POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: अंतर्मंथन

Blogger: Dr T S Daral
उत्तर पूर्व भारत के राज्य मेघालय की राजधानी शिलॉन्ग को पूर्व का स्कॉटलैंड कहा जाता है। समुद्र तल से लगभग ५००० फुट की ऊँचाई पर स्थित शिलॉन्ग एक हिल स्टेशन जैसा ही है। हालाँकि यह उत्तर भारत के हिल स्टेशंस की तरह पहाड़ की ढलान पर नहीं बसा है। सारा शहर लगभग समतल भूमि पर बसा ... Read more
clicks 299 View   Vote 0 Like   3:06pm 8 May 2019 #सैर
Blogger: Dr T S Daral
मार्केट में सड़क किनारेहमने जब गाड़ी करी खड़ी ,तभी आधी ढकी नाली पर खड़ेखोमचे वाले पर नज़र पड़ी।कुछ कमसिन, हंसती खिलखिलातीचटकारे लेती नवयौवनाएँ दी दिखाई।तभी कानों में झगड़ने की आवाज़ दी सुनाई।पता चला बुआ बबुआ में बहस छिड़ी थी ,बुआ यानि ई कोलाई अपनी जिद पर अड़ी थी ,शिगैला रुपी बबु... Read more
Blogger: Dr T S Daral
काज़ीरंगा मुख्यतया एक सींग वाले गेंडों गेडों के लिए जाना जाता है।  ये घास खाते हुए सड़क किनारे तक आ जाते हैं। गौहाटी से लगभग सवा दो सौ किलोमीटर और गाड़ी से ५ -६ घंटे दूर ४३० वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला है काज़ीरंगा नेशनल पार्क जिसे १९८५ में यूनेस्को ने वर्ल्ड हेरिट... Read more
clicks 278 View   Vote 0 Like   10:09am 27 Apr 2019 #
Blogger: Dr T S Daral
एक ज़माना था जब नव विवाहित जोड़े पहली बार शादी के बाद हनीमून के बहाने घर से बाहर जाते थे और अक्सर वही उनकी आखिरी सैर होती थी क्योंकि उसके बाद जीवन यापन में इस कद्र व्यस्त हो जाते थे कि घूमने जाने के लिए न समय होता था और न ही संसाधन। उधर गांवों में तो हनीमून कोई जानता ही नहीं ... Read more
clicks 311 View   Vote 0 Like   3:24pm 22 Apr 2019 #
Blogger: Dr T S Daral
होली पर्व हैमस्ती में आने का।खाने खिलाने का ,पीने पिलाने का।हंसने हंसाने का ,और सबको प्यार से गले लगाने का।लेकिन इतना प्यार भी नहीं दिखाने का ,कि तकरार ही हो जाये !हैप्पी होली !!!!!... Read more
clicks 296 View   Vote 0 Like   6:50am 20 Mar 2019 #
Blogger: Dr T S Daral
कभी सर्जिकल स्ट्राइक को फ़र्ज़ी बता रहे हैं,पत्थरबाजों की पिटाई पर आंसू बहा रहे हैं।स्विस बैंकों में अरबों रखने वाले पूछ रहे हैं ,बताओ खाते में पंद्रह लाख कब आ रहे हैं।  जंग जीतने को जंगल के सब जीव मिल जाते हैं,लेकिन शेर को देख सबके होंठ सिल जाते हैं ।जिनकी फितरत है जितन... Read more
clicks 330 View   Vote 0 Like   4:25am 16 Mar 2019 #
Blogger: Dr T S Daral
आतंक के ठिकानों की तबाही से मुँह मोड़ना पड़ा ,नापाक पाक को खुद अपना ही गुरुर तोड़ना पड़ा। मोदी ने विश्व नेताओं से मिलकर कसा ऐसा शिकंजा ,अभीनंदन को सही सलामत बिना शर्त छोड़ना पड़ा।   ना तो इमरान को हिंदुस्तान पर प्यार आया है ,ना ही उसके मन में शांति का विचार आया है। बाजवा ... Read more
clicks 302 View   Vote 0 Like   10:22am 5 Mar 2019 #
Blogger: Dr T S Daral
जिंदगी के सफर में हमसफ़र अनेक होते हैं ,कुछ बेवफा, बेगैरत , कुछ बन्दे नेक होते हैं।अच्छी सूरत देखकर झांसे में ना आओ यारो ,फेसबुक पर दिखते चेहरे अक्सर फेक होते हैं।आस्था के बाज़ार में बाबा अनेक होते हैं ,कुछ रामदेव से संत, कुछ आसाराम से नेक होते हैं।डेरों के घेरों में नहीं ह... Read more
clicks 222 View   Vote 0 Like   6:30am 11 Feb 2019 #
Blogger: Dr T S Daral
आज फिर हमने कटिंग कराई ,आज फिर अपनी हुई लड़ाई ।नाई ने पूर्ण आहुति की पुकार जब लगाईं ,तो हमने कहा , बाल कुछ तो काटो भाई ।भले ही ले लो जितना तुमको माल चाहिए ,वो बोला काटने के लिए भी तो बाल चाहिए।बाहर निकले तो सिर के बीच सर्दी लग रही थी ,घर जाकर देखा , आधे सिर में बर्फ जम रही थी।  अ... Read more
clicks 223 View   Vote 0 Like   7:18am 5 Feb 2019 #सर्दी
Blogger: Dr T S Daral
विदेशों में सडकों पर,कोई हॉर्न नहीं बजाता।हॉर्न नहीं बजाता,क्योंकि वहां आवश्यकता नहीं होती।  आवश्यकता नहीं होती,क्योंकि वहां अनुशासन होता है।अनुशासन होता है,क्योंकि वहां कानून व्यवस्था अच्छी है।कानून व्यवस्था अच्छी है,क्योंकि वहां जनसँख्या कम है।जनसँख्या कम ह... Read more
clicks 215 View   Vote 0 Like   5:30am 2 Feb 2019 #
Blogger: Dr T S Daral
एक दिन एक महिला बोली ,डॉक्टर साहब,आप पत्नी पर कविताक्यों नहीं सुनाते हैं।हमने कहा , हम लिखते तो हैं ,लेकिन पत्नी को सुनाने सेघबराते हैं।एक बार हमने,पत्नी पर लिखी कविता,पत्नी को सुनाई।गलती ये हुई कि,अपनी को सुनाई।उस दिन ऐसी मुसीबत आई ,कि हमेंघर छोड़कर जाना पड़ा।और तीन दिन ... Read more
clicks 198 View   Vote 0 Like   4:53am 31 Jan 2019 #पत्नी
Blogger: Dr T S Daral
एक दिन एक महिला बोली ,डॉक्टर साहब,आप पत्नी पर कविताक्यों नहीं सुनाते हैं।हमने कहा , हम लिखते तो हैं ,लेकिन पत्नी को सुनाने सेघबराते हैं।एक बार हमने,पत्नी पर लिखी कविता,पत्नी को सुनाई।गलती ये हुई कि,अपनी को सुनाई।उस दिन ऐसी मुसीबत आई ,कि हमेंघर छोड़कर जाना पड़ा।और तीन दिन ... Read more
clicks 181 View   Vote 0 Like   9:06am 29 Jan 2019 #हास्य कविता
Blogger: Dr T S Daral
एयर चाइना की एयर होस्टेसबोल कम मुस्करा ज्यादा रही थी,इंग्लिश में उसकी बातें हमें कुछ भीसमझ में नहीं आ रही थी।हम थे परेशान और उसकीपेशानी पर भीआ रहा था पसीना ,क्योंकि हमारी इंग्लिश भीकौन सी उसकी समझ में आ रही थी।... Read more
clicks 189 View   Vote 0 Like   7:14am 28 Jan 2019 #
Blogger: Dr T S Daral
देखते देखते गुजर गया एक और साल ,जाते जाते देखिये कर गया क्या हाल । हम ले रहे थे ऑस्ट्रेलिया में गर्मियों के मज़े ,वापस आये तो सर्दी और प्रदुषण ने कर दिया बेहाल। हम तो विदेश में करते रहे मोदीत्त्व का प्रचार ,पर चिंता में डालने लगे चुनावी नतीजों के समाचार।   भारत के का... Read more
clicks 243 View   Vote 0 Like   7:16am 3 Jan 2019 #
Blogger: Dr T S Daral
पूर्वी दिल्ली की दो आवासीय कॉलोनियों के बीच बहते नाले को ढककर बनाई गई सड़क के बनने से इस क्षेत्र में आना जाना काफी आसान हो गया है। सुबह जब पहली रैड लाइट पर रुकना पड़ा और नज़र सड़क के पार गई तो देखा कि दूसरी ओर की स्लिप रोड़ को स्कूल की बाउंड्री होने के कारण एक ओर से बंद कर दिया ग... Read more
clicks 261 View   Vote 0 Like   4:38am 5 Dec 2018 #पेशाब
Blogger: Dr T S Daral
एक समाचार से पता चला है कि न्यूयॉर्क के स्टोनी ब्रूक यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ़ मेडिसिन में किये गए शोध कार्य से पता चला है कि मनुष्य की मृत्यु के बाद व्यक्ति विशेष को कुछ समय तक अपनी मृत्यु के बारे में अहसास रहता है कि वह मर गया है। इसका कारण यह है कि हृदयगति रुकने पर डॉक्टर त... Read more
clicks 244 View   Vote 0 Like   9:42am 27 Nov 2018 #मृत्यु
Blogger: Dr T S Daral
अंडमान द्वीप समूह में रहने वाले सेंटीनेलिज आदिवासियों के बारे में मिले समाचार से पता चलता है कि देश के एक हिसे में २१ वीं सदी में भी कुछ जनजाति ऐसी हैं जो आधुनिक सभ्यता से पूर्णतया अनभिज्ञ है।  सरकार भी इन्हे इनके मूल स्वरुप में बचाये रखने के लिए भरसक प्रयास कर रही है... Read more
clicks 209 View   Vote 0 Like   5:32am 24 Nov 2018 #आदिवासी
Blogger: Dr T S Daral
जलते हए रावण नेजलाते हुए बन्दों से कहा ,अरे अंध भक्तोहर साल मुझे जिलाते हो ,फिर जिन्दा ही जलाते हो !ऐसी क्या थी मेरी खताजो इतने मुझसे हो खफा !अधूरा सा ही तो था गुनाहफिर क्यों करते हो मेरा दाह !देखो अपने आस पासकितने क़ुरावण रहते हैं !हरण होती हैं रोज सीतायेंजिनके निशाँ तक मि... Read more
clicks 265 View   Vote 0 Like   11:15am 20 Oct 2018 #
Blogger: Dr T S Daral
जिस तरह ''मी टू''अभियान के अंतर्गत एक के बाद एक आरोप लगाए जा रहे हैं, यह कोई हैरानी की बात नहीं बल्कि एक ऐसी हकीकत है जो ''टिप ऑफ़ द आइसबर्ग''की तरह है। समाज में यौन शोषण केवल बच्चियों और महिलाओं का ही नहीं होता बल्कि लड़कों का भी होता आया है। ऐसा पाया गया है कि १८ साल की उम्र तक १... Read more
clicks 260 View   Vote 0 Like   4:00am 17 Oct 2018 #
Blogger: Dr T S Daral
कुछ ढूंढते ढूंढते हमने देखा कि गूगल सर्च में कुछ भी सर्च करो तो फ़ौरन सारी जानकारी आसानी से मिल जाती है।  बस हमने यूँ ही उत्सुकतावश पूछ लिया कि -- Who is Dr T S Daral ? क्लिक करते ही गूगल ने बताया कि इसकी जानकारी ११,९०,००० pages में समायी है।  हमने कुछ को खोलकर देखा तो ऐसी ऐसी जानकारि... Read more
clicks 338 View   Vote 0 Like   9:29am 11 Oct 2018 #
Blogger: Dr T S Daral
दिल धड़कता है तो समझो,जीवन का संचार है।दिल जोर से धड़कता है तो समझो,किसी से हुआ प्यार है।दिल फड़फड़ाता है तो समझो, बंदा दिल का बीमार है।दिल धड़कना बंद कर दे तो बाय बाय नश्वर संसार है।दिल बड़ा नाज़ुक होता है ,ये सदा टूटने को तैयार है।दिल का रखो पूरा ध्यान, यही तो&nbs... Read more
clicks 280 View   Vote 0 Like   9:33am 4 Oct 2018 #दिल
Blogger: Dr T S Daral
सरकारी अस्पतालों में क्षमता से ज्यादा रोगियों के आने से सारी व्यवस्था चरमरा जाती है। ओ पी डी में एक डॉक्टर को एक रोगी को देखने के लिए औसतन मुश्किल से डेढ़ मिनट का ही समय मिलता है। वार्डस में एक बेड पर दो या तीन मरीज़ों को भर्ती किया जाना आम बात है।  हमने डेंगू के समय एक बे... Read more
clicks 237 View   Vote 0 Like   1:37pm 22 Sep 2018 #
Blogger: Dr T S Daral
ओ स्त्री कल आना :मध्यप्रदश के एक ऐतिहासिक कस्बे चंदेरी की पृष्ठभूमि में फिल्माई गई हिंदी फिल्म "स्त्री"एक हॉर्रर कॉमेडी फिल्म है जिसे देखते हुए लोगों की चीख और हंसी एक साथ फूट पड़ती है। एक महिला पर हुए अत्याचार के कारण महिला की मृत्यु और उसका भूत बनकर गांव / कस्बे के मर्द... Read more
clicks 252 View   Vote 0 Like   7:35am 12 Sep 2018 #
Blogger: Dr T S Daral
हमें शिकायत है ,"उन दोस्तों से जो वाट्सएप्प पर हमें हर सन्डे को 'हैप्पी सन्डे'का मेसेज भेजते हैं लेकिन मंडे से सैटरडे तक हमें हमारे हाल पर छोड़ देते हैं !ये भी नहीं सोचते कि शुभकामनाओं के बगैर हमारे बाकि दिन कैसे गुजरेंगे !!!!"हमें शिकायत है,"उन मित्रों से जो मंगलवार के दिन ना... Read more
clicks 224 View   Vote 0 Like   9:29am 5 Sep 2018 #
Blogger: Dr T S Daral
बारौठी :शहर और हरियाणवी गांवों की शादियों में बहुत अंतर होता है। हालाँकि अब शहरों में रहने वाले हरियाणवी लोग भी गांव की रीति रिवाज़ों को छोड़ कर शहरी ढंग से शादियां करने लगे हैं। लेकिन यू एस से आये लड़के के परिवार को सांकेतिक रूप में सब रीति रिवाजों को निभाने की इच्छा थी।&nb... Read more
clicks 304 View   Vote 0 Like   1:27pm 23 Aug 2018 #

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4019) कुल पोस्ट (193408)