POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: समय

Blogger: Rachana Dixit at रचना रवीन्द्...
समय का दर्द मैं समय हूँमैं बलवान हूँ,बदलता रहता हूँघाव भर देता हूँकभी अच्छा, कभी बुराकभी किसी के लिए ठहरता नहींये उपमाएं दी हैं मुझे, तुम ही लोगों नेपर मैं क्या और कैसा हूँकोई नहीं जानतामेरे सिवायन उठ जाये लोगों का विश्वास मुझसेउतरने को उन पर खराक्या क्या न किया मैंने.... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   1:30am 1 Apr 2012 #समय
Blogger: Prem Prakash at पूरबिया...
बिहार अपनी राज्य स्थापना के सौ साल जिस सरकारी-असरकारी तौर पर मना रहा है, उसमें सिर्फ हर्ष या गौरवबोध शामिल नहीं है। दरअसल, यह एक ऐसा मौका है, जब यह प्रदेश अपनी शिनाख्त को नए सिरे से गढ़ना चाहता है। पिछले दो-तीन दशकों में बिहारी होना जिस तरह गरीब, अशिक्षित, असभ्य और पिछड़े ... Read more
clicks 96 View   Vote 0 Like   11:54am 25 Mar 2012 #समय
Blogger: Prem Prakash at पूरबिया...
 क्या आपने कभी ऐसे सोचा है कि सचाई से ज्यादा मक्कारी हमारे जेहन और चिंतन को क्यों घेरता है। अपने हिस्से के अंधेरे को दूर करने की बजाय हम आसपास के अंधेरे को लेकर आलोचकीय प्रबुद्धता क्यों दिखाते हैं। बिजली के लट्टुओं ने भले चिराग तले अंधेरे के मुहावरे को खारिज कर दिया ... Read more
clicks 84 View   Vote 0 Like   12:37pm 5 Jan 2012 #समय
Blogger: prem prakash at अंगिका...
जयप्रकाश नारायण 74 आंदोलन के दिनों में अक्सर कहा करते थे कि कमबख्त क्रांति भी आई तो बुढ़ापे में। पर इसे बुढ़ापे की पकी समझ ही कहेंगे कि संपूर्ण क्रांति का यह महानायक अपने क्रांतिकारी अभियान में संघर्षशील युवाओं और रचनात्मक कार्यकर्ताओं की जमात के साथ कलम के उन सिपाहि... Read more
clicks 229 View   Vote 0 Like   10:37am 26 Aug 2011 #समय
Blogger: prem prakash at अंगिका...
बड़े से बड़े ताले में भी होती है करतबी गुंजाइश चाबी के लिएछब्बीस साल का वह छोकरा शहर की बंद गलियों से बचा लाता है हर बारसमझ की यह आखिरी कोरनोएडा मोड़ पर भुट्टा  सेंकती जानकी के धारीदार चेहरे परबची है जितनी स्पेस आखिरी हिसाब किताब के लिए छोकरे के वैलेट में रखे हैं उतने ह... Read more
clicks 191 View   Vote 0 Like   11:14am 17 Jul 2011 #समय
Blogger: अभिषेक आर्जव at आर्जव...
समय बच गया था, अनवरत गुजरते हुये हर द्वार पर से बिना प्रतीक्षा किये किसी की भी कुछ की भी !अहर्निश गतिशील रहते हुये भी समय बच गया था धुले गये बरतन किनारे छुपी रह गयी चिकनायी की तरह ,टॆबल ग्लास पर पोछे जाने के बाद भी चुपचाप बिछी रह गयी एक पतली परत धूल की तरह समय बच गया था , अनबी... Read more
clicks 211 View   Vote 0 Like   9:01pm 22 Mar 2011 #समय
Blogger: पत्रकार रमेश कुमार जैन उर्फ निर्भीक at मुबारकबाद...
जन्म, मृत्यु और विवाहजन्म यानि उत्पति. मृत्यु यानि समाप्त होना. विवाह यानि दो आत्माओं का मिलन. किसी  भी  प्राणी  का  जन्म  होना. चाहे  वो  स्त्री-पुरुष  के रूप में या अन्य किसी भी रूप में हो.  उसके  जन्म  का समय, तारीख और स्थान  सब  परम पिता भग... Read more
clicks 149 View   Vote 0 Like   2:07pm 19 Oct 2010 #समय
[Prev Page] [Next Page]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4010) कुल पोस्ट (192082)