POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: उड़न तश्तरी ....

Blogger: समीर लाल
 सुबह सुबह संदीप का फोन आया. कल रात उसके पिता जी को दिल का दौरा पड़ा है. अभी हालात नियंत्रण में है और दोपहर १२.३० बजे उन्हें बम्बई ले जा रहे हैं. वैसे तो सब इन्तजाम हो गया है मगर यदि २० हजार अलग से खाली हों तो ले आना. क्या पता कितने की जरुरत पड़ जाये? निश्चिंतता हो जायेगी. मैने ... Read more
clicks 38 View   Vote 0 Like   10:52pm 9 Oct 2021 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
 दफ्तर से घर लौट रहा हूँ. स्टेशन पर ट्रेन से उतरता हूँ. गाड़ी करीब ५ मिनट की पैदल दूरी पर खुले आसमान के नीचे पार्क की हुई है. थोड़ी दूर पार्क करके इस ५ मिनट के पैदल चलने से एक मानसिक संतोष मिलता है कि ऐसे तो पैदल चलना नहीं हो पाता, दिन भर भी तो दफ्तर में अपनी सीट में धंसे बैठे ह... Read more
clicks 118 View   Vote 0 Like   12:13am 4 Oct 2021 #
Blogger: समीर लाल
पहली बार किसी फाईव स्टार होटल में घुसने का मौका था एक दोस्त के साथ. तय हुआ था कि एक एक कॉफी पी जायेगी. एक कोई वहाँ बिल और १०% टिप देगा. बाहर आकर आधा आधा कर लेंगे. इसी बहाने फाईव स्टार घूम लेंगे. छात्र जीवन था. बम्बई में पढ़ रहे थे. एक जिज्ञासा थी कि अंदर से कैसा रहता होगा फाईव स्टार. छोटे शहर के मध्यम वर्गीय परिवार स... Read more
clicks 129 View   Vote 0 Like   10:54pm 5 Sep 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
मैने देखा है जो चुप रहता है और सीधा होता है, उसका फायदा सब लोग उठाते हैं. अब जरा सी आत्मा, बेचारा चूहा, क्या हालत कर डाली है सबने उसकी. कहाँ तो गजब का मान सम्मान था. गणेश जी तक उस पर बैठ कर सवारी करते थे. हर समय लड्डू के पास बैठा कर रखते थे कि जितना खाना है खाओ. उसके नाम लेकर शेर लिखे जाते थे: मूषक वाहन गजानना बुद्धिवि... Read more
clicks 78 View   Vote 0 Like   10:05pm 21 Aug 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
 अजीब दो गले लोग हैं. एक तरफ तो कहते हैं, प्रगति होना चाहिये- चहुंमुखी प्रगति एवं सर्वांगीण विकास. इंडिया उदय और न जाने क्या क्या नारे. अब जब विकास की राह पर हम इसका अक्षरशः पालन करने लगे तो कहते हैं कि मोटापा हानिकारक है. यार, हम क्या करें. हम तो मानो फँस कर रह गये. सुनो तो ब... Read more
clicks 55 View   Vote 0 Like   12:40am 18 Aug 2021 #
Blogger: समीर लाल
किसी का मर जाना उतना कष्टकारी नहीं होता जितना की उस मर जाने वाले के पीछे उसी घर में छूट जाना. जितने मूँह, उतने प्रश्न, उतने जबाब और उतनी मानसिक प्रताड़ना. सुबह सुबह देखा कि बाबू जी, जो हमेशा ६ बजे उठ कर टहलने निकल लेते है, आज ८ बज गये और अभी तक उठे ही नहीं. नौकरानी चाय बना कर उनके कमरे में देने गई तो पाया कि बाबू जी श... Read more
clicks 72 View   Vote 0 Like   1:06am 9 Aug 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
१२ वीं के परिणाम घोषित हो गये. लड़कियों ने फिर बाजी मार ली – ये अखबार की हेड लाईन्स बता रही हैं. जिस बच्ची ने टॉप किया है उसे ५०० में से ४९६ अंक मिले हैं यानि सारे विषय मिला कर मात्र ४ अंक कटे. बस! 4 नंबर कटे? ये कैसा रिजल्ट है भाई? हमारे समय में जब हम १० वीं या १२ वीं की परीक्षा दिया करते थे तो मुझे आज भी याद है कि हर पे... Read more
clicks 319 View   Vote 0 Like   10:01pm 31 Jul 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
 तिवारी जी पान की दुकान की तरफ सर झुकाए चले आ रहे थे। हाथ में एक किताब थामे थे। किसी से कोई बात चीत नहीं। न जाने मन ही मन क्या सोच रहे थे। चेहरे की गंभीरता को देख कर अनुमान लगाया जा सकता था कि निश्चित ही किसी बड़ी योजना की उधेड़बुन में लगे हैं। अभी सुबह का सात भी ठीक से नहीं ब... Read more
clicks 79 View   Vote 0 Like   12:57am 25 Jul 2021 #
Blogger: समीर लाल
अस्पतालों में ऑक्सीजन की भीषण कमी हो गई। हाहाकार मचा। जिसको जो समझ में आ रहा था वो उस पर तोहमत लगा रहा था। दोषारोपण हेतु लोगों को खोजा जा रहा था। कई दशकों पहले परलोक सिधार चुके लोग भी चपेट में आ रहे थे। जानवरों के डॉक्टर तक व्हाटसएप पर फेफड़ों में ऑक्सीजन की कमी न आने देने के उपाय बता रहे थे। एक ओर जहाँ भीषण कमी... Read more
clicks 43 View   Vote 0 Like   10:21pm 19 Jun 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
किस्मत कुछ ऐसी रही कि जहाँ भी पहुंचते हैं तो लगता है वक्त कह रहा है ‘थोड़ा देर कर दी यार तुमने आने में, वरना तो क्या जलवा देखते’. वो तो हमने खैर पैदा होने में भी देर कर दी वरना 1947 के पहले पैदा हो गए होते तो स्वतंत्रता संग्राम सेनानी कहलाते. एक दो 1945 और 1946 की पैदाईश वालों को तो मैं भी जानता हूँ जो खुद को स्वतंत्रता संग... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   12:25am 13 Jun 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
किस्मत कुछ ऐसी रही कि जहाँ भी पहुंचते हैं तो लगता है वक्त कह रहा है ‘थोड़ा देर कर दी यार तुमने आने में, वरना तो क्या जलवा देखते’. वो तो हमने खैर पैदा होने में भी देर कर दी वरना 1947 के पहले पैदा हो गए होते तो स्वतंत्रता संग्राम सेनानी कहलाते. एक दो 1945 और 1946 की पैदाईश वालों को तो मैं भी जानता हूँ जो खुद को स्वतंत्रता संग... Read more
clicks 62 View   Vote 0 Like   12:25am 13 Jun 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
 बहुत दिनों से परेशान था कि आखिर अपना नया उपन्यास किस विषय पर लिखूँ और उसको कौन सा फड़फड़ाता हुआ शीर्षक दूँ.उपन्यास लिखने वाले दो तरह के होते हैं, एक तो वो जो विषय का चुनाव कर के पूरा उपन्यास लिख मारते हैं और फिर उसे शीर्षक देते हैं और दूसरे वो जो पहले शीर्षक चुन लेते हैं औ... Read more
clicks 56 View   Vote 0 Like   11:50pm 30 May 2021 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
मांसाहारी को यह सुविधा रहती है कि मांसाहार न उपलब्ध होने की दशा में वो शाकाहार से अपना पेट भर ले. उसे भूखा नहीं रहना पडता. जबकि इसके विपरीत एक शाकाहारी को, शाकाहार न उपलब्ध होने की दशा में कोई विकल्प नहीं बचता. वो भूखा पड़ा मांसाहारियों को जश्न मनाता देख कुढ़ता है. उन्हें मन ही मन गरियाता है. वह खुद को कुछ इस तरह स... Read more
clicks 88 View   Vote 0 Like   1:32am 16 May 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
प्रकृति प्रद्दत मौसमों से बचने के उपाय खोज लिये गये हैं. सर्दी में स्वेटर, कंबल, अलाव, हीटर तो गर्मी में पंखा, कूलर ,एसी, पहाड़ों की सैर. वहीं बरसात में रेन कोट और छतरी. सब सक्षमताओं का कमाल है कि आप कितना बच पाते हैं और मात्र बचना ही नहीं, सक्षमतायें तो इन मौसमों का आनन्द भी दिलवा देती है. अमीर एवं सक्षम इसी आनन्द ... Read more
clicks 261 View   Vote 0 Like   11:53pm 1 May 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
 चौबे जी और उनके बेटे मुकेश का परिवार उनके साथ कटनी में रहता था। बेटा शहर की एक कंपनी मे मैनेजर था और चौबे जी रिटायर मास्साब। मुकेश अभी एक साल पहले ही मुंबई से वापस आया है, जहाँ वह एक मल्टी नेशनल में काम करता था। कुछ साल पहले चौबे जी की पत्नी नहीं रहीं। चौबे जी अकेले रह गए... Read more
clicks 108 View   Vote 0 Like   11:44pm 17 Apr 2021 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
सर्दी की सुबह। घूप सेकने आराम से बरामदे में बैठा हुआ अखबार पलट रहा था गरमागरम चाय की चुस्कियों के साथ। भाई साहब, जरा अपने स्वास्थय का ध्यान रखिये। इतने मोटे होते जा रहे हैं। ऐसे में किसी दिन कोई अनहोनी न घट जाये, आप मर भी सकते हैं। ये बात हमसे तिवारी जी कह रहे हैं। भला कैसे बर्दाश्त करें इस बात को। हमने भी ... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   12:18am 12 Apr 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
सर्दी की सुबह। घूप सेकने आराम से बरामदे में बैठा हुआ अखबार पलट रहा था गरमागरम चाय की चुस्कियों के साथ। भाई साहब, जरा अपने स्वास्थय का ध्यान रखिये। इतने मोटे होते जा रहे हैं। ऐसे में किसी दिन कोई अनहोनी न घट जाये, आप मर भी सकते हैं। ये बात हमसे तिवारी जी कह रहे हैं। भला कैसे बर्दाश्त करें इस बात को। हमने भी ... Read more
clicks 77 View   Vote 0 Like   12:18am 12 Apr 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
 सब आदत की ही तो बात होती. कोई भी आदत शुरु में शौक या मजबूरी से एन्ट्री लेती है पर बाद में लत बन जाती है. अच्छी या बुरी दोनों ही बातें अगर लत बन जायें और फिर न उपलब्ध हों तो फिर तकलीफदायी हो चलती हैं. इन्सान छटपटाने लगता है. कुछ भी कर गुजरने को आतुर हो जाता है.किसी ड्रग के आदी... Read more
clicks 112 View   Vote 0 Like   11:27pm 3 Apr 2021 #satire
Blogger: समीर लाल
 देर रात गये सोने की कोशिश मे हूँ. जब नींद नहीं आती तो ख्याल आते हैं. अकेले में ख्याल डराते है और इंसान अध्यात्म की तरफ भागता है भयवश. यह इन्सानी प्रवृति है, मैं अजूबा नहीं.आधुनिक हूँ तो आधुनिक तरीके अपनाता हूँ अध्यात्म के. बड़े महात्मा जी का आध्यात्मिक प्रवचन सीडी प्लेय... Read more
clicks 93 View   Vote 0 Like   1:01am 7 Mar 2021 #hindi_blogging
Blogger: समीर लाल
तिवारी जी एक अत्यन्त जागरूक नागरिक हुआ करते थे। जागरूकता का चरम ऐसा कि सरकार अगर पटरी से जरा भी दायें बायें हुई और तिवारी जी आंदोलन पर। हर आंदोलन का अपना अपना अंदाज होता है जो कि उस आंदोलन के सूत्रधार पर निर्भर करता है। तिवारी जी के आंदोलनों का अंदाज ईंट से ईंट बजा देने वाला होता था। मजाल है कि तिवारीजी आंदो... Read more
clicks 112 View   Vote 0 Like   12:52am 28 Feb 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
आम जन हैं तो आम जन की तरह ही सुबह सुबह उठते ही फेसबुक खोल कर बैठ जाते हैँ। वो जमाने अब गुजरे जब मियां फाकता उड़ाया करते थे या लोग कहा करते थे कि समय बिताने के लिए, करना है कुछ काम, शुरू करो अंताक्षरी, ले कर हरि का नाम!! फेसबुक पर रोज का पहला काम कि अपनी आखिरी पोस्ट पर कितने लाइक आए और दूसरा वो जो फेसबुक मुस्तैदी से... Read more
clicks 134 View   Vote 0 Like   12:50am 21 Feb 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
जैसे बचपन में रेल गाड़ी के साथ साथ चाँद भागा करता था और रेल रुकी और चाँद भी थम जाता था। चाँद को भागता देखने के लिए रेल का भागना जरूरी है। जो इस बात को समझता है वो जानता है कि देश के विकास को देखना है तो खुद का विकसित होते रहना आवश्यक है। खुद का विकास रुका तो देश का विकास रुका ही नजर आयेगा। हम आप सब मिलकर ही तो देश ह... Read more
clicks 155 View   Vote 0 Like   10:20pm 14 Feb 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
तिवारी जी सुबह से पान की दुकान पर बैठे बार बार थूक रहे थे। पूछने पर पता चला कि बहुत गुस्से में हैं और गुस्सा थूक रहे हैं। वह इस मामले में एकदम आत्म निर्भर हैं। खुद ही मसला खोजते हैं, खुद ही गुस्सा हो जाते हैं और फिर खुद ही गुस्सा थूक कर शांत भी हो जाते हैं। उनका मानना है कि पान खाकर यूं भी थूकना तो है ही, फिर क्यूँ... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   11:41pm 6 Feb 2021 #Vyangya
Blogger: समीर लाल
 आपदा में चाहे लाख बुराई हो लेकिन एक बात तो है कि वह एक बड़ी आबादी को ज्ञानी बना जाती है। एक दफा हमारे शहर में बहुत तगड़ा भूकंप आया था। देखते देखते घंसु से लेकर तिवारी जी तक को न सिर्फ इपि सेंटर, रिक्टर स्केल, आफ्टर शॉक आदि जैसे शब्दों का पहली बार पता चला बल्कि वो उनका खुल क... Read more
clicks 86 View   Vote 0 Like   12:25am 31 Jan 2021 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
 समाचार पढ़ा:"मेसाचुसेट्स विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने प्रयोग कर दिखा दिया है कि अब बिजली के तार की जरूरत नहीं पडेगी। उन्होंने बिना तार के बिजली को एक स्थान से दूसरे स्थान पहूँचा कर दिखा दिया. वैज्ञानिकों ने बताया है कि यह रिजोनेंस नामक सिद्धांत के कारण हुआ है।"यह ... Read more
clicks 91 View   Vote 0 Like   12:48am 24 Jan 2021 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3993) कुल पोस्ट (195198)