POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: लेकिन

Blogger: Anshu Mali Rastogi
कोरोना अभी गया नहीं है किंतु हमने मान लिया है कि यह जा चुका है। चूंकि देश और राज्यों में अब सबकुछ खुल चुका है अतः बेपरवाही भी उसी प्रकार से बढ़ गई है। अब शायद ही कहीं दो गज की दूरी का पालन हो रहा हो। अब शायद ही- अपवादों को छोड़कर- कोई मास्क पहन रहा हो। बेफिक्र अंदाज में सब इधर-उधर घूम रहे हैं। सरकार और प्रशासन की तर... Read more
clicks 129 View   Vote 0 Like   12:07am 20 Feb 2021 #Social
Blogger: Anshu Mali Rastogi
 कुछ खबरिया चैनलों पर 'भाषा'का अजीब ही खेल चल रहा है। सड़क पर बोली जाने वाली भाषा चैनलों पर आ गई है। किसी को कुछ भी बोल दिया जा रहा है। लगता ही नहीं कि हम न्यूज़ चैनल देख रहे हैं या नेटफ्लिक्स! भाषा की मर्यादा, जोकि न्यूज़ चैनलों की आन रही है, का किसी को ख्याल नहीं।अक्सर यह सवा... Read more
clicks 73 View   Vote 0 Like   8:58am 19 Oct 2020 #
Blogger: Anshu Mali Rastogi
 पहल, तद्भव, वसुधा, अकार, कथाक्रमआदि पत्रिकाएं कितनों के यहां आती हैं और कितने लोग इन्हें वाकई पढ़ते हैं। कम शायद बहुत ही कम। कुछ ही लोगों तक पहुंच है इन साहित्यिक पत्रिकाओं की। अभी ये, कैसे भी करके, चल-निकल रही हैं। मगर कब तक। जब तक इनके संपादक हैं। उनके बाद इन पत्रिकाओं ... Read more
clicks 110 View   Vote 0 Like   9:08am 31 Aug 2020 #
Blogger: Anshu Mali Rastogi
बार-बार यही ख्याल मन में आ रहा है कि इस दफा 'मजदूर दिवस'किस आधार पर मनाएंगे हम! एक ऐसे समय में जब हमने बड़ी संख्या में मजदूरों को भिन्न-भिन्न शहरों से, हजारों किलोमीटर लंबे फासलों को पैदल ही, तय करते देखा हो। देखा हो कि लंबा सफर तय करते हुए उनके पैर में छाले पड़ गए। उस दृश्य को ... Read more
clicks 190 View   Vote 0 Like   12:15pm 2 May 2020 #
Blogger: Anshu Mali Rastogi
अंतिम चिट्ठी कब और किसे लिखी थी, कुछ याद नहीं। ऐसा भी नहीं है कि अब चिट्ठियां लिखी ही नहीं जातीं। निश्चित ही लिखी जाती होंगी पर या तो सरकारी या फिर औपचारिक। एक-दूसरे की चिट्ठी लिखकर कुशल-क्षेम पूछने के दिन कब के हवा हुए। विडंबना यह है कि अब तो आसपास 'लैटर बॉक्स'भी नजर नहीं ... Read more
clicks 136 View   Vote 0 Like   5:36am 5 Mar 2020 #
Blogger: Anshu Mali Rastogi
क्या सोशल मीडिया से मुझे अब हमेशा के लिए दूर हो जाना चाहिए? बार-बार यह सवाल मेरे मन में आता है। जो और जैसे हालात इन दिनों सोशल मीडिया के बना दिए गए हैं या बना दिए जा रहे हैं, उन्हें देखते हुए इससे दूरी अब उचित लगने लगी है। दिन-रात यहां शब्दों, विचारों और भाषा की 'हिंसा'का तमा... Read more
clicks 104 View   Vote 0 Like   8:03am 4 Mar 2020 #
Blogger: Anshu Mali Rastogi
वो दरअसल सब जानते हैं कि वो क्या कर रहे हैं। देश में साम्प्रदायिक आग की भट्टी जलाकर 'शांति'की अपील कर रहे हैं। खुद को सेक्युलर घोषित कर रहे हैं। लेकिन हम क्या करेंगे उनके सेक्युलरिज्म का? ऐसा सेक्युलरिज्म भला किस काम का जो देश को बांटे। दिलों में नफरत की दीवारें पैदा कर... Read more
clicks 160 View   Vote 0 Like   6:32am 29 Feb 2020 #
Blogger: Anshu Mali Rastogi
वाम तबका, इन दिनों, गहरे राजनीतिक, साहित्यिक और सामाजिक 'संकट'से जूझ रहा है। न उसके पास अब कुछ पाने को न खोने को। अधर में लटका हुआ है और हर वक़्त इस संघर्ष में जुटा है कि वापसी कैसे की जाए। वापसी के जो तरीके उसने अपनाए हुए हैं, वो उसका साथ नहीं दे रहे। कभी वो 'आप'की शरण में चले ज... Read more
clicks 197 View   Vote 0 Like   4:59am 25 Feb 2020 #
Blogger: Anshu Mali Rastogi
प्रतीकात्मक चित्र जीवन कभी किसी दौर में 'आसान'नहीं रहा है। न तब का दौर, जब सोशल मीडिया और इंटरनेट नहीं था, आसान था। न अब, जब सोशल मीडिया और इंटरनेट जीवन का महत्त्वपूर्ण हिस्सा हैं, आसान है। जीवन को आसान मान या समझ लेना, हमारी खामख्याली है। जीवन का ऐसा कोई मोड़ नहीं, जहां सं... Read more
clicks 178 View   Vote 0 Like   6:40am 20 Jan 2020 #
Blogger: Anshu Mali Rastogi
किताबों और लेखकों दोनों की दुनिया बदल चुकी है। किताबें अब भी खूब छप रही हैं। लेखक अब भी खूब लिख रहे हैं। बदलाव बस यह आया है कि दोनों के बीच अब बाजार आ गया है। बाजार ने ही दोनों को एक-दूसरे से जोड़ रखा है। आज हर किताब और हर लेखक का अपना बाजार है। इसी के सहारे वे अपने पाठकों तक ... Read more
clicks 213 View   Vote 0 Like   11:40am 8 Jan 2020 #
Blogger: Anshu Mali Rastogi
त्योहार सिर पर हैं। ऑनलाइन बाजार तैयार है। सेल लगी हुई है। जमकर डिस्काउंट दिया जा रहा है। टीवी और अखबारों में आने वाला हर विज्ञापन कह रहा है कि खरीदो, खरीदो। मौका हाथ से न जाने दो। इस दफा चूके तो उम्र भर पछताओगे।सबसे सस्ते की परिभाषा क्या होती है, यह बाजार हमें समझा रहा ह... Read more
clicks 127 View   Vote 0 Like   9:19am 10 Oct 2019 #
Blogger: Anshu Mali Rastogi
सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से सोशल मीडिया (जैसे- फेसबुक, व्हाट्सएप) पर नकेल कसने को कहा है। और, कुछ गलत नहीं कहा है। अब वाकई समय आ गया है, जब केंद्र सरकार सोशल मीडिया के खिलाफ कोई सख्त निर्णय ले।माना कि सोशल मीडिया स्वतंत्र अभिव्यक्ति का एक बड़ा माध्यम है। यहां कोई भी अ... Read more
clicks 134 View   Vote 0 Like   7:58am 4 Oct 2019 #
Blogger: Anshu Mali Rastogi
अभी कुछ दिन पहले भगत सिंह को याद कर हम 'मुक्त'हुए ही थे कि अब गांधी को याद करने लग गए। जिधर नजर उठकर देखो उधर ही गांधी को याद किया जा रहा है। गांधी-गांधी की ऐसी धूम मची है अगर गांधी ये सब देख लें तो निश्चित ही शर्मा जाएं। क्या दक्षिणपंथी, क्या वामपंथी, क्या बौद्धिक, क्या अ-बौ... Read more
clicks 107 View   Vote 0 Like   7:08am 4 Oct 2019 #
Blogger: Anshu Mali Rastogi
पिछली बरसात मेंडायरी के कुछ पन्नेगीले हो गए थेपर उस पन्ने को मैंनेगीला होने से बचा लिया थाजिस पर तुम्हारा नाम दर्ज था... Read more
clicks 117 View   Vote 0 Like   10:29am 19 Aug 2019 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4019) कुल पोस्ट (193771)