Deprecated: mysql_connect(): The mysql extension is deprecated and will be removed in the future: use mysqli or PDO instead in /home/hamariva/public_html/config/conn.php on line 13
आधारशिला : View Blog Posts
Hamarivani.com

आधारशिला

#अधूरे_पन्नेबेहद प्रसन्‍नता होती है जब कोई ऐसा मित्र मिलता जिसने अपने कार्य से प्रेरणादायक काम किया हो। पिछले कल दूसरा...
आधारशिला...
Tag :
  November 12, 2017, 8:34 pm
दबे पांवकुछ स्मृतियांआएगी सामनेछम से रौशनी लिए ,ढूंढेंगे शब्द, अर्थ और शब्दावली,फिर हो जाएगी गुमरौशनी स्मृतियां तुरंत कहीं अंधकार में प्रश्न अनेक छोड़ ......
आधारशिला...
Tag :
  October 19, 2017, 6:17 am

.

......
आधारशिला...
Tag :
  October 17, 2017, 11:35 am
- दस और पचास का स्टाम्प पेपर तो दीजिये।- दस और पचास के तो नहीं है बीस और सौ के ही आ रहे है।- जरूरत तो दस और बीस की ही थी। इसमें तो रुपये ज्यादा लग जाएंगे।- जनाब यही है। इस बाहने दो पैसे हमारे भी बन जाएंगे। - अरे शर्मा जी, "ईश्वर से तो डरिये अगले जन्म में लंगड़ी खच्चर बनोंगे"।आ...
आधारशिला...
Tag :
  October 17, 2017, 6:43 am
गांव,नहीं रहा है गाँव अब,गांव बन गया हैषड्यंत्रकारियों, चोरों और उच्चकों का गढ़,संवेदना खत्म हो गई हैभर गई कड़वाहटरिश्तों में है शून्यता,सुरक्षित नहीं रहा हैगाँव अब रास्ते , पगडंडियां और गालियांहो गई है असुरक्षित,ना जाने कहाँ से निकल आये कोई औरकत्ल कर दे सम्मान, संवेदन...
आधारशिला...
Tag :
  October 16, 2017, 9:23 pm
गधे घोड़े में अंतर ज़रा समझाइये जनाब, नियम उप नियम क्या है बताइये जनाब।बन्द कमरों में योजनाएं बनानी है आसान ,कभी यथार्थ के...
आधारशिला...
Tag :
  September 5, 2017, 8:11 pm
उसकी बातें उसकी सुंदरता की तरह ही आकर्षक होती थी। कोई भी उससे मिलता तो उसका मुरीद हो जाता। मैं भी उसकी उसकी बातों से बेहद &#...
आधारशिला...
Tag :
  February 2, 2017, 10:58 pm
छोड़िये कटुता मीत बन जाइए                                                           पराजित  की  जीत बन जाइए            ...
आधारशिला...
Tag :
  January 31, 2017, 8:24 am
यूँ तो उससे कोई पुराना परिचय नहीं था, मात्र इतना कि वो दूकानदार था और मैं उसका ग्राहक। रोज उससे दूध की थैली ले जाता और दुआ स...
आधारशिला...
Tag :
  January 28, 2017, 1:19 pm
संसार तब तक ही सुन्दर है जब इसे देखते है माँ की आँखों सेसंसारभयानक हैडरावना हैअवसरवादी है जब भी देखाअपनी आखों सेसंसार म...
आधारशिला...
Tag :
  January 23, 2017, 8:45 pm
ऊनऔर सिलाइयों के बीचअंगुलियांबुन डालती थीजुराबें सर्दियों के लिए,टीवी पर निरतन्तर देखते धारावाहिक के बीच हीदेख लेत...
आधारशिला...
Tag :
  January 20, 2017, 11:08 am
शब्‍दकुछ अपनेकुछ पराये,शब्‍द कुछ छोटेकुछ बड़े,शब्‍दकुछ साथकुछ अकेले,शब्‍दकुछ थुलथुलेकुछ बुलबुले,शब्‍द ही तोमात्र शब्‍दनि:शब्‍द ।।...
आधारशिला...
Tag :
  October 12, 2016, 9:21 pm
मच्छरछोटे बड़े मंझलें करते हैं बहुत तंगनहीं देते सोनेछोटे बड़े मंझलेंमच्छर।...
आधारशिला...
Tag :
  July 6, 2016, 6:57 am
छोटे छोटे सपनेकुछ कुछ बेगानेथोड़े थोड़े अपने।...
आधारशिला...
Tag :
  July 4, 2016, 7:29 am
ना कोई शिकायत ना कोई गिला,एकाकी था, हूँ आज भी अकेला ।होना,घटना, है सब प्रभु इच्‍छा,आना जाना दुनिया इक मेला।...
आधारशिला...
Tag :
  June 26, 2016, 10:28 pm
‪#‎अधूरे_पन्ने‬(जीवन यात्रा पर प्रकाशनाधीन पुस्तक से)वैसे मैं ओझा डाउ तंत्र मंत्र की बातों पर विश्वास कम ही करता। लेकिन पिछले वर्ष अस्वस्थ होने के कारण दवा और दुआ का दौर निरंतर चलता रहा है । वर्ष अप्रैल 2014 में गंभीर रूप से अस्वस्थ हुआ था दुसरे शब्दों में कहूँ तो मैंने म...
आधारशिला...
Tag :
  June 26, 2016, 10:20 pm
‪#‎अधूरे_पन्ने‬(जीवन यात्रा पर प्रकाशनाधीन पुस्तक से)सुबह उठते ही गुनगुना पानी और टहलने, योगा करने का आदेश ये मीरा के दैनिक कामों में शामिल है। पानी पिया और एक दो चक्‍कर इधर उधर लगाए। फिर व्‍टस एप्‍प पर नमस्‍कार का दौर शुरू । फेसबुक पर अपडेट देखना । समय बीत जाता है तुरन...
आधारशिला...
Tag :
  June 26, 2016, 10:19 pm
दर्द देने वाले ही दवा दे रहे हैदबे अलाव को हवा दे रहे है...
आधारशिला...
Tag :
  April 8, 2016, 9:57 pm
आदमी आदमी को ही लूटता हैअपना पराया सभी को लूटता हैक्‍या खोया क्‍या पाया सोचता हैदुख भीतर ही तो कचोटता हैजीवन में खो जाते है जो जोउन्‍ही को बार बार खोजता हैहार जीत का प्रश्‍न है गौण अबजीवन जीवन को ही घसीटता हैदे दे विराम कह दे अलविदायही विचार अब जहर घोलता हैअजब है तुम्ह...
आधारशिला...
Tag :
  April 7, 2016, 6:45 am
cl ;k=k ds nkSjku ,dk,d izfl) yksd xkf;dk ls eqykdkr gks xbZA ckrksa gh ckrksa esa eSaus iwN fy;k vktdy vki dk;Zdzeksa esa de fn[kkbZ nsrh gksAizR;qrj esa og eqLdqjkrs gq, cksyh vc cq<+kik vk x;k gS u blfy,A eSa cl dh f[kM+dh ls ckgj ihNs NwVrs yksxksa dks ns[k jgk FkkA...
आधारशिला...
Tag :
  March 27, 2016, 7:45 pm
जगदीश बाली  जी की बहु प्रतीक्षित पुस्‍तक आज बाली जी ने सादर भेंट की । पुस्‍तक पठनीय और अभिप्रेरित करने वाली पुस्‍तक है इसमें कोई दो राय नहीं है। अभी पहला संदर्भ Faith : A Necessary Wi-Fi ही पढ़ा है प्रभावित करता है। पहले अध्‍याय ने ही कह दिया पुस्‍तक सग्रहणीय है। बाली जी को बधाई । ...
आधारशिला...
Tag :
  December 22, 2015, 11:39 pm
मनुष्यहार भी तो जाता हैसब कुछ जीतने के बावजूद ,मनुष्य हार ही तो जाता हैखामोशी से पराजय स्वीकारने के बावजूद ,मनुष्य हार जाता हैजीजीविषा की इ्च्‍छा होने के बावजूद ,मनुष्य कोहार ही जाना होता हैहलाहल पीने के बावजूद ।...
आधारशिला...
Tag :
  December 14, 2015, 9:47 pm
तुम कहते हो मैं कहता हूंमैं कहता हूं तुम कहते होये सब कहते हैमैं कहता हूंतुम कहते हो...
आधारशिला...
Tag :
  November 28, 2015, 8:01 am
अस्पतालक्या अजब जगह हैबिखरी पड़ी हैवेदना दुःख दर्द जीवन मृत्यु के प्रश्नइसी अस्पताल के किसी वार्ड के बिस्तर परतड़फती रहती है जिजीविषादवाइयों और सिरंज में ढूंढती रहती है जीवनसमीप के बिस्तर से गुम होती साँसों को देखसोचती है जिजिबिषा कल का सूरज कैसा हो...
आधारशिला...
Tag :साहित्‍य
  October 9, 2015, 11:18 pm
गोरे गए अब काले लूट रहे है तिजोरियों के तालें टूट रहे है मुफलिसी का आलम है चहुं ओर हुक्‍मरानों के पटाखे फूट रहे हैआवाज उठाना तेरे मेरे बस में नहींसांस अन्‍दर ही अन्‍दर टूट रही है ख्‍वाब की बदल डालोगे जहांये कैसी इक हूक उठ रही हैमुन्सिब क्‍या पकड़ेगा जुर्म कोजन...
आधारशिला...
Tag :साहित्‍य
  October 6, 2015, 7:19 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3710) कुल पोस्ट (171497)