POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: गवाक्ष

Blogger: सुभाष नीरव
जनवरी 2008 “गवाक्ष”ब्लॉग के माध्यम से हम हिन्दी ब्लॉग-प्रेमियों को विदेशों में रह रहे हिन्दी/पंजाबी के उन लेखकों/कवियों की समकालीन रचनाओं से रू-ब-रू करवाने का प्रयास करते आ रहे हैं जो अपने वतन हिन्दुस्तान से कोसों दूर रहकर अपने समय और समाज के यथार्थ को अपनी रचनाओं में रे... Read more
clicks 163 View   Vote 0 Like   9:37am 1 Jul 2012 #ग़ज़लें(गौतम सचदेव)
Blogger: सुभाष नीरव
 जनवरी 2008 “गवाक्ष”ब्लॉग के माध्यम से हम हिन्दी ब्लॉग-प्रेमियों को विदेशों में रह रहे हिन्दी/पंजाबी के उन लेखकों/कवियों की समकालीन रचनाओं से रू-ब-रू करवाने का प्रयास करते आ रहे हैं जो अपने वतन हिन्दुस्तान से कोसों दूर रहकर अपने समय और समाज के यथार्थ को अपनी रचनाओं में र... Read more
clicks 141 View   Vote 0 Like   7:25am 8 Jun 2012 #ग़ज़लें(समीर लाल)
Blogger: सुभाष नीरव
जनवरी 2008 “गवाक्ष”ब्लॉग के माध्यम से हम हिन्दी ब्लॉग-प्रेमियों को विदेशों में रह रहे हिन्दी/पंजाबी के उन लेखकों/कवियों की समकालीन रचनाओं से रू-ब-रू करवाने का प्रयास करते आ रहे हैं जो अपने वतन हिन्दुस्तान से कोसों दूर रहकर अपने समय और समाज के यथार्थ को अपनी रचनाओं में रे... Read more
Blogger: सुभाष नीरव
सवारी हरजीत अटवालहिंदी अनुवाद : सुभाष नीरव॥ बावन ॥बलदेव और डौमनिक की दोस्ती दिनोंदिन पक्की हो रही थी। लिज़ को मिलने आया डौमनिक बलदेव के पास अधिक समय गुज़ारता। एक दिन डौमनिक कहने लगा-      ''डेव, बोट शो लगा हुआ है, अर्ल्ज क़ोर्ट। देखने चलेगा ?''      ''क्यों नहीं ?''      '&#... Read more
Blogger: सुभाष नीरव
सवारी हरजीत अटवालहिंदी अनुवाद : सुभाष नीरव॥ इक्यावन ॥ईस्टर तक तो काम बहुत कम हो गया था। दिन में दो तीन ही डिलीवरी के आर्डर आते। वह मजे से यार्ड की तरफ जाता। ऑनसरिंग मशीन देखता कि किस किस के मैसेज हैं। वहाँ बैठ कर वह कुछ देर अख़बार पढ़ता। फिर कुछ सिलेंडर पिकअप पर रखता और फोन... Read more
Blogger: सुभाष नीरव
जनवरी 2008 “गवाक्ष” ब्लॉग के माध्यम से हम हिन्दी ब्लॉग-प्रेमियों को विदेशों में रह रहे हिन्दी/पंजाबी के उन लेखकों/कवियों की समकालीन रचनाओं से रू-ब-रू करवाने का प्रयास करते आ रहे हैं जो अपने वतन हिन्दुस्तान से कोसों दूर रहकर अपने समय और समाज के यथार्थ को अपनी रचनाओं में रे... Read more
clicks 124 View   Vote 0 Like   6:46am 8 Mar 2012 #कविताएं(इला प्रसाद)
Blogger: सुभाष नीरव
जनवरी 2008 “गवाक्ष” ब्लॉग के माध्यम से हम हिन्दी ब्लॉग-प्रेमियों को विदेशों में रह रहे हिन्दी/पंजाबी के उन लेखकों/कवियों की समकालीन रचनाओं से रू-ब-रू करवाने का प्रयास करते आ रहे हैं जो अपने वतन हिन्दुस्तान से कोसों दूर रहकर अपने समय और समाज के यथार्थ को अपनी रचनाओं में रे... Read more
clicks 153 View   Vote 0 Like   4:37pm 6 Feb 2012 #कविताएं
Blogger: सुभाष नीरव
सवारी हरजीत अटवालहिंदी अनुवाद : सुभाष नीरव॥ अड़तालीस ॥बलदेव सुबह उठा तो लिज़ ज़ागी बैठी थी। उसने टेक लगाकर सिर पीछे की ओर किया हुआ था। बलदेव ने पूछा-''तू ठीक है ?''''हाँ, सिगरेट की तलब हो रही है, पर सिगरेट है नहीं।''बलदेव भी उठकर बैठ गया। उसने लिज़ क़ी ओर देखा। उसकी लम्बी गर्दन जानी... Read more
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3991) कुल पोस्ट (194986)