POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: अमोल सरोज स्टेटस वाला

Blogger: अमोल सरोज
पिछले साल यहाँ सिक्युरिटी गार्ड की यूनियन ने लम्बे वक्त तक हड़ताल की। उनकी माँग थी कि उनके काम के घंटे कम किये जाये। वेतन डीसी रेट के बराबर किया जाए। अधिकतर सिक्युरिटी गार्ड आर्मी से ही रिटायर्ड थे जो बाद में किसी सिक्युरिटी एजेंसी के जरिये कॉन्ट्रेक्ट पर जॉब कर रहे है... Read more
clicks 113 View   Vote 0 Like   5:15pm 18 Mar 2019 #
Blogger: अमोल सरोज
अवसाद , डिप्रेसन आज के दौर की एक अहम् बीमारी बन कर सामने आ रहा है। मिडल क्लास इंसान इससे सबसे ज्यादा परेशान है। ऑफिस की इंक्रीमेंट से लेकर घर के बजट तक समस्यायें ही समस्यायें है फिर हमें कोई नहीं समझता है ये अपने आप एक एक बड़ी समस्या है। अमेरिका के एक अख़बार ने 2013 में एक आर्ट... Read more
clicks 104 View   Vote 0 Like   4:18pm 4 Mar 2019 #
Blogger: अमोल सरोज
उनसे मेरी मुलाकात अचानक ही हो गयी। वैसे तो "उन जैसों "से मिलना कोई बड़ी अचरज की बात नहीं थी। उन की बिरादरी में अधिकतर उन जैसे ही है गाहे बगाहे मुलाक़ात होती ही रहती है पर वो कुछ हटके थे। वो प्रोफेसर थे एक यूनिवर्सिटी में।  एक जानी मानी यूनिवर्सिटी में। पत्रकारिता पढ़ाते थ... Read more
clicks 144 View   Vote 0 Like   5:06am 10 Aug 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
                                       मंदिर में भीड़ एक लड़के को मारने पर उतारू है। एक पुलिस कर्मी उस लड़के को बचाने की कोशिश कर रहा है। भीड़ उसे पीटना चाहती है क्यूँकि वो मुसलमान है। भीड़ हिन्दू आतंकवादियों की है। आतंक का इतिहास भारत के लिए नया नहीं है। दलितो... Read more
clicks 118 View   Vote 0 Like   1:56pm 27 May 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
                                              उम्र 45 साल , पेट निकला हुआ। रंग गेहुँआ कद पांच आठ। आर्यवीर की शख्सियत में बयाँ करने लायक कोई ख़ास बात न थी सिवाय उसके बोलने के अंदाज से। बाकियों से बहुत ज्यादा बोलता था। राजनैतिक , सामाजिक ऐसा कोई विषय नहीं था ... Read more
clicks 74 View   Vote 0 Like   5:43am 26 May 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
                                                आर्यवीर  से मुलाकात -1उम्र 45 साल , पेट निकला हुआ। रंग गेहुँआ कद पांच आठ। आर्यवीर की शख्सियत में बयाँ करने लायक कोई ख़ास बात न थी सिवाय उसके बोलने के अंदाज से। बाकियों से बहुत ज्यादा बोलता था। राजनैतिक , स... Read more
clicks 101 View   Vote 0 Like   5:43am 26 May 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
ये कैसा गोरखधंधा है ये कैसा मुल्क हमारा है ?क्या ये मुल्क हमारा है या ये भी बस एक नारा है ?हवा पानी में जहर भरा , सीनों पर गोली दागीजनता की चुनी सरकारों ने , चुन चुन जनता को मारा है।हर जोर जुल्म की टक्कर हड़ताल हमारा नारा था।हड़ताल ही  है अब देशद्रोह, मजदूर का कहाँ गुजारा हैव... Read more
clicks 93 View   Vote 0 Like   3:24am 26 May 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
अख़बार के बीच वाले पन्नो में कहीं एक खबर है - गोकशी के शक में दो लोगों की मार मार कर हत्या। 2015 की अखलाख की हत्या से लेकर 2018 की रियाज की हत्या तक , अख़बार के पहले पन्ने से बीच के पन्ने तक भारत सरकार ने गरीब मजलूम लोगों की धर्म के नाम पर हत्याएं सामान्य बनाने में बहुत बड़ी कामया... Read more
clicks 147 View   Vote 0 Like   3:31am 21 May 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
राजनीती मजेदार चीज है। कहाँ जाता है राजनीती में कुछ भी स्थाई नहीं होता न दुश्मनी न दोस्ती। राजनीती में जो होता है वो दिखता नहीं है। जो दिखता है वैसा हो भी जरुरी नहीं है। हर घटना के अलग अलग तरह से विश्लेषण किये जाते है। सब से ज्यादा मजे विश्लेषकों के ही है। लोकतंत्र की जा... Read more
clicks 112 View   Vote 0 Like   4:11pm 20 May 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
बुद्धिजीवी - आप को कितने दिन से ढूंढ रहा था अब जाकर मिले।  आप से गालियों पर वार्तालाप अधूरा रह गया था- वो तो छह महीने पुराणी बात है। अपनी बात तो मुकम्मल हो चुकी थीबुद्धिजीवी - नहीं ये विषय मुकम्मल होने वाला नहीं है। बहुत  पेचीदा मसला है ये। देखिये आप कह रहे है किसी भी सू... Read more
clicks 74 View   Vote 0 Like   2:01pm 18 May 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
खबर - हिसार के खेदड़ प्लांट में बॉयलर साफ़ करने गए 6 मजदूर दुर्घटना का शिकार हो गए उनमे से तीन अपनी जान गँवा चुके है और तीन गंभीर रूप से घायल है। हरियाणा के मंत्री कृष्ण लाल पंवार खेदड़ में आकर घोषणा करते है कि मरने वाले के परिवार वालों को 17.50 लाख रूपये की नकद इनामी राशिदी जाय... Read more
clicks 70 View   Vote 0 Like   12:57pm 11 May 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
हरियाणा भारत देश की 10 लोकसभा सीट वाला राज्य। 1966 से पहले पंजाब का हिस्सा। 1947 से  पहले संयुक्त पंजाब का हिस्सा। भारत की कुल जमीन का एक दशमलव चार फीसदी के आसपास जमीन हरियाणा के हिस्से आती है। ढाई करोड़ के आस पास की आबादी।   ढाई करोड़ में से 91 फीसदी के आस पास  आबादी हिन्दू औ... Read more
clicks 78 View   Vote 0 Like   8:53am 7 May 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
- क्या लगता है अगली बार फिर भाजपा की सरकार आएगी ?"पता है पहली बार इतनी ईमानदार सरकार बनी है कि खुद भाजपा के वर्कर कह रहे है अगली बार भाजपा को वोट नहीं देंगे। हमारे ही काम नहीं होते। "- आप तो भाजपा को वोट देंगे ना "हाँ हाँ मैं तो जरूर दूँगा। मेरी पेमेंट तो एक तारीख को ही हो जाती ... Read more
clicks 75 View   Vote 0 Like   12:39pm 2 May 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
एक दिन में 24 घंटे , 30 दिन का एक महीना , 12 महीनो का एक साल। वक्त ऐसे ही चलता रहता है। कैसी भी अनहोनी हो। कुछ भी घट जाए। बादल फट जाए सुनामी आ जाए पर वक्त का चलना बदूस्तर जारी रहता है। वक्त के साथ साथ इंसान भी चलता रहता है। बहुत घटनाएं दिल को हिला जाती है। दोस्त दूर हो जाते है अपने ... Read more
clicks 127 View   Vote 0 Like   2:12am 2 May 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
प्रगति बहुत अच्छी चीज है प्रगतिशीलता भी बहुत अच्छी है। कम से कम दिखती अच्छी है। इसी भरम में आदमी एक पैर आगे बढ़ाता है दो पीछे करता है। और उस एक पैर आगे बढ़ाने का अहसान बाकी जिंदगी जताता रहता है। सुना है कुत्ते ने आदमी से बहुत कुछ सीखा है। शायद ट्रैन के साथ भागते रहने पर ट्... Read more
clicks 123 View   Vote 0 Like   4:20pm 1 May 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
                                               हरियाणा सरकार ने कॉमनवेल्थ विजेताओं के सम्मान समारोह को स्थगित करना पड़ा। रेडियो ऍफ़ एम् पर सरकार के विज्ञापन आते है पांच पांच मिनट के कि ऐसी खेल नीति ला दी इस सरकार ने कि मेडल ही मेडल आ गए। जैसे इस सरकार से प... Read more
clicks 85 View   Vote 0 Like   6:03pm 27 Apr 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
                कल  रात को मैंने जासूसी करने के लिए फेसबुक खोला तो मुझे वीरे दी वेडिंग का पता चला। फेसबुक स्वरा भास्कर की इस बात पर बुराई हो रही है कि जिस फिल्म में वो काम कर रही है उसमें इतनी गालियाँ है। मैं फेसबुक को डिएक्टिवेट करके दोबारा एक्टिव कर के देखा तो सच... Read more
clicks 82 View   Vote 0 Like   8:06pm 26 Apr 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
एक भाई ने ओला कैब मंगवाई ड्राइवर मुसलमान निकलने पर कैब कैंसिल कर दी। इस बहादुरी के अफ़साने को उसने पोस्ट भी किया। अब जिस फोन से उसने कैब पोस्ट की जिस फेसबुक पर उसने ये पोस्ट किया जाहिर है उसने सब जगह चेक कर लिया होगा कि कहीं पर भी मुसलमान काम नहीं कर रहा होगा। वरना जिस कदर ... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   1:30am 26 Apr 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
अमेरिका के संविधान में तेरहवी अमेंडमेंड हुई थी जिसके बाद वहां स्लेवरी को अपराध माना गया था। इसी को आधार मानकर 2016 में एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म आयी 13 जो मैंने  देखी। डॉक्यूमेंट्री का सारांश लिख रहा हूँ बाकी तो फिल्म देखने पर ही पता लग पायेगा कि कितन लाजवाब डॉक्यूमेंट्री... Read more
clicks 78 View   Vote 0 Like   1:29am 26 Apr 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
"अगर  एकलड़कीअगरशालीनकपडेपहनतीहैतोकोईलड़काउसेग़लतनजरसेनहींदेखेगा।अगरआजादीचाहिएतोनंगेघूमनाचाहिए।आजादीकीअपनीसीमायेंहै।छोटेछोटेकपडेपश्चिमपहनावाहैहमारीसंस्कृतिशालीनकपडेपहननेकीहै।""बालविवाहबलात्कारऔरमहिलाओकेखिलाफबाकीअपराधरोकनेमेंमददगारहै।""अगरल... Read more
clicks 100 View   Vote 0 Like   2:47am 22 Apr 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
फोन और सोशल मिडिया छोड़ने के बाद अभी इतना समय बचता है कि मैं हर रोज आराम से एक फिल्म देख सकता हूँ किस्तों में ही सही। किताब भी पढ़ सकता हूँ। तो मुझे लगा और कुछ न भी लिखूं तो कम से कम जोफिल्म&nbs... Read more
clicks 111 View   Vote 0 Like   6:44am 18 Apr 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
                       परसों रात एफ एम सुन रहा था तो एक चैनल पर प्रधान जी को बोलते हुए सुना।सोचा कोई विज्ञापन होगा मैंने चैनल बदल दिया दूसरे चैनल पर समाचार आ रहे थे। सोचा समाचार ही सुन लिए जा... Read more
clicks 90 View   Vote 0 Like   12:46am 17 Apr 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
नॉस्टेल्जिया की बात ही निराली होती है। अच्छा लगता है पुराना वक्त याद करके। अहा क्या वक्त था। अब सब बेकार हो गया। जब मैं दसवीं में था तो पापा अपने वक्त को याद किया करते थे। कहते थे कि अब तो नंबर बहुत आने लगे। उनके वक्त में ऐसा नहीं था। पढाई बहुत तगड़ी होती थी। बहुत हार्ड मा... Read more
clicks 136 View   Vote 0 Like   9:23am 10 Apr 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
आदमी को गोली मार दी जाती है। फांसी पर लटका दिया जाता है। जहर का प्याला दे दिया जाता है। मौत का खौफ हमें सारी ज़िंदगी बोलने से रोकता है। मौत से भी ज्यादा शायद जीते जी प्रताड़ना का भय ज्यादा होता है। जिसके कारण अधिकतर लोग चुपचाप अपनी जिंदगी बशर कर लेते है। अन्याय , जुल्म&nb... Read more
clicks 143 View   Vote 0 Like   9:30am 6 Apr 2018 #
Blogger: अमोल सरोज
दो दिन पहले शेड्यूल कास्ट और शेड्यूल ट्राइब एक्ट को कमजोर करने के विरोध में भारत बंद का ऐलान हुआ। बहुत सालों बाद सड़कों पर विरोध दिखा। मैं सामान्यत नकारात्मक आदमी हूँ। हर चीज में मुझे नकारात्मकता पहले दिखती है पर उस दिन मेरा दिल जाने खुश हो गया। सड़को पर नारे लगाते लोगो... Read more
clicks 153 View   Vote 0 Like   4:57am 4 Apr 2018 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post