POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: पर्व-त्यौहार

Blogger: कुमारेन्द्र सिंह सेंगर at रायटोक्रेट क...
दीपावली, दीपावली करते-करते समय गुजर गया और दीपावली एकदम से ही गुजर गई. हर बार त्यौहार के जाते ही नए त्यौहार का इंतजार शुरू हो जाता. नया त्यौहार आते ही चला जाता और दे जाता आने वाले त्यौहार का इंतजार. यह साल अजीब तरह से गुजर रहा है. इसका आरम्भ एक ऐसी बीमारी से हुआ जो है भी और ह... Read more
clicks 78 View   Vote 0 Like   6:20pm 14 Nov 2020 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Ram Shiv Murti Yadav at यदुकुल...
श्रीकृष्ण हमारी संस्कृति के एक अद्भुत एवं विलक्षण महानायक हैं । ईश्वर होते हुये भी वे सबसे ज्यादा मानवीय लगते हैं । सच्चे अर्थों में लोकनायक के रूप में  वे हर विपरीत घड़ी में हमारे सामने आदर्श के रूप में उपस्थित होते हैं । इसीलिए श्रीकृष्ण को मानवीय भावनाओं, इच्छाओं ... Read more
clicks 139 View   Vote 0 Like   5:30am 22 Aug 2017 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
श्रीकृष्ण हमारी संस्कृति के एक अद्भुत एवं विलक्षण महानायक हैं । ईश्वर होते हुये भी वे सबसे ज्यादा मानवीय लगते हैं । सच्चे अर्थों में लोकनायक के रूप में  वे हर विपरीत घड़ी में हमारे सामने आदर्श के रूप में उपस्थित होते हैं । इसीलिए श्रीकृष्ण को मानवीय भावनाओं, इच्छाओं ... Read more
clicks 271 View   Vote 0 Like   1:05pm 21 Aug 2017 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
श्रीकृष्ण सिर्फ एक भगवान या अवतार भर नहीं थे।  इन सबसे आगे वह एक ऐसे पथ-प्रदर्शक और मार्गदर्शक थे, जिनकी सार्थकता  हर युग में बनी रहेगी।  उनके व्यक्तित्व में भारत को एक प्रतिभासम्पन्न राजनीतिवेत्ता ही नहीं, एक महान कर्मयोगी और दार्शनिक प्राप्त हुआ, जिसका गीता-ज्ञ... Read more
clicks 231 View   Vote 0 Like   5:04pm 28 Aug 2016 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
हम दीपावली का त्यौहार क्यूँ मनाते है?इसका अधिकतर उत्तर मिलता है राम जी के वनवास से लौटने की ख़ुशी में।सच है पर अधूरा।  अगर ऐसा ही है तो फिर हम सब दीपावली पर भगवन राम की पूजा क्यों नहीं करते? लक्ष्मी जी और गणेश भगवन की क्यों करते है?सोच में पड़ गए न आप भी।तो चलिए, आज दीपावली ... Read more
clicks 303 View   Vote 0 Like   3:38pm 10 Nov 2015 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at डाकिया डाक ला...
पर्व है पुरुषार्थ का,दीप के दिव्यार्थ कादेहरी पर दीप एक जलता रहे, अंधकार से युद्ध यह चलता रहेहारेगी हर बार अंधियारे की घोर-कालिमा, जीतेगी जगमग उजियारे की स्वर्ण-लालिमादीप ही ज्योति का प्रथम तीर्थ है, कायम रहे इसका अर्थ, वरना व्यर्थ हैआशीषों की मधुर छांव इसे दे दी... Read more
clicks 155 View   Vote 0 Like   11:55am 10 Nov 2015 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
जोधपुर से रावण का बड़ा अभिन्न नाता है। लोक मान्यता है कि रावण का विवाह मारवाड़ की प्राचीन राजधानी मंडोर निवासी मंदोदरी के साथ हुअा था। इस कारण मारवाड़ को रावण का ससुराल माना जाता है। मंडोर की पहाड़ी पर स्थित प्राचीन किले के निकट एक स्थान को रावण का विवाह स्थल के रूप में मान... Read more
clicks 265 View   Vote 0 Like   8:00am 22 Oct 2015 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
श्रीकृष्ण सिर्फ एक भगवान या अवतार भर नहीं थे।  इन सबसे आगे वह एक ऐसे पथ-प्रदर्शक और मार्गदर्शक थे, जिनकी सार्थकता  हर युग में बनी रहेगी।  उनके व्यक्तित्व में भारत को एक प्रतिभासम्पन्न राजनीतिवेत्ता ही नहीं, एक महान कर्मयोगी और दार्शनिक प्राप्त हुआ, जिसका गीता-ज्ञ... Read more
clicks 219 View   Vote 0 Like   2:16pm 5 Sep 2015 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at डाकिया डाक ला...
राखी और पोस्ट ऑफिस का सम्बन्ध बहुत पुराना है।  यही कारण है कि रक्षाबंधन के समय डाकघरों में राखियाँ भेजने वालों की लंबी कतारें लगती हैं और सिर्फ देश ही नहीं विदेशों में भी खूब राखियाँ भेजी जा रही हैं। राखी का धागा ऑनलाइन होते  इस युग में  आज भी अपनी अहमियत रखता है। ... Read more
clicks 134 View   Vote 0 Like   8:10am 29 Aug 2015 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
शताब्दियों की दासता के बाद जब भारत में स्वतंत्रता का मंगल प्रभात हुआ था तो सबकी आँखों में एक नई रोशनी टिमटिमाई थी।  नए सपने, नई सोच, नए जज्बे .... वाकई आज हमने एक लंबा सफ़र तय कर लिया है। आजादी के 69वें साल में प्रवेश कर रहे हैं। स्वतंत्रता दिवस पर हार्दिक शुभकामनायें !! गाँ... Read more
clicks 223 View   Vote 0 Like   10:11am 15 Aug 2015 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
दीपावली सिर्फ घरों को जगमगाने वाला पर्व नहीं है बल्कि यह मानव हृदय को आलोकित करने वाला पर्व भी है। हमारी परम्परा एक तरफ दीपावली के दिन घरों को साफ-सुथरा कर गणेश-लक्ष्मी के रूप में सुख-समृद्धि का आह्वान करती है, वहीं रात के अंधियारे में आशाओं के दीप जगमगाते हैं तो निराशा... Read more
clicks 163 View   Vote 0 Like   2:30am 23 Oct 2014 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at डाकिया डाक ला...
दीपावली सिर्फ घरों को जगमगाने वाला पर्व नहीं है बल्कि यह मानव हृदय को आलोकित करने वाला पर्व भी है। हमारी परम्परा एक तरफ दीपावली के दिन घरों को साफ-सुथरा कर गणेश-लक्ष्मी के रूप में सुख-समृद्धि का आह्वान करती है, वहीं रात के अंधियारे में आशाओं के दीप जगमगाते हैं तो निराशा... Read more
clicks 95 View   Vote 0 Like   12:22pm 22 Oct 2014 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
स्कूल के दिनों में मास्टर जी की छड़ी याद है न। आज का परिवेश भले ही बदल गया हो, पर हमारे दौर में मास्टर जी की छड़ी बड़ी अहमियत रखती थी। कभी इस छड़ी को लेकर एक कविता लिखी थी, जिसे आप सभी के साथ शेयर कर रहा हूँ। संयोगवश कल 'शिक्षक दिवस'भी है -बचपन में खींच दी थीमास्टर जी ने हाथों में ... Read more
clicks 157 View   Vote 0 Like   3:47pm 4 Sep 2014 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
जन्मदिन सिर्फ सेलिब्रेशन तक नहीं होता।  जन्मदिन के बहाने पिछले एक साल के पन्ने पलटकर देखना भी होता है कि क्या कमियाँ रहीं, क्या उपलब्धियाँ रहीं।  क्या खोया, क्या पाया। इसके साथ ही अगले सालों के लिए दृढ निश्चय होकर फिर आगे बढ़ जाने का नाम भी है जन्मदिन। क्योंकि जीवन ... Read more
clicks 178 View   Vote 0 Like   3:21am 10 Aug 2014 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
डायरी के पुराने पन्नों को पलटिये तो बहुत कुछ सामने आकर घूमने लगता है. ऐसे ही इलाहाबाद विश्विद्यालय में अध्ययन के दौरान प्यार को लेकर एक कविता लिखी थी. आज आप सभी के साथ शेयर कर रहा हूँ-दो अजनबी निगाहों का मिलनामन ही मन में गुलों का खिलनाहाँ, यही प्यार है............ !!आँखों ने आपस ... Read more
clicks 136 View   Vote 0 Like   5:56am 14 Feb 2014 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at डाकिया डाक ला...
बाल दिवस को यादगार बनाने हेतु प्रतिवर्ष की भांति इस बार भी भारतीय डाक विभाग द्वारा बालमन के अनुरूप 14 नवम्बर 2013 को एक स्मारक डाक टिकट जारी किया। इलाहाबाद परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि यह डाक टिकट प्रत्येक वर्ष डाक विभाग द्वारा आयोजि... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   12:55pm 14 Nov 2013 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
दीपावली भारतीय संस्कृति का एक प्रमुख त्यौहार है जिसका बेसब्री से इंतजार किया जाता है। दीपावली माने ''दीपकों की पंक्ति''। दीपावली पर्व के पीछे मान्यता है कि रावण- वध के बीस दिन पश्चात भगवान राम अनुज लक्ष्मण व पत्नी सीता के साथ चैदह वर्षों के वनवास पश्चात  अयोध्या वापस ... Read more
clicks 231 View   Vote 0 Like   12:32pm 1 Nov 2013 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
कल देश अपनी आजादी की एक और सालगिरह मनाएगा। स्वतंत्रता को आज व्यापक परिप्रेक्ष्य में देखने की जरुरत है। स्वतंत्रता माने सिर्फ राजनैतिक स्वतंत्रता नहीं, बल्कि यह सामाजिक, आर्थिक, वैचारिक, आध्यात्मिक,पारिवारिक और अन्तत: वैयक्तिक स्वतंत्रता भी है, जहाँ हर स्तर पर निर्ण... Read more
clicks 109 View   Vote 0 Like   4:07am 14 Aug 2013 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
ठहरो!तुम आगे नहीं जा सकतेफिर भी बुद्ध आगे बढ़ते रहेअविचलित मुस्कुराते हुएचेहरे पर तेज के साथअंगुलिमाल अवाक्मानो किसी ने सारी हिंसाउसके अन्दर से खींच ली होकदम अपने आप उठने लगेऔर बुद्ध के चरणों में सिर रख दियाउसने जान लिया किशारीरिक शक्ति से महत्वपूर्णआत्मिक शक्ति ... Read more
clicks 128 View   Vote 0 Like   6:18am 25 May 2013 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at डाकिया डाक ला...
आज 'विश्व गौरैया दिवस' है। बचपन में जिस गौरैया की फुदक-फुदक के साथ हम बड़े हुए, वह कहीं खो गई है। गौरैया को बचाने के लिए भारत की 'नेचर्स फोरएवर सोसायटी ऑफ इंडिया' और 'इको सिस एक्शन फाउंडेशन फ्रांस' के साथ ही अन्य तमाम अंतरराष्ट्रीय संस्थानों ने मिलकर 20 मार्च को 'विश्व गौरैया ... Read more
clicks 112 View   Vote 0 Like   5:34am 20 Mar 2013 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Ram Shiv Murti Yadav at यदुकुल...
नव वर्ष-2013 पर ढेरों बधाइयाँ। नया साल आप सभी के जीवन में नया उल्लास और नई खुशियाँ लेकर आए।... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   11:57am 1 Jan 2013 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
भारतीय उत्सवों को लोकरस और लोकानंद का मेल कहा गया है। भूमण्डलीकरण एवं उपभोक्तावाद के बढ़ते दायरों के बीच इस रस और आनंद में डूबा भारतीय जन-मानस आज भी न तो बड़े-बड़े माल और क्लबों में मनने वाले फेस्ट से चहकार भरता है और न ही किसी कम्पनी के सेल आफर को लेकर आन्तरिक उल्लास से भरत... Read more
clicks 148 View   Vote 0 Like   7:13am 11 Nov 2012 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
'शब्द सृजन की ओर' पर 24 अक्तूबर, 2012 को प्रकाशित पोस्ट 'कब तक हम रावण के पुतले जलाते रहेंगे'को प्रतिष्ठित हिन्दी अख़बार दैनिक जागरण ने 25 अक्तूबर, 2012 को अपने राष्ट्रीय संसकरण में नियमित स्तंभ  'फिर से'  के तहत 'कब तक जलाते रहेंगें रावण के पुतले' शीर्षक से प्रकाशित किया है. द... Read more
clicks 100 View   Vote 0 Like   2:30am 28 Oct 2012 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
महाकवि तुलसीदासजी सांसारिक बंधन से विरक्त होकर वैराग्य धारणकर रामधुन में लीन धार्मिक तीर्थस्थलों का भ्रमण करने निकल पड़े। पूजा पाठ, ध्यान - धर्म तथा आराधना में लीन राममय होकर भ्रमण करते हुए 1593 में वे अयोध्या पहुंच गये। प्रतिदिन भोर में ही सरजू तट पर पहुंचना, राम का ध्... Read more
clicks 130 View   Vote 0 Like   10:37am 18 Oct 2012 #पर्व-त्यौहार
Blogger: Krishna Kumar Yadav at शब्द-सृजन की ...
नवरात्र और दशहरे की बात हो और बंगाल की दुर्गा-पूजा की चर्चा न हो तो अधूरा ही लगता है। वस्तुतः दुर्गापूजा के बिना एक बंगाली के लिए जीवन की कल्पना भी व्यर्थ है। बंगाल में दशहरे का मतलब रावण दहन नहीं बल्कि दुर्गा पूजा होती है, जिसमें माँ दुर्गा को महिषासुर का वध करते हुए द... Read more
clicks 132 View   Vote 0 Like   11:30am 16 Oct 2012 #पर्व-त्यौहार
[Prev Page] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4017) कुल पोस्ट (192895)