POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: हक और बातिल

Blogger: S.M.MAasum
सूरए हिज्र की आयत नंबर ९إِنَّا نَحْنُ نَزَّلْنَا الذِّكْرَ وَإِنَّا لَهُ لَحَافِظُونَ (9)निश्चित रूप से हमने ही क़ुरआन को उतारा है और निसंदेह हम ही उसकी रक्षा करने वाले हैं।(15:9)विरोधियों की ओर से लगाए जाने वाले आरोपों तथा उनके बुरे व्यवहार के संबंध में ईश्वर, ईमान वालों को सांत्वना देते ह... Read more
clicks 24 View   Vote 0 Like   12:23pm 12 Mar 2021 #waseem rizvi
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); ओहदे  का शौक़ इंसान को हमेशा से रहा  है लेकिन यह भी देखा गया है की मोमिन किसी ओहदे को पाने के लिए अपनी सलाहियतों में इज़ाफ़ा करता है और मुनाफ़िक़ उन लोगों पे तोहमत लगता है जिससे उसे यह खौफ हो की वो ओहदे का सही हक़दार है | इसलिए जब भी आप यह देखें समाज में... Read more
clicks 70 View   Vote 0 Like   3:42am 31 Oct 2020 #
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); मोमिन किसी कामयाब होने के लिए अपनी सलाहियतों में इज़ाफ़ा करता है और मुनाफ़िक़ लोगों पे तोहमत लगाता  है|| ओहदे  का शौक़ इंसान को हमेशा से रहा  है लेकिन यह भी देखा गया है की मोमिन किसी ओहदे को पाने के लिए अपनी सलाहियतों में इज़ाफ़ा करता है और मुनाफ़िक़ उ... Read more
clicks 27 View   Vote 0 Like   3:42am 31 Oct 2020 #
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); आज के दौर की सबसे बड़ी मुश्किल यह है की गुनाहं के आम हो जाने और लोगों के गुनाहों पे राज़ी हो जाने वाले समाज को देख के लोगों के ज़हन में यह आता है की कौन आज कल हदीस और क़ुरआन पे चलता है ? जब आप इमाम (अ ) की सीरत बयान करे तो कहते हैं अरे वो इमाम थे कहाँ वो कहाँ हम ? ज... Read more
clicks 103 View   Vote 0 Like   3:26am 13 Sep 2020 #मौलाना हसन अब्बास खान
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); मुंबई से आया मेरा दोस्त "दूर "से सलाम करो | साथ में न घूमो फिरो बोलो घर में आराम करो | कोरोना को हलके में न लीजे और ना जज़्बात से काम लीजे यह हर मुसलमान का फ़र्ज़ है की अक़्ल का इस्तेमाल करे क्यों आपकी हलकी सी लापरवाही आप की और आपके परिवार आस पदों जान पहचान वा... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   4:04pm 20 Aug 2020 #corona alert
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); Mout Se Qabr Tak Masoomeen HadithMAUT SE QABR TAK (HADITH)MAUT SE QABR TAK(APPROX 100 SELECTED HADITH- DO NOT MISS EVEN A SINGLE ONE)1. Rasule Khuda (saww):Tum mein se koi shakhs kabhi maut ki tamannana kare balke yu'n kahe,"Ya Allah! Mujhe oos waqt tak zinda rakh jabtak zindagi mere liye behtar hai aur mujhe ooswaqt maut de jab maut mere liye behtar ho".(Wasaail Ush Shia, v2, p127)2. Rasule Khuda (saww):se ek shakhs ne kaha ke kya wajah hai kemujhe Maut se nafrat hai?Aap ne farmaya, "Kya tere paas maal o daulathai?"Usne ne kaha, "Jee haa'n."Aap ne farmaya, "Maal o Daulat Allah ki raahmein kharch kar ke aage bhej de."Usne kaha, "Main aisa na... Read more
clicks 75 View   Vote 0 Like   3:29pm 18 Jul 2020 #
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); आज जहाँ एक तरफ कोरोना की वजह से मस्जिदें इमामबाड़े और मिम्बर सूने पड़े हैं तो वहीँ दुसरी तरफ ऑनलाइन मजलिसों का सिलसिला शुरू हो चूका है | आज लोग अपने मरहुमीन के इसाल ऐ सवाब के लिए ,सोयुम चालीसवें और बरसी की मजलिसें ऑनलाइन कर रहे हैं | वही कुछ उलेमा जिनके प... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   4:58pm 11 Jun 2020 #majlis
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); शादी का तरीक़ा अ. शादी का ख्याल आने पर दुआ ब. पैग़ाम देना स. मंगनी द. निकाह की तारीखों का तय करना च. महर छ. खुतबः और निकाह के सीग़े ज. रूखसती (विदाई) व दुआ झ. दावत-ए-वलीमा (विवाह भोज) शादी का बुनियादी तात्पर्य –संभोग- जवानी में क़दम रखने के ब... Read more
clicks 117 View   Vote 0 Like   3:19am 21 May 2020 #sex in islam
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); लखनऊ । तब्लीगी जमात के समर्थन मे आये शिया धर्मगुरु मौलाना डॉ कल्बे सादिक़तब्लीगी जमात को मीडिया ने बदनाम करके मुल्क का माहौल ख़राब किया- डॉ कल्बे सादिक़तब्लीगी जमात मुल्क के वफादार है- डॉ कल्बे सादिक़ तब्लीगी जमात के लोग कभी लड़ाई झगड़े की बात नहीं करत... Read more
clicks 189 View   Vote 0 Like   8:00am 16 May 2020 #
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इमाम हुसैन (अ) की शहादत: हज़रत अली असग़र की शहादत के बाद अल्लाह का एक पाक बंदा, पैग़म्बरे इस्लाम (स) का चहीता नवासा, हज़रत अली का शेर दिल बेटा, जनाबे फातिमा की गोद का पाला और हज़रत हसन के बाज़ू की ताक़त यानी हुसैन-ए-मज़लूम कर्बला के मैदान में तन्हा और अक... Read more
clicks 190 View   Vote 0 Like   1:07am 3 Aug 2019 #ahlubayt
Blogger: S.M.MAasum
इस्लाम और सेक्स लेखक: डा. मोहम्मद तक़ी अली आबदीपुस्तकालय› अख़लाक़ व दुआ› अख़लाक़ी किताबेंहिंदी 2017-04-10 12:55:36यह किताब अलहसनैन इस्लामी नेटवर्क की तरफ से संशोधित की गई है।.इस्लाम और जिन्सियातलेखकः डा. मोहम्मद तक़ी अली आबदीनोटः ये किताब अलहसनैन इस्लामी नेटवर्क के ज़रीऐ अपन... Read more
clicks 217 View   Vote 0 Like   1:03am 3 Aug 2019 #सेक्स
Blogger: S.M.MAasum
सूरए बक़रह की ८९ नवासीवीं आयत इस प्रकार है।और जब ईश्वर की ओर से उनके लिए क़ुरआन नामक किताब आई (जो उन निशानियों के अनुकूल थी जो उनके पास थीं) और इससे पूर्व वे काफ़िरों पर विजय की शुभ सूचना दिया करते थे, तो जब उनके पास वे वस्तुएं आ गईं जिन्हें वे पहचान चुके थे, तो उन्होंने उन... Read more
clicks 186 View   Vote 0 Like   3:19am 14 Jul 2019 #कुरान
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); 1. इमाम अली (अ.स.)जो शख्स भी कोई चीज़ अपने दिल मे छुपाने की कोशिश करता है तो उसके दिल की बात उसकी जबानी ग़लतीयो और चेहरे से मालूम हो जाती है।(नहजुल बलाग़ा, हदीस न. 25)   رسول اكرم صلى الله عليه و آله    مَنْ كانَ يُؤْمِنُ بِاللَّهِ وَ الْيَوْمِ الْآخِرِ فَلْيَقُلْ خَيْراً أَوْ لِيَس... Read more
clicks 183 View   Vote 0 Like   3:12am 9 Jul 2019 #ज़बान
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); رسول اكرم صلى الله عليه و آله لا تَزالُ اُمَّتى بِخَيرٍ ما تَحابّوا وَ اَقامُوا الصَّلاةَ و َآتَوُا الزَكاةَ و َقَروا الضَّيفَ... ؛1.    रसूले अकरम (स.अ.व.व)हमेशा मेरे उम्मती खैरो बरकत को देखेंगे जब तक की एक दूसरे से मौहब्बत करते रहे, नमाज पढ़ते रहे, जकात देते रहे और मेहमान की इज़्ज़त करत... Read more
clicks 156 View   Vote 0 Like   2:55am 9 Jul 2019 #ahlubayt
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इमाम हुसैन ने आशूर के दिन शहादत के कुछ पहले खुत्बा दिया जिसमे उन्होंने कोशिश की कि यह लश्कर ऐ यज़ीद राह ऐ हक़ पे आ जाय लेकिन जब इमाम खुत्बा देते लश्कर ढोल बजने लगते जिस से ना वे सुनें खुत्बा और न लश्कर के सिपाही सुन सकें |आखिर में इमाम हसैन ने खुत्बा देना ... Read more
clicks 167 View   Vote 0 Like   10:24am 6 Jun 2019 #
Blogger: S.M.MAasum
सभी लोगों को ईद की मुबारकबाद मैखान-ए-इंसानियत की सरखुशी, ईद इंसानी मोहब्बत का छलकता जाम है।आदमी को आदमी से प्यार करना चाहिए, ईद क्या है एकता का एक हसीं पैगाम है।                                                                     .........मशहूर शाय... Read more
clicks 358 View   Vote 0 Like   1:14pm 4 Jun 2019 #festival
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); वो खुशनसीब होता है जिसके घर वाले पति पत्नी भाई बहन उसके सुख दुःख के साथी होते हैं लेकिन कुछ बदनसीब होते हैं जिन्हे अपने ही घर में परिवार में अपनापन नहीं मिलता और वे मजबूर हो जाते हैं गैरों के साथ मिलजुल के खुश रहने पे | ऐसा घराना टूट के बिखर जाता है |वैस... Read more
clicks 177 View   Vote 0 Like   5:04am 27 May 2019 #
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); क्या अली (अ ) के विचारों, अक़वाल और वसीयतों को सिर्फ इमामबाड़ों और मिम्बरों तक महदूद करके हम अली वाले और मोमिन कहलायेंगे ?एस एम् मासूम आज हज़रत अली (अ ) की शहादत के १४०० साल हो गए और इन १४०० सालो से हज़रत अली के चाहने वाले उनका गम मना रहे हैं और अपने वक़्त ऐ इम... Read more
clicks 155 View   Vote 0 Like   1:49am 27 May 2019 #
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); मान्यता है कि कि पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब जब पहाड़ों पर चलते थे तो उनके पैरों के निशान शिला पर अंकित हो जाते थे। आज भारत में ऐसे अनगिनत क़दम ऐ रसूल के निशानात आपको मिलेंगे जिनमे से अधिकतर बादशाओं और उनसे जुड़े लोगों की क़ब्र पे लगे हुए हैं और बहुत से मस्... Read more
clicks 146 View   Vote 0 Like   2:03am 26 May 2019 #
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); क़ुरान मजीद सुरए शूरा में अल्लाह फरमाता है इमान वाले वो हैं जो नमाज़ क़ायम करते हैं अपने रब की पुकार का जवाब देते हैं ,नमाज़ क़ाएम करते हैं और अपने काम एक दुसरे से मश्विरे के साथ अंजाम देते हैं और इसके लिए समाज के उन लोगों से राब्ता क़ाएम रखते है जिनके पास अक़... Read more
clicks 158 View   Vote 0 Like   7:26pm 24 May 2019 #
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); मुसलमानो के खलीफा हज़रत अली इब्ने अभी तालिब को मस्जिद ऐ कूफ़ा में सुबह की नमाज़ में एक ज़ालिम इब्ने मुल्जिम से उस वक़्त शहीद  किया जब हज़रत अली सजदे में थे | यह १९ रमज़ान १४४० AH (26 jan 661 CE ) की सुबह थी  जब रसूल ऐ खुदा हज़रत मुहम्मद के दामाद हज़रत अली को ज़रबत लगी और ... Read more
clicks 161 View   Vote 0 Like   11:54am 20 May 2019 #hazrat ali
Blogger: S.M.MAasum
 अयातुल्लाह सीस्तानी 1. रोज़े की नियत *1559 - इंसान के लिए रोज़े की नियत दिल से गुजारना य मसलन यह कहना के "मै कल रोज़ा रखूंगा, ज़रूरी नहीं बल्कि उसका इरादा करना काफी है की वो अल्लाह ताअला की रिज़ा के लिए अजाने सुबह से मगरिब तक कोई भी ऐसा काम नहीं करेगा जिससे रोज़ा बातिल होत... Read more
clicks 179 View   Vote 0 Like   8:02am 10 May 2019 #
Blogger: S.M.MAasum
इस लेख की सनद नहजुल बलाग़ा का 31 वा पत्र है। सैयद रज़ी के कथन के अनुसार सिफ़्फ़ीन से वापसी पर हाज़रीन नाम की जगह पर आप ने यह पत्र अपने पुत्र इमाम हसन (अ) को लिखा है। हज़रत अली (अ) ने इस पत्र के ज़रिये से जो ज़ाहिर में तो इमाम हसन (अ) के लिये है, मगर वास्तव में सत्य की तलाश करने वाल... Read more
clicks 150 View   Vote 0 Like   6:21am 1 May 2019 #ahlubayt
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इस्लाम में अल्लाह ने यह कोशिश करने को अहमियत दी है की दुनिया में जितने भी इंसान है सबको इंसानियत के रिश्ते से कम से कम एक एक रखो | झगड़ों और मतभेद से परहेज़ करो और अगर किसी का अक़ीदा आप से टकरा जाय या अलग हो तो उसे मुहब्बत से अपना अक़ीदा समझाओ लेकिन किसी को ब... Read more
clicks 263 View   Vote 0 Like   1:28am 19 Apr 2019 #social issues
Blogger: S.M.MAasum
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); ये बात २० रजब सन ६० हिजरी की है जब मुआव्विया की मृत्यु हो गयी और यज़ीद  ने खुद को मुसलमानो  का  खलीफा घोषित कर दिया ।इमाम हुसैन (अ.स ) हज़रत मुहम्मद (स.अ व ) के नवासे थे और यह कैसे संभव था कि वो यज़ीद जैसे ज़ालिम और बदकार को खलीफा मान लेते ? इमाम हुसैन ने नेकी ... Read more
clicks 413 View   Vote 0 Like   1:52am 5 Apr 2019 #ahlubayt
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3990) कुल पोस्ट (194353)