POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: प्यार

Blogger: Anita nihalani at मन पाए विश्रा...
आशा फिर भी पलती भीतर राहें कितनी भी मुश्किल हों होता कुछ भी ना हासिल हो, आशा फिर भी पलती भीतर चाहे टूट गया यह दिल हो ! प्यार की लौ अकम्पित जलती गहराई में कलिका खिलती, नजरें जरा घुमा कर देखें अविरल गंगा पग-पग बहती ! महादेव रक्षक हों जिसके रोली अक्षत हों मस्तक पे, क... Read more
clicks 65 View   Vote 0 Like   7:03am 19 Sep 2019 #प्यार
Blogger: prem prakash at अंगिका...
दूब-घास का हरा मटमैला संसारगांव-गंवई का देशज विस्तारएक बिंदू को जबरन रेखा बना देनाअबीरी उल्लास कासिंदूरी भार से दब जानाएक सपनीली रात का गर्भपातसंस्कृति का अपनी ही बेटी के साथपरंपरागत विश्वासघात हैअनुभव की यह दुहाईपहले एक लड़की देती थीअब एक औरत देती हैअपनी ही आंखों... Read more
clicks 50 View   Vote 0 Like   10:42am 3 Dec 2018 #प्यार
Blogger: Anita nihalani at मन पाए विश्रा...
अभी समर्थ हैं हाथ अभी देख सकती हैं आँखें चलो झाँके किन्हीं नयनों में उड़ेल दें भीतर की शीतलता और नेह पगी नरमाई सहला दें कोई चुभता जख्म कर दें आश्वस्त कुछ पलों के लिए ही सही बहने दें किसी अदृश्य चाहत को वरदान बनकर ! अभी सुन सकते हैं कान चलो सुनें बारिश की धुन और ... Read more
clicks 71 View   Vote 0 Like   1:19pm 11 Aug 2018 #प्यार
Blogger: Kopal at नन्ही कोपल...
                              कितनी जोर शोर से लोग वैलेंटाइन डे मनाते है प्यार करने का प्यार को मनाने का दिन है कुछ लोग इस दिन का विरोध करते है प्यार तो सभी के लिए होता है कुछ इसको सहे अर्थो में कुछ गलत अर्थो में मनाते है जब मैं कॉलेज में पढ़ती थी शिवसेना दल के ल... Read more
clicks 116 View   Vote 0 Like   11:49am 13 Feb 2018 #प्यार
Blogger: सुनील कुमार सजल at ...Sochtaa hoon......! ...
लघुव्यंग्य- टाइम पास"तू जिसके  प्यार में दिन- रात डूबी रहती है, ।क्या वह भी  तुझसे उतना ही प्यार करता है ।""क्यों नहीं?"देखती नहीं ,रोज मेरे व्हाट अप में लव मैसेज, फोटो, शायरी भेजता है ।""पहली बार कहाँ मिली थी उससे ।""मिस्ड कॉल के जरिए जुड़ गए । फिर क्या था व्हाट्स अप पर लव चल र... Read more
clicks 132 View   Vote 0 Like   9:36am 20 Jan 2018 #प्यार
Blogger: Anita nihalani at मन पाए विश्रा...
फूल ढूँढने निकला खुशबू पानी मथे जाता संसार बाहर ढूँढ रहा है प्यार, फूल ढूँढने निकला खुशबू मानव ढूँढे जग में सार ! लगे यहाँ  राजा भी भिक्षुक नेता मत के पीछे चलता, सबने गाड़े अपने खेमे बंदर बाँट खेल है चलता ! सही गलत का भेद खो रहा लक्ष्मण रेखा मिटी कभी की. मूल्यों की फ़िक... Read more
clicks 175 View   Vote 0 Like   12:25pm 16 Aug 2017 #प्यार
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" at आपका ब्लॉग...
जीवन में सबको नहीं, मिल पाता है प्यारबिन माँगे मिल जाय जो, वो होता उपहारकरना दग़ा-फरेब मत, कभी किसी के साथसम्बन्धों पर है खड़ी, दुनिया की दीवार... Read more
clicks 94 View   Vote 0 Like   1:02am 19 Feb 2017 #प्यार
Blogger: Anita nihalani at मन पाए विश्रा...
नाम प्रेम का लेकर उससे मिलकर जाना हमने प्यार किसे कहते हैं, नाम प्रेम का लेकर कितने,  खेल चला करते हैं ! चले हुकूमत निशदिन उस पर,  जिसको अपना माना, मैं ही उसका रब हो जाऊं और न कोई ठिकाना ! नहीं प्रेम में कोई बंधन मुक्त गगन के जैसा, सब पर सहज मेह सा बरसे मुक्त पवन के ... Read more
clicks 46 View   Vote 0 Like   9:55am 28 Jul 2016 #प्यार
Blogger: सरिता भाटिया at गुज़ारिश ...
मन तो करता हैuninstall कर केदुख, दर्द और विरह install कर दूँसुख ,प्यार और मिलन काunlimited plan तेरी जिंदगी में मैं भगवान् तो नहीं पर दिलों को जीतना ख़ुशी ख़ुशी उनके लिए सब हार जाना शौक है मेरा........................................ Read more
clicks 107 View   Vote 0 Like   10:22am 16 Mar 2016 #प्यार
Blogger: suneelsajal at सुनो भाई.....! ...
      @आजकल प्यार       ‘’धीरे –धीरे मेरी जिन्दगीं में आना’’ –एक गाना        मगर यह क्या ....आजकल लोग सुपर फास्ट ट्रेन की तरह        जिन्दगीं में आते हैं और .....       सुपर फ़ास्ट ट्रेन की तरह चंद दिनों बाद        जिन्दगीं से निकल जाते हैं ....&n... Read more
clicks 175 View   Vote 0 Like   9:29am 8 Nov 2015 #प्यार
Blogger: parul chandra at कुछ ख़याल मेर...
ख़्वाबों के समंदर में एक टुकड़ा उम्मीदों काजब फेंकती हूँ शिद्दत से,कुछ बूँदें आस की छलक आती हैं मेरे चेहरे पर भी...तुम.. उन बूंदों की ठंडक हो,ताज़गी भरते हो रगों में हर पल,हर रोज़ नया करते हो जीवन..हर रोज़ मुझमे माँ नई जगाते हो।... Read more
clicks 132 View   Vote 0 Like   5:37pm 10 Sep 2015 #प्यार
Blogger: Mayank bhatt at Dil Ki Kitaab ( दिल की ...
झुकी निगाहें, और लबों पर मुस्कान, इसे में इकरार ना समझूं, तो क्या समझूं॥ <3 ©मयंक <3Filed under: दिल की किताब, प्यार, शायरी, हिंदी शायरी, dil ki kitaaab, emotional shayri, Hindi shayari, Love shayari, mayank shayari, photo shayri, pic shayri, Shayari, Shayri, shayri image Tagged: इकरार, झुकी निगाहें, लबों पर मुस्कान, dil ki kitaab, shayri, shayri image ... Read more
clicks 48 View   Vote 0 Like   7:42am 1 Sep 2015 #प्यार
Blogger: सरिता भाटिया at गुज़ारिश ...
मुँह मुझसे मोड़ कर आज जिस मोड़ पर चल दिए हो छोड़कर जायें तो कहाँ जायें सिलसिला यह तोड़करदेखा जो सपनाहुआ नहीं अपनारास्ते यूँ मोड़कर जायें तो कहाँ जायें सिलसिला यह तोड़करप्यार सच्चा जानकरतुम्हे अपना मानकरयादों को जोड़कर जाएँ तो कहाँ जायेंसिलसिला यह तोड़करकिस्म... Read more
clicks 95 View   Vote 0 Like   11:02am 24 Aug 2015 #प्यार
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" at आपका ब्लॉग...
अगर तुमने मेरा प्यार सजाया होता अगर तुमने मुझे दिल से लगाया होता नूर बनके चमकता तेरी जिंदगी में तुम्हे काली रातों ने न सताया होतागर तुम्हे मेरी शाम से उल्फत होती या की मेरे नाम से मुहब्बत होती गीली रेत पर लिख कर के मेरा नाम कुछ सोच कर  के न मिटाया होता काश ... Read more
clicks 19 View   Vote 0 Like   7:36am 6 Aug 2015 #प्यार
Blogger: अपर्णा त्रिपाठी at palash "पलाश"...
वो चुपचाप बस स्टाप पर खडी बस का इन्तजार कर रही थी, पिछले दो सालों से तो वो बस से आना जाना भूल ही गयी थी। वो हमेशा रितेश के साथ ही बस से आया जाया करती थी। जिस किसी दिन अगर रितेश को छुट्टी लेनी होती उस दिन या वो भी छुट्टी ले लेती या फिर ऑटो से आती जाती। कभी कभी रितेश कह भ... Read more
clicks 95 View   Vote 0 Like   5:55pm 7 Apr 2015 #प्यार
Blogger: अपर्णा त्रिपाठी at palash "पलाश"...
जाने कैसे बना देते हैं लोगहदय भी पाषाण कापिघलना तो दूरएक लकीर तक नही खिंचती मनुष्यता की****************************कोई बना दे यंत्रजो पहचान सकेसच्चे और झूठे जज्बाजकि बहुत लुटा चुकासहद्यता के मोतीचील कौंवों  में****************************वो क्या समझेंगेंमेरे होने ना होने का मतलबजिनके लियेप्यार ए... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   11:48am 7 Dec 2014 #प्यार
Blogger: harminder singh at वृद्धग्राम...
अपनों का प्यार बहुत महत्व रखता है। यह रिश्ता अहम होता है। बेटी का मां से प्यार दुनिया का सबसे अद्भुत और खूबसूरत रिश्ता है। मां जानती है बेटी का दुख-सुख। पिता भी उसमें भागीदारी जरुर करता है, लेकिन जो बातें मां और बेटी आपस में बांट सकती हैं वह शायद पिता या अन्य के लिए थोड़ी... Read more
clicks 37 View   Vote 0 Like   7:32am 7 Aug 2014 #प्यार
Blogger: अपर्णा त्रिपाठी at palash "पलाश"...
चूल्हेमेंरोटीबनानेकीवोबिल्कुलभीअभ्यस्तनहीथी, तकलीफउसेचूल्हेसेउठ्नेवालेधुंयेसेनहीथी, बल्किदिलइसबातसेदुखीहोरहाथाकिबहुतकोशिशकरनेकेबादभीरोटियांजलजारहींथी।आजपहलीबारवोबसंतकोअपनेहाथसेबनाखानाबनाकरखिलायेगी, वोभीऐसा ! बसन्तशायदतभीबारबारउसेमनाकररहाथा... Read more
clicks 66 View   Vote 0 Like   5:40pm 23 Jul 2014 #प्यार
Blogger: तुषार राज रस्तोगी at तमाशा-ए-जिंदग...
दिल वहाँ गया दिल कहाँ गयाबस जाने यह अहमक जहाँ गयाअरे पुछा जब उसने मुझसे ऐसेदिल फिसल गया हाय संभल गयाकोयल बनकर दिल चहक गयापपीहा मन के भीतर उतर गयाचहका बैठ मुंडेर पर जाकर ऐसेदिल किधर गया हाय उधर गयाचिमटी बनकर दिल अटक गयागेसुओं में छिपकर सिमट गयाझटका उसने जुल्फों को कुछ ... Read more
clicks 52 View   Vote 0 Like   4:27pm 6 Nov 2013 #प्यार
Blogger: vijay kumar sappatti at कहानियो के मन...
आंठवी सीढ़ी ::: बीतता हुआ आज, बीता हुआ कल और आने वाले कल की गूँज ::::मैं, पहली मंजिल पर स्थित अपने घर की बालकनी में बैठी नीचे देख रही थी ।  आज मेरे सर में हल्का हल्का सा दर्द था ।  मैंने अपने लिये अदरक वाली चाय बनाई और धीरे धीरे उसकी चुस्कियां लेते हुये सड़क को निहार रही थी । सड़क... Read more
clicks 340 View   Vote 0 Like   6:03am 9 Oct 2013 #प्यार
Blogger: कमलेश भगवती प्रसाद वर्मा ''कमलेश' at के.सी.वर्मा ''क...
मटक  कर चलती है ,राह  भटक कर चलती है , बस मन में इक उल्फत है ,बस वो मुझको  छू जाये ...१  चाहे बदन छिल जाए ,चाहे अरमां निकल जाएँ , चाहे अंज़ाम कैसा हो ,बस वो मुझको छू जाये ....२  खिल जायेगा  मेरा चेहरा ,जब होगा उसके सर सेहरा , बजेगी ज़रूर शहनाई   , बस वो मुझको छू जाये …. ३  कहे कुछ भी सोचे ज़म... Read more
clicks 224 View   Vote 0 Like   5:27pm 20 Jun 2013 #प्यार
Blogger: rajneesh at रजनीश का ब्लॉ...
तय है कि,धरती का सूरज निकले है पूरब सेपर मेरा भी सूरज,पूरब से निकले ये तय नहीं.... तय है कि,रात के बाद आती है एक सुबह पर हर रात की ,एक सुबह हो,ये तय नहीं.... तय है कि,पानी भाप होकर बन जाता है बादल पर उमड़-घुमड़ कर यहीं आ बरसे  ये तय नहीं....तय है कि,बिन आँखों के नज़ारा दिख नहीं सकता पर आ... Read more
clicks 95 View   Vote 0 Like   7:30pm 19 Jun 2013 #प्यार
Blogger: विजय राज बली माथुर at पूनम वाणी ...
27-01-2012 को लिखित ---------------------------------------------  कैसा है यह गणतन्त्र का त्यौहारकोई भूखा सोता है कोई नंगा रहता हैकोई बेघर होता है कोई खाते-खाते उल्टी करता हैकैसा है यह गणतन्त्र का त्यौहारहाँ-हाँ सब करते हैं पर ना ही कोई कुछ करने को तैयारकैसे होगा भोली-भाली जनता का उद्धारदुष्ट,दुशप्रवह... Read more
clicks 70 View   Vote 0 Like   3:25am 19 Jun 2013 #प्यार
Blogger: Mukesh Kumar Sinha at जिंदगी की राह...
कर रहा था इंतज़ारऑपरेशन थियेटर के बाहरतभी नर्स ने निकल कर पकड़ायाऔर था,हाथो में,  नन्हा सा नाजुक सा होगा सिर्फ डेढ़ या दो बितताथा, अंडर वेट भी पर था,पहली नजर में ही दिल का टुकड़ा एक क्षण में समझ आ गया था क्या होता है,बनना पापा .......पहले आता था गुस्सा,अपने पापा परक्यों?करते ह... Read more
clicks 185 View   Vote 0 Like   9:18am 15 Jun 2013 #प्यार
Blogger: मीनाक्षी at "प्रेम ही सत्...
मोबाइल से खींची गईं तस्वीरें पिछले साल के कुछ यादगार पल..2012 मार्च की बात है, देर रात निकले मैट्रो स्टेशन के नीचे के स्टोर से दूध और मक्खन खरीदने के लिए... पैदल का रास्ता होने पर भी गली के कुत्तों से डर के कारण रिक्शा पर जाने की सोची वैसे रिक्शे पर हम कम ही बैठते हैं. इस बात का ... Read more
clicks 167 View   Vote 0 Like   10:30pm 4 Jun 2013 #प्यार
[Prev Page] [ Next Page ]

Share:

Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3950) कुल पोस्ट (195984)