POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: हाइकु

Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
हम ******* 1. चाहता मन   काश पंख जो होते   उड़ते हम!  2. जल के स्रोत   कण-कण से फूटे   प्यासे हैं हम!  3. पेट मे आग   पर जलता मन,   चकित हम!  4. हमसे जन्मी   मंदिर की प्रतिमा,   हम ही बुरे!  5. बहता रहा   आँस... Read more
clicks 27 View   Vote 0 Like   7:00am 8 Nov 2020 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
 यादें, न आओ*******1. मीठी-सी बात   पहली मुलाक़ात   आई है याद!   2. दुखों का सर्प   यादों में जाके बैठा   डंक मारता!   3. गहरे खुदे   यादों की दीवार पे   जख्मों के निशाँ!   4. तुम भी भूलो,   मत लौटना यादें,   हमें जो भूले! 5. पराए रिश्ते   रोज़ ... Read more
clicks 90 View   Vote 0 Like   4:38pm 15 Sep 2020 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
सीता की पीर ******* 1. राह अगोरे  शबरी-सा ये मन,  कब आओगे?  2. अहल्या बनी  कोई राम न आया  पाषाण रही।  3. चीर-हरण,  द्रौपदी का वो कृष्ण  आता न अब।  4. शुचि द्रौपदी  पाँच वरों में बँटी,  किसका दोष?  5. कर्ण का दान  कवच व कुंडल,  कुंत... Read more
clicks 127 View   Vote 0 Like   12:17pm 1 Jun 2020 #हाइकु
Blogger: RAVINDRA PRABHAT at परिकल्पना...
भारत ऋतुओं का देश है, जहां प्रकृति का वैविध्यपूर्ण सौंदर्य बिखरा पड़ा है।यही कारण है, कि फूलों का देश जापान को छोड़कर आने की दु: खद स्मृति हाइकु काव्य को कभी अक्रांत नहीं कर पाई। वह इस देश को भी  अपने घर की मानिंद महसूस करती रही। यही कारण है कि हिन्दी साहित्य जगत के समस्... Read more
clicks 85 View   Vote 0 Like   4:38am 12 May 2020 #हाइकु
Blogger: अविनाश वाचस्पति at नुक्कड़...
भारत ऋतुओं का देश है, जहां प्रकृति का वैविध्यपूर्ण सौंदर्य बिखरा पड़ा है।यही कारण है, कि फूलों का देश जापान को छोड़कर आने की दु: खद स्मृति हाइकु काव्य को कभी अक्रांत नहीं कर पाई। वह इस देश को भी  अपने घर की मानिंद महसूस करती रही। यही कारण है कि हिन्दी साहित्य जगत के समस्... Read more
clicks 50 View   Vote 0 Like   4:07am 12 May 2020 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
गौरैया  (गौरैया पर 15 हाइकु)*******1.  ओ री गौरैया,  तुम फिर से आना  मेरे अँगना।  2.  मेरी गौरैया  चीं चीं चीं चीं बोल री,  मन है सूना।  3.  घर है सूना,  मेरी गौरैया रानी  तू आ जा ना रे।  4.  लुप्त अँगना  सूखे ताल-पोखर  रूठी गौरैया। &nbs... Read more
clicks 75 View   Vote 0 Like   11:30am 20 Mar 2020 #हाइकु
Blogger:  at Nayekavi...
शैलपुत्री माँहिम गिरि तनयावांछित-लाभा।**ब्रह्मचारिणीकटु तप चारिणीवैराग्य दात्री।**माँ चन्द्रघण्टाशशि सम शीतलाशांति प्रदाता।**चौथी कूष्माण्डामाँ ब्रह्मांड सृजेताउन्नति दाता।**श्री स्कंदमाताकार्तिकेय की मातावृत्ति निरोधा।**माँ कात्यायनीकात्यायन तनयापुरुषार... Read more
clicks 114 View   Vote 0 Like   6:57am 22 Jan 2020 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
दिवाली (दिवाली पर 7 हाइकु)   *******   1.   सुख समृद्धि   हर घर पहुँचे   दीये कहते।   2.   मन से देता   सकारात्मक ऊर्जा   माटी का दीया।   3.   दीयों की जोत   दसों दिशा उर्जित   मन हर्षित।   4.   अमा की रात   जगमगाते दीप   ज्यों हो पूर्ण... Read more
clicks 133 View   Vote 0 Like   5:36pm 27 Oct 2019 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
दिवाली (दिवाली पर 7 हाइकु)   *******   1.   सुख समृद्धि   हर घर पहुँचे   दीये कहते।   2.   मन से देता   सकारात्मक ऊर्जा   माटी का दीया।   3.   दीयों की जोत   दसों दिशा उर्जित   मन हर्षित।   4.   अमा की रात   जगमगाते दीप   ज्यों हो पूर्ण... Read more
clicks 77 View   Vote 0 Like   5:36pm 27 Oct 2019 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
चाँद (चाँद पर 10 हाइकु)   *******   1.   बिछ जो गई   रोशनी की चादर   चाँद है खुश।   2.   सबका प्यारा   कई रिश्तों में दिखा   दुलारा चाँद।   3.   सह न सका   सूरज की तपिश   चाँद जा छुपा।   4.   धुँधला दिखा   प्रदूषण से हारा   पूर्णिमा चाँद। ... Read more
clicks 108 View   Vote 0 Like   4:22pm 18 Oct 2019 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
चाँद (चाँद पर 10 हाइकु)   *******   1.   बिछ जो गई   रोशनी की चादर   चाँद है खुश।   2.   सबका प्यारा   कई रिश्तों में दिखा   दुलारा चाँद।   3.   सह न सका   सूरज की तपिश   चाँद जा छुपा।   4.   धुँधला दिखा   प्रदूषण से हारा   पूर्णिमा चाँद। ... Read more
clicks 77 View   Vote 0 Like   4:22pm 18 Oct 2019 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
रिश्ते(रिश्ते पर 10 हाइकु)  *******  1.   कौन समझे   मन की संवेदना   रिश्ते जो टूटे।   2.   नहीं अपना   कौन किससे कहे   मन की व्यथा।   3.   दीमक लगी   अंदर से खोखले   सारे ही रिश्ते।   4.   कोई न सुने   कारूणिक पुकार   रिश्ते मृतक।   5.   ... Read more
clicks 74 View   Vote 0 Like   5:32pm 14 Oct 2019 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
रिश्ते(10 हाइकु)  *******   1.   कौन समझे   मन की संवेदना   रिश्ते जो टूटे।   2.   नहीं अपना   कौन किससे कहे   मन की व्यथा।   3.   दीमक लगी   अंदर से खोखले   सारे ही रिश्ते।   4.   कोई न सुने   कारूणिक पुकार   रिश्ते मृतक।   5.   मन है ट... Read more
clicks 118 View   Vote 0 Like   5:32pm 14 Oct 2019 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
साँझ (साँझ पर 10 हाइकु)   *******   1.   साँझ पसरी   ''लौट आ मेरे चिड़े !''   अम्मा कहती।   2.   साँझ की वेला   अपनों का संगम   रौशन नीड़।   3.   क्षितिज पर   सूरज आँखें मींचे   साँझ निहारे।   4.   साँझ उतरी   बेदम होके दौड़ी   रात के पास।  &nbs... Read more
clicks 134 View   Vote 0 Like   5:27pm 30 Sep 2019 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
साँझ (साँझ पर 10 हाइकु)   *******   1.   साँझ पसरी   ''लौट आ मेरे चिड़े !''   अम्मा कहती।   2.   साँझ की वेला   अपनों का संगम   रौशन नीड़।   3.   क्षितिज पर   सूरज आँखें मींचे   साँझ निहारे।   4.   साँझ उतरी   बेदम होके दौड़ी   रात के पास।  &nbs... Read more
clicks 76 View   Vote 0 Like   5:27pm 30 Sep 2019 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
अकेले हम (5 हाइकु)   *******   1.ज़िन्दगी यही   चलना होगा तन्हा   अकेले हम।   2.राहें ख़ामोश   सन्नाटा है पसरा   अकेले हम।   3.हज़ारों बाधा   थका व हारा मन   अकेले हम।   4.   किरणें फूटीं   भले अकेले हम   नहीं संशय।   5.   उबर आए,   गुमरा... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   3:56pm 27 Aug 2019 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
प्रकृति (20 हाइकु)   *******   1.   प्यार मिलता   तभी खिलखिलाता   प्रकृति-शिशु।   2.   अद्भुत लीला   प्रकृति प्राण देती   संस्कृति जीती।   3.   प्रकृति हँसी   सुहावना मौसम   खिलखिलाया।   4.   धोखा पाकर   प्रकृति यूँ ठिठकी   मानो लड... Read more
clicks 192 View   Vote 0 Like   5:33pm 31 Mar 2019 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
आँख (आँख पर 20 हाइकु)   *******   1.   पट खोलती   दुनिया निहारती   आँखें झरोखा।   2.   आँखों की भाषा   गर समझ सको   मन को जानो।   3.   गहरी झील   आँखों में है बसती   उतरो जरा।   4.   आँखों का नाता   जोड़ता है गहरा   मन से नाता।   5.   आ... Read more
clicks 182 View   Vote 0 Like   6:23pm 19 Feb 2019 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
हे नव वर्ष (नव वर्ष पर 5 हाइकु)   *******   1.   हे नव वर्ष   आखिर आ ही गए,   पर जल्दी क्यों?   2.   उम्मीद जगी -   अच्छे दिन आएँगे   नव वर्ष में।   3.   मन से करो   इस्तकबाल करो   नव वर्ष का।   4.   पिछला साल   भूलना नहीं कभी,   मिली जो सीख।  &nb... Read more
clicks 216 View   Vote 0 Like   5:14pm 8 Jan 2019 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
वृद्ध जीवन *******   1.   उम्र की साँझ   बेहद डरावनी   टूटती आस।   2.   अटकी साँस   बुढापे की थकान   मन बेहाल।   3.   वृद्ध की कथा   कोई न सुने व्यथा   घर है भरा।   4.   दवा की भीड़   वृद्ध मन अकेला   टूटता नीड़।   5.   अकेलापन   सब... Read more
clicks 234 View   Vote 0 Like   6:49pm 29 Dec 2018 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
दुःख (10 हाइकु)   *******1.   दुःख का पारासातवें आसमाँ पे   मन झुलसा !   2.   दुःख का लड्डु   रोज-रोज यूँ खाना   बड़ा ही भारी !   3.   दुःख की नदी   बेखटके दौड़ती   बे रोक-टोक !   4.   साथी है दुःख   साथ है हरदम   छूटे न दम !   5.   दुःख की वेला   ... Read more
clicks 177 View   Vote 0 Like   7:01am 19 Dec 2018 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
अर्थ ढूँढ़ता (10 हाइकु)   *******   1.   मन सोचता -   जीवन है क्या ?   अर्थ ढूँढता।   2.   बसंत आया   रिश्तों में रंग भरा   मिठास लाया।   3.   याद-चाशनी   सुख की है मिठाई   मन को भायी।   4.   फिक्र व चिन्ता   बना गए दुश्मन,   रोगी है काया। ... Read more
clicks 224 View   Vote 0 Like   1:50pm 5 Dec 2018 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
रंगीली दिवाली(दिवाली पर 10 हाइकु)*******1.छबीला दीयाये रंगीली दिवालीबिखेरे छटा। 2.साँझ के दीपअँधेरे से लड़तेवीर सिपाही।3.दीये नाचतेये गुलाबी मौसमखूब सुहाते। 4.झूमती धराअमावस की रातखूब सुहाती। 5.दीप-शिखाएँजगमग चमकेदीप मालाएँ। 6.धूम धड़ाकाबेजुबान है डराचीखे पटाखा।&nbs... Read more
clicks 249 View   Vote 0 Like   5:57pm 7 Nov 2018 #हाइकु
Blogger: राकेश कुमार श्रीवास्तव at RAKESH KI RACHANA...
#corner-to-corner { height:100%; border:5px solid blue; padding:30px; background: yellow; हाइकु - बसंत बादल छटें,निकला है सूरज,ठंड भी गई। गर्म कपड़े,रजाई व कंबल,दुबके पड़े। खिलते फूल,बागों में तितलियाँ,आया बसंत। मिली औरतें,बाँटती सुख-दुःख फैली खुशियाँ। हाइकु - बसंतोपरांत खेल है बंद,छात्र करें पढ़ाई,परीक्षा आई। ... Read more
clicks 113 View   Vote 0 Like   3:00am 2 Feb 2018 #हाइकु
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम at लम्हों का सफ़...
दीयों की पाँत (दिवाली के 10 हाइकु)  *******  1.  तम हरता  उजियारा फैलाता  मन का दीया!  2.  जागृत हुई  रोशनी में नहाई  दिवाली-रात!  3.  साँसें बेचैन,  पटाखों को भगाओ  दीप जलाओ!  4.  पशु व पक्षी  थर-थर काँपते,  पटाखे यम!  5.  फिर स... Read more
clicks 227 View   Vote 0 Like   3:52pm 24 Oct 2017 #हाइकु
[Prev Page] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4011) कुल पोस्ट (192185)