POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: इतिहास

Blogger: Dr Mandhata Singh
 भारत के उत्तरी क्षेत्र में खुदाई के समय नेशनल ज्योग्राफिक (भारतीय प्रभाग) को 22 फुट का विशाल नरकंकाल मिला है। उत्तर के रेगिस्तानी इलाके में एम्प्टी क्षेत्र के नाम से जाना जाने वाला यह क्षेत्र सेना के नियंत्रण में है। यह वही इलाका है, जहां से कभी प्राचीनकाल में सरस्वत... Read more
clicks 381 View   Vote 0 Like   7:05pm 30 Jan 2014 #भीम
Blogger: Dr Mandhata Singh
वाशिंगटन : लोगों के बीच हिंसा, संक्रामक रोगों और जलवायु परिवर्तन ने करीब 4,000 साल पहले सिंधु घाटी या हड़प्पा सभ्‍यता का खात्मा करने में एक बड़ी भूमिका निभाई थी। यह दावा एक नए अध्ययन में किया गया है।नॉर्थ कैरोलिना स्थित एप्पलचियान स्टेट यूनिवर्सिटी में नृविज्ञान (एन्थ्... Read more
clicks 221 View   Vote 0 Like   6:10pm 28 Jan 2014 #
Blogger: Dr Mandhata Singh
 ​​     इतिहास बुलेटिन में निम्न खबरों का अवलोकन करें। ये खबरें स‌ाभार ली गईं हैं। इन्हें स‌ंकलित करके यहां दे रहा हूं। राजनीति व अपराध प्रमुख खबरों की बहुतायत में इतिहास ये खबरें छपतीं तो हैं मगर यत्र-तत्र बिखरी होने के कारण उचित जगह नहीं ले पातीं। मुझे जब भी ऎसा... Read more
clicks 150 View   Vote 0 Like   5:48pm 16 Jan 2014 #
Blogger: Dr Mandhata Singh
 बिहार पुरातत्व विभाग को पुराने नालंदा विश्वविद्यालय के खंडहर से 40 किलोमीटर की दूरी पर तेल्हाडा में एक अन्य विश्वविद्यालय के अवशेष मिले हैं जिसकी चर्चा चीनी यात्री ह्वेनसांग और इत्सिंग के विवरणी में किया गया है। बिहार पुरातत्व विभाग के निदेशक अतुल कुमार वर्मा ने ... Read more
clicks 202 View   Vote 0 Like   7:14pm 15 Jan 2014 #
Blogger: Dr Mandhata Singh
    हमारी तमाम धार्मिक कथाओं में जम्बू द्वीप का वर्णन मिलता है।  हमारे कथावाचक पुरोहित मंत्र पढ़ते हैं तो जम्बूद्वीपे भारतखंडे का जिक्र करते हैं। आज भारत का जो भूगोल है उसमें स‌मझ पाना मुश्किल होता है कि यह जम्बूद्वीप क्या है और भारत इसमें कहां है। पौराणिक इतिहास... Read more
clicks 281 View   Vote 0 Like   1:19pm 9 Jan 2014 #
Blogger: Dr Mandhata Singh
  पूर्वकाल में ब्राह्मण होने के लिए शिक्षा, दीक्षा और कठिन तप करना होता था। इसके बाद ही उसे ब्राह्मण कहा जाता था। गुरुकुल की अब वह परंपरा नहीं रही। जिन लोगों ने ब्राह्मणत्व अपने प्रयासों से हासिल किया था उनके कुल में जन्मे लोग भी खुद को ब्राह्मण समझने लगे। ऋषि-मुनि... Read more
clicks 161 View   Vote 0 Like   12:45pm 4 Oct 2013 #history of brahaman
Blogger: Dr Mandhata Singh
अफगानिस्तान में मिला महाभारतकालीन विमान..!  अभी तक हम धर्मग्रंथों में ही पढ़ते ही रहे हैं कि रामायणकाल और महाभारत काल में विमान होते थे। पुष्पक विमान के बारे में भी हम सबने पढ़ा है।...लेकिन हाल ही में एक सनसनीखेज जानकारी सामने आई है। इसके मुताबिक अफगानिस्तान में एक 500... Read more
clicks 258 View   Vote 0 Like   5:19pm 13 Aug 2013 #mistry of ramayan
Blogger: Dr Mandhata Singh
  400 साल तक बर्फ में दबा रहा केदारनाथ का मंदिर     अगर वैज्ञानिकों की मानें तो केदारनाथ का मंदिर 400 साल तक बर्फ में दबा रहा था, लेकिन फिर भी वह सुरक्षित बचा रहा। 13वीं से 17वीं शताब्दी तक यानी 400 साल तक एक छोटा हिमयुग (Little Ice Age) आया था जिसमें हिमालय का एक बड़ा क्षेत्र बर्फ के अंदर दब ... Read more
clicks 181 View   Vote 0 Like   11:34am 27 Jun 2013 #history of kedarnath temple
Blogger: Dr Mandhata Singh
उत्तराखंड में भीषण तबाही में नष्ट हो गया केदारनाथ मंदिर इलाका और आसपास के गांव। अब आप कभी केदारनाथ जाएंगे तो प्राचीन केदारनाथ मंदिर और पूरा इलाका वह नहीं होगा जो आपने चारोधाम की तीर्थयात्रा कर चुके अपने बुजुर्गों से सुने होंगे या उनकी लाई हुई तस्वीरों को देखें ह... Read more
clicks 264 View   Vote 0 Like   2:36pm 26 Jun 2013 #Kedarnath
Blogger: Dr Mandhata Singh
    पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में सागरदिघी थाना इलाके के राष्ट्रीय राजमार्ग नं. 34 पर अहिरान पुल के पास निर्माण के दौरान 1 जून 2013 को गुप्तकालीन सोने के11 सिक्के मिले हैं। इन सिक्कों की तिथि चौथी शताब्दी बताई गई है। इससे पहले भी पश्चिम बंगाल से गुप्तकालीन  सिक्के मि... Read more
clicks 174 View   Vote 0 Like   2:30pm 13 Jun 2013 #gold coins of gupta period
Blogger: Dr Mandhata Singh
वह गुफा, जहां हनुमान का जन्म हुआ था।अंजनी पर्वतइतिहास के मिथकीय साक्ष्य भी इतिहास के तथ्यों को समझने में सहायक रहे हैं। इन्हीं में से एक हनमानजी के जन्मस्थल से भी जुड़ी कहानी है।              नवसारी (गुजरात) स्थित डांग जिला रामायण काल में दंडकारण्य प्रदेश के रूप में पहच... Read more
clicks 316 View   Vote 0 Like   3:34pm 25 Apr 2013 #हनमानजी के जन्मस्थल
Blogger: Dr Mandhata Singh
        दिल्ली में महाभारत, मौर्य, तोमर, चौहान, सल्तनत, मुगल और ब्रिटिश काल के अवशेष हैं। लेकिन एक रॉक आर्ट विशेषज्ञ को दिल्ली में कुछ ऐसे चिह्न मिले हैं, जिनके बारे में माना जा रहा है कि वे पाषाण युग के हो सकते हैं। यदि ‘साइंटफिक डेटिंग’ के बाद इसे सही पाया गया तो दिल्ली क... Read more
clicks 192 View   Vote 0 Like   12:21pm 4 Mar 2013 #पाषाण युग
Blogger: Dr Mandhata Singh
   हमारी तारापीठ यात्रा  कहते हैं किसी जबतक बुलावा न होतो किसी धर्मस्थल ( शक्तिपीठों यथा मां वैष्णवी, मां तारा या मां विंध्यवासिनी, दक्षिणेश्वर व कोलकाता के कालीघाट में मां काली  के दर  ) पर पहुंचने के प्रयास विफल होते रहते हैं। ऐसा इसलिए भी कह रहा हूं क्यों कि इसी समय मै... Read more
clicks 201 View   Vote 0 Like   2:01pm 20 Jan 2013 #
Blogger: Dr Mandhata Singh
  देश के प्रागैतिहासिक काल के मानचित्र में उरई का नाम अंकित भारतीय सांस्कृतिक निधि (इंटैक) के उरई चैप्टर की ओर से  बुंदेलखंड संग्रहालय के सभागार में उरई के मातापुरा मुहल्ले से मिले ताम्र युगीन उपकरणों पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी का विषय का प्रवर्तन क... Read more
clicks 161 View   Vote 0 Like   3:57pm 30 Sep 2012 #ताम्र युगीन सभ्यता
Blogger: Dr Mandhata Singh
   भीमबेटका में 750 गुफाएं हैं जिनमें 500 गुफाओं में शैल चित्र बने हैं। यहां की सबसे प्राचीन चित्रकारी को 12,000 साल पुरानी है। मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में स्थित पुरापाषाणिक भीमबेटका की गुफाएं भोपाल से 46 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। ये विंध्य पर्वतमालाओं से घिरी हुई है... Read more
clicks 308 View   Vote 0 Like   4:57pm 25 Sep 2012 #भीमबेटका की गुफाएं
Blogger: Dr Mandhata Singh
शांति उपदेशक बुद्ध बन सकते हैं अशांति की वजह ! अहिंसा और शांति का मार्ग दुनिया को दिखाने वाले गौतम बुद्ध के जन्मस्थान को लेकर दो मित्र देशों में विवाद की स्थिति बन सकती है। भारत और नेपाल के बीच गौतम बुद्ध की जन्मस्थली लुंबिनी को लेकर पहले एक विवाद उठ चुका है। इस विवाद ... Read more
clicks 174 View   Vote 0 Like   5:42pm 23 Sep 2012 #नयना देवी मंदिर
Blogger: Dr Mandhata Singh
   KOLKATA: Can a lessee of a mass of land become the founder of a city? Can the date of his landing in Kolkata be suddenly interpreted as the city's birth date?Such questions, and many more, will be asked by a host of historians - who contest the claim that August 24 should be celebrated as the city's birthday - on August 23. But the debate has already started raging among those who are preparing to celebrate the occasion on Friday.The state government and the Kolkata Municipal Corporation celebrated the tercentenary of the city in 1990. But a high court ruling had put an end to the celebration, saying that August 24 cannot be considered the birth date of the city. Though... Read more
clicks 124 View   Vote 0 Like   4:12pm 20 Aug 2012 #जाब चार्नाक
Blogger: Dr Mandhata Singh
   KOLKATA: Can a lessee of a mass of land become the founder of a city? Can the date of his landing in Kolkata be suddenly interpreted as the city's birth date?Such questions, and many more, will be asked by a host of historians - who contest the claim that August 24 should be celebrated as the city's birthday - on August 23. But the debate has already started raging among those who are preparing to celebrate the occasion on Friday.The state government and the Kolkata Municipal Corporation celebrated the tercentenary of the city in 1990. But a high court ruling had put an end to the celebration, saying that August 24 cannot be considered the birth date of the city. Though the sta... Read more
clicks 151 View   Vote 0 Like   4:12pm 20 Aug 2012 #कोलकाता का इतिहास
Blogger: Dr Mandhata Singh
ओरछा वह अभिशप्त शहर है जिसे पुराने लोगों के मुताबिक कई बार उजड़ने का शाप मिला था पर आज भी यह शहर इस आदिवासी अंचल में पर्यटन से रोजगार की नई संभावनाओ को दिखा रहा है। बुंदेलखंड में खजुराहो के बाद ओरछा में सबसे ज्यादा सैलानी आते है पर इसके बाद वे यहीं से लौट भी जाते हैं। श... Read more
clicks 261 View   Vote 0 Like   6:28pm 31 Jul 2012 #बुंदेलखंड
Blogger: Dr Mandhata Singh
सिकंदर एक महान विजेता था- ग्रीस के प्रभाव से लिखी गई पश्चिम के इतिहास की किताबों में यही बताया जाता है। मगर ईरानी इतिहास के नजरिए से देखा जाए तो ये छवि कुछ अलग ही दिखती है।प्राचीन ईरानी अकेमेनिड साम्राज्य की राजधानी 'पर्सेपोलिस' के खंडहरों को देखने जाने वाले हर सैलान... Read more
clicks 285 View   Vote 0 Like   2:37pm 16 Jul 2012 #सिकंदर
Blogger: Dr Mandhata Singh
चरखारी उत्तरप्रदेश का एक चंदेलकालीन तालाब। इसे १००० साल पहले बनाया गया था। यह ११ तालाबों के नेटवर्क से जुड़ा है जिसमें बारिश का पानी जमा होता है। अब ऐसे तालाबों के वजूद मिटने लगे हैं। नतीजे में पीने के पानी को भी मोहताज है बुंदेलखंड।( फोटो साभार-kkasturi.blogspot )मदनसागर तालाब ... Read more
clicks 206 View   Vote 0 Like   3:55pm 11 Jul 2012 #
Blogger: Dr Mandhata Singh
    भारत के पौराणिक महत्व तथा करोड़ों हिन्दुओं की आस्था के प्रतीक रामसेतु पर सेतु समुद्रम परियोजना बनाई गई है। इसमें पौराणिक रामसेतु को तोड़कर भारत के दक्षिणी हिस्से के इर्द गिर्द समुद्र में छोटा नौवहन मार्ग बनाए जाने पर केंद्रित है। लेकिन सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में ... Read more
clicks 172 View   Vote 0 Like   3:54pm 4 Jul 2012 #
Blogger: Dr Mandhata Singh
   केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि पचौरी समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सेतु समुद्रम परियोजना के लिए पौराणिक राम सेतु को छोड़कर वैकल्पिक मार्ग आर्थिक और पारिस्थितिकी रूप से व्यावहारिक नहीं है। न्यायमूर्ति एचएल दत्तू और न्यायमूर्ति चंद्रमौलि कुमार ... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   3:48pm 4 Jul 2012 #
Blogger: Dr Mandhata Singh
     शाहजहांपुर से करीब 42 किमी दूर पुवायां तहसील के मुड़िया कुमिर्यात गांव में करीब 350 साल पुराना राधा-कृष्ण का मंदिर  है। बावन दरवाजों वाले इस मंदिर की ख्याति दूर-दूर तक फैली है।  जर्जर होते इस मंदिर को मरम्मत की जरूरत है, लेकिन मरम्मत के लिए धन की मांग वाली फाइल पुरातत्... Read more
clicks 194 View   Vote 0 Like   5:09pm 24 May 2012 #राधा-कृष्ण का मंदिर
Blogger: Dr Mandhata Singh
   मथुरा से बीस किलोमीटर दूर महाकवि सूरदास की साधना स्थली परासौली को स्थानीय कृष्ण भक्तों ने खंडहरों में तब्दील होने से बचा लिया है, लेकिन हिंदी के विद्वानों और शासन की ओर से की जाने वाली उपेक्षा यहां साफ दिखाई देती है। प्रसिद्ध साहित्यकार अमृतलाल नागर ने सूरदास के ... Read more
clicks 240 View   Vote 0 Like   5:33pm 7 May 2012 #शांति निकेतन

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3994) कुल पोस्ट (195636)