POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: India

Blogger: Amit Agarwal at Safarnaamaa... सफ़रना...
J is for JettyLinked to: ABC Wednesday... Read more
clicks 156 View   Vote 0 Like   3:08pm 13 Sep 2016 #India
Blogger: Muhammad Zakariya khan at PointedByZaki...
यूरोपीय परिपेक्ष्य की एक कहानी सुनाता हूँ!एक यूरोपीय देश था,उस देश की प्रजा बड़ी ही सुशील और सभ्य व्यवहार के लिए पूरे संसार में जानी जाती थी| देश अपने गरीबी के दिनों को भूल चुका था, उस देश का राजा बड़ा ही सभ्य था| उसकी प्रजा भी बड़ी सभ्य थी, राजा चुपचाप देश के विकास कार्यों को ... Read more
clicks 191 View   Vote 0 Like   7:58am 23 Jul 2016 #India
Blogger: Atul Kumar Rai at जीवन संगीत...
इशरत जिनकी बेटी है..अफज़ल जिनका भाई है..याकूब जिनका बाप है,और कसाब जिनका बेटा है.उनकी भारत माता नहीं हैं.इस पर वो बहस कर रहे हैं जिनकी "सत्ता  बन्दूक की नली से  निकलती है.."जिनके  इतिहास की काली किताबों में लोकतंत्र से व्याभिचार के अनेकों पाठ हैं.वही,जिनके एजेंडे में दे... Read more
clicks 209 View   Vote 0 Like   8:10am 5 Apr 2016 #india
Blogger: Muhammad Zakariya khan at PointedByZaki...
आईसिस, ISIS या IS, आप जो कहना चाहें। इस वक़्त आतंक का पर्याय बन चुका एक खूंखार आतंकवादी संगठन। एक ऐसा संगठन जिसके पास इंसानी जान क&... Read more
clicks 205 View   Vote 0 Like   1:44pm 6 Jan 2016 #India
Blogger: सुनील दीपक at Chayachitrakar - छायाचि...
Banaras, Uttar Pradesh, India: A cloudy morning near the Ganges, waiting for the rains. Best wishes for the new year 2016.बनारस, उत्तरप्रदेश, भारतः एक बदलाई सुबह गँगा किनारे, बारिश की प्रतीक्षा में. नववर्ष 2016 की आपको शुभकामनाएँ!Varanasi, Uttar Pradesh, India: Una mattina nuvolosa vicino al Gange, aspettando la pioggia. Auguri per il nuovo anno 2016.***... Read more
clicks 337 View   Vote 0 Like   1:43am 1 Jan 2016 #India
Blogger: सुनील दीपक at Chayachitrakar - छायाचि...
Konark, Odisha, India: Does culture depends upon university studies or it comes from urban living? When I think of the rural pilgrims at the Sun temple in Konark and its statues with explicit depiction of sex, I ask myself what do those pilgrims think about those sculptures? These are our prejudices that make us categorise people in slots and do not let us appreciate them as persons?कोणार्क, ओडिशा, भारतः क्या सभ्यता विश्वविद्यालय में पढ़ने वालों में ही होती है, या फ़िर शहर में रहने से समझ में आती है? कोण... Read more
clicks 195 View   Vote 0 Like   1:03am 27 Dec 2015 #India
Blogger: Cool-Guy at Abhishek....Speaks......
Manoj Bhargava is NRI businessman and philanthropist. One of Bhargava's latest projects is to manufacture 10,000 units of 'Free Electric', electricity-producing stationary bicycles in India by March next year according to newspapers. ... Read more
clicks 138 View   Vote 0 Like   6:47am 18 Dec 2015 #India
Blogger: Anjana Dayal de Prewitt at रंग बिरंगी एक...
कई न्यूज़ चैनल बदल के देख लिए, देश की हवा कुछ-कुछ बदली-बदली सी लगती है। ऐसा नहीं है  इस तरह के हादसे पहले नहीं हुए, आज भी याद है १९८४ की बर्बरता या गोधरा की मार्मिक कहानियाँ। मगर इस तरह आये दिन धार्मिक कट्टरता के किस्से पहले कभी नहीं सुने। यहाँ तक के भारत के राष्... Read more
clicks 228 View   Vote 0 Like   9:55pm 20 Oct 2015 #India
Blogger: Niranjan at Reflection of thoughts . . ....
p { margin-bottom: 0.25cm; direction: ltr; color: rgb(0, 0, 0); line-height: 120%; text-align: left; orphans: 2; widows: 2; }p.western { font-family: "Calibri",serif; font-size: 11pt; }p.cjk { font-size: 11pt; }p.ctl { font-family: "Mangal"; font-size: 10pt; }अस्ति उत्तरस्यां दिशि नाम नगाधिराजः पर्वतोs हिमालय: १ हिमालय की गोद में . . .अस्ति उत्तरस्यां दिशि नाम नगाधिराजः पर्वतोs हिमालय: २ नदियाँ पहाड झील और झरने जंगल और वादीअस्... Read more
clicks 86 View   Vote 0 Like   12:44pm 25 Sep 2015 #India
Blogger: श्रवण कुमार शुक्ल at जीवन: एक संघर...
हम आज कुछ और सुनें न सुने "आरक्षण"शब्द खूब सुन रहे है। देश में जहां देखो वहीँ आरक्षण को लेकर बात-चीत,चर्चा विवाद चरम स्तर पर शुरू है। अखबारों से लेकर मैगजीनों तक,इंटरनेट से लेकर टेलीविज़न चैनलों तक..हर जगह। इसमें भी कोई पटेल जाति को लेकर आरक्षण चाह रहा है तो कोई जाट समुदाय ... Read more
clicks 154 View   Vote 0 Like   2:32pm 7 Sep 2015 #INDIA
Blogger: सुनील दीपक at Chayachitrakar - छायाचि...
Kohima, Nagaland, India: The bell tower of the cathedral of Kohima is white with sky-blue designs. When I had seen it together with the cathedral it had reminded me of the periscope of a submarine. However looked at separately it makes me think of the fairytale tower where Barbablue had imprisoned the princess with the long hairs. The princess had put her hair out of the tower window and the prince who had come to save her, had caught them and climbed up. What does this tower makes you think of?कोहिमा, नागालैंड, भारतः कोहिमा के कैथेड्रल के घँटाघर की मीनार सफ़ेद रंग की ह... Read more
clicks 84 View   Vote 0 Like   12:10am 11 Aug 2015 #India
Blogger: सुनील दीपक at Chayachitrakar - छायाचि...
Kohima, Nagaland, India: In the "Two & a half statues" monument of the second world war there are two refugees, a woman and a child, coming from Burma, and a soldier of the Assam Rifles. I hardly know this part of India's history and it raises many questions in my mind. कोहिमा, नागालैंड, भारतः "ढाई मूर्ति स्मारक"में दूसरे विश्व युद्ध में बर्मा से भारत आने वाली एक नारी और बच्चा शरणार्थी हैं और उन्हें सहारा देने वाला एक असम राइफल का ... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   12:38am 10 Aug 2015 #India
Blogger: सुनील दीपक at Chayachitrakar - छायाचि...
Kisama, Nagaland, India: With time our ways of thinking and sensibilities change. What had seemed good in the past, may seem inappropriate today. I had somewhat similar feelings when I saw the decorations in some traditional Naga community houses (Murungs). The heads of the enemies adorning the wall, entry steps shaped like a woman and the warrior with the gun welcoming the guests, may feel a little strange today.किसामा, नागालैंड, भारतः समय के साथ हमारी सोच व संवेदना बदल जाती हैं. पुराने समय में जो बात सही लगती थी, वह आज के ... Read more
clicks 85 View   Vote 0 Like   12:22am 9 Aug 2015 #India
Blogger: सुनील दीपक at Chayachitrakar - छायाचि...
Kohima, Nagaland, India: The architecture of the Kohima cathedral is a little different. Its roofs are shaped like the traditional Naga houses, like the bow of a ship. Its bell tower seems inspired from the tower of a submarine. The tower is linked to different corners of the roofs as if they are veils of a boat. That is why I am calling it a "Naga ship". Majority of the christians in Nagaland are Baptist protestants but catholics are also significant and this is their cathedral. Built at a corner of the New Ministers' Hill, it is visible from far away.कोहिमा, नागालैंड, भारतः कोहिमा के कैथेड्रल का वास्तुश... Read more
clicks 197 View   Vote 0 Like   1:13am 2 Aug 2015 #India
Blogger: सुनील दीपक at Chayachitrakar - छायाचि...
Kohima, Nagaland, India: Sculptor Michaelangelo's "Pieta" (Compassion) is world famous. It has mother Miriam lost in pain holding the dead body of Jesus. Other "Pieta" statues inspired by this sculpture are present in many churches around the world. Some months ago I had presented few examples of those. Yesterday morning I saw Kohima's Pieta, its artist is Shaji Jospeh. This statue is behind the Cathedral of Kohima. About 9 meters high and 6 meters wide, it is supposed to be the largest Pieta in the world. कोहिमा, नागालैंड, भारतः शिल्पकार माइकल एँजेलो की प्रतिमा "पिइता" (करुणा) ... Read more
clicks 84 View   Vote 0 Like   12:19am 27 Jul 2015 #India
Blogger: सुनील दीपक at Chayachitrakar - छायाचि...
Siliguri, West Bengal, India: At the railway station I met a group of Rajasthani pilgrims coming back from Guwahati, where they had gone for Ambubashi and stayed there for fifteen days. They were going to a place called Baba Dham. With their luggage wrapped in small bundles and little money in their pockets, they had come for this long journey from the other end of the country. I had gone to Siliguri for one day, and I had more luggage than them and probably, the amount of money I had spent for my one day would have covered the cost of their entire pilgrimage.सिलीगुड़ी, पश्चिम बँगाल, भारतः रेलवे स्टेशन पर गुवह... Read more
clicks 65 View   Vote 0 Like   1:26am 29 Jun 2015 #India
Blogger: Niranjan at Reflection of thoughts . . ....
लदाख़ से निकलते समय इस यात्रा सी जुड़ी बहुत सी यादें मन में ताजा हो रही हैं| मात्र पन्द्रह दिन की होने के बावजूद इस यात्रा ने बहुत कुछ दिया| बहुत कुछ देखने को मिला| लोगों से मिलना हुआ| स्वयं से भी कुछ हद तक मिलना हुआ| निकलने से वापसी की यात्रा तक लगातार ऐसे अनुभव आते रहे| स्टेश... Read more
clicks 86 View   Vote 0 Like   2:44am 28 Jun 2015 #India
Blogger: Niranjan at Reflection of thoughts . . ....
७ जून| अच्छी नींद से ऊर्जा वापस तो आ रही है, लेकिन अभी भी थकान है| पड़ोस के लोग बता रहे है कि बहुत से पर्यटक विपरित मौसम के कारण लेह छोडकर वापस जा रहे हैं| आगे की यात्रा के बारे में अभी भी सभी विकल्प खुले हुए हैं| नीरज जाट जीबहुत प्रोत्साहन दे रहे हैं; उन्होने फोन पर बताया, 'खुश... Read more
clicks 98 View   Vote 0 Like   3:31pm 27 Jun 2015 #India
Blogger: Niranjan at Reflection of thoughts . . ....
P { margin-bottom: 0.21cm; direction: ltr; color: rgb(0, 0, 10); line-height: 115%; widows: 2; orphans: 2; }P.western { font-family: "Calibri",serif; font-size: 11pt; }P.cjk { font-family: "DejaVu Sans"; font-size: 11pt; }P.ctl { font-size: 10pt; }A:link { }६ जून! आज लेह आए हुए पाँच दिन होंगे| लेह में इतने दिन रूकने का विचार नही था| फिर भी रूकना पड़ा| हिमालय में ऐसी यात्राओं में हमारी योजना धरी की धरी रह जाती है और जो जमिनी सच्चाई... Read more
clicks 74 View   Vote 0 Like   5:27pm 25 Jun 2015 #India
Blogger: Niranjan at Reflection of thoughts . . ....
५ जून की सुबह भी सर्द है| इस बार लदाख़ का अलग ही मौसम देखने का अवसर मिला है| आज का दिन इस साईकिल यात्रा का अहम पड़ाव है| देखा जाए तो लेह में दो से तीन तक ही रूकने का पहले विचार था| पहले जो योजना बनायी थी, वह करगिल- लेह करने के बाद मनाली की ओर जाने की थी|‌ चूँकि अभी भी मनाली रोड़ बन्द ... Read more
clicks 75 View   Vote 0 Like   6:04pm 23 Jun 2015 #India
Blogger: Niranjan at Reflection of thoughts . . ....
P { margin-bottom: 0.21cm; direction: ltr; color: rgb(0, 0, 10); line-height: 115%; widows: 2; orphans: 2; }P.western { font-family: "Calibri",serif; font-size: 11pt; }P.cjk { font-family: "DejaVu Sans"; font-size: 11pt; }P.ctl { font-size: 10pt; }A:link { }P { margin-bottom: 0.21cm; direction: ltr; color: rgb(0, 0, 10); line-height: 115%; widows: 2; orphans: 2; }P.western { font-family: "Calibri",serif; font-size: 11pt; }P.cjk { font-family: "DejaVu Sans"; font-size: 11pt; }P.ctl { font-size: 10pt; }२ जून की सुबह करीब चौबिस घण्टों के बाद विश्राम का अवसर मिला| आज पहले विश्रा... Read more
clicks 88 View   Vote 0 Like   3:28pm 22 Jun 2015 #India
Blogger: Niranjan at Reflection of thoughts . . ....
सिन्धू नदी की गूँज के साथ १ जून की सुबह हुई| लदाख़ी घर! एक थर्मास जैसे बर्तन में चाय मिली| सुबह अच्छी खासी ठण्ड है| घर के प्रमुख ने कुछ देर रूकने के लिए कहा|‌ यहाँ से लेह लगभग ८४ किलोमीटर है|‌ इसलिए जल्दी निकलना होगा| साईकिल को पानी से थोड़ा धोया| साईकिल ठीक है| लगभग १४० किलोमी... Read more
clicks 73 View   Vote 0 Like   9:58am 20 Jun 2015 #India

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4001) कुल पोस्ट (191763)