Hamarivani.com

Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal

     तुरतुरिया -महर्षि वाल्मीकि आश्रम व लव - कुश की जन्म भूमीप्रारम्भ से पढ़े तुरतुरिया मे वाल्मीकी आश्रम के बाई ओर छोटी छोटी दूकानो  के पास से गुजरते हुवे एक नाला को पार करके मातागढ नामक स्थान पहुचा जाता है। मातागढ उचि पहाडि पर स्थीत है। चारो तरफ विषाल वृक्ष बड...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :बलौदा बाजार
  October 9, 2017, 6:57 am
कमरौद ग्राम जो बागबाहरा तहसील जिला महासमुंद के अंतरगत आता यहाँ  का सिद्ध बाबा मंदिर आस -पास के लोगो का आस्था का केंद्र बना हुवा वैसे मंदिर तो छोटी है मगर मान्यता बहुत दूर दूर तक फ़ैली हुई है|सिद्ध बाबा मंदिर सिद्ध बाबा की प्रतिमा सुन्दर चट्टान मंदिर का बाहरी ...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :
  October 8, 2017, 2:56 pm
महाकाल रात्रि सिद्धी दात्री आदि शक्ति महामाया प्राकट्य दिवस आषाढ़ शुक्ल पक्ष पूर्णिमा (गुरु पूर्णिमा ) 15 -07 -2011 सद गुरुओ  की प्रेरणा स्त्रोत से विश्व कल्याण हेतु अखंड ज्योति प्रज्वलित भाद्र शुक्ल पक्ष अनंत चतुर्दशी 11-09 -2011 माँ जगत जननी की दिव्य ज्योति गुफा के अं...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :
  October 7, 2017, 3:54 pm
चम्पई माता गुफा - ग्राम -मोहन्दी ,अरंड ,बेलर ,तरपोंगी  Champai Mataआदिशक्ति माँ चम्पई | मोहन्दी ग्राम के पहाड़ के ऊपर एक विशाल गुफा के अंदर निवास करती है | माता रानी तीन पिंडियो के रूप में गुफा के अंदर निवास करती  है | माँ चम्पई प्राचीन चम्पापुर की कुल देवी है| चम्पई मा...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :महासमुंद
  October 4, 2017, 1:53 am
धसकुड़ झरना सिरपुर से 8 किमी की दुरी पर बोरिद गांव के घने जंगल में स्थित धसकुड़ में जहां पर मनोहारी झरना है। यहां प्रकृति का सौंदर्य देखते ही बनता है। यहां का जलप्रपात बरसाती पानी से बनता है| तथा  गर्मी के दिनों में इसका जल बहुत धीमी हो जाती है|  Dhaskud Waterfall Borid -Sirpurप...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Waterfalls
  September 28, 2017, 10:37 am
यह एक ऐतिहासिक स्थल है। यह स्थान पाहाडो के बिच मे है। जिसमे महर्षि वाल्मीकि तथा श्री राम-लक्ष्मण की मुर्तियां है। उसके सामने एक मंदिर मे लव-कुश की युगल मूर्ति है। वहि पर्वत के उपर एक मंदिर मे वाल्मीकि मुनि तथा सीता जी की मूर्तिया है।गोमुख -तुरतुरिया  किन्तू पर्वत ह...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Waterfalls
  September 27, 2017, 8:51 pm
प्रारम्भ से पढ़ें…मार्ग :-पूर्वी रेल्वे कि हबड़ा- वाल्टेयर लाइन पर कटक से 29 मील दूर खुदरा-रोड स्टेशन है|वहा से एक लाइन पूरी तक जाती है| खुदरा - रोड पूरी २८ मील है| आसन सोल हबड़ा, मद्रास तथा तलचर से पूरी के लिए सीधी ट्रेने चलती है कटक ,भुवनेश्वर,खुदरा – रोड आदि से पूरी के लिए मो...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Other Temples
  September 17, 2017, 10:47 am
प्रारम्भ से पढ़ें…                                                       श्री जगन्नाथ पुरी स्नान के स्थान :-श्री जगन्नाथ पुरी में १ – महोदधि (समुद्र ),२- रोहणी कुण्ड-कुण्ड ,३- इन्द्र्धुमन सरोवर ,४ – मर्कंदय सरोवर ५ -  श्वेत गंगा ६ - चन्दन तालाब,७  - लोक...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :
  September 17, 2017, 10:07 am
प्रारम्भ से पढ़ें…                                     कथा:- द्वापर में द्वारिका में श्री कृष्णचन्द्र कि पटरानियो ने एक ब़ार माता रोहणी जी के भवन में जाकर उनसे आग्रह किया कि वे उन्हें श्याम सुन्दर कि व्रज-लीला के गोपी- प्रेम प्रसंग को सुनाये| माता ने इस ...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Other Temples
  September 17, 2017, 9:40 am
प्राम्भ से पढ़ें…निज मंदिर :- प्रायः मंदिर कि परिक्रमा करके (थोडा परिक्रमांश शेष रहता है ) यात्री निज मंदिर के जगमोहन में प्रवेश करता है | जगमोहन गरुड़स्तंभ(भोग मण्डप में) है| श्री चैतन्यमहाप्रभु यही से श्री जगन्नाथ जी के दर्शन करते थे| वहा एक छोटा गड्डा भूमि में है| कहा जा...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :
  September 16, 2017, 9:02 pm
श्री जगन्नाथचार परम पावन धामों मे एक है| ऐसी भी मान्यत है कि शेष तीन धामों में बद्रीनाथ सतयुग का, रामेश्वर त्रेता का तथा द्वारिका द्वापर का धाम है; किन्तु इस कलयुग का पावनकारी धाम तो पूरी ही है| पहले यहाँ नीलाचल नामक पर्वत था और नीलमाधव- भगवान कि श्री मूर्ति थी उस पर्वत प...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Other Temples
  September 16, 2017, 8:36 pm
ओडिशा के पावन धरा पर पुरी क्षेत्र के समुद्र किनारे विशाल व विश्व विख्यात सुर्य मंदिर स्थीत है। ईस मंदिर मे सूर्य कि पहली किरण मंदिर के गर्भ गृह मे स्थीत सूर्य कि प्रतिमा पर पडती थी ईस मंदिर के अंदर चुम्बक लगी थी जिसकी मदद से यहा कभी सैकडो टन प्रतिमा हवा मे तैरा करती थी...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Other Temples
  September 16, 2017, 3:02 pm
पराक्रमी वीर कचना धुरवा मन्दिर ग्राम-बारूका जिला गरियाबंद (छत्तीसगढ) मे स्थीत हैयहा पर महान प्रतापि राजा कि यादे छुपि हूई है उसके साहस विरता और पराक्रम कि गाथा उस क्षेत्र  के कन कन पर बसी हुई है|शत्रु उसका नाम सुनकर थर-थर कापने लगते थे छत्तीसगढ के वीरो का वह आर्दश था...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :
  September 5, 2017, 6:30 pm
बाबा कुटी आश्रम जिसे माण्डव्य ऋषि आश्रम भी कहा जाता है यह आश्रम  गरियाबंद जिले के फिगेश्वर ब्लाक मे आता है जो फिगेश्वर  से काफि नजदीक लगभग 1  कि. मी. की दूरी पर राजिम र्माग मे सगन वनो के बीच मे है यह माण्डव ऋषि और बाबा श्री श्री 108 श्री सीया भुनेश्वरी शरण ब्याश कि तप...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Gariaband
  September 4, 2017, 3:35 pm
छत्तीसगढ राज्य के गरियाबंद जिले के कोपरा नवापारा पाण्डुका क्षेत्र मे मां घटारानी का पवित्र धाम स्थीत है यहा माता को आदि शक्ति के रूप मे पूजा जाता है माता के दरबार मे भक्तो का ताता लगा रहता है माॅ विशाल चट्टानो के गुफा के अन्दर निवास करती है माता स्यमभू है स्थानिय ल...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Waterfalls
  September 3, 2017, 2:34 pm
अति प्राचीन है फिंगेश्वर का फनिकेश्वर नाथ शिव मंदिर छः मासी रात का बना है यह मंदिर बिना कलश का है यह मंदिर कलश स्थापित करने से पहले ही भोर  हो गया था इसलिए कलश को मंदिर के अंदर स्थापित कर  दिया गया है  : खजुराहो के सामान ही इसमें महीन से महीन नक्क्सी व  का...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Gariaband
  August 17, 2017, 10:20 pm
अदभुद है माँ सीता की प्रतिमा राम के परित्याग के बाद इस स्थान पर माँ का निवास था माता के दर्शन को भगवन राम,विष्णु,हनुमानजी ,गरुड़ जी ,शिव जी ,कालभैरो यहाँ पर आये थे ओर यही पर सब रम गए इसलिए इसका नाम रमई पाठ पड़ा |इस स्थान पर कुछ दिनों के पश्चात वाल्मीकि आये ओर माता ...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Gariaband
  August 17, 2017, 12:11 pm
Bhuteshwar Nath Mahadev Shivling-Gariaband-chhattisgarhविश्व का यदी कोई सबसे बड़ा शिवलिंग है तो वह भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के गरियाबंद जिले के मरौद ग्राम के भूतेश्वर नाथ शिव लिंग है|भूतेश्वर नाथ शिवलिंग जो घने जंगल के बीच स्वयम्बू प्रकट हुवे है | इश शिवलिंग कि खासियत कि बात करे तो यह हर वर्ष नित – नित बड र...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :
  August 16, 2017, 10:13 pm
जतमई माता मंदिर गरियाबंद छत्तीसगढ़ घनेजंगलोचट्टानोंवझरनोकेबीचमेंनिवासकरतीहै | माँजतमई,मुख्य मंदिर माताकेदर्शनतथाझरनोकाआनंदलेनेकेलिएलाखोकिसंख्यामेंभक्तगनआतेहै| यहस्थानपरएकप्राकृतिकझरनाहैजोयहाँकामुख्यआकर्षणकाकेंद्रहै| इसीकेचलतेयहाँहरसमयभक्...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Waterfalls
  August 15, 2017, 9:50 pm
नाथल  दाई मन्दिर  टिमरलगा -चन्द्रपुर ,चंद्रहासिनी  मंदिर के समीप में ही  है  यह मंदिर महानदी के तट  पर  दो नदियों के संगम पर स्थित है |  कहते है की यदि कोई भक्त नाथल  दाई  के दर्सन  करने मात्र से ही उसके सभी पाप नष्ट  हो जाते है | इसलिए इसे  इसे सिद्ध शक...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :
  July 31, 2017, 12:30 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3701) कुल पोस्ट (170650)