POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: दीवाली

Blogger: साहित्य शिल्पी at साहित्य शिल्...
रचनाकार परिचय:- राजेश भंडारी “बाबु” १०४ महावीर नगर इंदौर ९००९५०२७३४ हर रोज दीवाली हे हर दन खुशी की बरसात हे हर बात निराली हे , मा बाप का प्यार मिले तो हर रात दिवाली हे | उनकी आखो में झाकता संतुस्टी का भाव , लगता हे सारे गुलशन में फैली हरयाली हे , नहीं चाहिते हमसे वो क... Read more
clicks 184 View   Vote 0 Like   6:30pm 5 Nov 2018 #दीवाली
Blogger: सुनील कुमार सजल at ...Sochtaa hoon......! ...
व्यंग्य - इनकी...उनकी...सबकी दीवालीदीवाली की तैयारियां जोरों पर | जैसे राष्ट्रीय खेलों की तैयारियां |घर आँगन , इमारतें सब नए-नए-रंगों में रंग गए | शारदीय माहौल में धुप भी कुनकुनी हो चली है | दीवाली आने पर सबकी ख़ुशी अलग ही नजर आती है | इस बार हमने सोचा किइस मंहगाई के माहौल में दी... Read more
clicks 199 View   Vote 0 Like   7:40am 10 Nov 2015 #दीवाली
Blogger: दिनेशराय द्विवेदी at अनवरत...
दफ्तर सफाई अभियानइस बार श्राद्धपक्ष समाप्त हुआ और नवरात्र आरंभ होने के बीच एक दिन शेष था। यह दिन वार्षिक संफाई की चिन्ता में बीता। उत्तमार्ध शोभा पूछ रही थी, इस बार यह सब कैसे सब होगा? मेरा सुझाव था कि उन्हें एक महिला सहयोगी चाहिए। काम वाली बाई ने उस की विवाहिता भान्जी ... Read more
clicks 161 View   Vote 0 Like   11:43am 24 Oct 2014 #दीवाली
Blogger: अपर्णा त्रिपाठी at palash "पलाश"...
आप सोच रहे होगें कि अभी तो दीवाली बहुत दूर है, अभी तो दीवाली की दुकानें सजनें में बहुत समय है, तो कैसे करे अभी से दीवाली की तैयारी?मगर जो हम कहना चाह रहे हैं उसको कहने का यही उचित समय है।सोचिये आज कल हम कैसे करते है दीवाली की तैयारियां? हममें से ज्यादातर लोग दीवाली की तैयार... Read more
clicks 87 View   Vote 0 Like   1:57pm 9 Sep 2014 #दीवाली
Blogger: ललित शर्मा at ललितडॉटकॉम...
दृश्य-1कल दशहरा मना लिया गया, रावण अपने धाम को विदा हो गया। मौसम में दीवाली महक आ गई है। सुबह-सुबह ओस के साथ मौसम दीवालियाना लगने लगा है। चाय का कप लिए करंज के पेड़ के नीचे कुर्सी डाले बैठा हूँ। इस एक महीने के त्यौहार में कितने काम रुक जाते हैं और कितने काम हो जाते हैं सोच र... Read more
clicks 89 View   Vote 0 Like   11:00pm 2 Nov 2013 #दीवाली
Blogger: अज्ञात मित्र Agyatmitra at अनकही...
इस दीवाली के पटाखों को,कोई नयी गाली हो जाये, माँ-बहन की जगहराम-लखन की विवेचना की जाये!दीवाली आने वाली है, ये आज की गाली है,मजहबी गुंगे क्या समझें, क्यों कोई सवाली है?सीता को पूछे कोई किकैसे राम निकले,सब के सब कानों के अपने हराम निकले !अक्ल गलियों मे जल रही है, बेशर्मी... Read more
clicks 178 View   Vote 0 Like   3:20am 2 Nov 2013 #दीवाली
Blogger: अज्ञात मित्र Agyatmitra at अनकही...
एक महीन से कपड़े के अंदर छूपी हैं,मिठाईयाँ और तमाम बेशरम सच्चाईयां!अगर दम है तो नये सिरे से भी सीखो,पत्थर की लकीरें, दरारें भी होती हैं!परंपरा है बस इसलिये करते हैं,दिमाग की प्रोग्रामिंग(Programming) कहां करते हैं?रॉकेट हो गये सारे सपने, उम्मीदों को सुतली बम,धूल बनी सारी रंगोली, ... Read more
clicks 189 View   Vote 0 Like   1:58am 2 Nov 2013 #दीवाली
Blogger: दिनेशराय द्विवेदी at अनवरत...
आज सुबह सो कर उठा तब तक उत्तमार्ध सारे घर की धुलाई कर चुकी थी, बस अंतिम चरण चल रहा था। कहने लगीं –कार घर से बाहर निकाल दो तो वहाँ भी धुलाई हो जाए। मैं कार को घर के बाहर खड़ी कर वापस घर में घुसा ही था कि दूध वाला दूध देने आ गया। मुझे गीले फर्श पर चल कर दूध लेने जाना पड़ता इसलि... Read more
clicks 274 View   Vote 1 Like   2:17pm 1 Nov 2013 #दीवाली
Blogger: Dr T S Daral at अंतर्मंथन...
दीवाली पर मच्छरों की भरमार पर प्रस्तुत है एक पूर्व प्रकाशित रचना :एक दिन हमारी कामवाली बाईघर आते ही बड़बड़ाई ।बाबूजी , ये द्वार पर कौन मेहमान खड़े हैं ,हैं तो लाखों करोड़ों , पर सब बेज़ान पड़े हैं ।ये कहाँ से और क्यों आते हैंहम तो समझ नहीं पाते हैं ।और इनका नाज़ुक मिज... Read more
clicks 289 View   Vote 0 Like   2:00am 1 Nov 2013 #दीवाली
Blogger: pankaj kumar at Behtarlife.com बेहतर ल...
दीवाली दीपों का पर्व है, प्रकाश का पर्व है, ख़ुशी और उल्लास का पर्व है. लेकिन आज इस पर्व का रूप विकृत होता जा रहा है. यह पर्व अंधकार से प्रकाश की ओर जाने का पर्व है लेकिन हम ठीक इसके विपरीत जा रहे हैं. आइए हम इस पर्व के अवसर पर यह विचार करें कि दीवाली कैसे मनायी जाए: 1. देना ... Read more
clicks 48 View   Vote 0 Like   7:30pm 13 Oct 2013 #दीवाली
Blogger: DAYANANDA SHASTRI at विनायक वास्त...
इस वर्ष 03 नवम्बर, 2013 (रविवार) को मनाया जायेगा दिपावली(दीवाली/दीपोत्सव) का त्यौहार -----(DEEPAWALI,DIWALI,DIPAVALI,DIPOTSAV)श्री महालक्ष्मी पूजन व दीपावली का महापर्व कार्तिक कृ्ष्ण पक्ष की अमावस्या में प्रदोष काल, स्थिर लग्न समय में मनाया जाता है. धन की देवी श्री महा लक्ष्मी जी का आशिर्वाद पाने क... Read more
clicks 99 View   Vote 0 Like   10:22am 2 Jun 2013 #दीवाली
Blogger: डॉ टी एस दराल at अंतर्मंथन...
इस वर्ष दीवाली से ठीक पहले सप्ताहंत आने से दीवाली मनाना थोड़ा आसान रहा .  अक्सर इन दिनों में सडकों और बाज़ारों में  भारी भीड़ रहती है जिससे अक्सर भारी जाम लग जाते हैं।  घंटों जाम में फंसे रह कर जश्न मनाने का जोश ही ठंडा पड़ जाता है। ऐसा लगता है जैसे सारा शहर ही सडकों पर न... Read more
clicks 165 View   Vote 0 Like   2:04pm 14 Nov 2012 #दीवाली
Blogger: dinesh chandra gupta ravikar at रविकर-पुंज...
दीवट दीमक लील गई, रजनी घनघोर अमावस की ।दामिनि दारुण दाप दिखा, ऋतु बीत गई अब पावस की ।कीट पतंग बढे धरती, धरती नहिं पाँव, भगावस की ?तेल नहीं घर आज रहा, फिर दीपक डारि जलावस की ??झल्कत झालर झंकृत झालर झांझ सुहावन रौ  घर-बाहर ।  दीप बले बहु बल्ब जले तब आतिशबाजि चलाय भयंकर । दाग रह... Read more
clicks 77 View   Vote 0 Like   6:09am 14 Nov 2012 #दीवाली
Blogger: संतोष त्रिवेदी at बैसवारी baiswari...
  दिया जले बाज़ार में,हरिया घर अंधियार । महलों की फुलझड़ी से ,वो पाए उजियार  ।१। दीवाली रोशन करे,उम्मीदों के दीप। सुखिया मोती ढूँढता,खाली मिलता सीप ।२।सजनी बाती बाल के,जले नेह के संग । जाने कब वो आएँगे,सुलग रहे सब अंग ।३।   पाहुन हैं परदेस में,सौतन लक्ष्मी साथ । घर की लक्... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   6:57am 13 Nov 2012 #दीवाली
Blogger: ललित शर्मा at ललितडॉटकॉम...
तुम ही कहोकैसे मनाऊँ दीवाली?महंगी हुई है शक्करमहंगा हुआ आटा दालबाजारों में आग लगीनिर्धन का कौन हवालतुम ही कहो .........रंग रोगन सेलिपे पुते घरलक्ष्मी आए आँगन मेंधन हो जिसका रोज निवालाबरसे उस ठग के आँगन मेंसत्य हमेशा ठगा रहेगा? यह है एक सवालतुम ही कहो ........दिन-रात कीहाड़-तोड़ ... Read more
clicks 65 View   Vote 0 Like   11:15pm 12 Nov 2012 #दीवाली
Blogger: satyam shivam at *साहित्य प्रे...
जहाँ को जगमग करते जाओ,खुशियों की सौगात है आई;दीपों की आवली सजाओ,आज दीवाली आई भाई ।श्री कृष्ण ने सत्यभामा संग नरकासुर संहार किया,सोलह हज़ार स्त्रियों के संग इस धरा का भी उद्धार किया ।असुर प्रवृति के दमन काउत्सव आज मनाओ भाई;दीपों की आवली सजाओ,आज दीवाली आई भाई ।रक्तबीज के ... Read more
clicks 65 View   Vote 0 Like   10:45am 12 Nov 2012 #दीवाली
Blogger: Anil Pusadkar at अमीर धरती गरी...
दीवाली को पटाखे मत फोडो.होली पर रंग मत खेलो.मिठाई मत खाओ.चाकलेट खाओ और खिलाओ.बलि मत दो.ये मत करो,वो मत करो.पटाखे फोडने से प्रदूषण होता है,रंग खेलने से जल संकट उत्पन्न होता है.बलि प्रथा क्रूरता का प्रतीक है.जानवरो पर अत्याचार है पाप है.ठीक है मान लेते हैं.लेकिन क्या ये सारे ... Read more
clicks 73 View   Vote 0 Like   10:28am 12 Nov 2012 #दीवाली
Blogger: dinesh chandra gupta ravikar at "लिंक-लिक्खाड...
 शुभकामनायें दीपावली 2012त्योहारों की टाइमिंग, हतप्रभ हुआ विदेश ।चौमासा बीता नहीं, आ जाता सन्देश ।आ जाता सन्देश, घरों की रंग-पुताई ।सजे नगर पथ ग्राम, नई दुल्हन की नाई । सब में नव उत्साह, दिशाएँ हर्षित चारों ।लम्बी यह श्रृंखला, करूँ स्वागत त्योहारों ।।बीत गया भीगा चौमास... Read more
clicks 33 View   Vote 0 Like   3:19am 12 Nov 2012 #दीवाली
Blogger: pawan kumar mishra at 'दि वेस्टर्न ...
मित्रो एक अपील है आप लोगो से...======================= दीपावली एक ऐसा त्योहार है जिसके अपने पर्यावरणीय निहितार्थ है. मौसम मे बदलाव और दीप पर्व मे घनिष्ठ सम्बन्ध है. इसे समझते हुए कृपया पर्यावरण को नुकसान पहुचाने वाली गतिविधिया ना करे. पटाखो का प्रयोग न्यूनतम करे, चाईनीज झालरो की जगह स... Read more
clicks 115 View   Vote 0 Like   3:28am 11 Nov 2012 #दीवाली
Blogger: anju choudhary (anu) at अपनों का साथ...
मेरे  आँगन की रंगोली अरे सुनो तो आज ...कोई बात शुरू करने से पहले ..बात करे दीवाली की यारो बताओ ,कैसे बात करे दीवाली की | घर ,गली की या हो बाज़ार और शहर की पर भूलने वाली कभी ना हो ये मुलाकात दीवाली की ...बच्चों संग बाज़ार गए तो क्या क्या लाए और क्या क्या देखा ये तो बतलाओ ...ये तो रूहानी... Read more
clicks 84 View   Vote 0 Like   2:48pm 10 Nov 2012 #दीवाली
Blogger: dinesh chandra gupta ravikar at "कुछ कहना है"...
बीत गया भीगा चौमासा । उर्वर धरती बढती आशा ।त्योहारों का मौसम आये।  सेठ अशर्फी लाल भुलाए ।विजया बीती करवा आया । पत्नी भूखी गिफ्ट थमाया ।जमा जुआड़ी चौसर ताशा । फेंके पाशा बदली भाषा ।।एकादशी रमा की आई ।  वीणा बाग़-द्वादशी गाई ।धनतेरस को धातु खरीदें । नई नई जागी उम्मीदें ।... Read more
clicks 32 View   Vote 0 Like   6:51am 10 Nov 2012 #दीवाली
Blogger: dinesh chandra gupta ravikar at "लिंक-लिक्खाड...
जगमग दीप जले - हाइगा मेंऋता शेखर मधु  हिन्दी-हाइगा  दीवट दीमक लील गई, रजनी घनघोर अमावस की ।दामिनि दारुण दाप दिखा, ऋतु बीत गई अब पावस की ।कीट पतंग बढे धरती, धरती नहिं पाँव, भगावस की ?तेल नहीं घर आज रहा, फिर दीपक डारि जलावस की ?? चीन महीन जहीन दिखे जग छोर बहोर पटावत है ।माल सड़ा ... Read more
clicks 30 View   Vote 0 Like   3:24am 10 Nov 2012 #दीवाली
Blogger: dinesh chandra gupta ravikar at "कुछ कहना है"...
"ओ बी ओ लाइव महा उत्सव" अंक - २५पहली प्रस्तुति    डेंगू-डेंगा सम जमा, तरह तरह के कीट |    खूब पटाखे दागिए, मार विषाणु घसीट |    मार विषाणु घसीट, एक दिन का यह उपक्रम |    मना एकश: पर्व, दिखा दे दुर्दम दम-ख़म |    लौ में लोलुप-लोप, धुँआ कल्याण करेगा |    सह बारूदी गंध, मिटा दे डेंगू-डेंगा ||द... Read more
clicks 29 View   Vote 0 Like   11:36am 9 Nov 2012 #दीवाली
Blogger: देवेन्द्र पाण्डेय at बेचैन आत्मा...
जलाओ दिए पर रहे ध्यान इतनाजरूरत से ज्यादा कहीं जल न जाए। मुद्रा पे हरदम वकुल ध्यान रखनाकरो काग चेष्टा कि कैसे कमायेंबनो अल्पहारी रहे श्वान निद्राफितरत यही हो कि कैसे बचायें।पूजा करो पर रहे ध्यान इतनादुकनियाँ से ग्राहक कहीं टल न जाए।दिखो सत्यवादी रहो मिथ्याचारीप्... Read more
clicks 83 View   Vote 0 Like   5:02pm 8 Nov 2012 #दीवाली
Blogger: Dinesh Dadhichi at दिनेश दधीचि - ...
दीपावली का पर्व अपने प्रियजनों, पत्नी और बच्चों के साथ मनाया जाता है. पर कोई-कोई परदेसी किसी मजबूरी के चलते दीवाली पर भी अपने घर नहीं लौट पता. ऐसे समय में वह अपनी पत्नी के नाम क्या सन्देश देता है? प्रस्तुत है कविता:अब की बार भला तुम कैसी दीपावली मनाओगी?साँझ ढले कल छत के ऊपर... Read more
clicks 70 View   Vote 0 Like   1:13pm 8 Nov 2012 #दीवाली
[Prev Page] [ Next Page ]

Share:

Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3950) कुल पोस्ट (195984)