POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: अघोर पथ

Blogger: सुरेश पण्डा
अघोर वचन - 2"हम सब जगे हुए भी सोये रहते हैं, और सोये हुए भी मनुष्य जगा हुआ रहता है । जो जगा हुआ रहता है वह दुःख से भगा हुआ रहता है । जो सोया हुआ रहता है वह हर दुःख का सपना देखता रहता है ।"                                                                   ०... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   3:01am 12 Apr 2015 #
Blogger: सुरेश पण्डा
"भगवान ने हमें दूसरों के उपकार और सत्कार के लिये दो हाथ दिये हैं । यदि हम इनसे दूसरों का उपकार- सत्कार नहीं कर सके तो कम से कम अपना तो कर ही सकते हैं । ये दोनों हाथ किसी पर कीचड़ या ईंट - पत्थर फेंकने के लिये नहीं हैं ।"00000000000000000000000000000भारतीय मनीषा ने मानव जीवन के विविध पहलुओं पर गह... Read more
clicks 159 View   Vote 0 Like   1:42am 11 Apr 2015 #
Blogger: सुरेश पण्डा
इस ब्लाग की समस्त सामग्री का पुस्तकाकार में प्रकाशन हो चुका है । प्रकाशक का पता निम्नानुसार है । वैभव प्रकाशन,अमीनपारा चौक, पुरानीबस्ती, रायपुर ४९२००१ उक्त पते पर पुस्तक उपलब्ध है ।यहाँ से सामग्री धीरे धीरे हटा ली जायेगी... Read more
clicks 163 View   Vote 0 Like   11:22am 27 Mar 2012 #
Blogger: सुरेश पण्डा
१ दिसम्बर १९९२ को दोपहर के १.१० बजे पूज्य बाबा का पार्थिव शरीर लेकर भारतीय वायु सेना का विशेष विमान बनारस की हवाई पट्टी पर उतरा । उस समय वहाँ पर उपस्थित अनगिनत शोक विव्हल श्रद्धालुओं ने अपनी आँखों में आँसु भरकर अपने मन प्राण के अधिश्वर, अपने मसीहा, अपने माँ गुरु के पार्... Read more
clicks 119 View   Vote 0 Like   8:26am 30 May 2011 #
Blogger: सुरेश पण्डा
अघोरेश्वरसन् १९९२ ई० के मध्य में फिर से पूज्य बाबा का स्वस्थ्य बिगड़ने लगा । उनका प्रत्यारोपित गुर्दा ठीक काम कर रहा था । कोई और बिमारी भी नहीं थी परन्तु बाबा का स्वस्थ्य गिरता जा रहा था । विशेषज्ञों की सलाह पर बाबा का अमेरिका जाना तय हुआ । बाबा ने भी सहमती दे दी । निश्चय ... Read more
clicks 110 View   Vote 0 Like   2:18am 6 May 2011 #
Blogger: सुरेश पण्डा
अमेरिका में न्यूयार्क स्थित माउन्ट सिनाई चिकित्सालय से पूज्य बाबा दि. २८ जनवरी १९८८ को सम्पन्न सफल आपरेशन के पश्चात पूर्णतः स्वस्थ होकर बनारस लौट आये । बाबा के डाक्टर श्री बरोज, उनके सहयोगी, नर्स तथा अन्य सभी ने बाबा के स्वास्थ्य के लिये प्रार्थना की एवँ भावभीनी बिदा... Read more
clicks 149 View   Vote 0 Like   10:31am 25 Apr 2011 #
Blogger: सुरेश पण्डा
बाबा भगवान राम जी" तन मारा , मन बस कियासोधा सकल सरीर ।काया को कफनी कियावाको नाम फकीर ।। "अघोरेश्वर जाति, धर्म, भाषा,देश, लिंग जैसी समस्त संकीर्णताओं को नकार कर एक पूर्ण मानव के रुप में इस धरती पर बिचरते थे । उनका जीवन साम्प्रदायिक प्रेम और सदभावना का उत्कृष्ठ उदाहरण रहा ह... Read more
clicks 216 View   Vote 0 Like   6:33am 6 Apr 2011 #
Blogger: सुरेश पण्डा
 बाबा कीनाराम जी अघोर साधकों, श्रद्धालुओं, भक्तों, उपासकों की तीर्थस्थली क्रींकुण्ड स्थल की स्थापना अघोराचार्य बाबा कीनाराम जी द्वारा सोलहवीं सदी के पूर्वार्ध में किया गया था । उस समय उत्तर भारत, खासकर काशी एवं पूरे भारतवर्ष के हर क्षेत्र की सामाजिक, धार्मिक स्थि... Read more
clicks 276 View   Vote 0 Like   9:23am 17 Mar 2011 #
Blogger: सुरेश पण्डा
श्री उम्बर्तो बिफ्फी, इटलीअघोरेश्वर के साथ श्री उम्बर्तो ई० सन् १९७७ का दिसम्बर माह में बनारस के एयर पोर्ट पर एक नवयुवक हवाई जहाज से उतरता है । रुप, रंग, नाक नक्श से नवयुवक सहज ही पहचाना जा रहा है कि वह युरोप के किसी देश का वासी है । नव युवक बाहर आकर टेक्सी लेता है और अघोरा... Read more
clicks 129 View   Vote 0 Like   2:02pm 20 Feb 2011 #
Blogger: सुरेश पण्डा
जीवन दर्शनसन् १९८२ ई० में श्री सर्वेश्वरी निवास, पड़ाव , वाराणसी के प्रागण में अपने प्रिय शिष्य बाबा प्रियदर्शी राम को सम्बोधित कर अघोरेश्वर भगवान राम जी की वाणी निनादित हुई थी । यह वाणी अघोर पथ के पथिक, साधु , तथा मानव मात्र की कँचन काया में प्रतिष्ठित प्राण रुपी परम आर... Read more
clicks 158 View   Vote 0 Like   9:21am 27 Jan 2011 #
Blogger: सुरेश पण्डा
कर्मसुधर्मा ! मैं देखता हूँ निष्क्रिय जीवन जीने वाले कुकृत काया हो जाते हैं । बूढ़ा रोता है । मान लो कि उसकी सभी इन्द्रियाँ थिर हो गई हैं, मस्तिष्क  उसका भड़क उठा है । बच्चा रोता है । तुम मान लो कि उसकी अज्ञानता है, उसको कुछ भी शुभ अशुभ का ज्ञान नहीं है । जब नौजवान को रोते दे... Read more
clicks 123 View   Vote 0 Like   8:54am 16 Jan 2011 #
Blogger: सुरेश पण्डा
सन् १९८२ ई० में अर्ध कुम्भ पड़ा था । प्रयाग में त्रिवेणी स्थल पर अघोरेश्वर का केम्प लगा हुआ था । केम्प में अघोरेश्वर विराजमान थे । पूरे क्षेत्र में साधूओं का मेला सा लगा हुआ था । सभी सम्प्रदाय, अखाड़ा, मठ, आश्रम, आदि से साधुजन तथा धर्मप्रेमी, तीर्थवास के अभिलाषी श्रद्धाल... Read more
clicks 168 View   Vote 0 Like   2:34am 3 Oct 2010 #समाज
Blogger: सुरेश पण्डा
औघड़ सिंह शावक राम जीसन् १९६६ ई० में अघोरेश्वर भगवान राम जी ने प्रथम सन्यासी शिष्य के रुप में औघड़ सिंह शावक राम जी को सँस्कारित किया था । पूर्व में आपके विषय में प्राप्त समस्त जानकारी दी जा चुकी है । साधना की दस वर्ष की अवधि बीत जाने के पश्चात आपको गुरु ने मुक्त कर दिया । ... Read more
clicks 151 View   Vote 0 Like   7:56am 21 Sep 2010 #समाज
Blogger: सुरेश पण्डा
 परमपूज्य अघोरेश्वर कीनाराम जी महाराजगुरुदेव अघोरेश्वर भगवान राम जी ईश्वरानुग्रँहादेव पुँसानद्वेत वासना ।महद्भयपरित्राणा विप्राणामुपजायते ।।( महान भय (मृत्यु भय) से रक्षा करनेवाली अद्वेत की वासना मनुष्यों में, विप्रों में ईश्वर के अनुग्रह से ही उत्पन्न होत... Read more
clicks 141 View   Vote 0 Like   5:05am 29 Aug 2010 #समाज
Blogger: सुरेश पण्डा
गुरुदेव निवास, पड़ाव वाराणसी एको व्यापक अव्यय सर्वज्ञ परम रम्य, हर कारण सृष्टि स्थिति, नित्य व्यापक आद्या । अघोर घोर महाकपालेश्वर, भुक्ति मुक्ति दातार, तिनके पद बन्दन करौं, कोटी कोटी प्रणाम ।श्री सर्वेश्वरी मँदिर, पड़ाव वाराणसी  गणेश पीठ , पड़ाव , वाराणसीअघोर चक्रअघो... Read more
clicks 138 View   Vote 0 Like   1:44pm 24 Aug 2010 #
Blogger: सुरेश पण्डा
गुरुमूर्ति अघोरेश्वर भगवान राम जी                                                                                                                                     ।  वन्दे गुरुपद द्वंद्वँ, वाङ् मनश्चित्तगोच... Read more
clicks 132 View   Vote 0 Like   8:23am 25 Jul 2010 #समाज
Blogger: सुरेश पण्डा
अघोरेश्वर को पहचानकर उनकी शरण में आने वाले योगियों में से कुछ लोगों की विचित्रता ने जन मानस को गहरे तक प्रभावित किया था । उन्हीं बीर साधकों, सिद्धों, अवधूत पद पर प्रतिष्ठित औघड़ों के विषय में हम यहाँ चर्चा कर रहे हैं । अघोरेश्वर का आशीष इन साधकों को कितनी ऊँचाई प्रदान क... Read more
clicks 132 View   Vote 0 Like   7:34am 18 Jul 2010 #समाज
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3991) कुल पोस्ट (195025)