POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: साहित्यमेव जयते

Blogger: कुमारेन्द्र सिंह सेंगर
आएगी फिर वही सुहानी सुबहजब सुनाई देगा सूरज की रौशनी के साथकलरव पंछियों का,सुनाई देगा शोर स्कूल के लिए दौड़ते-भागते बच्चों का. आएगी फिर वही सुहानी सुबहजब गलियों में जमी होगी महफ़िल सुबह की सैर करने वालों की,नुक्कड़ की गुमटी पर सज रही होंगी होंठों परचुस्कियाँ चाय की. आए... Read more
clicks 28 View   Vote 0 Like   6:35pm 12 May 2021 #
Blogger: कुमारेन्द्र सिंह सेंगर
तुम्हारे साथ जो गुजरी वो छोटी जिंदगानी है, वही बाकी निशानी है वही बाकी कहानी है। तुम्हारे दूर जाने से न जीवन सा लगे जीवन,रुकी-रुकी सी है धड़कन न साँसों में रवानी है।तुम्हारी याद के साए में अब जीवन गुजरना है,लबों पर दास्तां तेरी इन आँखों को बरसना है।नहीं तुम सामने मे... Read more
clicks 54 View   Vote 0 Like   6:18pm 7 Feb 2021 #
Blogger: कुमारेन्द्र सिंह सेंगर
साँसें खर्च हो रही हैंबीती उम्र का हिसाब नहीं,फिर भी जिए जा रहे हैं तुझे ऐ ज़िन्दगी तेरा जवाब नहीं. देख तेरी बेरुखी इस कदर मन करता है छोड़ने का तुझे, रोक लेतीं हैं नादानियाँ तेरी  कि तू इतनी भी खराब नहीं. फूल, कली, सितारे, चंदा सबमें खोजा तुम सा कोई, हर शै में मिले हँसीं ... Read more
clicks 55 View   Vote 0 Like   7:25pm 29 Nov 2020 #
Blogger: कुमारेन्द्र सिंह सेंगर
कितने बजे पहुँचोगी स्टेशन?रुद्रांश ने सीधा सा सवाल पूछा.क्यों, मिलने की बहुत जल्दी है? ट्रेन के समय पर ही पहुंचेंगे.उधर से अनामिका ने खिलखिलाते हुए उसकी बात का जवाब दिया. दोनों तरफ से फिर हलकी-फुलकी नोंक-झोंक होते हुए बात समाप्त हुई.ट्रेन अपनी स्पीड से दौड़ी जा रही थी. दोन... Read more
clicks 135 View   Vote 0 Like   5:28pm 6 Jun 2020 #प्रेम कहानी
Blogger: कुमारेन्द्र सिंह सेंगर
फूल खिलने लगे गुलशन के मगर,फूल गुमसुम हैं कितने घर के मगर.कौन आया जहाँ में ये हलचल हुई.आज डरने लगे लोग खुद से मगर.दौड़ती-भागती ज़िन्दगी है थमी,न आये समझ क्या गलत क्या सही.सबकी आँखों में कितने सवालात हैं,उनके उत्तर नहीं हैं मिलते मगर. लोग हैरान हैं और परेशान हैं,खोजते मिलके... Read more
clicks 136 View   Vote 0 Like   6:11pm 22 May 2020 #गीत
Blogger: कुमारेन्द्र सिंह सेंगर
उरई विधानसभा का सर्वोदय इंटर कॉलेज मतदान केन्द्र, मतदान करने पहुँचे एक युवक ने सभी प्रत्याशियों को नकारने सम्बन्धी निर्वाचन नियमावली 1961के नियम ‘49-ओ’ का प्रयोग करना चाहा। पीठासीन अधिकारी द्वारा उसको इस नियम का प्रयोग करने से रोका गया; युवक द्वारा समझाये जाने पर बाहर त... Read more
clicks 279 View   Vote 0 Like   6:41pm 29 Feb 2012 #आलेख
Blogger: कुमारेन्द्र सिंह सेंगर
आज शाम को हमारे मोहल्ले के एक छोटे से बच्चे ने हमें परेशान कर डाला। दरअसल जबसे बिग-बी ने रंगीन सेल्युलाइड की दुनिया के छोटे पर्दे पर आकर लोगों को करोड़पति बनाने का कार्यक्रम शुरू किया है तबसे हमें भी बिना मेहनत के करोड़पति बनने का भूत सवार हो गया है। इसी भूत ने हमारे मिलन... Read more
clicks 296 View   Vote 0 Like   7:48am 26 Feb 2012 #साहित्य
Blogger: कुमारेन्द्र सिंह सेंगर
तथाकथित भगवानों की नाकामी पर अपने आँसुओं को कुर्बान करने वाले देशभक्त भारतीय नौजवान और नवयुवतियो....इन के साथ इनके भगवानों को महिमामंडित करने वाली मीडिया के जागरूक पहरुओ...क्यों निराश हो रहे हो क्षणिक नाकामी पर? इन वीर योद्धाओं के द्वारा तो सदा से यही होता आया है। देश क... Read more
clicks 270 View   Vote 0 Like   4:01pm 22 Feb 2012 #साहित्य
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3991) कुल पोस्ट (194987)