POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN
clicks 13 View   Vote 0 Like   6:49am 14 Sep 2020   Catogery: General  
Blogger: Kavita Rawat at KAVITA RAWAT...
इस सम्बन्ध में मुझे एक कहानी याद आ रही है कि काफी समय पहले भारत का एक पहलवान इंग्लैंड गया और उसने घोषणा करते हुए प्रसारित किया कि यहाँ का कोई पहलवान हमसे कुश्ती लड़ सकता है। यह बात जब इंग्लैंड के पहलवानों को पता चली तो वे आपस में जुटकर विचार किए कि कुश्ती में भारत के पहलवान को हराने की क्षमता किसी में नहीं है, लेकिन कुछ तिकड़म करके उसे परास्त किया जा सकता है। इंग्लैंड के पहलवान वेट लिफ्टिंग (भार उठाने) में माहिर थे। उन लोगों ने भारत के पहलवान के सामने शर्त रखी कि यदि आप इस 10 मन (लगभग 400 किलो बराबर) की नाल को उठा लेंगे तो, तभी हम लोग आपसे कुश्ती लड़ेंगे। भारत का पहलवान चालाक था। दूसरे दिन जब वह अखाड़े में गया तो उसने इंग्लैंड के पहलवानों से कहा कि जो पहलवान इसको उठाते हैं, उनसे कहिए कि वे उसे उठाकर दिखाये। इंग्लैंड का पहलवान चूंकि 10 मन की नाल (भार) उठाने में अभ्यस्त था, तुरन्त मिनट भर में उसे उठा लिया। ठीक उसी समय भारत के पहलवान ने फुर्ती के साथ नाल उठाने वाले पहलवान के पीछे से पैरों के बीच एक हाथ डालकर और एक हाथ गर्दन में डालकर उस पहलवान को उठा लिया, क्योंकि वह 10 मन से अधिक वजन के पहलवानों को उठाने का अभ्यस्त था। फिर इसके बाद इंग्लैंड के पहलवानों ने उसके समक्ष हार मान ली। इसी तरह देश का उच्च सरकारी तंत्र/अभिजात्य वर्ग इसी प्रकार से अंग्रेजी की दीवाल खड़ी कर देश की सामान्य जनता के युवाओं को परास्त करने की जुगत/कुचक्र रचता रहता है। अभी भी केन्द्रीय सरकार का कर्मचारी चयन आयोग एवं कई अन्य भर्ती परिषदों द्वारा नियुक्ति में अंग्रेजी को अनिवार्य बनाकर हिन्दी तथा प्रादेशिक भाषाओं के माध्यम से शिक्षा प्राप्त को, पीछे ढकेलने का कुचक्र जारी रखा है।

अतः इस देश की सामान्य जनता, गरीब तथा पिछड़े वर्गों के युवाओं को भाषा विशेष कर देश की राजभाषा की स्थिति की जानना चाहिए और उसे प्रतिष्ठापित कराने के लिए संघर्ष करना चाहिए ताकि इस देश में सामाजिक आर्थिक न्याय व जनतांत्रिक व्यवस्थाएं पुष्पित व पल्लवित होती रहे।

....जगदीश नारायण राय...
 
Read this post on KAVITA RAWAT

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3981) कुल पोस्ट (191394)