Blogger: माधवी रंजना at DAANAPAANI...
अपना देश रहन सहन के मामले में कितना अनूठा है। भिन्न भाषा भिन्न देश- भारत अपना एक देश। पर देश के रहन सहन के भिन्नता को देखना और समझना हो तो मध्य प्रदेश के जनजातीय संग्रहालय में पहुंचिए।मध्य प्रदेश का ये जन जातीय संग्रहालय, भोपाल के श्यामला हिल्स इलाके में स्थित है, इसका ...
clicks 2 View   Vote 0 Vote   12:00am 21 Jul 2019
Blogger: nilesh mathur at आवारा बादल...
अहंकारी हूँक्योंकि पुरुष हूँ मैं सदियों से अहंकारी रहा है पुरुष और कायम रहेगा ये अहंकार सदा,रावण से मेरी तुलना कर सकते हो तुम लेकिन मेरा वध करने के लिए तुम्हे राम बनना होगा,और राम बनने का सामर्थ्य तुममे भी नहीं हैराम तो छोड़ो हनुमान भी नहीं बन सकते तुमजो मे...
clicks 1 View   Vote 0 Vote   11:04pm 20 Jul 2019
Blogger: anamika singh at क्षण...
कभी-कभी किसी का जाना बहुत अच्छा लगता है...अगर बहुत से भी बेहतर कोई शब्द हो तो शायद उतना ही अच्छा लगता है। किसी का जाना- दुनिया से नहीं, जिंदगी से नहीं बल्कि कमरे से। एक ही छत के नीचे जब दो लोग रहते हों और उसमें से एक सिर्फ नहाने और वॉशरुम के लिए बाहर निकलता हो तो हफ्ते या महीन...
clicks 2 View   Vote 0 Vote   7:40pm 20 Jul 2019
Blogger: प्रमोद जोशी at जिज्ञासा...
एक महीने पहले मुम्बई के निवासी गर्मी से परेशान थे. इस साल बारिश भी देर से हुई. इस वजह से मुम्बई में ही नहीं समूचे भारत के उन इलाकों में जहाँ गर्मी पड़ती है, परेशानियाँ बढ़ गईं. समुद्र के किनारे बसे चेन्नई शहर में पीने का पानी खत्म हो गया. स्पेशल ट्रेन से वहाँ पानी भेजा गया. 2...
clicks 3 View   Vote 0 Vote   7:31pm 20 Jul 2019
Blogger: रेखा श्रीवास्तव at hindigen...
रिश्ते हैंएक पौधपलते है जोदिल की माटी में,प्यार का पानी दें,हवा तो दिल देता हैफिर देखो कैसे ?हरे भरे होकर वेजीवन महका देंगे।अकेले और सिर्फअपनों की खातिरअपने सुख की खातिरजीना बहुत आसान है ,सोच बदलोऔरों के लिए भीजीकर देखो तो सहीबहुत  कुछ  सिखा देंगे . .।पानी किसी भी पौ...
clicks 3 View   Vote 0 Vote   2:54pm 20 Jul 2019
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" at शरारती बचपन...
तहरीके जिन्होंने जंगे -आजादी -ए- हिन्द को परवान चढाया लहूँ बोलता भी हैं गदर मूवमेंट ------------------- भोपाल के बरकतुल्लाह ने सैन -फ्रांसिस्को में गदर पार्टी के नाम से एक तंजीम बनाई | इस तंजीम का मकसद भारत और भारत के बाहर जहाँ भी ब्रिटिश - मुखालिफ तंजीमे थी , उन सबके साथ एक नेटवर्क बन...
clicks 4 View   Vote 0 Vote   12:19pm 20 Jul 2019
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" at उच्चारण...
रंग भी रूप भी छाँव भी धूप भी,देखते-देखते ही तो ढल जायेंगे।देश भी भेष भी और परिवेश भी,वक्त के साथ सारे बदल जायेंगे।।ढंग जीने के सबके ही होते अलग,जग में आकर सभी हैं जगाते अलख,प्रीत भी रीत भी, शब्द भी गीत भी,एक न एक दिन तो मचल जायेंगे।वक्त के साथ सारे बदल जायेंगे।।आप चाहे भु...
clicks 1 View   Vote 0 Vote   8:27am 20 Jul 2019
Blogger: akhtar khan akela at आपका-अख्तर खा...
(मै) उस ख़ुदा के नाम से शुरू करता हूँ जो बड़ा मेहरबान रहम वाला है (1)सब तारीफ ख़ुदा ही को (सज़ावार) है जिसने वहुतेरे आसमान और ज़मीन को पैदा किया और उसमें मुख़्तलिफ कि़स्मों की तारीकी रोशनी बनाई फिर (बावजूद उसके) कुफ्फार (औरों को) अपने परवरदिगार के बराबर करते हैं (2)वह तो वही ख...
clicks 4 View   Vote 0 Vote   6:39am 20 Jul 2019
Blogger: Kirti Gautam at हिंदी के ब्लॉ...
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने नए और अनोखे विचारो को सरकार में समम्लित करने के लिए हमेशा से चर्चा के केंद्र में रहते है | नयी सरकार बनने के काफी दिनों के बाद उनके ट्विटर अकाउंट से कोई नया सन्देश देशवासियों के लिए नही आया था | लोग उनके क्रिएटिव दिमाग पर सवाल उठाने लगे थे| ...
clicks 5 View   Vote 0 Vote   4:36am 20 Jul 2019
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" at चर्चामंच...
स्नेहिल  अभिवादन   शनिवारीय चर्चा में आप का हार्दिक स्वागत है|  देखिये मेरी पसन्द की कुछ रचनाओं के लिंक |   - अनीता सैनी  ------- दोहे  "गोरी का शृंगार"  (डॉ. रूपचन्द्र ...
clicks 1 View   Vote 0 Vote   4:00am 20 Jul 2019
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Hot List : Hamarivani.com - Mobile
Hot List: (Latest Populer Posts)
Latest
 
CONTACT US ADVERTISE T&C [ FULL SITE ]

Copyright © 20018-2019