Hamarivani.com

चिकोटी

जीवनमिथ्या है। इच्छा भ्रम है। मृत्यु ही अंतिम सत्य है। फिर इच्छा-मृत्यु से क्या घबराना!यों भी, मृत्यु को समझने का कोई फायदा नहीं। मृत्यु तो एक न एक दिन आनी ही है। वो गाना है न 'जिंदगी तो बेवफा है एक दिन ठुकरएगी...।'तो जो ठुकरा दे उससे मोह पालना बेकार है।सच बताऊं, मुझे तो बड़ी ...
चिकोटी...
Tag :
  March 14, 2018, 10:33 am
शोकसभाएं मुझे बचपन से आकर्षित करती रही हैं। एक बार को किसी के सुख में शरीक न होऊं लेकिन शोक सभा में जरूर जाता हूं। शोक और दुख दोनों एकसाथ प्रकट हो जाते हैं। वरना, अलग से दुख प्रकट करना मुझे बड़ा अटपटा-सा लगता है। अक्सर भूल जाता हूं कि किस स्थिति में किस प्रकार का दुख प्रकट ...
चिकोटी...
Tag :
  March 9, 2018, 9:39 am
ताजाखबर तो यही है कि वे अब वामपंथी नहीं रहे। उन्होंने अपने वामपंथ का त्याग कर दिया। अपनी जिंदगी में वामपंथ से जुड़े प्रत्येक प्रतीक को बक्से में बंदकर गंगा में बहा दिया। अपने वामपंथी दोस्तों से किनारा कर लिया। घर के दरवाजे पर लगी 'कॉमरेड'नाम की नेमप्लेट से कॉमरेड हटाकर...
चिकोटी...
Tag :
  March 7, 2018, 10:07 am
इस दफा'व्हाट्सएप्प पर होली'खेलना तय हुआ है। जब पूरा देश ही व्हाट्सएप्प पर व्यस्त रहने लगा है तो होली को ही क्यों छोड़ा जाए। यह सही है कि व्हाट्सएप्प होली में पारंपरिक होली जैसी बात नहीं आ सकती हां दिल तो बहलाया ही जा सकता है न। आज के जमाने में दिल का बहलना बहुत जरूरी है। ल...
चिकोटी...
Tag :
  March 1, 2018, 9:51 am
दुनियामें ऐसा कोई है जो भाग न रहा हो? कोई वजह तो कोई बे-वजह भाग रहा है। बिन भागे कुछ भी मिलना संभव नहीं। आराम से बैठकर खाने-कमाने के दिन अब हवा हुए।डॉक्टर्स भी यही कहते हैं, जितना हम भागेंगे उतना ही स्वस्थ रहेंगे।कुछ ऐसे लोग भी होते हैं जो या तो चोरी करके भागते हैं या घोटाल...
चिकोटी...
Tag :
  February 24, 2018, 1:29 pm
घोटालाअपने नेचर में 'प्रेम'की तरह होता है। किया नहीं जाता, हो जाता है। जिनमें माआदा होता है वे अपने प्रेम को खींचकर शादी तक ले जाते हैं। जिनमें रिस्क लेने की हिम्मत नहीं होती वे बेगानी शादी में 'अब्दुल्ला'बनकर रह जाते हैं।ठीक ऐसी ही प्रवृत्ति घोटालेबाज में पाई जाती है। ...
चिकोटी...
Tag :
  February 23, 2018, 10:03 am
'इमरान (भाई) खान को तीसरी शादी मुबारक।'इतना स्टेटस लिख मैंने अपने फेसबुक पेज पर शेयर किया ही था कि मुझे तरह-तरह के ताने दिए जाने लगे। पहली आपत्ति तो लोगों को यही थी कि मैंने पड़ोसी (दुश्मन) मुल्क के किसी बंदे को मुबारक दी ही क्यों? इस खबर को इग्नोर क्यों नहीं किया? एक सज्जन ने...
चिकोटी...
Tag :
  February 22, 2018, 9:24 am
पिछलेदिनों सोशल मीडिया पर जितनी शिद्दत के साथ सोनम गुप्ता को बेवफा माना गया, मुझे बहुत खराब लगा। बिना जाने, न पहचाने, न देखे किसी को बेवफा होने का तमगा दे देना ठीक नहीं। हां, यह सही है कि इश्क का इतिहास तमाम तरह की बेवाफाईयों से भरा पड़ा है। पर उनकी की भी कोई न कोई मजबूरियां...
चिकोटी...
Tag :
  February 21, 2018, 9:45 am
हंसतेहुए चेहरे मुझे बहुत भाते हैं। ऐसे चेहरों को देख मुझे जीवन के प्रति 'सकारात्मक ऊर्जा'मिलती है। हंसना इसलिए भी जरूरी है ताकि कुछ पलों के लिए ही सही आप तनाव-मुक्त हो सकें। लॉफिंग बुद्धा को देखा है, हमेशा की तरह बुक्काफाड़ हंसी के मोड में रहता है। हंसी ऐसी ही होनी चाहिए...
चिकोटी...
Tag :
  February 20, 2018, 11:17 am
कहते हैं- इश्क उम्र की बंदिशों का मोहताज नहीं होता। इश्क कभी भी, कैसी भी उम्र वाला कर सकता है। इतिहास कम और ज्यादा उम्र में इश्क करने वालो के किस्सों से भरा पड़ा है। दिल अगर जवान है तो इश्क एक से कीजिए या अनेक से सब कुबूल है।यों, लोगबाग इश्क करने की राय तो एक ही से देते हैं। उ...
चिकोटी...
Tag :
  February 16, 2018, 9:46 am
बजटलोग भी अजीब हैं। बताइए, बजट को समझने में लगे पड़े हैं। जिसे देखो वो ही हाथ में गुलाबी अखबार की प्रति थामे, एक-दूसरे से बजट पर बहस करे चला जा रहा है। जबकि, यह हकीकत है, उसे अपने घर के बजट के बारे में रत्तीभर मालूम नहीं होगा। उसका हिसाब-किताब रखने के लिए पत्नी है। सबसे उम्दा ...
चिकोटी...
Tag :
  February 14, 2018, 1:49 pm
वेलेंटाइनडे बड़ी सहूलियत के साथ मनाना चाहिए। न दिमाग पर लोड हो न 'लोग क्या कहेंगे'टाइप चिंता। अजी, कुछ लोगों ने तो जन्म ही धरती पर इस शर्त के साथ लिया है कि उन्हें कुछ न कुछ कहते ही रहना है। सो, मोके-बेमौके कहते रहते हैं।यों, वेलेंटाइन मनाने वाले भला कहां चिंता किया करते है...
चिकोटी...
Tag :
  February 14, 2018, 9:39 am
मेरानाम 'ए'से होने के बावजूद मेरी कोशिश यही रहती थी कि क्लास में मैं चौथी या छठी बैंच पर ही बैठूं। बैठता भी था। इसके दो फायदे मुझे मिल जाया करते थे: पहला, टीचर की निगाह मुझ पर आसानी से नहीं पड़ती थी। दूसरा, याद न करने के कारण टीचर को सुनाने से बच जाता था। किंतु, यह लक हर समय नही...
चिकोटी...
Tag :
  February 10, 2018, 11:41 am
मुझेचुनौती मिली है। किसी और से नहीं। खुद की बीवी से। चुनौती में कहा गया है- 'एक दिन लेखन छोड़ मोहल्ले के नुक्कड़ पर खड़े होकर पकौड़े बेचकर दिखा दो। तुम्हें मान जाऊंगी।'बात लेखन से चलकर पकौड़े बेचने तक न आती अगर मैंने उसे बजट की मोटी-मोटी बातें बता दी होतीं। किंतु, मेरी समस्या ...
चिकोटी...
Tag :
  February 9, 2018, 10:12 am
प्यारका तो कुछ ऐसा है कि किसी न किसी से हो ही जाता है। प्यार होते ही साथ-साथ जीने-मरने की कसमें तो खैर खाई ही जाती हैं। कुछ इससे भी आगे निकल शादी कर लेते हैं। यानी लव; 'लव-मैरिज'में तब्दील हो जाता है। 'लव-मैरिज'वालो को मेरा सलाम।समाज में कुछ ऐसे भी साहसी लोग हैं जो फ़्लर्ट भी क...
चिकोटी...
Tag :
  February 8, 2018, 9:50 am
अजी, लोगों का क्या है वो तो रोटी जलने पर भी मुंह टेढ़ा कर लेते हैं। फिलहाल तो बहुत से लोग इस बात पर ही मुंह बनाए हुए हैं कि हर साल खिलाड़ी करोड़ों रुपये में बिक रहे हैं। यों बिकने को वे गलत मानते हैं। तरह-तरह के उल-जलूल सवाल करते हैं। कि, खिलाड़ी क्या बिकने के लिए होते हैं? अपना ख...
चिकोटी...
Tag :
  February 2, 2018, 4:40 pm
बजटहर साल आता है। हर बार कुछ नहीं घोषणाएं होती हैं। पुरानी कुछ घोषणाओं को विस्तार दिया जाता है। क्या आम, क्या खास सभी के लिए बजट में कुछ न कुछ रहता है। फिर भी, बजट से कुछ लोग खुश तो कुछ नाराज होते ही हैं। टीवी चैनलों पर बहसें होती हैं। अर्थशास्त्री लोग अपना अलग रंग अलापते ...
चिकोटी...
Tag :
  January 31, 2018, 9:37 am
रजनीकांतका राजनीति जॉइन करना राजनीति के लिए 'सौभाग्य'की बात है। यकीनन, राजनीति का सीना भी गर्व से फूल गया होगा। अब तक राजनीति में हमें 'मनोरंजन'ही देखने को मिला करता था, अब 'एक्शन'और 'मनोरंजन'दोनों देखने को मिलेंगे।रजनीकांत की राजनीति उस तरह की नहीं होगी जैसी देश के नेता ...
चिकोटी...
Tag :
  January 30, 2018, 1:16 pm
नयासाल शुरू होते ही हर बार मैं यह संकल्प लेता हूं कि कुछ भी हो इस दफा पुस्तक मेला में जाना ही है। पर पुस्तक मेला की तारीख नजदीक आते-आते सारा संकल्प ठंडा पड़ जाता है। जाना अगले साल पर टाल खुद को समझा लेता हूं।लेकिन अंदर की बात बताऊं, मैं पुस्तक मेला जाना ही नहीं चाहता। डरता ...
चिकोटी...
Tag :
  January 29, 2018, 9:39 am
मैं चिंतित हूं। जानता हूं, चिंता को चिता समान बताया गया है। फिर भी मैं चिंतित हूं। आप मेरी चिंता का रहस्य जानेंगे तो आप भी निश्चित ही चिंतित हो उठेंगे।मैं चिंतित इस बात से नहीं कि लोकतंत्र खतरे में है! हमारा लोकतंत्र कभी खतरे में हो ही नहीं सकता। मैं जानता हूं- सेना, सरका...
चिकोटी...
Tag :
  January 27, 2018, 1:10 pm
दुनियासिर्फ 'उम्मीद'पर ही नहीं 'आशावाद'पर भी टिकी है। आशावादी न हों तो दुनिया नकारात्मक मोड में जाकर तबाह हो जाए। किसी और की मैं नहीं जानता किंतु मेरे जीवन के आशावाद का आधार 'ओशो'और 'सेंसेक्स'की आशावादिता पर ही जमा खड़ा है।अभी यहां चर्चा का विषय 'ओशो'नहीं 'सेंसेक्स'है। ओशो ...
चिकोटी...
Tag :
  January 25, 2018, 9:40 am
खतराकभी कहकर नहीं आता। अक्सर वे चीजें भी, अचानक से, खतरे में आ जाती हैं, जिनके बारे में हमारे पुरखों ने कभी सोचा भी न होगा। हमें यह भी नहीं भूलना चाहिए कि दुनिया में जितनी तरह के लोग हैं, उतनी ही तरह के खतरे भी। सरल शब्दों में- दुनिया खतरों और खतरों के खिलाड़ियों से भरी पड़ी ह...
चिकोटी...
Tag :
  January 24, 2018, 10:14 am
हालांकिमुझे तबला बजाना नहीं आता फिर भी बजाने की कोशिश में सिर्फ इसलिए लगा पड़ा हूं ताकि ठंड न लगे। मगर ठंड इतनी ढीठ है कि लगे बिना मान ही नहीं रही। तबले पर भारी पड़ रही है। तबले के सिरों पर जिनती तगड़ी थाप जमाता हूं ठंड उतनी ही विकट चढ़ी आती है। उंगलियां तक पनाह मांग जाती हैं ...
चिकोटी...
Tag :
  January 19, 2018, 9:57 am
जबकोई मुझसे मिलकर यह कहता है- 'यार, मैं बड़ा बिजी हूं।'फिर उससे दूसरा कोई प्रश्न करता ही नहीं। क्योंकि दूसरे प्रश्न का जवाब उसके पास यही होगा- 'टाइम नहीं है।''बिजी'और 'टाइम'ये दो जुमले हमारी ज़बान पर इस कदर चढ़ लिए हैं, कभी-कभी तो मुझे लगता है, आगे चलकर सरकार इन्हें 'आधार'से लिंक ...
चिकोटी...
Tag :
  January 18, 2018, 2:24 pm
बहरहाल, यह तो नहीं बता सकता कि लोकतंत्र कितना खतरे में है कितना नहीं। यह जजों और बुद्धिजीवियों के विमर्श का विषय है। हां, इतना जरूर बता सकता हूं कि लोकतंत्र में चम्मच खतरे में हैं! चम्मचों से चमचों का अस्तित्व खतरे में है। यह खतरा छोटा-मोटा नहीं, बहुत बड़ा है।इतिहास में ऐ...
चिकोटी...
Tag :
  January 17, 2018, 1:17 pm

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3764) कुल पोस्ट (177912)