहते थे।गोरा होना उसके बस में न था कभीबस अपने रंग में ढल जानाखुद को बुरा न मानकरबस खुद को अपनानाही था उसके बस में।और फिर उसने किसी गोरे को गोरा कहकरनीचा नहीं दिखायापर उसका रंगजाने क्यों गोरे लोगों को कमतर लगता ?आज उसके ... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   4:25pm 4 Jul 2020 #colour complexion
Blogger: Mahesh Barmate
एहसासों का समंदर हैभावनाओं की कश्ती हैख्वाबों का साहिल हैधुन्ध में भी आँखों में मस्ती है।लिख दूँ तो हासिल हैछुपा लूँ तो कातिल है।एहसासों की कहानी हैजो आँखों की जुबानी है।चीखते हैं सन्नाटेभीड़ में तन्हाई हैं बाँटतेकुछ अल्फ़ाज़ कुछ शायरी हैकुछ बेहोशी कुछ खुमारी है... Read more
clicks 137 View   Vote 0 Like   6:01pm 22 Jun 2020 #
Blogger: Mahesh Barmate
तुम्हें वो याद करता हैहाँ! फरियाद करता है।वो इश्क़ में तेरेउस दिन का इंतज़ार करता हैजिस दिन दिल से वो कहेकि वो सिर्फ तुमसे ही प्यार करता है।तेरी हाँ और न का उसे कोई फर्क नहीं है अबकि रूह के आशिक़ के पास कोई शर्त नहीं है अब।कुरबतें उसकी जरूरत नहीं थी कभीबस मुहब्बत में वो अब व... Read more
clicks 164 View   Vote 0 Like   6:45pm 20 Jun 2020 #love poems
Blogger: Mahesh Barmate
कुछ अंदर दबा हुआ सा है चुभता है ठूंठ साअपनी आवाज को भी नहीं सुनता मैंचीखता हूँ गूँज सा। एक तरफ तन्हाइयों का शोर है दूजी तरफ ग़मों का सन्नाटा पसरा हुआ हैकिस तरफ रखूँ कदम अपने फर्श पे मेरा मैं बिखरा हुआ है। अपनी लाश पे चलकेनिकल जाना हैऐ दुनिया! तुझसे मेराऐसा ही रिश्ता पुरा... Read more
clicks 260 View   Vote 0 Like   8:15am 11 Jun 2018 #hindi poem
Blogger: Mahesh Barmate
छोटे - छोटे दरवाजेमोटी - मोटी दीवारें थींमेरे गाँव वाले घर मेंन किसी के दिल में दरारें थीं।बड़े छोटे से कमरे मेंपूरा परिवार रहता थासुख - दुख के सारे मौसमहर कोई संग सहता था।पुरानी एक तश्वीर टंगी थीपुरखों वाले कोने मेंडर का कोई सवाल नहीं थाघुप्प अँधेरों में सोने में।नीम ... Read more
clicks 327 View   Vote 0 Like   7:11pm 8 May 2018 #hindi
Blogger: Mahesh Barmate
रौशनी तो कम हो गई थीपर आँखों के चरागअब भी जल रहे थेहम बीती रातदिल मे लिए कई ख्वाबअनजानी राहों में चल रहे थे।इक आहट हुईऔर ख्वाबों का मेहताब टूट गयाकुछ टुकड़े चुभे दिल की ज़मीं पेकोई अरमां आँखों से रिसता हुआ रुठ गया।अँधेरों में सोने की आदत नहीं थीउजालों ने डरना सिखा दियाव... Read more
clicks 321 View   Vote 0 Like   12:11pm 27 Apr 2018 #last night
Blogger: Mahesh Barmate
सुनों..!एक "मौन"सी कहानी हैकुछ खामोशियाँ हैं मेरे जेहन मेंजो चीखती हैंबिन आवाज के..।देखो!आज कागज पे रख ही दिया मैंनेअपने अंदर के उस "मौन"कोके कहीं गुम न जायेइसीलिएशब्दों में पिरो के..।पढ़ो!आज तुम इस "मौन"कोके शायद ये शब्द भी छू लेंतुम्हारे दिल के तारों को..।फिर देखना..मेरी खा... Read more
clicks 285 View   Vote 0 Like   9:45am 29 Mar 2018 #maahi
Blogger: Mahesh Barmate
हर पल तेरा चेहरामेरे जेहन के समंदर में उतराता रहता है..और तेरा ख्यालजैसे हो कोई चाँदडूब के मुझमेंगोते खाता रहता है..तुम लाख चाहो के मुझे भुला दोपर ये जो इश्क़ है न मेरातेरे दिल की बगिया में गुलखिलाता रहता है।यकीन न होतो तुम ही बता दोक्यों तुम्हे भी हर हमेशामेरा ही ख्यालआ... Read more
clicks 350 View   Vote 0 Like   4:16pm 16 Mar 2018 #love
Blogger: Mahesh Barmate
एक अंतहीन सी डोर हैक्या अदृश्य कोई छोर है..?थामे हुए है मुझे और तुम्हेंमिलन की आस हैकैसी ये होड़ है..?दूर हो के भी पास हैंहमें एक दूजे का एहसास हैंहरदम मिलन की आस हैकैसी ये प्यास है..?चाहत और हकीक़तमें छोटा सा फर्क हैगर समझ गए तो जन्नतवरना गर्द है।जीवन की कश्ती मेरीडूबे है अब ... Read more
clicks 419 View   Vote 0 Like   7:11am 9 Mar 2018 #maahi
Blogger: Mahesh Barmate
इश्क़ की गुहार, किस से करेंकहो तो प्यार, किस से करें..?वो किस्से कहानियों में बीती रातेंमान लिया खुद को किसी का प्यारअब ये इज़... Read more
clicks 337 View   Vote 0 Like   10:30am 16 Feb 2018 #love
Blogger: Mahesh Barmate
काश मैं तेरा वो ताबीजहोतातो तेरे दिल के पास हरदम होता।कभी यूँ ही तेरे हाथों मेंकभी दुआ के लिए लबों पे होताकाश!मैं तेरा ताबीज होता।तुझे भी मुझपे विश्वास होताजब जब कुछ अच्छा या बुरा होता।काश!मैं तेरा ताबीज होता।बड़ा सहेज के रखती तुमके मैं तेरे लिए बहुत अहम होताकाश!मैं त... Read more
clicks 224 View   Vote 0 Like   3:43pm 3 Jan 2018 #
Blogger: Mahesh Barmate
रूठने लगती है रूह मेरी मुझसे जब जब तेरे चेहरे पे शिकन देखता हूँ के अश्क़ो  को तो तुम छुपा जाते हो अक्सर पर मैं तो आँखों में तेरे  दर्द का समंदर देखता हूँ।तू लाख छुपा ले दर्द अपने पर तुझको अक्सर मैं अपने अंदर देखता हूँ। तेरी कहानी सरताज नहीं मैं पर ये जान ले,क... Read more
clicks 288 View   Vote 0 Like   5:14pm 25 Dec 2017 #
Blogger: Mahesh Barmate
पहले तो ऐसा न थाके तुझे देखने की तड़पतुझे सुनने का एहसासतुझे छूने की चाह और तेरा होने की प्यास..कहाँ था ऐसा कुछ भीजो भी थावो&... Read more
clicks 275 View   Vote 0 Like   5:14pm 1 May 2017 #hindi kavita
Blogger: Mahesh Barmate
पत्थरों पे बनी कारीगरीदेख बीता जमाना याद आयावो लकड़ी की चौखटेंऔर भारी दरवाजों पे लटकीलोहे की मोटी सांकरेऔरमोटे मोटे स&#... Read more
clicks 266 View   Vote 0 Like   4:21pm 13 Apr 2017 #hindi
Blogger: Mahesh Barmate
रात भर तकिये से लिपट के सोता रहाऔर तुम कहते हो के मुझे तेरी याद नहीं आतीदिल अब भी तुझे याद करता है,बस इन लबों पे ये बात, हर बा... Read more
clicks 292 View   Vote 0 Like   11:23am 5 Apr 2017 #mahesh barmate
Blogger: Mahesh Barmate
कभी किसी जनम में शायदशायद पिछले ही जनम में शायदतेरा मेरा कोई नाता रहा होगाजिसे लिखना बाकि रह गया होगाके हम दूर हो के भी प... Read more
clicks 257 View   Vote 0 Like   5:45pm 19 Feb 2017 #mahesh barmate
Blogger: Mahesh Barmate
देख तेरी तस्वीर कोमुझे एक किस्सा याद आयाज़िन्दगी का मेरीएक हिस्सा याद आया।मेरे हिस्से की ज़िंदगी मेंबस तेरा ही किस्सा ह&... Read more
clicks 222 View   Vote 0 Like   6:38pm 13 Feb 2017 #hissa
Blogger: Mahesh Barmate
एकअजीब कश्मकश में हूँआज खुद के लिए ही कुछ खास मैं हूँ।के कुछ गलतफहमियां जो थी दरमियान हमारेख़त्म हो गईंख़त्म हुए फासलेपर... Read more
clicks 259 View   Vote 0 Like   11:38am 12 Jan 2017 #galatfahami
Blogger: Mahesh Barmate
पाँच पांडवों के बीच फँसीद्रौपदी सी हो गयी है ज़िन्दगी।किसका कब साथ निभाऊं कुछ समझ में नहीं आता।जहाँ देखूँ वहीँ पे मेरा अपना खड़ा होता है,पर किसके साथ कहाँ जाऊँ कुछ समझ में नहीं आता।मैंने तो चुना था बस एक कोठुकरा के जाने कितने अनेक कोफिर भी मिले साथ में और चारपाँच कश्तिय... Read more
clicks 315 View   Vote 0 Like   3:00am 17 Dec 2015 #life
Blogger: Mahesh Barmate
जागता रहा रात भरअपने गुनाहों को याद करता मैंखुद से ही माफ़ी माँगताऔर खुद को ही सजा देता मैं।हर सजा के बादगुनाह खुद मुझसे पूछताक्यों तूने मुझे कियाऔर फिर मुझसे रूठता।न जवाब थान शर्मिंदगीजाने किस मोड़ पे आयीआज ये ज़िन्दगी।मैं जागता रहागुनहगार की तरहसोती रही क़िस्मतजाने ... Read more
clicks 285 View   Vote 0 Like   12:58pm 21 Nov 2015 #hindi poem
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3991) कुल पोस्ट (194947)