Hamarivani.com

Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal

Bamleshwari Temple Dongargarh -Rajnandgaon cgमाँ बम्लेश्वरी देवी का विश्व विख्यात मंदिर राजनादगांव जिले के डोंगरगढ़ की प्रसिद्ध पहाड़ी पर लगभग 1600  फिट की उचाई पर स्थित है| दर्शन के लिए लगभग 1000 सीडी चढ़नी पड़ती है| लोक मान्यता है| कि  डोंगरगढ़ 2200  वर्ष से भी अधिक प्राचीन नगर है|माँ बम्लेश्वरीपहाड़ी के ...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :cg tourism
  April 14, 2018, 9:43 am
अस्टभुजी देवी मंदिर अड़भार, जिला - जांजगीर -चांपाप्राचीन नगर अड़भार में माँ अष्टभुजी देवी की दक्षिण मुखी प्रतिमा विराजमान है | पुरातत्व विभाग द्वाराAshtabhuji Devi - Adbharसरक्षित है | पांचवी - छटवी शताब्दी के पूरा अवशेष मिलते है | इतिहास में अड़भार का उल्लेख अष्द्वार के रूप में मिलता ह...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :cg places
  April 13, 2018, 9:40 am
Barsur-Battisa Mandir,Tehsil-Dantewada ,District-Dantewada(Chhattisgarh)बत्तीसा मंदिर बारसूर - दन्तेवाड़ा यह प्राचीन स्मारक बारसूर नामक ऐतिहासिक स्थल में जो जगदलपुर से भोपालपटनम रोड पर स्थित गीदम से 18 कि.मी।.दूर एवं जगदलपुर से 100 की. मी. की दुरी पर स्थित है| यहाँ पर बत्तीसा मंदिर नामक महत्वपूर्ण मंदिर विद्यमा...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :barsur ganesh temple
  April 12, 2018, 9:00 am
Barsur - Ganesh Temple In Chhattisgarh गणेश मंदिर - बारसुर Ganesh Temple Barsurराजा बाणासुर का बनाया अनोखा  मंदिर जिसमे जुड़वा विराजमान है| श्री  गणेश जी एक ही पत्थर से तरासा गया है यह प्रतिमाशिवलिंग -बारसुर शिला लेख -बारसूर ...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :barsur ganesh temple
  April 10, 2018, 8:49 pm
Tirathgarh Jalprapat,Kanger Ghati in Bastar तीरथगढ़ जलप्रपात  बस्तर छत्तीसगढ़तीरथगढ़ जलप्रपात छत्तीसगढ़ के सबसे उचे झरनों कि बात किया जाये तो तीरथगढ़ जलप्रपात सबसे उचाई वाली झरनों में गिनती कि जाती हैTirathgarh waterfallयह झरना 300 फुट ऊपर से पानी नीचे कि तरफ गिरता है | इसे कांकेर घटी के जादूगर के नाम से भी जान...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :tourist places
  April 9, 2018, 6:30 pm
Barnwapara Wildlife Mahasamund - बारनवापारा वन्यजीव अभयारण्यबारनवापारा अभ्यारण छत्तीसगढ़ राज्य के महासमुंद जिले में स्थित है| इसकी स्थापना १९७६ मे की गयी थी| यह २४५ वर्ग कि. मी में फैला हुवा है| प्राकृतिक प्रेमियों के लिए बहुत सुन्दर स्थान है| जिला मुख्यालय से इसकी दुरी ५५ कि.मी पर है| ...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Sirpur
  April 8, 2018, 12:21 pm
 Sirpur ( सिरपुर ) Laxman Temple Sirpur (लक्ष्मण मंदिर सिरपुर )छत्तीसगढ़ के जीवन दायनी नदी के तट स्थित है|  यह छत्तीसगढ़ की एक प्राचीनतम नगरी एवम राजधानी थी ५ वी सदी से ८ वी सदी  के बीच मे दक्षिण कोसल की राजधानी थी इस स्थान पर ७ वी सदी चीनी यात्री हेडसम भारत आया था | तब यहाँ पर  बौद्ध धर...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Mahasamund
  March 21, 2018, 10:50 pm
माँ बगुला मुखी ( जिसे बंजारी माता के नाम से जाना जाता है| यह प्रसिद्ध मंदिर रायपुर जिले में स्थित है| रायपुर से बिलासपुर नेशनल हाइवे क्र. 30 पर स्थित है| बंजारी माता स्थानीय निवासी के अनुसार माता रानी की प्रतिमा भुगर्भित है| माता स्वयं अपनी इच्छा स्वरुप इस स्थान पर प्र...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Raipur
  March 18, 2018, 3:32 pm
लाक्षागृह के दर्शन:-ऐसा कहा जाता है की पाण्डव  पुत्र व  माता कुंती वारणाव्रत के समय यहाँ पर आये थे तभी मामा  सकुनी ने इस स्थान पर पांडवो को मारने  के लिए लाख से निर्मित एक महल का निर्माण यही खल्वाटिका में करवाया था  उसके अवशेष अभी भी यहाँ देखा सकते है तथा भीम पाँव , ...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :महासमुंद
  December 23, 2017, 8:21 pm
     तुरतुरिया -महर्षि वाल्मीकि आश्रम व लव - कुश की जन्म भूमीप्रारम्भ से पढ़े तुरतुरिया मे वाल्मीकी आश्रम के बाई ओर छोटी छोटी दूकानो  के पास से गुजरते हुवे एक नाला को पार करके मातागढ नामक स्थान पहुचा जाता है। मातागढ उचि पहाडि पर स्थीत है। चारो तरफ विषाल वृक्ष बड...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :बलौदा बाजार
  October 9, 2017, 6:57 am
कमरौद ग्राम जो बागबाहरा तहसील जिला महासमुंद के अंतरगत आता यहाँ  का सिद्ध बाबा मंदिर आस -पास के लोगो का आस्था का केंद्र बना हुवा वैसे मंदिर तो छोटी है मगर मान्यता बहुत दूर दूर तक फ़ैली हुई है|सिद्ध बाबा मंदिर सिद्ध बाबा की प्रतिमा सुन्दर चट्टान मंदिर का बाहरी ...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :
  October 8, 2017, 2:56 pm
महाकाल रात्रि सिद्धी दात्री आदि शक्ति महामाया प्राकट्य दिवस आषाढ़ शुक्ल पक्ष पूर्णिमा (गुरु पूर्णिमा ) 15 -07 -2011 सद गुरुओ  की प्रेरणा स्त्रोत से विश्व कल्याण हेतु अखंड ज्योति प्रज्वलित भाद्र शुक्ल पक्ष अनंत चतुर्दशी 11-09 -2011 माँ जगत जननी की दिव्य ज्योति गुफा के अं...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :
  October 7, 2017, 3:54 pm
चम्पई माता गुफा - ग्राम -मोहन्दी ,अरंड ,बेलर ,तरपोंगी  Champai Mataआदिशक्ति माँ चम्पई | मोहन्दी ग्राम के पहाड़ के ऊपर एक विशाल गुफा के अंदर निवास करती है | माता रानी तीन पिंडियो के रूप में गुफा के अंदर निवास करती  है | माँ चम्पई प्राचीन चम्पापुर की कुल देवी है| चम्पई मा...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :महासमुंद
  October 4, 2017, 1:53 am
धसकुड़ झरना सिरपुर से 8 किमी की दुरी पर बोरिद गांव के घने जंगल में स्थित धसकुड़ में जहां पर मनोहारी झरना है। यहां प्रकृति का सौंदर्य देखते ही बनता है। यहां का जलप्रपात बरसाती पानी से बनता है| तथा  गर्मी के दिनों में इसका जल बहुत धीमी हो जाती है|  Dhaskud Waterfall Borid -Sirpurप...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Waterfalls
  September 28, 2017, 10:37 am
यह एक ऐतिहासिक स्थल है। यह स्थान पाहाडो के बिच मे है। जिसमे महर्षि वाल्मीकि तथा श्री राम-लक्ष्मण की मुर्तियां है। उसके सामने एक मंदिर मे लव-कुश की युगल मूर्ति है। वहि पर्वत के उपर एक मंदिर मे वाल्मीकि मुनि तथा सीता जी की मूर्तिया है।गोमुख -तुरतुरिया  किन्तू पर्वत ह...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Waterfalls
  September 27, 2017, 8:51 pm
प्रारम्भ से पढ़ें…मार्ग :-पूर्वी रेल्वे कि हबड़ा- वाल्टेयर लाइन पर कटक से 29 मील दूर खुदरा-रोड स्टेशन है|वहा से एक लाइन पूरी तक जाती है| खुदरा - रोड पूरी २८ मील है| आसन सोल हबड़ा, मद्रास तथा तलचर से पूरी के लिए सीधी ट्रेने चलती है कटक ,भुवनेश्वर,खुदरा – रोड आदि से पूरी के लिए मो...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Other Temples
  September 17, 2017, 10:47 am
प्रारम्भ से पढ़ें…                                                       श्री जगन्नाथ पुरी स्नान के स्थान :-श्री जगन्नाथ पुरी में १ – महोदधि (समुद्र ),२- रोहणी कुण्ड-कुण्ड ,३- इन्द्र्धुमन सरोवर ,४ – मर्कंदय सरोवर ५ -  श्वेत गंगा ६ - चन्दन तालाब,७  - लोक...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :
  September 17, 2017, 10:07 am
प्रारम्भ से पढ़ें…                                     कथा:- द्वापर में द्वारिका में श्री कृष्णचन्द्र कि पटरानियो ने एक ब़ार माता रोहणी जी के भवन में जाकर उनसे आग्रह किया कि वे उन्हें श्याम सुन्दर कि व्रज-लीला के गोपी- प्रेम प्रसंग को सुनाये| माता ने इस ...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Other Temples
  September 17, 2017, 9:40 am
प्राम्भ से पढ़ें…निज मंदिर :- प्रायः मंदिर कि परिक्रमा करके (थोडा परिक्रमांश शेष रहता है ) यात्री निज मंदिर के जगमोहन में प्रवेश करता है | जगमोहन गरुड़स्तंभ(भोग मण्डप में) है| श्री चैतन्यमहाप्रभु यही से श्री जगन्नाथ जी के दर्शन करते थे| वहा एक छोटा गड्डा भूमि में है| कहा जा...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :
  September 16, 2017, 9:02 pm
श्री जगन्नाथचार परम पावन धामों मे एक है| ऐसी भी मान्यत है कि शेष तीन धामों में बद्रीनाथ सतयुग का, रामेश्वर त्रेता का तथा द्वारिका द्वापर का धाम है; किन्तु इस कलयुग का पावनकारी धाम तो पूरी ही है| पहले यहाँ नीलाचल नामक पर्वत था और नीलमाधव- भगवान कि श्री मूर्ति थी उस पर्वत प...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Other Temples
  September 16, 2017, 8:36 pm
ओडिशा के पावन धरा पर पुरी क्षेत्र के समुद्र किनारे विशाल व विश्व विख्यात सुर्य मंदिर स्थीत है। ईस मंदिर मे सूर्य कि पहली किरण मंदिर के गर्भ गृह मे स्थीत सूर्य कि प्रतिमा पर पडती थी ईस मंदिर के अंदर चुम्बक लगी थी जिसकी मदद से यहा कभी सैकडो टन प्रतिमा हवा मे तैरा करती थी...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Other Temples
  September 16, 2017, 3:02 pm
पराक्रमी वीर कचना धुरवा मन्दिर ग्राम-बारूका जिला गरियाबंद (छत्तीसगढ) मे स्थीत हैयहा पर महान प्रतापि राजा कि यादे छुपि हूई है उसके साहस विरता और पराक्रम कि गाथा उस क्षेत्र  के कन कन पर बसी हुई है|शत्रु उसका नाम सुनकर थर-थर कापने लगते थे छत्तीसगढ के वीरो का वह आर्दश था...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :
  September 5, 2017, 6:30 pm
बाबा कुटी आश्रम जिसे माण्डव्य ऋषि आश्रम भी कहा जाता है यह आश्रम  गरियाबंद जिले के फिगेश्वर ब्लाक मे आता है जो फिगेश्वर  से काफि नजदीक लगभग 1  कि. मी. की दूरी पर राजिम र्माग मे सगन वनो के बीच मे है यह माण्डव ऋषि और बाबा श्री श्री 108 श्री सीया भुनेश्वरी शरण ब्याश कि तप...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Gariaband
  September 4, 2017, 3:35 pm
छत्तीसगढ राज्य के गरियाबंद जिले के कोपरा नवापारा पाण्डुका क्षेत्र मे मां घटारानी का पवित्र धाम स्थीत है यहा माता को आदि शक्ति के रूप मे पूजा जाता है माता के दरबार मे भक्तो का ताता लगा रहता है माॅ विशाल चट्टानो के गुफा के अन्दर निवास करती है माता स्यमभू है स्थानिय ल...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Waterfalls
  September 3, 2017, 2:34 pm
अति प्राचीन है फिंगेश्वर का फनिकेश्वर नाथ शिव मंदिर छः मासी रात का बना है यह मंदिर बिना कलश का है यह मंदिर कलश स्थापित करने से पहले ही भोर  हो गया था इसलिए कलश को मंदिर के अंदर स्थापित कर  दिया गया है  : खजुराहो के सामान ही इसमें महीन से महीन नक्क्सी व  का...
Chhattisgarh Ke Dharmik Sthal...
Tag :Gariaband
  August 17, 2017, 10:20 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3757) कुल पोस्ट (176017)