POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: ..................................प्रो.सी.बी.श्रीवास्तव "विदग्ध" की रचनायें

Blogger: विवेक रंजन श्रीवास्तव
शामियानाप्रो सी बी श्रीवास्तव "विदग्ध "ओ बी ११ , विद्युत मण्डल कालोनी , रामपुर , जबलपुरमो ९४२५४८४४५२भावनाओ से सजा है जिंदगी का शामियानारूप रंग जिसके सुहाने जो नही होता पुरानाचंदोबे , परदे सजीले , रंगीली जिसकी कनातेंझिलमिली शुभ झालरों से जगमगाता जो सुहानापर सजाने इसे ऐ... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   3:18am 5 Dec 2012 #
Blogger: विवेक रंजन श्रीवास्तव
अनवरत सेवा हमारे लायन्स क्लब की जान हैप्रो सी बी श्रीवास्तव विदग्धओ बी ११ , विद्युत मण्डल कालोनी , रामपुर ,जबलपुरअनवरत सेवा हमारे लायन्स क्लब की जान हैक्योकि सेवा ही सही इंसान की पहचान हैदीन दुखियो में ही  रहता है कहीं भगवान भीसार हर एक धर्म का बस त्याग ,तप, व्रत , दान हैअ... Read more
clicks 109 View   Vote 0 Like   1:54pm 15 Oct 2012 #
Blogger: विवेक रंजन श्रीवास्तव
ईद मुबारक(प्रो. सी.बी. श्रीवास्तव, विदग्ध, ओ.बी. 11, रामपुर जबलपुर )ईद के चांद की खोज मे हर बरस दिखती दुनिया बराबर ये बेजार हैबांटने को मगर सब पे अपनी खुशी कम ही दिखता कहीं कोई तैयार हैईद दौलत नही कोई दिखावा नही ईद जज्बा है दिल का खुशी  की घडीरस्म कोरी नही जो कि केवल निभे ईद का ... Read more
clicks 161 View   Vote 0 Like   4:35am 20 Aug 2012 #
Blogger: विवेक रंजन श्रीवास्तव
नारी(प्रो. सी.बी. श्रीवास्तव, विदग्ध, ओ.बी. 11, रामपुर जबलपुर )नारी के कई रूप हैं दुनियां में हमारीमाँ पत्नी बहिन देवी या फिर बेटी दुलारीनारी को प्रकृति ने सहज जननी है बनायानारी में है भगवान के ही रूप की छायानारी में सृजन शक्ति का भंडार भरा हैसच उसकी इसी शक्ति से संसार हरा ह... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   7:05am 2 Aug 2012 #
Blogger: विवेक रंजन श्रीवास्तव
महाकवि तुलसी को श्रद्धांजलि(प्रो. सी.बी. श्रीवास्तव, विदग्ध, ओ.बी. 11, रामपुर जबलपुर )हे राम कथा अनुगायक तुलसी जन मन के अनुपम ज्ञातातुनमे जो गौरव गं्रथ लिखा भटको को वह पथ दिखलातामानस हिंदी का चूडामणि मानवता हित तव अमर दानसंचित जिसमे सब धर्म, नीति, व्यवहार, प्रीति आदर्ष ज्ञ... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   11:58am 12 Jul 2012 #
Blogger: विवेक रंजन श्रीवास्तव
रामचरितमानस(प्रो. सी.बी. श्रीवास्तव, विदग्ध, ओ.बी. 11, रामपुर जबलपुर )रामचरित मानस कथा आकर्षक वृतांतश्रद्धापूर्वक पाठ से मन होता है शांतशब्द भाव अभिव्यक्ति पै रख पूरा अधिकारतुलसी ने इसमे भरा है जीवन का सारभव्य चरित्र श्री राम का मर्यादित व्यवहारपढे औ समझे मनुज तो हो सुख... Read more
clicks 123 View   Vote 0 Like   11:46am 12 Jul 2012 #
Blogger: विवेक रंजन श्रीवास्तव
कर्मण्येवाधिकारस्ते(प्रो. सी.बी. श्रीवास्तव, विदग्ध, ओ.बी. 11, रामपुर जबलपुर )त्याग के कर्ता का अभिमान, कर्म तू करता जा इंसानकिंतु फल पैं न तेरा अधिकार फल तो बस देते है भगवानकर्म का है कृषि सा विज्ञान बीज बोना ही सदा प्रधानफसल मे क्या होगा उत्पन्न बीज से ही होती है पहचानबेर... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   11:45am 12 Jul 2012 #
Blogger: विवेक रंजन श्रीवास्तव
भगवत गीता(प्रो. सी.बी. श्रीवास्तव, विदग्ध, ओ.बी. 11, रामपुर जबलपुर )श्री कृष्ण का संसार को वरदान है गीतानिष्काम कर्म का बडा गुणगान है गीतादुख के महासागर मे जो मन डूब गया होअवसाद की लहरो मे उलझ ऊब गया होतब भूल भुलैया मे सही राह दिखानेकर्तव्य के सत्कर्म से सुख शांति दिलानेसंज... Read more
clicks 110 View   Vote 0 Like   11:38am 12 Jul 2012 #
Blogger: विवेक रंजन श्रीवास्तव
भारत माँप्रो. सी.बी. श्रीवास्तव ओ.बी. 11, एमपीईबी रामपुर, जबलपुर मो.9425806252 स्नेह की प्रतिमा सुहानी हमारी भारत है माँदुनियाँ मे दिखता न कोई दूसरा ऐसा यहाँभाल है काश्मीर जिस पर हिम किरीट ताज हैहै हिमाचल चन्द्रमुख जिसका सुखद भूभाग हैदिल है दिल्ली, यू पी राजस्थान हैं वक्षस्थल... Read more
clicks 133 View   Vote 0 Like   3:24pm 16 Mar 2012 #भारत माँ
Blogger: विवेक रंजन श्रीवास्तव
शिक्षा के मुक्तकप्रो. सी.बी. श्रीवास्तव ओ.बी. 11, एमपीईबी कालोनीरामपुर, जबलपुर मो.9425806252(1) पढना लिखना आवश्यक है जो चहिये सन्मान हैशिक्षा से हर एक आदमी पा सकता सब ज्ञान हैशिक्षा देती अंधियारे को दूर हटाकर, रोशनीपढना लिखना सुख पा सकने, के लिये बडा वरदान है(2) आज जरूरी पढना लिखना... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   5:27am 1 Jan 2012 #
Blogger: विवेक रंजन श्रीवास्तव
शासकवर्ग जहां नैतिक आचरणवान नही होगाप्रो. सी.बी. श्रीवास्तव ओ.बी. 11, एमपीईबी कालोनीरामपुर, जबलपुर मो.9425806252शासकवर्ग जहां नैतिक आचरण वान नही होगाजनता से नैतिकता की आशा करना है धोखादेश गर्त मे दुराचरण के नित गिरता जाता हैआशा के आगे तम नित गहरा घिरता जाता हैक्या भविष्य होगा... Read more
clicks 141 View   Vote 0 Like   11:29am 13 Dec 2011 #
Blogger: विवेक रंजन श्रीवास्तव
वह बगीचा जहां नित खिले फूल थे ....प्रो. सी.बी. श्रीवास्तव ओ.बी. 11, एमपीईबी कालोनीरामपुर, जबलपुर मो.9425806252वह बगीचा जहां नित खिले फूल थे, आज मुरझाई सी उसकी है क्यारियांलगता है मालियो को न चिंता कोई, जेब भरने की सबकी है तैयारियांजहां होती थी सुरभित सुमन की छटा, वहां सूखी सी कांटो भ... Read more
clicks 148 View   Vote 0 Like   11:28am 13 Dec 2011 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]


Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
Share:
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3941) कुल पोस्ट (195176)