Hamarivani.com

उड़न तश्तरी ....

आज कहीं अखबार की कटिंग पढ़ी कि अब सोशल मीडिया पर शेखी बघारना मँहगा पड़ेगा. अव्वल तो बात खुद से जुड़ी लगी अतः थोड़ी घबराहट स्वभाविक थी. शेखी तो क्या हम तो पूरे शेख बने फिरते हैं सोशल मीडिया पर. अपनी शेखी भी ऐसी वैसी नहीं, कभी खुद को गालिब तो कभी खुद को बुद्ध घोषित कर जाना तो आम सी...
उड़न तश्तरी .......
Tag :satire
  October 17, 2017, 5:22 am
मास्साब कक्षा चौथी के बच्चों को पढ़ा रहे हैं.दीवाली असत्य पर सत्य की विजय का त्यौहार है. दीवाली पर खूब साफ सफाई कर दीपक जलाये जाते हैं. रोशनी की झालर लगा कर अंधेरे को भगाया जाता है. दीवालीस्वच्छता व प्रकाश का पर्व है.दीवाली पर लक्ष्मी गणेश की पूजा की  जाती है ताकि धन धान्...
उड़न तश्तरी .......
Tag :hindi_blogging
  October 15, 2017, 5:33 am
अगर कोई सुन्दर बाला आपसे कहे किवो २०-२० के क्रिकेट मैच में हिस्सा लेकर लौट रही है,तो सीधा दिमाग में कौंधता है कि चीयर बाला होगी. किसी के दिमाग में यह नहीं आता कि हो सकता है वो महिला लीग का २०-२० खेल कर लौट रही हो. वही हाल हमारा होता है जब शाम कोहमारे घर लौटते हुए रास्ते में क...
उड़न तश्तरी .......
Tag :satire
  October 9, 2017, 6:18 am
हर चीज़ जो होती है वो दिखे भी- ऐसा तो कतई ज़रूरी नहीं है. आप ही देखें कि हवा होती तो है लेकिन दिखती कहाँ है? खुशबू होती तो है मगर दिखती कहाँ है? मोहब्बत होती तो है मगर दिखती कहाँ है? यह सब बस अहसास करने की, महसूस करने की बातें हैं.संभव है कि एक स्थान पर खड़े सभी लोग हवा एक साथ अहस...
उड़न तश्तरी .......
Tag :Jugalbandi
  October 8, 2017, 6:00 am
वह एकाएक एकदम मौनऔर गंभीर हो गये थे. डिप्रेशन का शिकार आम आदमी और स्वयं को बुद्धिजीवी मान बैठा साहित्यकार लगभग ऐसे ही मौन और गंभीर हो जाता है. डिप्रेशन का शिकार आम आदमी यह सोचकर मौन हो जाता है कि वो बोलेगा तो कोई सुनेगा नहीं और स्वयं को बुद्धिजीवी मान बैठा साहित्यकार इस...
उड़न तश्तरी .......
Tag :hindi_blogging
  October 6, 2017, 4:50 am
वक्त कितनी तेजी से बदलता है और वक्त के साथ ही मान्यतायें और परिभाषायें भी बदलती जाती हैं.कभी तमाम सरकारी दफ्तरों में जबबापू यानि गाँधी जी की तस्वीरें लगाई गई थीं तब उसके पीछे सोच यह रही होगी कि अधिकारी एवं नेता गाँधी की तस्वीर को रोज देखेंगे और उनसे सादा जीवन एवं उच्च व...
उड़न तश्तरी .......
Tag :hindi_blogging
  October 1, 2017, 6:05 am
जापान के प्रधान मंत्री शिंजो आबे पधारे सपत्निक भारत में. अहमदाबाद में उतरे अच्छा खासा सूट पहने और बस, हम खरीददार हैं..ग्राहक भगवान होता है यह हमारी संस्कृति है. अतः अपना सूट किनारे रखो और ग्राहक रूपी भगवान का आवरण धारण करो. बी रोमन इन रोम...शुरु हो लिया. इसीलिए अचकन कुर्ता ...
उड़न तश्तरी .......
Tag :hindi_blogging
  September 28, 2017, 5:28 am
पिछले साल जब बिहार में शराब बंदी लागू की गई थी तब खबर आई थी कि जब्त की गई ९ लाख लीटर शराब जो पुलिस के माल खाने में रखी गई थी उसके निरक्षण हेतु जब बड़े अधिकारी निकले तो सारी बोतलें खाली मिली. अव्वल तो थानों में जब्ति का सामान रखने की जगह का नाम ही ऐसा रखा गया है कि ’माल खाना’ना...
उड़न तश्तरी .......
Tag :hindi satire
  September 24, 2017, 5:49 am
मंत्री बनने के बाद ’सामाजिक व्यवस्था एवं उसके प्रभाव’ विषय पर संगोष्ठी में हिस्सा लेने के लिए उन्होंने कनाडा का दौरा किया.आख्यान सुन कर पता चला कि समाज में कोई अपराध भावना से न ग्रसित हो इस हेतु कुछ बरस पहले सरकार ने राजमार्गों पर स्पीड लिमिट को १०० से बढ़ाकर १२० किमी प...
उड़न तश्तरी .......
Tag :satire
  September 22, 2017, 5:50 am
सुना कि बुलेट ट्रेन आने वाली है अतः इसी घोषणा के साथ बुलेट गति से उपजे विचार बुलेट पाईंट में आपकी खिदमत में पेश किये जा रहे हैं:·         बुलेट ट्रेन में एक डिब्बा मुंबई लोकल टाईप स्टैंडिंग का भी रहेगा.कुल दो घंटे की तो बात है.·         बुलेट फिल्म प्र...
उड़न तश्तरी .......
Tag :hindi satire
  September 21, 2017, 7:15 am
दैनिक निपटान के लिए पटरी के किनारे बैठे घंसु और बिस्सु नित क्रिया कर्म के साथ नित देश की बनती बिगड़ती स्थितियों पर विमर्श भी कर लिया करते हैं. बैठे हैं तो बातचीत भी की जाये की तर्ज पर.यूँ भी देश में अधिकतर निर्णय इसी तर्ज पर लिए जा रहे हैं.आज घंसु ज्यादा चिन्तित दिखा. पढ़ाई ...
उड़न तश्तरी .......
Tag :Jugalbandi
  September 17, 2017, 6:40 am
सन १९७६ के आसपास की है यह बात...अखबार में उनकी एक कहानी छपी जो अंततः उनकी एकमात्र कहानी बन कर रह गई. उनका कहना है कि बहुत चर्चित रही..अतः आपने पढ़ी ही होगी ऐसा मैं मान लेता हूँ..वो राज हंस वाली,जिसमें एक राज हंस होता है और वो तीन बंदर जिनको वो राज हंस चुनावी मंच पर ले आया था और लो...
उड़न तश्तरी .......
Tag :vyangya
  September 10, 2017, 6:00 am
शिक्षक दिवस आता है तो कुछ शिक्षक अनायास ही याद हो आते हैं. पत्नी तो खैर कभी याद से जाती नहीं, तो याद आने की कोइ वजह नहीं है वरना तो जितने लेक्चर उससे सुने हैं उसके सामने तो जीवन में मिले सारे मास्साबों के लेक्चर भी कम पड़ें.   हमारे स्कूल में एक कुट्टिय्या स्वामी मास्साब...
उड़न तश्तरी .......
Tag :hindi_blogging
  September 7, 2017, 6:14 am
जिस देश में लोग जी डी पी की कमी बेशी को भी गणपति देवा का प्रसाद मान कर ग्रहण कर लेते हों, वह किसी की मार्फत विकास की राह तके, अजब लगता है.ऐसे में विकास भी गणपति देवा के हाथों में ही छोड़ दिया जाना चाहिये. पान के ठेले पर खड़े ज्ञान बांटते हुए भक्त बता रहे थे कि जीडीपी का फुल फार्...
उड़न तश्तरी .......
Tag :hindi_blogging
  September 3, 2017, 6:37 am
सबसे पहले उनसे क्षमायाचना जो सचमुच के बाबा हैं. वो इस आलेख के सिलेबस में नहीं हैं. वैसे इतना कहकर अगर इनसे हाथ खड़े करवाये जायें कि बताओ कौन कौन इसके सिलेबस में नहीं हैं तो सभी बाबा हाथ खड़े कर देंगे मगर अगर इनके कर्मों से हाथ उठवाया जाये तो सारे सिलेबस में ही नजर आयेंगे. तो ...
उड़न तश्तरी .......
Tag :hindi satire
  August 27, 2017, 6:35 am
आज जुगलबंदी का विषय ’हवा’ था. हवा जब आक्सीजन सिलेंडर से हवा हो जाती है तब गोरखपुर जैसी हृदय विदारक घटना घटित होती है जिसमें ६२ बच्चे अपनी जान से हाथ धो बैठेते हैं और कारण पता चलता है कि सिलेंडर सप्लाई करने वाली कम्पनी को पेमेंट नहीं किया गया था अतः सिलेंडर भरे नहीं गये. ऐ...
उड़न तश्तरी .......
Tag :Jugalbandi
  August 21, 2017, 5:26 am
हम हिन्दुतानी अति ज्ञानी...जिसकी भद्द न उतार दें बस कम जानिये.साधारण सा शब्द है ’खाना’...संज्ञा के हिसाब से देखो तो भोजन और क्रिया के हिसाब से देखो तो भोजन करना...मगर इस शब्द की किस किस तरह भद्द उतारी गई है जैसे कि माथा खाना, रुपया खाना,लातें खाना से लेकर अपने मूँह की खाना तक ...
उड़न तश्तरी .......
Tag :Jugalbandi
  August 13, 2017, 6:54 am
अपने दिल की किसी हसरत का पता देते हैंमेरे बारे में जो अफवाह उड़ा देते हैं...कृष्ण बिहारी नूर को यह शेर कहते सुनता हूँ, तो मन में ख्याल आता है कि ’अफवाह वह अनोखा सच है जो तब तक सच रहता है जब तक झूठ न साबित हो जाये’. जब से यह विचार मन में आया है तबसे एकाएक दार्शनिक सा हो जाने की सी ...
उड़न तश्तरी .......
Tag :hindi satire
  August 6, 2017, 6:02 am
ये बंधन तो प्यार का बंधन है, जन्मों का संगम हैयह गीत के बोल हैं करण अर्जुन फिल्म के जो इस वक्त कार में रेडिओ पर बज रहा है.सोचता हूँ कि कितने ही सारे बंधन हैं इस जीवन में. विवाह का बंधन है पत्नी के साथ. प्यार भी ढेर सारा और कितना ही टुनक पुनक हो ले, लौट कर शाम को घर ही जाना होता ह...
उड़न तश्तरी .......
Tag :satire
  July 30, 2017, 10:37 am
भरपूर बारिश का इन्तजार किसान से लेकर हर इंसान और प्रकृतिके हर प्राणी को रहता है. भरपूर बारिश शुभ संकेत होती है इस बात का कि खेती अच्छी होगी, हरियाली रहेगी, नदियों, तालाबों, कुओं में पानी होगा. सब तरफ खुशहाली होगी. लेकिन जब यही बारिश भरपूर की मर्यादा तोड़ बेइंतहा का दा...
उड़न तश्तरी .......
Tag :Jugalbandi
  July 23, 2017, 5:55 am
कम्प्यूटर पर उपल्ब्ध अनगिनित खेलों में से एक है – बर्स्ट द बबल.इस खेल में कम्प्यूटर स्क्रीन के अलग अलग कोने में कहीं से भी एक बबल (बुलबुला - बुदबुदा) उठता है और आपको अपने कर्सर से नियंत्रित सुई को उस बबल पर ले जाकर उसे फोड़ना होता है. अगर आप निर्धारित समय में निशाना साध कर ब...
उड़न तश्तरी .......
Tag :hindi satire
  July 20, 2017, 5:47 am
बताते हैं छिद्दन बाबू का नाम चिन्तन के अपभ्रंश से बना. बचपन में उनका नामकरण चिन्तन हुआ था. जथा नाम तथा काम की तर्ज पर बचपन से हर विषय पर इतना अधिक चिन्तित हो लेते कि पूरा परिवार परेशान हो उठता. ऐसे में ही एक बार बारिश को देखकर ऐसा चिन्तित हुए कि कहने लगे कि जाने कौन को ऐसी ग...
उड़न तश्तरी .......
Tag :Jugalbandi
  July 16, 2017, 5:52 am
जूते पर १८ प्रतिशत जीएसटी..मगर जूते अगर ५०० रुपये से कम के हैं तो ५ प्रतिशत जीएसटी..इसका क्या अर्थ निकाला जाये?५०० से कम का जूता पैरों में पहनने के लिए हैं इसलिए कम टैक्स और महँगा जूता शिरोधार्य...इसलिए अधिक टैक्स? एक देश एक टैक्स के जुमले की बरसात में एक वस्तु अनेक टैक्स ...
उड़न तश्तरी .......
Tag :hindi satire
  July 9, 2017, 6:03 am
किसान है बिरजू..तो तय है परेशान तो होगा ही..मरी हुई फसलें और उनके चलते सर पर चढ़े बैंक के लोन का बोझ..ये परेशानी भी ऐसी वैसी नहीं है..उस सीमा तक की है कि बिरजू जान गया था अब आत्म हत्या के सिवाय कोई विकल्प बाकी नहीं बचा है.वो सुबह सुबह उठा, पत्नी और बच्चों को सोते में ही देखकर मन क...
उड़न तश्तरी .......
Tag :satire
  July 4, 2017, 6:47 am
लगान भूमि पर सरकार द्वारा लगाया गया कर है. इस बात से अनजान मात्र आमजन नहीं, बल्कि सरकार पक्ष के नेता भी अपनी बात और पक्ष साबित करने के लिए जी एस टी को लगान लगान पुकारे जा रहे हैं. मित्र कहने लगे कि सरकार बिल्कुल पुराने राजे महाराजे वाले समय की तरह हरकत कर रही है, आमजन की सुन ...
उड़न तश्तरी .......
Tag :satire
  July 2, 2017, 4:31 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3693) कुल पोस्ट (169676)