POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: जबलपुर चौपाल

Blogger: gulush
 मनोहर नायक घर में राजनीतिक माहौल और बहसें थीं। पिता सर्वोदय में थे , पर राजनीति में भी जैसे शामिल थे, अन्य सर्वोदयी लोगों की तरह उससे विरत नहीं थे। यही कारण था कि कम उम्र से ही देश-प्रदेश के नेताओं की बातें और बहसें सुनने का अभ्यास हो गया और उस ओर दिलचस्पी बढ़ी।बहरहा... Read more
clicks 19 View   Vote 0 Like   11:24am 13 Oct 2020 #इमरजेंसी
Blogger: gulush
 मनोहर नायक गाँधीजी की डेढ़ सौंवीं जयंती पर कई देखी-सुनी-पढ़ी बातें याद आयीं। सारी बातें और प्रसंग अत्यंत निकट और आसपास के लोगों से जुड़े हुए हैं, जिनको गाँधीजी का जादुई स्पर्श मिला या जो इस बेजोड़ नेता से जीवन और कर्म में प्रेरित हुए। यह सब याद करते हुए लगता है देश मे... Read more
clicks 54 View   Vote 0 Like   7:10am 13 Oct 2020 #गांधी जी
Blogger: gulush
 मनोहर नायक द्वारिकाप्रसाद मिश्र का स्वतंत्रता सेनानी और उस दौर के बड़े नेता के तौर पर आदर रहा है... लेकिन लोकल पैट्रीअटिज़म (patriotism)के नाम पर कसीदे पढ़े जाना उचित नहीं है, तर्कसंगत और संतुलित होना और ज़रूरी है। कांग्रेस सदैव मध्यमार्गी पार्टी के बनिस्बत एक जमावड़ा रही है, ज... Read more
clicks 11 View   Vote 0 Like   10:28am 10 Sep 2020 #द्वारिका प्रसाद मिश्र
Blogger: gulush
         हॉकी के जादूगर के नाम से विश्व विख्यात ध्यानचंद का 115 वां जन्मदि‍वस आज शन‍िवार 29 अगस्त को है। ध्यानचंद के जन्मद‍िवस को सारा देश ‘खेल द‍िवस’ के रूप में मना रहा है। हॉकी के जादूगर ध्यानचंद के शानदार करतबों के बारे में सालों से बहुत कुछ ल‍िखा जाता रहा है, क... Read more
clicks 20 View   Vote 0 Like   6:43am 29 Aug 2020 #जबलपुर
Blogger: gulush
SHAHARNAAMA Jabalpur-19TEXT: DINESH CHOUDHARY ( English Translation by Lakshmi Kant Sharma)Gone are the days when people at large didn’t sell their self esteem. And so were sportsmen who were not auctioned like horses and people’s representatives.They focused only on exhibiting their skills on the ground and played for their country in true spirit. They were the real gems and not like the ones who are today cut and polished by the market and used to sell goods to the people. The phrase “Spirit of Sportsmanship” is the remnant of that bygone era. Indian Hockey team under the stewardship of Dhyan Chand had become victorious in the Berlin Olympics of 1936. And Dhyan Chand returned ... Read more
clicks 19 View   Vote 0 Like   11:15am 4 Aug 2020 #Dhyan Chand
Blogger: gulush
शारदा पाठक  अजब शख़्स थे ।मस्तमौला,  फक्कड़ फ़क़ीर ।वे पत्रकार थे , सतत पढ़ने- लिखने वाले पत्रकार । वे गहरे जिज्ञासु व्यक्ति थे।उनकी रुचि  के अनेकानेक विषय थे, जिनमें उनकी भरपूर पकड़ थी। इतिहास से लेकर फिल्मों तक और बाज़ार से लेकर सभ्यता-संस्कृति तक वे सहज आवाजाही ... Read more
clicks 42 View   Vote 0 Like   6:29am 29 Jul 2020 #जबलपुर
Blogger: gulush
जुलाई माह के आते ही कई लोगों की याद आने लगती है। ऐसे ही लोगों में सदा एक सी साधारण वेशभूषा, पजायमा और पूरी बांह की कमीज में नज़र आने वाले शेख लुकमान भी हैं। 27 जुलाई को उनकी पुण्यत‍िथ‍ि है। हमने क्या जबलपुर ने लुकमान की महत्ता को कभी समझा नहीं। शायद इसका कारण लुकमान का सीध... Read more
Blogger: gulush
मीनू श्राफ तेजी से साइकिल चलाता हुआ जा रहा है। उसके तेज गति से साइकिल चलाने का कारण रास्ते में चल रहे लोग समझ नहीं पा रहे हैं। कुछ लोगों को महसूस हुआ क‍ि उस रास्ते में जा रहे कई लोगों की तरह यह व्यक्त‍ि भी समय से ऑर्डनेंस  फैक्ट्री पहुंचने की जल्दी में हो। मीनू श्राफ का ... Read more
clicks 55 View   Vote 0 Like   11:39am 22 Apr 2019 #पंकज स्वामी
Blogger: gulush
अवधेश बाजपेयीजब चार-पांच वर्ष आयु के थे, उस समय वे गांव में घर में मां के साथ अन्य महिलाओं के साथ बैठे हुए थे। दोपहर बाद के समय में बड़े भाई ने स्लेट में चाक बत्ती से एक चित्र बनाया। वे वहां से जैसे ही गए, अवधेश ने उसी स्लेट पर, वही चित्र फिर से बना दिया। उन्होंने स्वयं का स्... Read more
clicks 89 View   Vote 0 Like   9:48am 8 Oct 2018 #
Blogger: gulush
‘’अगर सौ साल बाद क‍िसी को एक दंपत‍ि नर्मदा परिक्रमा करता द‍िखाई दे, पति के हाथ में झाड़ू हो और पत्नी के हाथ में टोकरी और खुरपी, पति घाटों की सफाई करता हो और पत्नी कचरे को ले जा कर दूर फेंकती हो और दोनों वृक्षारोपण भी करते हों, तो समझ लीजिए क‍ि वे हमीं हैं-कान्ता और मैं। कोई ... Read more
clicks 101 View   Vote 0 Like   7:39am 7 Jul 2018 #अमृतस्य नर्मदा
Blogger: gulush
रघुवीर यादव की न्यूटनफिल्म से जबलपुर आस्कर अवार्ड से जुड़ गया है। न्यूटनइस वर्ष आस्कर अवार्ड के लिए भारत की अध‍िकारिक प्रव‍िष्ट‍ि है। रघुवीर यादव की इस फ‍िल्म से भारत ही नहीं बल्क‍ि जबलपुर की आस भी आस्कर अवार्ड से जुड़ गई है। जबलपुर के मूल निवासी रघुवीर यादव प्रत्ये... Read more
clicks 114 View   Vote 0 Like   7:49am 25 Oct 2017 #जबलपुर
Blogger: gulush
पश्चि‍म मध्य रेल जबलपुर की महिला हॉकी ख‍िलाड़ी सुनीता लाकड़ा को रियो ओलंपिक में भाग लेने वाली की भारत की महिला हॉकी टीम में शामिल करने से हॉकी जगत में खुशी की लहर फैल गई है। जबलपुर और ओलंपिक का रिश्ता फिर एक बार जुड़ने जा रहा है। जबलपुर देश का सबसे पुराना हॉकी का गढ़ रह... Read more
clicks 126 View   Vote 0 Like   12:07pm 15 Jul 2016 #ओलंपिक
Blogger: gulush
लाइन्स आफ विजडमराजीव सभरवाल डा. जैन को पुरस्कृत करते हुएजबलपुर के सुप्रसिद्ध र्इएनटी चिकित्सक  डा. संदीप जैनको आर्इसीआर्इसीआर्इ बैंक http://www.cameraderie.co.in द्धारा आयोजितकैमराडिरी फोटोग्राफी काम्पीटिशन-2013में अम्योचर (शौकिया) श्रेणी में उनकी फोटो प्रविष्टि लाइन्स आफ विजडमक... Read more
clicks 185 View   Vote 0 Like   10:06am 9 May 2013 #डा. संदीप जैन
Blogger: gulush
जबलपुर की विवेचना रंगमंडल ने पिछले दिनों पांच दिवसीय रंग परसार्इ-2013 राष्ट्रीय नाट्‌य समारोह का आयोजन स्थानीय प्रेक्षागृह शहीद स्मारक में किया। इस बार का नाट्‌य समारोह प्रसिद्ध साहित्यकार, शिक्षाविद, पत्रकार और पूर्व मेयर रामेश्वर प्रसाद गुरू को समर्पित था। विवे... Read more
clicks 173 View   Vote 0 Like   4:25pm 19 Mar 2013 #
Blogger: gulush
केरल में जन्मे गांधीवादी कार्यकर्ता पीवी राजगोपाल गांधी शांति प्रतिष्ठान के उपाध्यक्ष और एकता परिषद के प्रमुख हैं . एकता परिषद की स्थापना वर्ष १९९१ में की गई थी . राजगोपाल ने वर्धा स्थित सेवाग्राम से कृषि का अध्ययन करने के बाद ७० के दशक में चंबल के डाकुओं के समर्पण और ... Read more
clicks 165 View   Vote 0 Like   11:02am 24 Feb 2013 #
Blogger: gulush
(प्रसिद्ध कहानीकार और पहल के संपादक ज्ञानरंजन को 25 अगस्त को जबलपुर में जे. सी. जोशी पंचम शब्द साधक साहित्य सम्मान एवं पाखी महोत्सव-2012 में शब्द साधक शिखर सम्मान से सम्मानित किया। समारोह में मुख्य अतिथि प्रसिद्ध कथाकार शेखर जोशी ने ज्ञानरंजन को 51 हजार रूपए की सम्मान राशि ... Read more
clicks 170 View   Vote 0 Like   4:05am 29 Aug 2012 #जबलपुर
Blogger: gulush
मित्रों,आप लोगों की निरंतर आती हुई शुभकामनाओं, अपूर्व उत्साह और सहकारी बनने की अभिव्यक्तियों ने हमें हैरानी की हद तक ख़ुश और तैयार किया है. कई बार यह होता है कि जहां हम नहीं हैं वहां भी हमारी सोच और कर्म की छाया पहंच चुकी होती है.‘पहल’ के प्रसंग में भी यही हुआ. हम पहली बा... Read more
clicks 185 View   Vote 0 Like   5:18am 29 Jul 2012 #
Blogger: gulush
हिंदी साहित्य जगत की अनिवार्य पत्रिका के रूप में मान्य पहल को विख्यात साहित्यकार, संपादक और कहानीकार ज्ञानरंजन ने पुन: निकालने का निश्चय किया है। उन्होंने तीन वर्ष पहल का प्रकाशन स्थगित कर दिया था। पहल का प्रकाशन बंद करते समय ज्ञानरंजन की टिप्पणी थी कि उन्होंने पहल ... Read more
clicks 179 View   Vote 0 Like   4:58am 29 Jul 2012 #
Blogger: gulush
ज्ञानरंजन ने पहल का प्रकाशन पुन: करने की घोषणा 20 जुलाई को पहल के ब्लाग से की। http://pahal2012.wordpress.comमें ज्ञानरंजन की घोषणा यहां ज्यों की त्यों प्रस्तुत है-मित्रों,‘पहल’ को स्थगित हुए लगभग तीन वर्ष हो रहे हैं. पैंतीस वर्ष की यात्रा के बाद बहुतेरी कठिनाइयों के कारण ‘पहल’ का प्रकाशन... Read more
clicks 193 View   Vote 1 Like   6:09pm 21 Jul 2012 #
Blogger: gulush
(रंगकर्मी, निर्देशक और कवि अलखनंदन का पिछले दिनों भोपाल में निधन हो गया। उनके संबंध में विख्यात साहित्यकार ज्ञानरंजन ने एक महत्वपूर्ण संस्मरण आलेख लिखा है। यह आलेख नागपुर से प्रकाशित लोकमत में 26 फरवरी को प्रकाशित हुआ है।)रंगकर्मी, निर्देशक और कवि अलखनंदन ने चार दशक... Read more
clicks 165 View   Vote 0 Like   4:40pm 26 Feb 2012 #अलखनंदन
Blogger: gulush
(रंगकर्मी, निर्देशक और कवि अलखनंदन का पिछले दिनों भोपाल में निधन हो गया। उनके संबंध में विख्यात साहित्यकार ज्ञानरंजन ने एक महत्वपूर्ण संस्मरण आलेख लिखा है। यह आलेख नागपुर से प्रकाशित लोकमत में 26 फरवरी को प्रकाशित हुआ है।)रंगकर्मी, निर्देशक और कवि अलखनंदन ने चार दशक... Read more
clicks 164 View   Vote 0 Like   4:40pm 26 Feb 2012 #अलखनंदन
Blogger: gulush
जबलपुर की विवेचना रंगमण्डल ने पिछले दिनों पांच दिवसीय 'रंग परसाई-2012 राष्ट्रीय नाट्‌य समारोह' का आयोजन 'शहीद स्मारक' में किया। यह नाट्‌य समारोह प्रसिद्ध कवि और गीतकार पंडित भवानी प्रसाद तिवारी को समर्पित था। विवेचना की स्थापना वर्ष 1961 में हुई थी और संस्था ने 1975 से नुक्कड... Read more
clicks 196 View   Vote 0 Like   5:02am 20 Feb 2012 #जबलपुर
Blogger: gulush
(अभी हाल ही में ग्रामीण विषयवस्तु के दो लेखकों-अमरकांत और श्रीलाल शुक्ल को ज्ञानपीठ पुरस्कार देने की घोषणा की गई है। 'कौन बनेगा करोड़पति' में गांव के गरीबों को भागीदारी दी जा रही है। यह अनायास नहीं है। इसके पीछे गांव पर बाजार की पकड़ और पहुंच को मजबूत बनाने का सोचा समझा ... Read more
clicks 233 View   Vote 0 Like   12:21pm 11 Oct 2011 #ज्ञानपीठ पुरस्कार
Blogger: gulush
जबलपुर में 22 अगस्त को प्रसिद्ध व्यंग्यकार और विचारक हरिशंकर परसाई का जन्मदिवस ‘विवेचना’ और ‘पहल’ के संयुक्त तत्वावधान में मनाया गया। विवेचना कई वर्षों से 22 अगस्त को परसाई का जन्मदिवस विचार गोष्ठी और परसाई की सूक्तियों पर आधारित कार्टून प्रदर्शनी के माध्यम से आयोजि... Read more
clicks 179 View   Vote 0 Like   5:46am 31 Aug 2011 #लीलाधर मंडलोई
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4011) कुल पोस्ट (192140)