POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: Stories

Blogger: Ashish ARYA at Lok Hindi...
Inspirational Stories – अपूर्व साहस  Short Hindi Motivational Stories / Short Inspirational Stories in Hindi | Best Inspirational Story in Hindi – हिंदी कहानी साहस पर वो तीस मार्च का दिन था। सन् उन्नीस सौ, उन्नीस की बात है। दिल्ली में हुई थी अभूतपूर्व हड़ताल। इस कारणवश! सभी ट्राम गाड़ियां और तांगे बन्द हो गये थे। दोपहर के वक्त स्वामी श्रद्धानन... Read more
clicks 91 View   Vote 0 Like   5:39pm 7 Feb 2019 #STORIES
Blogger: Ashish ARYA at Lok Hindi...
Scary Stories ज़िंदा लाश की असली कहानी / Scary Stories in Hindi – डरावनी हिंदी कहानीयाँ | New Ghost Stories in Hindi 2019, भूत की हिंदी में कहानियाँ | पच्चीस वर्षीय अनुज अपने उस फ्लैट में पहली बार आया, जो उसे उसकी कम्पनी ने सुविधा के रूप में दिया था। वास्तव में अनुज की नई-नई नौकरी लगी थी। वह हरियाणा में अपना परि... Read more
clicks 71 View   Vote 0 Like   6:32pm 5 Feb 2019 #STORIES
Blogger: Ashish ARYA at Lok Hindi...
सबसे कीमती हीरा  प्रेरणादायक नैतिक कहानियाँ / Inspirational Moral Stories – Short Moral Story in Hindi । प्रेरणादायक कहानियां हिंदी में_Short Stories in Hindi For Kids | एक किसान था। वह अपने खेत में हल चला रहा था। उसका बेटा भी वहीं था। उसको खेत में एक हीरा मिला। वह चम-चम चमक रहा था। चमक उसे बहुत अच्छी लगी। वह उसे लेकर खेल... Read more
clicks 57 View   Vote 0 Like   5:27pm 27 Jan 2019 #STORIES
Blogger: pradeep singh beedawat at चेतना के स्वर...
एक 6 साल का छोटा सा बच्चा अक्सर भगवान से मिलने की जिद किया करता था। उसे भगवान् के बारे में कुछ भी पता नही था पर मिलने की तमन्ना, भरपूर थी।उसकी चाहत थी की एक समय की रोटी वो भगवान के सांथ खाये।1 दिन उसने 1 थैले में 5 ,6 रोटियां रखीं और परमात्मा को को ढूंढने निकल पड़ा।चलते चलते वो ब... Read more
clicks 102 View   Vote 0 Like   2:44pm 18 Apr 2016 #stories
Blogger: Akash kumar at Jeevan Mag...
सर्दी का महीना था और शाम का समय. दादा जी चादर ओढ़े आग के पास कुर्सी पर बैठे थे. आकाशवाणी से समाचार ख़त्म होते ही चारों तरफ से बच्चों की मंडली आ धमकी. सोनू, मोनू, मिठ्ठू, लालबाबू, टिंकू, रिंकी और अंजलि. सभी ने उन्हें घेर लिया और रोज की तरह कहानी सुनाने की जिद करने लगे. आज भी पहले उ... Read more
clicks 144 View   Vote 0 Like   7:39am 20 May 2015 #stories
Blogger: सतीश at खुदी को कर बु...
(Khalil Gibran)एक बार की बात है कि किसी राज्य में एक राजकुमार रहता था जिसे उसके राज्य के सभी लोग पसंद करते थे और उसका सम्मान करते थे|उसी राज्य में एक बेहद गरीब आदमी भी रहता था जो उस राजकुमार से बहुत चिढ़ता था, और वह लगातार उसके बारे में अपनी कडवी जुबानसे अनाप-शनाप बातें बोलता रहता थ... Read more
clicks 195 View   Vote 0 Like   4:34am 26 Mar 2015 #Stories
Blogger: सतीश at खुदी को कर बु...
(Khalil Gibran)एक बार की बात है, बहुत दूर पहाड़ियों में एक आदमी रहता था, उसके पास एक मूर्ति थी जो उसके गुरु ने उसे दी थी| यह उसके दरवाजे की बाहर बेकार पडी हुई थी और वह उसे ठीक से रखने की कोई चिंता भी नहीं करता था|एक बार शहर में रहने वाला एक समझदार आदमी वहां से गुजरा, मूर्ति को देखकर उसने ... Read more
clicks 160 View   Vote 0 Like   6:12am 23 Mar 2015 #Stories
Blogger: सतीश at खुदी को कर बु...
(Khalil Gibran)एक सीप(oyster) ने अपने साथी सीप से कहा, “मुझे अपने अंदर बहुत ज्यादा pain महसूस हो रहा है| यह बहुत भारी और गोल सा है और इसकी वजह से मैं बड़ी तकलीफ में हूँ|”दूसरी सीप ने घमंड भरी प्रसन्नता से जवाब दिया, “भगवान् का शुक्र है कि मुझे अपने अंदर कोई दर्द नहीं महसूस हो रहा है| मैं अंदर औ... Read more
clicks 287 View   Vote 0 Like   4:56am 19 Mar 2015 #Stories
Blogger: vikram pratap at Lost Soul ...
IMAGE SOURCE : http://www.google.co.in/imgres?imgurl=http://sagita.rocks/images/285142-teen-girl-crying.jpg&imgrefurl=http://sagita.rocks/285155-girl-crying-alone&h=465&w=468&tbnid=W-YP2u9Fxud8nM:&zoom=1&docid=XpI_4rOnQcySGM&ei=v9kJVayLPMaNuATW-IDgCg&tbm=isch&ved=0CFcQMyhPME84ZAShe is crying. She is sobbing. Her parents try to pamper her. She hugs her mother tight, tight, tighter. Another girl, she has also tear in her eyes. IMAGE SOURCE: http://wallpapers-diq.org/wallpapers/21/Artistic_Portrait_of_Beautiful_Girl_Crying.jpgTwo families and two girls, they are not girls, they are beautiful young ladies, must be in their 22-23, and they are crying, sobb... Read more
clicks 145 View   Vote 0 Like   8:11pm 18 Mar 2015 #stories
Blogger: सतीश at खुदी को कर बु...
(Khalil Gibran)एक बार की बात है, एक दिन पैगंबर(Prophet)शरीयत की मुलाकात बगीचे में एक बच्चे से हुई। बच्चा भाग कर उनके पास आ गया और बोला, “Good-morning, Sir,” और पैगम्बर ने जवाब दिया, “Good-morning, Sir.” और एक पल सोच कर कहा, “तुम अकेले ही आए हो|”बच्चा, हंसा और आनंद से बोला, “मुझे अपनी आया(nurse) से पीछा छुड़ाने में काफी ... Read more
clicks 194 View   Vote 0 Like   1:00am 16 Mar 2015 #Stories
Blogger: सतीश at खुदी को कर बु...
(Khalil Gibran)एक बार मेले में दूर के गावं में रहने वाली एक लडकी आई, जोकि बहुत ही खूबसूरत थी| उसका चेहरा गुलाबी था| उसकी जुल्फें रात की तरह काली थी, और एक दिलकश मुस्कान उसके होठों पर खिली रहती थी|उस खूबसूरत अजनबी के आने की देर थी कि जवान लड़कों ने उसे ढूंढ लिया और उसके करीब आने की कोशि... Read more
clicks 159 View   Vote 0 Like   6:59am 2 Mar 2015 #Stories
Blogger: सतीश at खुदी को कर बु...
(Khalil Gibran)एक बार शाम के समय नील नदी के किनारे पर, एक hyena (लकड़बग्घा-एक तरह का कुत्ते जैसा जानवर) की मुलाक़ात एक crocodile(घड़ियाल) से हुई उन्होंने एक दुसरे को देखकर good-afternoon कहा|Hyena ने बातचीत शुरू की और crocodile से पूछा, “Sir, आज आपका दिन कैसा गुजरा?”और crocodile ने जवाब दिया, “मेरा दिन तो बड़ा ही खराब रहा| कभी-... Read more
clicks 145 View   Vote 0 Like   5:41am 26 Feb 2015 #Stories
Blogger: सतीश at खुदी को कर बु...
(Khalil Gibran)एक बार एक poet ने एक love song लिखा जो बहुत ही खूबसूरत था| और उसने इसकी बहुत सी duplicate copies बनाई और उन्हें अपने दोस्तों और चाहने वालों को भेज दिया जिसमें स्त्री और पुरुष दोनों ही शामिल थे| और उसने अपने इस song को उस जवान लडकी को भी भेजा जिसे कि वह केवल एक बार मिला था और जो पहाड़ों के दूसर... Read more
clicks 164 View   Vote 0 Like   12:30am 18 Feb 2015 #Stories
Blogger: सतीश at खुदी को कर बु...
                                  (W. Livingston Larned) Read in EnglishFather Forgets"Listen, son; I am saying this as you lie asleep, one little paw crumpled under your cheek and the blond curls stickily wet on your damp forehead. I have stolen into your room alone. Just a few minutes ago, as I sat reading my paper in the library, a stifling wave of remorse swept over me. Guiltily I came to your bedside.There are things I was thinking, son: I had been cross to you. I scolded you as you were dressing for school because you gave your face merely a dab with a towel. I took you to task for not cleaning your shoes. I called out angrily when you threw some o... Read more
clicks 224 View   Vote 0 Like   6:04am 30 Jan 2015 #Stories
Blogger: Akash kumar at Jeevan Mag...
इंतेहा हो गयी इंतज़ार की! स्टेशन पर खड़े लोग भारतीय रेल को 'शुद्ध भोजपुरी'में गलियाते हुए लेट ट्रेन की राह देख रहे थे। प्रतीक्षा के बाद जब ट्रेन आई तो धक्का-मुक्की का दौर शुरू हो गया। हमने किसी तरह अपने 'वेटिंग 5'के टिकट पर खीस निपोरते हुए सीट ली। पर डर यह कि हमें ज़ल्द ही ब... Read more
clicks 47 View   Vote 0 Like   12:02pm 21 Jul 2014 #stories
Blogger: Akash kumar at Jeevan Mag...
सुबह सुबह जब मैं निद्राधीन था तब मेरी बहन के एक वाक्य ने मुझे निद्रा विहीन कर दिया– “बड़े काका अब नहीं रहे !”....इतना सुनते ही मैं परिवार के अन्य सदस्यों के पास गया जो यह विचार कर रहे थे की आगे क्या करना है. एक घंटे में हम सभी गाँव के लिए रवाना हो गए. आदतन मेरे कान में इयरफोन पड़... Read more
clicks 33 View   Vote 0 Like   4:32pm 27 Jun 2014 #stories
Blogger: priyadarshinitiwari at Priyadarshini.....
धूप बहुत तेज होने लगी थी ,बाहार बालकनी मै फ़ैले हुए कपडों को मै समेट रही थी.,गर्मी इतनी ज्यादा थी कपडों की एक बडी सी पोटली बांधकर मै अन्दर भागने को थी .तभी सामने नज़र पडी ,तीन बच्चे मेरे घर के सामने की बाउन्ड्री वाल के बाहार चुपचाप बैठे थे .उन्होंने पैरों मै चप्पल भी नहीं प... Read more
clicks 195 View   Vote 0 Like   8:48am 1 May 2013 #Stories
Blogger: पी सी गोदियाल at 'परचेत'...
         स्कूटर और उनकी पत्नी स्कूटी शहर के उत्तरी हिस्से में सरकारी आवास संस्था  द्वारा निम्न आय वर्ग के लोगो के लिए ख़ासतौर पर निर्मित और बसाई गई एक कालोनी में पिछले एक दशक से रहते थे। उनकी कालोनी के ज्यादातर निवासी दिनभर दौड़-भागकर इधर से उधर बोझा ढ़ोने का काम करके ... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   7:53am 14 Apr 2013 #Stories
Blogger: पी सी गोदियाल at 'परचेत'...
         स्कूटर और उनकी पत्नी स्कूटी शहर के उत्तरी हिस्से में सरकारी आवास संस्था  द्वारा निम्न आय वर्ग के लोगो के लिए ख़ासतौर पर निर्मित और बसाई गई एक कालोनी में पिछले एक दशक से रहते थे। उनकी कालोनी के ज्यादातर निवासी दिनभर दौड़-भागकर इधर से उधर बोझा ढ़ोने का काम करके ... Read more
clicks 237 View   Vote 2 Like   7:53am 14 Apr 2013 #Stories
Blogger: पी सी गोदियाल at 'परचेत'...
"सॉरी, गोंट टु गो, आई वेस्टेड सो मच आफ योर टाइम।" हल्की सी कराह खुद में समेटे ये भारी-भरकम स्वर जब कानो में पड़े तब जाकर यह अहसास हुआ कि साथ में कोई अजनबी बैठे हैं। मोटी, घनी और घुमावदार सफ़ेद मूछों से सुसज्जित उस रौबीले चेहरे पर एक नजर डालने के उपरान्त मैं कहना चाहता थ... Read more
clicks 106 View   Vote 0 Like   8:08am 19 Mar 2013 #Stories
Blogger: पी सी गोदियाल at 'परचेत'...
दो-तीन दिन पहले मैंने यह लघु-कथा अपने आचलिक भाषा के ब्लॉग पर गढ़वाली में लिखी थी, आज उसका हिन्दी अनुवाद यहाँ प्रस्तुत कर रहा हूँ ; एक ब्राह्मण पुजारी के तौर पर अपना सांसारिक जीवन शुरू करने वाले उसके वृद्ध पिताजी  इलाके भर में एक दिव्य-महात्मा के तौर पर प्रसिद्द हो गए ... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   3:42am 16 Mar 2013 #Stories
Blogger: पी सी गोदियाल at 'परचेत'...
कई सालों के बाद अब 2जी स्पेक्ट्रम की हालिया  दोबारा आयोजित नीलामी  निम्नलिखित कहानी के अनुरूप है:एक सुंदर लड़की थी  जिसने अपने माता पिता को खो दिया था।  उसके बाद वह अपने एक अभिभावक के साथ रहने लगी थी। जल्दी ही  वह लड़की शादी के योग्य हुई तो उसके भ्रष्ट संरक्षक ने उसके... Read more
clicks 61 View   Vote 0 Like   12:01pm 15 Nov 2012 #Stories
Blogger: Nishant at Hindizen - हिंदीज़े...
बहुत समय पहले चीन के तांग प्रांत में एक वृद्ध साधु वू-ताई पर्वत की तीर्थयात्रा पर जा रहा था. वू-ताई पर्वत पर ज्ञान के बोधिसत्व मंजुश्री का निवास माना जाता है. वृद्ध और अशक्त होने के कारण वह धूल भरे मार्ग पर भिक्षा मांगते हुए बहुत लंबे समय तक चलता रहा. कई सप्ताह की यात्रा क... Read more
clicks 318 View   Vote 2 Like   1:30am 29 Apr 2012 #Stories
Blogger: Nishant at Hindizen - हिंदीज़े...
किसी महिला पत्रकार को यह पता चला कि एक बहुत वृद्ध यहूदी सज्जन लंबे समय से येरुशलम की पश्चिमी दीवार पर रोज़ाना बिलानागा प्रार्थना करते आ रहे हैं तो उसने उनसे मिलने का तय किया.वह येरुशलम की पश्चिमी प्रार्थना दीवार पर गयी और उसने वृद्ध सज्जन को प्रार्थना करते देखा. लगभग 45... Read more
clicks 101 View   Vote 0 Like   1:30am 13 Apr 2012 #Stories
Blogger: Nishant at Hindizen - हिंदीज़े...
एक व्यक्ति किन्हीं महात्मा के पास गया और उनसे पूछा, “क्या मनुष्य स्वतन्त्र है? यदि वह स्वतन्त्र है तो कितना स्वतन्त्र है?क्या उसकी स्वतंत्रता की कोई परिधि है? भाग्य, किस्मत, नियति, दैव आदि क्या है? क्या ईश्वर ने हमें किसी सीमा तक बंधन में रखा है?”लोगों के प्रश्नों के उत्त... Read more
clicks 102 View   Vote 0 Like   1:30am 25 Mar 2012 #Stories
[Prev Page] [ Next Page ]


Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
Share:
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3929) कुल पोस्ट (194313)