POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: हिंदी

Blogger: सु-मन (Suman Kapoor) at बावरा मन...
भाषाएँ कहलाती जीवनजीवन में फिर होता सृजन सृजन से उपजता है ज्ञानज्ञान से परिभाषित हो विज्ञान विज्ञान से बदलता परिवेशपरिवेश बनाता प्रगतिशील देशदेश की होती अपनी परिभाषापरिभाषा में अहम होती भाषाभाषा जिसमें लगी है बिंदी बिंदी की सुर्खी से सजी हिंदी हिंदी प्रि... Read more
clicks 217 View   Vote 0 Like   3:46pm 21 Feb 2019 #हिंदी
Blogger: ऋषभ देव शर्मा at ऋषभ उवाच...
राजनैतिक दृष्टि से भक्तिकाल के एक छोर पर मुहम्मद तुगलक और दूसरे छोर पर शाहजहाँ की सत्ता विद्यमान है अर्थात यह काल भारतीय इतिहास का वह महत्वपूर्ण समय है जिसमें दिल्ली सल्तनत में तुगलक वंश से लेकर मुगलवंश तक का आधिपत्य रहा। मुहम्मद तुगलक एक सनकी परंतु निष्पक्ष शासक ... Read more
clicks 90 View   Vote 0 Like   11:34am 7 Oct 2018 #हिंदी
Blogger: सु-मन (Suman Kapoor) at बावरा मन...
जन्मदिवस मुबारक प्यारी हिंदीहर रोज हम तुम्हारा उपयोग करें |मिले तुम्हें नई पीढ़ी का साथतुम संग वो दोस्ती का आगाज़ करें |चाहे घर हो या दफ़्तर, बाज़ारहिंदी में सब पढ़ाई लिखाई करें |गुड मॉर्निंग के बदले बोले सुप्रभातहम सब ये आज से शुरुआत करें |करके अपनी मातृभाषा का सम्मानआ... Read more
clicks 205 View   Vote 0 Like   8:46am 14 Sep 2018 #हिंदी
Blogger: अपर्णा त्रिपाठी at palash "पलाश"...
खाना खाने के बाद, बच्चे टी वी देखने में मस्त हो गये और पत्नी जी किचन का काम समेटने लगी। अवस्थी जी मोबाइल ले कर बाहर लॉन में निकल आये। अवस्थी जी चार साल पहले ही बैंक में प्रोबेशनरी ऑफीसर के पद पर नियुक्त हुये थे। और करीब एक साल पहले आपका ट्रांसफर दिल्ली की लाजपत नगर ब्रांच... Read more
clicks 175 View   Vote 0 Like   10:20am 23 Jun 2018 #हिंदी
Blogger: कमलेश भगवती प्रसाद वर्मा ''कमलेश' at के.सी.वर्मा ''क...
हिन्दी से सबको सबसे, हिन्दी को है पूरी आशा ,फले-फूले दिन-रात चौगुनी ,जन-मानस की भाषा ।इसमें निहित है हमारे पूरे , देश राष्ट्र -धर्म की मर्यादा ,जितना इसका मंथन होता ,बढ़े ज्ञान अमृत और ज्यादा ।बदल रहें इसके कार्य -क्षेत्र ,बदल रही सीमा परिभाषा,आभाषी मन मचल रहे हैं ,ले एक नय... Read more
clicks 199 View   Vote 0 Like   4:04pm 15 Dec 2017 #हिंदी
Blogger: RD Prajapati at TRAVEL WITH RD...
दोस्तों! अभी तक  मैं सिर्फ अंग्रेजी में लिख रहा था, लेकिन मैंने ये महसूस किया की यात्रा के दौरान कुछ अनुभवें  ऐसी भी हैं जिन्हे हिंदी में भी व्यक्त करना बेहद जरुरी है, क्योकि वर्तमान समय में हिंदी ब्लॉग्स की काफी कमी है। इसमें कोई दो राय नहीं की अभी तो अंग्रेजी का ही ब... Read more
clicks 87 View   Vote 0 Like   7:57am 19 Oct 2015 #हिंदी
Blogger: Akanksha Yadav at शब्द-शिखर...
'समाज के निर्माण में भाषा और साहित्य की भूमिका'जगजाहिर है। इस विषय को लेकर तमाम पुस्तकें लिखी/सम्पादित की गई हैं। हाल ही में इस विषय पर एक पुस्तक डॉ. गीता सिंह (रीडर एवं अध्यक्ष, स्नाकोत्तर हिंदी विभाग, दयानंद स्नाकोत्तर महाविद्यालय, आज़मगढ़) के सम्पादन में युगांतर प्रका... Read more
clicks 145 View   Vote 0 Like   5:00am 24 Sep 2015 #हिंदी
Blogger: Akanksha Yadav at शब्द-शिखर...
भारत में 32 साल बाद फिर से विश्व हिन्दी सम्मेलन का आयोजन, 10-12  सितंबर को भोपाल में। वैश्विक मंच पर भारत की बढ़ती साख ने कई देशों को हिंदी जानने व समझने पर विवश कर दिया है। आज दुनिया के 150 से अधिक विश्वविद्यालयों में हिन्दी पढ़ाई जा रही है। 50 करोड़ से अधिक लोग हिंदी बोलते हैं औ... Read more
clicks 214 View   Vote 0 Like   2:49pm 9 Sep 2015 #हिंदी
Blogger: Akanksha Yadav at शब्द-शिखर...
विश्व हिंदी सम्मेलन की चर्चा जोरों पर है। मध्य प्रदेश की राजधानी  भोपाल में 10 से 12 सितंबर तक आयोजित होने जा रहे 10वें विश्व हिंदी सम्मेलन में भारत और 27 अन्य देशों से लगभग 2,000 प्रतिनिधियों के हिस्सा लेने की संभावना है। सम्मेलन का उद्घाटन भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोद... Read more
clicks 180 View   Vote 0 Like   5:30am 2 Sep 2015 #हिंदी
Blogger: Kavi Amrit Wani at काव्य कलश...
आओ ऐसे दीप जलाए | अंतर मन का तम मिट जाए ||  मन निर्मल ज्यूं गंगा माता | राम भरत ज्यूँ सारे भ्राता ||  रामायण की गाथा गाए | भवसागर से तर तर जाए ||  चोरी हिंसा हम दूर भगाए | वंदे मातरम् मिल कर गाए || कवि अमृत 'वाणी'... Read more
clicks 174 View   Vote 0 Like   2:25pm 26 Jan 2015 #हिंदी
Blogger: Kavi Amrit Wani at काव्य कलश...
जो जलना था वो सब जल गया ।जो गलना था वो सब गल गया ।।'वाणी'दर्द, दर्द सा लगता नहीं अब ।दर्द के सांचों में जीवन ढल गया ।।कवि अमृत  'वाणी'... Read more
clicks 208 View   Vote 0 Like   7:30am 29 Nov 2014 #हिंदी
Blogger: एम.आर.अयंगर at लक्ष्मीरंगम -...
       स्टार्ट स्पीकिंग हिंदी.                         सुनो,  सारे बच्चे             सारे माने, ऑल,             कम हियर,             यहाँ आओ,               यह बताओ, वाई,              आल ऑफ यू              आर टाकिंग... Read more
clicks 109 View   Vote 0 Like   12:38pm 26 Sep 2014 #हिंदी
Blogger: एम.आर.अयंगर at लक्ष्मीरंगम -...
हिंदी कुंज पर मेरे लेख “ हिंदी दशा और दिशा”पर - समीर पिलानी - ने टिप्पणी दी.- “ Hey I want some help fromupeople. Ihvan project on Hindi related 2 this. Topic is “हम हिंदी क्यों पढ़ते हैं“. Pl give info 4 this.”प्रोजेक्ट का विषय व टिप्पणी की भाषा देखकर लगा कि समीर पिलानी अभी स्कूल का विद्यार्थी है. सो और भी अच्छा लगा कि कोई विद्यार्थी ... Read more
clicks 110 View   Vote 0 Like   12:54pm 22 Sep 2014 #हिंदी
Blogger: kuldeep thakur at मन का मंथन [man ka ...
[आप सब को 14 सितंबर यानी हिंदी दिवस की शुभ कामनाएं...]जब हम गुलाम थे, विश्व में गुम नाम थे,मिट गयी थी हमारी पहचान, तब हिंदी ने ही  जगाया हमे...हम कौन थे? कैसा था अदीत हमारा?हम क्यों गुलाम हुए,ये हिंदी ने ही  बताया हमे...कहीं मंदिर मस्जिद का झगड़ा था,कोई मांग रहे थे  खालीस... Read more
clicks 95 View   Vote 0 Like   1:34pm 13 Sep 2014 #हिंदी
Blogger: Vinay Prajapati at तकनीक द्रष्ट...
क्या आपको ब्लॉगिंग पसंद है? यदि हाँ, तो आप ज़रूर किसी न किसी ब्लॉग पर लेख प्रकाशित कर रहे होंगे। क्या आप अपने ब्लॉग के लिए पाठकों की तलाश कर रहे हैं जो कि आपके ब्लॉग पर प्रकाशित लेखों को निरंतर पढ़े। हम सभी जानते हैं कि बिना प्रसंशा और आलोचना के कोई ब्लॉग पूरा नहीं होता है औ... Read more
clicks 93 View   Vote 0 Like   3:19pm 23 Jan 2014 #हिंदी
Blogger: pankaj kumar at Behtarlife.com बेहतर ल...
1. जिन चीजों को आप बदल नहीं सकते उन्हें स्वीकार कर लें. यदि उन्हें आप बदल पाने में सक्षम हैं तो अविलम्ब बदल डालें. 2. वैसे व्यक्ति को नजरंदाज करें जो आपको नीचा दिखाना चाहता है. यदि आप उनकी तरफ ध्यान देंगे तो पायेंगे कि ये किस तरह के लोग हैं. 3. आप अपना मनपसंद गाना बजाकर उस... Read more
clicks 63 View   Vote 0 Like   7:00pm 18 Sep 2013 #हिंदी
Blogger: vineet verma at मेरा संघर्ष...
हिंदी भारोपीय (भारतीय-यूरोपीय)परिवार की एक ऐसी भाषा है जो आम भारतीयों की अभिव्यक्ति का माध्यम है। संख्या बल की दृष्टि से यह दुनिया में सर्वाधिक लोगों के बीच समझी जाने वाली भाषा है। भारोपीय परिवार की भाषा होने के कारण यह भारतीय सीमा के बाहर भी समझी जाती है। संस्कृत शब्... Read more
clicks 70 View   Vote 0 Like   6:23am 13 Sep 2013 #हिंदी
Blogger: kamal k. jain at मंतव्य...
इन्होने भगवा को छीना, उन्होंने हरे को.. मैंने सफ़ेद चुना,  और शांति से जिया..इन्होने मदरसों में आतंक की घुट्टी दी, उन्होंने सरस्वती के मंदिरों में जहर भरा.. भला हुआ जो मैं निपट अज्ञानी रहा.मौलाना अजान में डूबे रहे, पंडित जी ठाकुर के भोग में.. उधर वो बच्ची भूख से ... Read more
clicks 154 View   Vote 0 Like   2:24pm 12 Sep 2013 #हिंदी
Blogger: kuldeep thakur at कविता मंच...
हमारी हिंदी एक दुहाजू की नई बीवी हैबहुत बोलनेवाली बहुत खानेवाली बहुत सोनेवालीगहने गढ़ाते जाओसर पर चढ़ाते जाओवह मुटाती जाएपसीने से गंधाती जाए घर का माल मैके पहुँचाती जाएपड़ोसिनों से जलेकचरा फेंकने को ले कर लड़ेघर से तो खैर निकलने का सवाल ही नहीं उठताऔरतों को जो चाह... Read more
clicks 70 View   Vote 0 Like   7:14am 10 Sep 2013 #हिंदी
Blogger: RADHAKRISHNA MIRIYALA at राधाकृष्ण मि...
"मेरे गुरु देव प्रो ऋषभदेव शर्मा की छठी काव्यकृति ‘सूँ साँ माणस गंध’ लोकार्पित""सूँ  साँ   माणस गंध" लोकार्पण समारोह।चित्र में बये से एम. रांगय्या,प्रोफ.ऋषभ देव शर्मा, प्रोफ.एम्.वेंकटेश्वर, प्रोफ.दिलीप सिंह, डॉ.राधेश्याम शुक्ल,डॉ.नीरजा गुर्रमकोंडा,लक्ष्मी नारायण ... Read more
clicks 133 View   Vote 0 Like   7:39am 9 Sep 2013 #हिंदी
Blogger: RADHAKRISHNA MIRIYALA at राधाकृष्ण मि...
हैदराबाद  ०५ सितंबर २०१३.दक्षिण भारत हिंदी प्रचार सभा-आंध्र, हैदराबाद स्थित स्वर्णजयंती भवन में श्री एम् वी पापन्न गुप्ता हाल परिसर में शिक्षक दिवस समारोह संपन्न हुआ. इस कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि के रूप में डॉ अहिल्या मिश्र,विशेष अतिथियों के रूप में उच्च शिक्षा और श... Read more
clicks 120 View   Vote 0 Like   7:47am 8 Sep 2013 #हिंदी
Blogger: kamal k. jain at मंतव्य...
अगर ये सच है कीइतिहास सदा राज सिंहासनो के पाए तले लिखा जाता हैतो फिर क्यूँ हमें कबूल नहींकी इतिहास सिर्फ वो नहीं जोराम, कृष्ण या अशोक को महान बताता हैइतिहास उन तमाम नष्ट किये, जलाये कुचले पन्नो में भीदर्ज हो सकता हैजो आज भी नरकासुर की चुराई गयी सोलह हज़ार रानियों के आंस... Read more
clicks 167 View   Vote 0 Like   7:43am 29 Aug 2013 #हिंदी
Blogger: kamal k. jain at मंतव्य...
तुम हर एक रिश्ते में मुकम्मल होती हो,जब तुम मेरी माँ थी तो लगता था की हर जन्नत यही कही तेरे कदमो तले ही तो है,फिर जब तुम बहन बनी तो लगा मेरी हर मुसीबत का हल एक तुम्ही तो हो,मेरे कठिन दिनों में मेरी ताकत बन साथ कड़ी मेरी प्रेयसी भी तुम्ही तो थी,मुझे हर कदम गलत राह पर जाने से रोक... Read more
clicks 162 View   Vote 0 Like   2:37pm 12 Aug 2013 #हिंदी
Blogger: kamal k. jain at मंतव्य...
मुझे नहीं आता शब्दों का तिलिस्म रच पानाना ही मुझमे शब्दों की अबिधा से खेल पाने का सामर्थ्य हैमुझे नही सुझाते भावो के शाब्दिक पर्यायना ही मैं ढूंढ पाता हूँ अपने मन का कोई समानार्थीमैं नहीं रच पाता हूँ कोई अद्भुत कविता..मुझे चाहिए बस दो पल के लिए तुम्हारा साथ क्योंकि जब ... Read more
clicks 158 View   Vote 0 Like   2:48pm 11 Aug 2013 #हिंदी
[Prev Page] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4001) कुल पोस्ट (191781)