POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: प्रश्न

Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
      मैं जब विद्यार्थी था, तो जब भी कक्षा में आकर अध्यापक ये भयभीत करने वाले शब्द कहते कि, “अपने डेस्क पर से सब कुछ हटा लो, और एक कोरा कागज़ तथा पेन्सिल निकाल कर रख लो” तो हम समझ जाते थे कि परिक्षा देने का समय आ गया था।      परमेश्वर के वचन बाइबल में मरकुस 4 अध्या... Read more
clicks 44 View   Vote 0 Like   3:15pm 1 Nov 2019 #प्रश्न
Blogger: Dr. Harimohan Gupt at Dr. Hari Mohan Gupt...
इस सदी में, आपके चेहरे  पे  भी मुस्कान है,पूंछता हूँ,दिल तुम्हारा क्या बना पत्थर का है ?... Read more
clicks 171 View   Vote 0 Like   2:00am 7 Sep 2018 #प्रश्न
Blogger: Sudha Singh at मेरी जुबानी : ...
उग आते हैं कुछ प्रश्न ऐसेजेहन की जमीन परजैसे कुकुरमुत्तेऔर खींच लेते हैंसारी उर्वरता उस भूमि कीजो थी बहुत शक्तिशालीजिसकी उपज थी एकदम आलापर जब उग आते हैंऐसे कुकुरमुत्तेजिनकी जरुरत नहीं थी किसी को भीजो सूरज की थोडी सी उष्मा मेंदम तोड देते हैं।पर होते हैं परजीवीखुद फ... Read more
clicks 149 View   Vote 0 Like   7:01pm 22 Feb 2018 #प्रश्न
Blogger: डा. सुशील कुमार जोशी at उलूक टाइम्स...
क्या जवाब दूँ मैं तुझे लक्ष्मण मैं राम होना भी नहीं चाहता हूँ आज मेरे अंदर का रावण बहुतविकराल भी हो  गया है और मुझे राम से डर लगने लगा है राम आज मुझे पल पल हर पल नोच रहा है किस से कहूँ नहीं कह सकता राम राम है जय श्री राम है मेरा ही राम है लक्ष्मण तुम को शक्ति लगी थी और तुम्ह... Read more
clicks 38 View   Vote 0 Like   2:20pm 7 Nov 2015 #प्रश्न
Blogger: डा. सुशील कुमार जोशी at उलूक टाइम्स...
क्या जवाब दूँ मैं तुझे लक्ष्मण मैं राम होना भी नहीं चाहता हूँ आज मेरे अंदर का रावण बहुतविकराल भी हो  गया है और मुझे राम से डर लगने लगा है राम आज मुझे पल पल हर पल नोच रहा है किस से कहूँ नहीं कह सकता राम राम है जय श्री राम है मेरा ही राम है लक्ष्मण तुम को शक्ति लगी थी और तुम्ह... Read more
clicks 54 View   Vote 0 Like   2:20pm 7 Nov 2015 #प्रश्न
Blogger: डा. सुशील कुमार जोशी at उलूक टाइम्स...
अब सब की अपनी अपनी सोच अपनी तरह की होती है एक की आदत एक तरह की तो दूसरे की दूसरे तरह की होती है क्या किया जाये अगर कोई तुमसे रोज ही रास्ते में टकराता है अपना होता है दुआ सलाम करता है और मुस्कुराता है बस एक छोटी सी बात को समझना जरा मुश्किल सा हो जाता है जब तुम्हारे ही बारे में... Read more
clicks 15 View   Vote 0 Like   1:51pm 24 Jul 2014 #प्रश्न
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
   यह बिलकुल स्वाभाविक है कि हमारे मनों में कभी संदेह उत्पन्न हो, या हमें भय लगे। प्रश्न जैसे, "यदि स्वर्ग वास्तविकता और सत्य ना हुआ तो?"; "क्या वास्तव में प्रभु यीशु ही परमेश्वर तक पहुँचने का एकमात्र मार्ग है?"; "क्या अन्त में जाकर इसका कोई महत्व होगा कि मैंने अपना जीवन क... Read more
clicks 34 View   Vote 0 Like   3:15pm 10 Jul 2014 #प्रश्न
Blogger: प्रवीण पाण्डेय at न दैन्यं न पल...
प्रश्न कुछ भी पूछता हूँ,उत्तरों की विविध नदियाँ,ज्ञान का विस्तार तज कर,मात्र तुझमें सिमटती हैं ।नेत्र से कुछ ढूँढ़ता हूँ,दृष्टियों की तीक्ष्ण धारें,अन्य सब आसार तजकर,तुम्हीं पर कब से टिकी हैं ।जब कभी कुछ&nbs... Read more
clicks 83 View   Vote 0 Like   10:30pm 2 May 2014 #प्रश्न
[Prev Page] [Next Page]


Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
Share:
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3941) कुल पोस्ट (195202)