POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: चर्चामंच

Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों!बसन्त के आगमन के साथ ही देश में शिवरात्रि की धूम मच गयी है, शिवमन्दिरों में हलचल बढ़ गयी है। जहाँ साफ-सफाई और रँगाईपुताई का काम अपने अन्तिम चरण में है। हमारे देश के प्रधानमन्त्री का भी सन्देश यही है कि वतन में चारों ओर साफ-सुथरा परिवेश हो। चारों ओर हरिया... Read more
clicks 10 View   Vote 0 Like   7:30pm 18 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन आज की प्रस्तुति में आप सभी का हृदयतल से स्वागत हैं। जीवन अर्थात "प्रकृति "अगर प्रकृति है तो हम है। लेकिन सोचने वाली बात है कि क्या हम है ? क्या हम जिन्दा है? क्या हमने अपनी नदियों को , तालाबों को ,झरनो को ,समंदर को ,हवाओ को, यहाँ  तक कि धरती माँ तक को जिन्द... Read more
clicks 12 View   Vote 0 Like   6:31pm 17 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
सादर अभिवादन। चर्चामंच की सोमवारीय प्रस्तुति में आपका स्वागत है।  झोपड़ी में ख़ुद को ढक लेता निरीह ग़रीबसरकार ढक देती है झोपड़ी दीवार उठाकर,ताकि सवाल पूछ न ले कोई विदेशी मेहमान,अपनी जिज्ञासु पारखी नज़र उठाकर।-रवीन्द्र सिंह यादवआइए पढ़ते हैं आज मेरी पसंदीदा कुछ र... Read more
clicks 14 View   Vote 0 Like   6:31pm 16 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन। रविवारीय प्रस्तुति में आपका हार्दिक स्वागत हैमेहंदी के पौधे के निकट से गुज़रना ख़ुद को एक महक से सुवासित करने जैसा लगता है. मेहंदी जब हाथों पर रचती है तब आकर्षण का विशेष कारण बनती है इसीलिए इसे सोलह शृंगार में समाहित किया गया है. हिना अब एक सांस्कृतिक ... Read more
clicks 18 View   Vote 0 Like   6:31pm 15 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन। विशेष रविवारीय प्रस्तुति में हार्दिक स्वागत है।शब्द-सृजन-८  के लिये विषय दिया गया था 'पराग'पराग फूल का महत्त्वपूर्ण उत्पाद है जो फूल में मिठास के रूप में घुलमिलकर प्रकृति का अनमोल उपहार बनकर नये आयाम देता है. रंग-विरंगे फूलों से पराग एकत्रकर मधुम... Read more
clicks 16 View   Vote 0 Like   6:31pm 14 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
सादर प्रणाम हार्दिक अभिवादन पिछली बार हम एक अतिथि चर्चाकार के रूप में प्रस्तुत थे और आज आप सभी के शुभाशीष के फलस्वरूप 'चर्चा मंच 'जैसे बड़े मंच पर एक चर्चाकार के रूप में अपनी प्रथम प्रस्तुति के साथ प्रस्तुत होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। आप सुधि पाठकों के नेह आशीष क... Read more
clicks 17 View   Vote 0 Like   7:30pm 13 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत हैआलिंगन/चुम्बन दिवसक़लम बेजुबान पंछी एक विनम्र घुटन फिर होगा मौसम ख़ुशगवार, इंतज़ार करनावैलेंटाइन डे का अनमोल गिफ़्टप्रीति का येर कैसा रंग जाने क्यों मन वसंतलिखना पढ़ना है कठिनजनवरी माँ की गोद हैबुझ रही है शाम नर दोहा  "... Read more
clicks 20 View   Vote 0 Like   7:30pm 12 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों!दिल्ली में लोकतन्त्र का महापर्व सम्पन्न हुआ।परिणाम भी आ गये, जनता ने अपनी पसन्द का आभास करा दिया।यही तो लोकतन्त्र की विशेषता है। सारी दुनिया में भारत सबसे न्यारा है।जहाँ बिना किसी रक्तपात के जनता की पसन्द से सत्ता का हस्तान्तरण हो जाता है।--चर्चा मंच पर प्रत... Read more
clicks 9 View   Vote 0 Like   6:31pm 11 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन "वेलेन्टाइन- डे "के मौसम का खुमार छाया हैं ,युवावर्ग ही नहीं किशोरावस्था के बच्चें भी पूरी तरह मदमस्त हुए पड़ें हैं।आज के युवा पीढ़ी के लिए प्यार का रूप रंग बदल चूका हैं। प्यार स्वछंद हो चूका हैं।इस परिवर्तित रूप को प्यार तो नहीं कह सकतें म... Read more
clicks 13 View   Vote 0 Like   6:31pm 10 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
सादर अभिवादन। खंडहर में उग आयी है हरी काई कोने-कोने में फैले मकड़ी के जाले,गिरगिट,दादुर,चमगादड़ आ बसे हैं भित्ति से लिपटीं लताएँ ढूँढ़तीं उजाले। -रवीन्द्र सिंह यादव शब्द-सृजन-8 का विषय है-'पराग'इस विषय पर आप अपनी आगामी शुक्रवार (सायं 5 बजे तक) संपर्क फॉर्म के ज़रिये भे... Read more
clicks 33 View   Vote 0 Like   6:31pm 9 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहाभिवादन 🙏🙏बसन्तोत्सव.. ऋतुराज का स्वागत ..शीत ऋतु को अलविदा ..। मधुमास में प्रकृति के साथ प्राणी जगत भी खिल उठता है ।  खेत-खलिहानों में अन्न का भंडारण किसानों की आँखों में सतरंगी आभा भर देता है । होली के रंग व गुलाल के संग सुखद आगत के स्वप्न के साथ मानव मन मयूर... Read more
clicks 21 View   Vote 0 Like   6:35pm 8 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
सादर अभिवादन। शनिवारीय चर्चा अंक में आपका स्वागत है।           शब्द-सृजन-7  के लिये विषय था'पाँखुरी'/'पँखुड़ी'अर्थात फूल का सर्वाधिक आकर्षक,सुंदर एवं नाज़ुक भाग जिसके पर्याय हैं पाँख, दल, पुष्प-दल, कुसुम-दल, सुमन-पाँख, पँखुरी आदि। रंग, बनावट और ख़ुशबू के स... Read more
clicks 19 View   Vote 0 Like   6:31pm 7 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन।         हम भारतीयों की एक विशिष्टता सदैव से रही है कि हम अपने खानपान की गुणवत्ता को लेकर हमेशा सचेत रहते हैं। उत्तम तरीके से तैयार की गयी खाद-सामग्री हमारी प्रथम प्राथमिकता होती है भले ही आर्थिक स्थिति आड़े आती हो परंतु हमारे खाने-पीने की प... Read more
clicks 16 View   Vote 0 Like   6:31pm 6 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन।  आज गुरुवारीय प्रस्तुति आदरणीय दिलबाग सर की अनुपस्थिति में पेश कर रहीं हैंआदरणीया रेणु दीदी जी. ब्लॉग जगत उनके लेखन से  बख़ूबी परिचित है चर्चामंच पर उनका हार्दिक स्वागत है.आज प्रस्तुत हैं आदरणीया रेणु दीदी जी की पसंद की रचनाएँ--अनीता सैनी सभी&nbs... Read more
clicks 16 View   Vote 0 Like   6:31pm 5 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
चर्चा मंच पर प्रत्येक शनिवार को  विषय विशेष पर आधारित चर्चा  "शब्द-सृजन" के अन्तर्गत  श्रीमती अनीता सैनी द्वारा प्रस्तुत की जायेगी।  आगामी शब्द-सृजन-7 का विषय होगा - 'पाँखुरी'/ 'पंखुड़ी'इस विषय पर अपनी रचना का लिंक सोमवार से शुक्रवार (शाम 5 बजे तक ) ... Read more
clicks 21 View   Vote 0 Like   7:30pm 4 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन। आज की प्रस्तुति में हार्दिक स्वागत है।आज का दिन चर्चा मंच के लिए बेहद खास हैं। आज चर्चामंच के संस्थापक और हमारे प्रिये वरिष्ठ साहित्यकार आदरणीयश्री रूपचन्द्र शास्त्री जी का ६९ वां सालगिरह हैं। आज की प्रस्तुति को प्रस्तुत करते हुए मुझे आपार हर्ष ... Read more
clicks 17 View   Vote 0 Like   6:31pm 3 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
सादर अभिवादन।         चर्चामंच के 3600 वें अंक में हार्दिक स्वागत है। चर्चामंच अपनी निरंतरता का सिलसिला आज तक बनाये हुए है जिसे इस बुलंदी तक पहुँचाने का श्रेय निस्संदेह आदरणीय शास्त्री जी को जाता है।आदरणीय दिलबाग जी लंबे समय से यहाँ सक्रिय हैं। पिछले वर्ष से... Read more
clicks 21 View   Vote 0 Like   6:31pm 2 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन। रविवारीय प्रस्तुति में आपका हार्दिक स्वागत है।देखो! इस बार मायूस है बसंत, दिलों में छाये हैं उदास साये, सरसराती बह रही बसंत बयार, विरहा मन को कछु न सुहाये ।अनीता सैनी **मुक्तक गीत"सदा गुणगान करते हैं" डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री ‘मयंक’) उच्चा... Read more
clicks 19 View   Vote 0 Like   6:31pm 1 Feb 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन। विशेष शनिवारीय प्रस्तुति में हार्दिक स्वागत है।बयार अर्थात बहती हुई मोहक सुखदायी हवा. अलग-अलग ऋतुओं में बयार की तासीर पृथक-पृथक ढंग से प्रकृति में अपना असर दर्शाती है. सर्वाधिक चर्चित है बसंती बयार. प्रकृति जब फूल-पत्तों, रंग-बिरंगी लहलहाती फ़सलों, ... Read more
clicks 21 View   Vote 0 Like   6:31pm 31 Jan 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
                 स्नेहिल अभिवादन।🍁🍂🍁🍂🍁🍂🍁     आज हम चर्चामंच पर स्वागत करते हैं अतिथि चर्चाकार के रूप में युवा रचनाकार आँचल पाण्डेय जी का। आज की प्रस्तुति में पढ़िए आँचल जी की चिंतनपरक भूमिका के साथ उनकी पसंद की रचनाएँ--अनीता लागुरी 'अनु'बसे हिय प्रेम तो वि... Read more
clicks 20 View   Vote 0 Like   6:31pm 30 Jan 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत हैनमन माँ शारदे मैं ज्ञान मांगता हूँ माँ मेधा से भर दो झोली अनु की कुण्डलियाँमधुमास हर किसी को साहिल न मिले हैपत्थर हम रोज थोड़ा मरते हैं थोड़ा जीते हैंअंतिम शब्द तेरे समझना जरूरी नहीं होता है हमेशा पागलपनदिनेश सिंह के पाँ... Read more
clicks 2 View   Vote 0 Like   11:30pm 29 Jan 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों!वसन्त ने दस्तक दे दी है। लेकिन उत्तर भारत में अभी भी शीत का मौसम बना हुआ है। पहाड़ों पर बर्फबारी हो रही है और मैदानी भागों में कुहरे के साथ पर यदा-कदा बारिश भी हो रही है। ऐसे में खान-पान के साथ ऋत्वानुकूल वस्त्रों को जरूर पहनें। जरा सी लापरवाही से आपका स्वास्थ्य ... Read more
clicks 44 View   Vote 0 Like   7:30pm 28 Jan 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन। आज की प्रस्तुति में हार्दिक स्वागत है।कंपकपाती सर्दी से राहत देने और तन मन में नई ऊर्जा का संचार करने के लिए वसंत ऋतु का आगमन हो चुका हैं प्रकृति का रूप सवरने लगा हैं ,फूल खिलने लगे हैं ,पेड़ों पर नई कोपलें आने लगी हैं ,पक्षियों की चहचाहट अपनी सुर लहर... Read more
clicks 15 View   Vote 0 Like   6:31pm 27 Jan 2020 #कामिनी सिन्हा
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
सादर अभिवादन। --         यह कैसी हवा चली है कि सुकून बेचैनियों में बदल गया है! दिलों में दूसरों के लिये स्थान सिकुड़ रहा है और मेलजोल के जज़्बात खाक़ में मिल रहे हैं। उम्मीदों के चमन में ज़हरीले फूल पनप गये हैं। अजीब माहौल है यहाँ-वहाँ धुएँ के बादल छाये हैं ... Read more
clicks 17 View   Vote 0 Like   6:31pm 26 Jan 2020 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन। विशेष रविवारीय प्रस्तुति में हार्दिक स्वागत है।71 वें गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ। 15 अगस्त 1947 को लंबे संघर्ष के बाद हमें ब्रिटिश राज से हमें आज़ादी मिली किंतु 26 जनवरी 1950 से पूर्व हमारा अपना संविधान अस्तित्त्व में नहीं था बल्कि निर्माण की... Read more
clicks 57 View   Vote 0 Like   6:31pm 25 Jan 2020 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]


Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
Share:
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3938) कुल पोस्ट (195004)