POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: KAVITA RAWAT

Blogger: Kavita Rawat
आज प्रतिदिन बढ़ती मंहगाई ने घर-परिवार के बजट को फेल कर दिया है और एकाकी पुरुष आय से घर चलाने में असमर्थता उत्पन्न कर दी है। नारी भी आज घर-परिवार चलाने में समान रूप से अपनी भूमिका निभा रही है। अब नारी के लिए नौकरी या व्यवसाय न फैशन है, न अर्थ स्वातन्त्रय की ललक, अपितु यह जीवन जीने अर्थात् जीवकोपार्जन की अनिवार्... Read more
clicks 365 View   Vote 0 Like   3:12am 8 Mar 2021 #Social
Blogger: Kavita Rawat
चिरकाल से लड़कों को घर का चिराग माना जाता है, लेकिन मैं समझती हूँ कि यदि उन्हें घर का चिराग माना जाता है तो मेरे समझ से वे केवल एक घर के ही हो सकते हैं, जबकि लड़कियाँ एक अपने माँ-बाप का तो दूसरा ससुराल वाला घर रोशन करती हैं। इस हिसाब से उन्हें एक नहीं दो घरों की चिराग कहे तो अतिश्योक्ति नहीं होगी। लड़के-लड़की का भेद ... Read more
clicks 347 View   Vote 0 Like   6:35am 20 Feb 2021 #Social
Blogger: Kavita Rawat
सर्दी में सबको प्यारी लगती धूप देखो बिल्ली मौसी क्या पसरी खूब! धूप में छिपा है इसकी सेहत का राज बड़े मजे में है मत जाना उसके पास बिना धूप ठण्ड के मारे सभी थरथर्राते मिलती जैसे ही धूप तो फूले न समाते नरम धूप लेकर सूरज उगा लोग सुगबुगाते छोड़ कम्बल-रजाई धूप सेंकने चले आते सुबह की धूप ठंड ... Read more
clicks 203 View   Vote 0 Like   5:34am 30 Jan 2021 #Poem
Blogger: Kavita Rawat
जब मनुष्य सीखना बन्द कर देता है तभी वह बूढ़ा होने लगता है बुढ़ापा मनुष्य के चेहरे पर उतनी झुरियाँ नहीं जितनी उसके मन पर डाल देता है अनुभव से बुद्धिमत्ता और कष्ट से अनुभव प्राप्त होता है बुद्धिमान दूसरों की लेकिन मूर्ख अपनी हानि से सीखता है जिसे सहन करना कठिन था उसे याद कर बड़ा सुख मिलता है सुख दुर्लभ ह... Read more
clicks 230 View   Vote 0 Like   5:46am 19 Jan 2021 #Social
Blogger: Kavita Rawat
कोरोना काल में यदि नया साल मनाना हो जरूरी तो तय कर लो एक निश्चित दूरी कहीं अगर बीच में कोरोनो आ धमकेगा तो सारी मौज-मस्ती पर पानी फेर देगा इसलिए क्षण भर की खुशी के चक्कर में खतरे न लो मोल क्योंकि जीवन है अनमोल बस हैप्पी न्यू ईयर बोल बस हैप्पी न्यू ईयर बोल... Read more
clicks 316 View   Vote 0 Like   6:46am 31 Dec 2020 #Social
Blogger: Kavita Rawat
जब-जब भी मैं तेरे पास आया तू अक्सर मिली मुझे छत के एक कोने में चटाई या फिर कुर्सी में बैठी बडे़ आराम से हुक्का गुड़गुड़ाते हुए तेरे हुक्के की गुड़गुड़ाहट सुन मैं दबे पांव सीढ़ियां चढ़कर तुझे चौंकाने तेरे पास पहुंचना चाहता उससे पहले ही तू उल्टा मुझे छक्का देती ... Read more
clicks 113 View   Vote 0 Like   3:03am 28 Nov 2020 #Social
Blogger: Kavita Rawat
जाने कैसे मर-मर कर कुछ लोग जी लेते हैं दुःख में भी खुश रहना सीख लिया करते हैं मैंने देखा है किसी को दुःख में भी मुस्कुराते हुए और किसी का करहा-करहा कर दम निकलते हुए संसार में इंसान अकेला ही आता और जाता है अपने हिस्से का लिखा दुःख खुद ही भोगता है ठोकरें इंसान को मजबूत होना सिखाती है मुफलिसी इंसान को दर-द... Read more
clicks 146 View   Vote 0 Like   7:53am 27 Nov 2020 #Social
Blogger: Kavita Rawat
शत्रु की मुस्कुराहट से मित्र की तनी हुई भौंहे अच्छी होती है मूर्ख के साथ लड़ाई करने से उसकी चापलूसी भली होती है किसी कानून से अधिक उसके उल्लंघनकर्ता मिलते हैं ऊँचे पेड़ छायादार अधिक लेकिन फलदार कम रहते हैं पत्थर खुद भोथरा हो फिर भी छुरी को तेज करता है मरियल घोड़ा भी हट्टे-कट्टे बैल से तेज दौड़ सकता है पोला ... Read more
clicks 139 View   Vote 0 Like   7:09am 19 Oct 2020 #Social
Blogger: Kavita Rawat
चलते रहते हैं हम सब अपनी राहों में जो जाते हैं हमारे लक्ष्य तक चलते-चलते हम गिरगें और उठेंगे पर नहीं छोड़ेंगे ये डगर तो चलते रहेंगे हम आगे बढ़ेंगे हम चाहे खुशियां आए या गम गिरना हो या उठना चलते हमें रहना क्योंकि हमें पहुंचना है अपने लक्ष्य तक जीवन भी बिल्कुल ऐसा है चलता वो जाता है, चाहे तुम कैसे भी... Read more
clicks 199 View   Vote 0 Like   5:47am 20 Sep 2020 #General
Blogger: Kavita Rawat
इस सम्बन्ध में मुझे एक कहानी याद आ रही है कि काफी समय पहले भारत का एक पहलवान इंग्लैंड गया और उसने घोषणा करते हुए प्रसारित किया कि यहाँ का कोई पहलवान हमसे कुश्ती लड़ सकता है। यह बात जब इंग्लैंड के पहलवानों को पता चली तो वे आपस में जुटकर विचार किए कि कुश्ती में भारत के पहलवान को हराने की क्षमता किसी में नहीं है, ल... Read more
clicks 150 View   Vote 0 Like   6:49am 14 Sep 2020 #General
Blogger: Kavita Rawat
 हर वर्ष ज्ञान, बुद्धि और समृद्धि के प्रथम पूज्य देव गणपति जी के जन्मोत्सव का सभी को प्रतीक्षा रहती है। बच्चों को गणेश जी की अलग-अलग प्रकार की विभिन्न आकृति कलाएं बहुत लुभाती हैं। मैं बचपन से ही शिवजी की उपासक रही हूँ तो मेरा बेटा शिवा गणेश जी का। उसका बचपन से ही गणेश ज... Read more
clicks 132 View   Vote 0 Like   7:30am 22 Aug 2020 #बच्चों का कोना
Blogger: Kavita Rawat
कलाल की दुकान पर पानी पीओ तो शराब का गुमान होता है फूलों के कारण माला का धागा भी पावन हो जाता है अच्छा पड़ोसी मूल्यवान वस्तु से कम नहीं होता है देने वाले का हाथ सदा लेने वाले से ऊँचा रहता है एक नेक काम के कई दावेदार निकल आते हैं कुत्तों के संगत में रहे तो पिस्सू चि... Read more
clicks 147 View   Vote 0 Like   11:30pm 26 Jul 2020 #
Blogger: Kavita Rawat
This is my new latest original series of Pokémon, Chakra. As you all know the meaning of Chakra, it's a cycle. Not a bicycle but it is the process which start and end and start again. This is the story of six teenagers who want to spend their lives with Pokémons. Their Pokémons also have quite nice story as well.In this episode, they will catch their first Pokémons, three Pokémons to be exact, but what all will happen to them during this time? Wanna know what? Then watch this episode till end.Disclaimer:Though the design of the characters were a bit modified by me, all the materials and arts still belongs to their original creators and I thank them as well. The storyline has been made ... Read more
clicks 92 View   Vote 0 Like   11:30pm 20 Jun 2020 #
Blogger: Kavita Rawat
कोरोना ने पूरी दुनिया में हाहाकर मचा रखी है। इस वैश्विक महामारी ने मानव अस्तित्व की चूलेँ हिला कर रख छोड़ी है।  इस महामारी ने अमीर-गरीब, वर्ण-रंग भेद जैसी परिपाटी की खाई पाट दी है। पूरी दुनिया में कोरोना के भय का वातावरण व्याप्त है।  महामारी से बचने के लिए कई माह से लो... Read more
clicks 95 View   Vote 0 Like   10:30pm 4 Jun 2020 #लॉकडाउन के प्रभाव
Blogger: Kavita Rawat
कभी गांव में जब रामलीला होती और उसमें राम वनवास प्रसंग के दौरान केवट और उसके साथी रात में नदी के किनारे ठंड से ठिठुरते हुए आपस में हुक्का गुड़गुड़ाकर बारी-बारी से एक-एक करके-“ तम्बाकू नहीं हमारे पास भैया कैसे कटेगी रात, भैया कैसे कटेगी रात, भैया............ तम्बाकू ऐसी मोहि... Read more
Blogger: Kavita Rawat
पेट की आग बुझाने के लिए रोटी अनिवार्य है। जब तक पेट में रोटी नही जाती तब तक सारी बातें खोटी लगती है। पापी पेट सबकुछ करवा सकता है। कहते हैं कि भूख की मार तलवार की धार से भी तेज होती है। भूखा कुत्ता भी डंडे की मार से नहीं डरता है और भूखा आदमी जितनी चीजें ढूंढ़ निकालता है, उतनी ... Read more
clicks 105 View   Vote 0 Like   10:30pm 30 Apr 2020 #मजदूर का सपना
Blogger: Kavita Rawat
पेट की आग बुझाने के लिए रोटी अनिवार्य है। जब तक पेट में रोटी नही जाती तब तक सारी बातें खोटी लगती है। पापी पेट सबकुछ करवा सकता है। कहते हैं कि भूख की मार तलवार की धार से भी तेज होती है। भूखा कुत्ता भी डंडे की मार से नहीं डरता है और भूखा आदमी जितनी चीजें ढूंढ़ निकालता है, उतनी ... Read more
clicks 98 View   Vote 0 Like   10:30pm 30 Apr 2020 #मजदूर की आत्मकथा
Blogger: Kavita Rawat
घर और दफ्तर के बीच झूलते रहना ही मेरी विवशता है, लेकिन इस विवशता में खिन्नता नहीं है, बल्कि उसी में आनंद और उत्साह लेने की मेरी प्रवृत्ति है। लेकिन इन दिनों परिस्थितियाँ कुछ भिन्न है, कोरोना वायरस के चलते लाॅकडाउन होने से जिन्दगी घर की चारदीवारी के चूल्हे-चौके के साथ ही टेलीविजन, मोबाइल और इंटरनेट की दुनिय... Read more
clicks 313 View   Vote 0 Like   3:23am 26 Apr 2020 #Social
Blogger: Kavita Rawat
सबकुछ मिट्टी से पैदा होकर फिर उसी में मिल जाता है राजा हो या रंक सबका अंत एक-सा होता है। उसी का जीवन सार्थक है जो गलतियों से फायदा उठाता है हमेशा जीते रहेंगे सोचने वालों का जीवन बेकार हो जाता है समय किसी अस्तबल में खूंटे से बंधे घोड़े जैसा नहीं रहता है प्रतिकूल समय में अपने आपको उसके अनुकूल ढ़ालना पड़ता है ऐसा... Read more
clicks 163 View   Vote 0 Like   10:46am 20 Apr 2020 #Poem
Blogger: Kavita Rawat
जाड़ों की गुनगुनी धुप मेंछत की मुंडेर परदिन-रात चुभती निष्ठुर सर्द हवाओं सेहोकर बेखबर सूरज की रश्मि सी बिखेर रही हो तुम कच्ची, सौंधी, लुभावनी प्यार भरी मुस्कान! क्या पता है तुझे?यह कीमती जेवर है तेरा इसे यूँ ही मत खो देना जरा सम्भालकर कर रखनाबहुत आयेंगे करीब तेरेअपना ... Read more
clicks 127 View   Vote 0 Like   1:30am 11 Jan 2020 #कविता
Blogger: Kavita Rawat
A B C Dआया नया वर्ष 2020 जीE F G Hसदा बोलना सच-सचI J K Lआगे-आगे बढ़ता चलM N O Pकभी न देखना मुड़कर जीQ R S Tघिसट-घिसट मत चलना जीU V W Xकभी न बनाना जेरॉक्सY Zचलता रहे सबका नेटHappy New Year 2020 ...अर्जित रावत... Read more
clicks 108 View   Vote 0 Like   1:30am 1 Jan 2020 #बाल कविता
Blogger: Kavita Rawat
 आपस में कोई बैर भाव न रहेन रहे कोई जात-पात का बंधनहर घर आँगन में बनी रहे खुशहालीकुछ ऐसा हो नूतनवर्षाभिनंदनतोड़कर नफरत भरी सब दीवारेंबस एक भाव रहे, वह हो प्रेमबंधनऊँच-नीच का भाव मिटे जहाँ सेकुछ ऐसा हो नूतनवर्षाभिनंदनश्रेष्ठता सवर्धन के हों प्रयासऔर निकृष्टता का हो उ... Read more
clicks 128 View   Vote 0 Like   1:30am 28 Dec 2019 #कविता
Blogger: Kavita Rawat
“अप्रैल की सुहानी सुबह फूलों की खुशबू और आकाश में चमकते सूरज के साथ सभी प्यारे पोकेमाॅन हो, तब बच्चों के अपने नए पोकेमाॅन को चुनने के लिए यह एक आनंददायक आदर्श दिन है।“ गोस्वामी जी ने आराम की थाह लेते हुए कहा। “आप सही कह रहे हैं, मिस्टर पीयूष! आखिरकार एक लम्बे इंतजार के ... Read more
clicks 110 View   Vote 0 Like   1:30am 19 Dec 2019 #बाल कहानी
Blogger: Kavita Rawat
Pokemon Chakra Story Chapter-1 The remainder of the story......Pokemon Chakra Story Chapter-1 The remainder of the story......Pranali was walking through the Swamp area. There she met the girl, whom Sam referred as Naggin but literally, Prabhav gave the name. "Hey Preyasi!" shouted Pranali. "Oh hey Pranali, how are you?" Preyasi said. She replied, "I am fine. I hope you too. So, have you caught any Pokémon?""No not yet. Have you caught any?" Preyasi asked. "Well I found a Yanma in my garden and decided to make it my first Pokémon," said Pranali. As they were having their conversation, Preyasi heard a rustling sound from her back.As she turned around, she saw a Scatterbug cra... Read more
clicks 108 View   Vote 0 Like   8:30pm 24 Nov 2019 #pokemon story
Blogger: Kavita Rawat
प्लीजेंट वैली राजपुर, देहरादून से प्रकाशित मासिक पत्रिका 'हलन्त'के अंक नवम्बर, 2019 में प्रकाशित मेरी रचना 'वीरानियाँ नहीं होती"जिंदगी में हमारी अगर दुशवारियाँ नहीं होतीहमारे हौसलों पर लोगों को हैरानियाँ नहीं होतीचाहता तो वह मुझे दिल में भी रख सकता थामुनासिब हरेक को च... Read more
clicks 117 View   Vote 0 Like   2:35am 6 Nov 2019 #कहकहा
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4020) कुल पोस्ट (193859)