Hamarivani.com

परिकल्पना

कहा गया है कि जब तोप मुक़ाबिल हो तो अखबार निकालो, क्योंकि अखबारों के पाँव नहीं होते मगर चलने की आहट जरूर महसूस होती है। अखबार समाज का दर्पण होता है जिसमें पूरा समाज देखता है अपना अक्श। यह कड़वा सच है कि, भारत में पारंपरिक अखबारनवीसो ने विज्ञान और तकनीक के क्षेत्र में युवा ...
परिकल्पना...
Tag :न्यूज डॉग
  March 6, 2017, 8:41 pm
ऑकलैंड (न्यूजीलैंड)।ग्लोबल ऑर्गनाइजेशन ऑफ पीपुल ऑफ इंडियन ओरिजिन वाईकाटो, भारतीय विद्या भवन, हेमिल्टन तथा परिकल्पना के संयुक्त तत्वावधान मेंविगत 23 दिसंबर 2016 से 01 जनवरी 2017 के बीच न्यूजीलैंड के ऑकलैंड, हेमिल्टन, रोटोरूआ आदि शहरों में आयोजित सातवें अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉ...
परिकल्पना...
Tag :अंतरराष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन
  January 9, 2017, 6:30 pm
जैसा कि आप सभी को विदित है कि विगत दस वर्षों मे परिकल्पना परिवार ने अपने दो महत्वपूर्ण साथियों को खोया है। एकडॉ अमर कुमारऔरदूसरे अविनाश वाचस्पति। इन दोनों शख़्सियतों का जाना किसी करिश्मे का ख़त्म होने जैसा रहा है। उन दोनों विभूतियों के अचानक अलविदा कह देने से केवल हि...
परिकल्पना...
Tag :परिकल्पना सम्मान
  November 22, 2016, 1:29 pm
इस अवसर पर भारत, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड तथा फ़िजी के लगभग 50 ब्लॉगरों, साहित्यकारों, संस्कृतिकर्मियों को भारतीय संस्था परिकल्पना तथा न्यूजीलैंड की संस्था ग्लोबल ऑर्गनाइज़ेशन ऑफ पिपुल ऑफ इंडियन ओरिजेन वाईकाटों तथा भारतीत विद्या भवन न्यूजीलैंड की ओर से सम्मानित किया ...
परिकल्पना...
Tag :
  November 19, 2016, 10:08 am
दुनिया में एक पुरस्कार जिसका पूरा साहित्यिक जगत बेसब्री से इंतजार करता है वह साहित्य का नोबेल पुरस्कार होता है। आज एक सुखद समाचार मिला कि अमेरिकी गीतकार और गायक बॉब डिलेन को इस साल का साहित्य का नोबेल पुरस्कार घोषित किया गया है। शायद गुरुदेव रबीन्द्रनाथ टैगोर के बा...
परिकल्पना...
Tag :नोबेल पुरस्कार
  October 14, 2016, 10:51 am
बड़े ज़िद्दी, बड़े निडर, बड़े खुद्दार थे मुद्राहमारे बीच के फिक्रमंद फनकार थे मुद्रा।उन्हें इन मील के पत्थरों से क्या मतलब-जब सफ़र के लिए हर वक्त तैयार थे मुद्रा।दिन को रात औ रात को दिन कभी न कहा-तरक्कीपसंद इस क़ौम के तलबगार थे मुद्रा।उन्हें बस धर्म से, पाखंड से उबकाई आती थ...
परिकल्पना...
Tag :गज़ल
  June 14, 2016, 2:39 pm
जैसा कि आप सभी को विदित है कि विगत दस वर्षों मे परिकल्पना परिवार ने अपने दो महत्वपूर्ण साथियों को खोया है। एकडॉ अमर कुमारऔरदूसरे अविनाश वाचस्पति। इन दोनों शख़्सियतों का जाना किसी करिश्मे का ख़त्म होने जैसा रहा है। उन दोनों विभूतियों के अचानक अलविदा कह देने से केवल हि...
परिकल्पना...
Tag :परिकल्पना दशकीय परिसंवाद
  June 11, 2016, 1:43 pm
अगले 22 अप्रैल को हमारी-आपकी यह परिकल्पना दस वर्ष की हो जाएगी।उल्लेखनीय है कि यह कृति आज से ग्यारह वर्ष पूर्व पहले जियोसिटीज़ पर फिर ब्लॉग स्पॉट पर अस्तित्व में आई थी। आगे चलकर यह संस्था के रूप में परिवर्तित भी हुयी और पंजीकृत भी। अबतक छ: अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन क्रमश: द...
परिकल्पना...
Tag :परिकल्पना दशकीय परिसंवाद
  March 1, 2016, 2:29 pm
............पिछले पोस्ट से आगे बढ़ते हुये जब न्यूजीलैंड के ऑकलैंड में स्काई टावर पर शानदार आतिशबाजी के साथ नव वर्ष का सेलिब्रेशन शुरू होगा तो पूरी दुनिया के हिन्दी ब्लॉगर वहाँ उपस्थित रहेंगे। यह एक शानदार पल होगा जब हम नव वर्ष की पूर्व संध्या पर नए साल का आगाज करेंगे, क्योंकि...
परिकल्पना...
Tag :अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन
  February 12, 2016, 1:12 pm
आपको सूचित करते हुये अपार हर्ष की अनुभूति हो रही है, कि नई दिल्ली, लखनऊ, काठमांडू, थिंपु,  कोलंबो और बैंकॉक के बाद परिकल्पना द्वारा आगामी अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन ऑकलैंड ( न्यूजीलैंड) में दिनांक 22 दिसंबर 2016 से 1 जनवरी 2017 के बीच प्रकृति की अनुपम छटा से ओतप्रोत प्रशा...
परिकल्पना...
Tag :अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन
  February 11, 2016, 12:17 pm
कुछ लोग ऐसे होते हैं जिनके विचार तो महान होते हैं, पर जीवन महान नहीं होता। कुछ लोग ऐसे होते हैं जिनका जीवन तो महान होता है, पर विचार महान नहीं होते। लेकिन विरले ही सही एक व्यक्ति ऐसा मिल ही जाता है, जिसके जीवन और विचार दोनों महान होते हैं। ऐसा ही थे अविनाश वाचस्पति। अविना...
परिकल्पना...
Tag :
  February 8, 2016, 2:30 pm
साहित्य और  ब्लॉगिंग के बीच सेतु निर्माण करने वाली भारत  की प्रमुख  संस्था परिकल्पना तथा लखनऊ से प्रकाशित  होने वाली मासिक पत्रिका परिकल्पना समय द्वारा प्रतिवर्ष आयोजित किया जाने वाला अन्तर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन 16 से 21 जनवरी 2016 के बीच थाईलैण्ड की सांस्कृत...
परिकल्पना...
Tag :अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन
  January 24, 2016, 6:42 pm
साहित्य और  ब्लॉगिंग के बीच सेतु निर्माण करने वाली भारत  की प्रमुख  संस्था परिकल्पना तथा लखनऊ से प्रकाशित  होने वाली मासिक पत्रिका परिकल्पना समय द्वारा प्रतिवर्ष आयोजित किया जाने वाला अन्तर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन 16 से 21 जनवरी 2016 के बीच थाईलैण्ड की सांस्कृत...
परिकल्पना...
Tag :अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन
  January 24, 2016, 6:42 pm
मणेन्द्र मिश्रा ‘मशाल’उत्तर प्रदेश की वर्तमान अखिलेश सरकार की प्राथमिकता सूची में प्रवासी भारतीयों/भारतीय मूल के विदेशों में रह रहे लोग विशेष महत्व रख रहे हैं। उत्तर प्रदेश में पहली बार आयोजित हो रहे इस आयोजन में सोलह एनआरआई को उत्तर प्रदेश रत्न से सम्मानित किया ज...
परिकल्पना...
Tag :
  January 5, 2016, 11:39 am
-----------------------अतिआवश्यक सूचना-----------------------तकनीकी कारणों से थाईलैंड में आयोजित षष्टम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन की तिथियों में परिवर्तन अपरिहार्य होने के कारण इस आयोजन को एक सप्ताह आगे बढ़ाया गया है।नए परिवर्तन के अनुसार अब यह आयोजन 17 जनवरी 2016 से 21 जनवरी 2016 तक पटाया और बैंकॉ...
परिकल्पना...
Tag :ब्लॉगर सम्मेलन
  December 17, 2015, 1:25 pm
दक्षिण एशिया में ब्लॉग पर साहित्य के विकास हेतु पृष्ठभूमि तैयार करने के साथ-साथ हिंदी भाषा व संस्कृति के प्रचार-प्रसार और भाषायी सौहार्द्रता एवं सांस्कृतिक अध्ययन-पर्यटन के अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से लखनऊ की साहित्यिक संस्था "परिकल्पना"तथा लखनऊ से प्रकाशित ह...
परिकल्पना...
Tag :परिकल्पना सम्मान
  November 21, 2015, 12:39 pm
दोस्तों,नमस्कार;आज के हिंदी साहित्य के हालात पर मेरे द्वारा लिखी गयी जबरदस्त व्यंग्य कथा पढ़िए :: हिंदी साहित्य का अखाडा : धन्यवादhttp://storiesbyvijay.blogspot.in/2014/03/blog-post.html...
परिकल्पना...
Tag :
  September 12, 2015, 7:22 am
निर्णायक सदस्यों दवारा चयनित दो रचनाकार उड़ान भरने को तैयार प्रीति 'अज्ञात'अहमदाबाद से ज्ञात एक बहुत ही सुरुचिपूर्ण महिला हैं और सुरुचिपूर्ण लेखिका। जन्म-तिथि - १९ अगस्त १९७१जन्म-स्थान - भिंड(म.प्र.) वर्तमान निवास-स्थान - अहमदाबाद (गुजरात) शिक्षा - स्नातकोत्तर (व...
परिकल्पना...
Tag :
  September 8, 2015, 11:19 am
आपको सूचित करते हुये अपार हर्ष की अनुभूति हो रही है, कि नई दिल्ली, लखनऊ, काठमांडू, थिंपु और कोलंबो के बाद परिकल्पना का आगामी अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन थाईलैंड ( पटाया और बैंकॉक) में दिनांक 10 जनवरी 2016 से 14 जनवरी 2016 के बीच आयोजित होंगे।  उल्लेखनीय है कि लखनऊ से प्रक...
परिकल्पना...
Tag :अंतरराष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन
  August 25, 2015, 4:01 pm
......मैंने पहले बोलना सीखा ...अम्मा... !फिर लिखना सीखा.... क ख ग a b c 1 2 3 ...फिर शब्द बुने !फिर भाव भरे !.... मैं अब कविता गुनता हूँ  , कहानी गड़ता हूँ ..जिन्हें दुनिया पढ़ती है ..खो जाती है .. रोती है ... मुस्कराती है ...हंसती है ..चिल्लाती है ........मुझे इनाम ,सम्मान , पुरस्कार से अनुग्रहित करती है ...!.....औ...
परिकल्पना...
Tag :
  August 17, 2015, 9:45 am
काफी समय हम साथ रहे फिर मिलेंगे अगले वर्ष - उत्सव के नए रंगों के साथ। ऋतुओं की तरह हमारी परिकल्पना भी एक ऋतु है जिसमें रंग ही रंग हैं कुछ बसंत,कुछ ग्रीष्म,कुछ बारिश,कुछ अंगीठीवाली सर्दी सबकुछ हम लाते हैं आपके लिए .... उत्सव के अंत में हम कुछ प्रकाशित संग्रहो...
परिकल्पना...
Tag :ब्लॉगोत्सव-2015
  August 14, 2015, 10:30 am
हिन्दी साहित्य आज भी कलमकारों से धनी है, एक से बढ़कर एक  … थोड़ी सी जमीनगिरिजा कुलश्रेष्ठYeh Mera Jahaanमाँ अब खड़ी है जीवन केअंतिम पड़ाव परनहीं चाहिये उसे कोई एशोआरामबस एक आत्मीय सम्बोधनसुबह-शाम .चुग्गा की तलाश मेंकिसी चिड़िया सी हीवह जीवनभर उडती रही हैयहाँ-वहां , ऐसे-वैसेबस म...
परिकल्पना...
Tag :ब्लॉगोत्सव-2015
  August 13, 2015, 10:30 am
एक हाथ की दूरी पर अनेक रचनाकार मिलेंगे, जो एहसासों के कई आयाम लिए मिलेंगे -वह सचमुच अभी बच्चा है ।-- शरद कोकासशरद कोकाससर्दियों की रात में अजीब सी खामोशी सब ओर व्याप्त होती है । टी.वी. और कम्प्यूटर और पंखे बंद हो जाने के बाद बिस्तर पर लेटकर कुछ सुनने की कोशिश करता हूँ ।  ह...
परिकल्पना...
Tag :ब्लॉगोत्सव-2015
  August 12, 2015, 10:30 am
बेहतरीन रचनाकारों की दूसरी कड़ी -लरजती उम्मीद ...फौलादी विश्वासवाणी गीत "जल्दी उठो ...रामपतिया आई नहीं अभी तक , मसाला भी पिसा नहीं , आटा भी नहीं गूंधा हुआ ...अब खाना कैसे बनेगा ...मुझे देर हो रही है ...तुम जाकर देख आओ, क्यों नहीं आ रही है।"तेजी से घर में घुसते हुए नीरा के कदम रुक गए ...
परिकल्पना...
Tag :ब्लॉगोत्सव-2015
  August 11, 2015, 10:30 am
लिखते सभी हैं, पढ़ने में प्रतिस्पर्धा है !ऐसा क्यूँ ? एक हाथ दे, एक हाथ ले - यह भी कोई साहित्यिक भावना हुई !रूचि यदि शब्दों की है,मर्म की है तो यात्रा बाधित हो ही नहीं सकती।  पर यहाँ आवश्यक है - समीक्षा टिप्पणी लाइक्स सबकुछ व्यावसायिक !!!रश्मि प्रभा हीरा तो हीरा ...
परिकल्पना...
Tag :ब्लॉगोत्सव-2015
  August 10, 2015, 10:30 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163572)