Hamarivani.com

बाल सजग

"जिंदगी एक शब्द नहीं जो "जिंदगी एक शब्द नहीं जो ,जो चाहे भुला नहीं सकता | तेरी मुस्कान में हजारों खुश होते है ,गरीबों की  जिंदगी बनाते है | काश ;मैं भगवान होता ,जब चाहे इंसान बना लेता | मेरी एक सहायता से ,हजारों को अच्छा बनाता | जिंदगी में खुश हजारों लोग होंगे ,दुःखी &n...
बाल सजग...
Tag :
  June 29, 2017, 9:38 pm
गर्मियों की छुट्टियों का ख़त्म हुआ जमाना,सब कुछ भूलकर अब स्कूल है जाना | बच्चे करते पढाई आधा, पढ़ते कम खेलते है ज्यादा|  दिन भर मस्ती मन में गस्ती, गुस्से में लड़ाई बाद में दोस्ती | पढ़ो लिखो खेलो औरखाओदिन भर पढ़ो और मौज उड़ाओ | क्या कहे अब ये नादान इन्हीं को बनना है ...
बाल सजग...
Tag :
  June 28, 2017, 10:38 pm
"मजबूरी " दलितों को जिंदगी जीना है मजबूरी,समाज उनके लिए क्या कर रही यह बात पता नहीं किसी को पूरी |  आर्थिक संकटों की वजह से, आ रही बड़ी -बड़ी रुकावटें |  जिससे जिंदगी के हर राह पर,खेल  रही मौत की आहट ,जिंदगी से लड़ लड़कर क्या है जीना,यह बहादुरी की बात नहीं|  अपन...
बाल सजग...
Tag :
  June 25, 2017, 10:45 pm
"आशा है मुझे बारिश होगी " आशा है मुझे बारिश होगी ,आशा है मुझे कुछ नया होगा  | देखने में लगता है कुछ खास ,काश बादल रुक जाये आज  | मेरे आसपास के इस वातावरण,में हो जाये झमाझम बरसात | बारिश के बूँदें को  देखू ,  बारिश को महसूस  करूँ|  उछल कूदकर मैं खूब नहाऊँ&nb...
बाल सजग...
Tag :
  June 25, 2017, 10:21 pm
 "चाह है दुनियां घूमूं "चाह है मेरी दुनियां घूमूं , हर जगह मस्ती में झूमूँ | देखूं मैं नई किरणों का शहर, जहाँ न हो दुश्मनों का कहर | पद यात्रा से हवाई यात्रा करूँ,आसमान में जाकर साँसें भरूँ |  जहाँ - जहाँ भी जाऊँ मैं,सारे संस्कृति को अपनाऊं मैं | ठंडी गर्मी और झेल...
बाल सजग...
Tag :
  May 15, 2017, 2:58 pm
 "फूल"            सुन्दर -सुन्दर फूल जीना सिखाती है ,         हर मुश्किलों से लड़ना सिखाती है /चाहे बाधाएं हो कितनी उन बाधाओं से लड़ना  सिखाती है /काँटों में खिलती है और हर जगह महकाती है /    कुछ -क...
बाल सजग...
Tag :
  May 14, 2017, 3:34 pm
 "स्कूल " स्कूल का दिन आया,पढ़ने का मौका लाया | कॉपी ले जाते है हम ,बुक से पढ़कर आते हम | दिनभर रहते स्कूल में, मैडम आती है देर में |  बच्चे चिल्लाते रहते हैं,मॉनिटर शांत करते थक जाते हैं | कवि : कुलदीप कुमार , कक्षा 6th , अपनाघर कवि परिचय : यह हैं कुलदीप कुमार | ये छतीसगस...
बाल सजग...
Tag :
  May 14, 2017, 3:19 pm
 "बच्चे " बच्चे ही जाने ममता का प्यार,बच्चे ही जाने मां का संसार | हर पल मां रखती हैं ध्यान, बच्चे ही समझे मां हैं भगवान|  बच्चें है भविष्य यहाँ के, बच्चे सजायगें भविष्य यहाँ पे|  बच्चों की कोई बात नहीं , खेलते और शरारत करतें  यही उनकी आदत है बनती | कवि : न...
बाल सजग...
Tag :
  May 13, 2017, 2:33 pm
"अगर मैं होता साधू " अगर होता मैं कोई साधू ,दिखा देता दुनियां को जादू |कर लेता प्रदूषण पर काबू ,मिटा देता प्रदूषण का जादू |साधुओं जैसा काम मैं करता,सच्चा जादू की तरह मैं बनता |नाम कमाता इस दुनियां में,भर देता कुछ फल झोलिओं में |जादू का सीख होता है निराला,सुन लो बच्चो से प्या...
बाल सजग...
Tag :
  May 13, 2017, 2:14 pm
"सुन्दर संसार हमारा "सुन्दर सा संसार  हमारा,जिस पर बसा है दुनियां सारा | ढूंढ आये और जग सारा,पर नहीं मिला  पृथ्वी जैसा  सहारा | हो जाती एक तरफ की रात,जब -जब पृथ्वी घूमती बार -बार | पृथ्वी बनी खुली आसमान में,तारे दिखते हर रात में | पृथ्वी दिखती नीला और हरा, क्योंकि ...
बाल सजग...
Tag :
  May 11, 2017, 2:39 pm
"पृथ्वी का सहारा"सुन्दर सा संसार हमारा,लगता है सबसे प्यारा | इसको बचा कर  रखना यारा, यही मनोकामना है हमारा |  पानी में भी ढूँढा यारा,फिर भी न मिला सहारा | ढूंढ डाला हमने जग सारा,फिर मिला पृथ्वी का सहारा |  ढूंढना बंद हुआ तब हमारा,जब मिल गया पृथ्वी का सहारा |  &nbs...
बाल सजग...
Tag :
  May 10, 2017, 10:22 pm
"कोशिश "अपने मंजिल को पाने के लिए,हर तरह की होती है कोशिश | रास्ते  चलते -चलते गिर जाओ,उठकर भी चल न पाओ | फिर भी मंजिल को पाने की,हर तरह की होती है कोशिश | जिंदगी में एक सही स्थान पर,जाना होता है जरूरी |  तभी तो समाज में कहेंगे ,कोशिश होती है जरूरी | कवि : विक्रम कुम...
बाल सजग...
Tag :
  May 9, 2017, 11:16 pm
"मत कर "ये तो तू मत कर ,वह तू मत कर |  तुझको न रोकेगा वह कि ,तू प्रकृति से खिलवाड़ | हसकर  मत  कर ,अगर तू  न समझ सका | तो रह -रह कर ,बरसेगा कहर जब उसका | तब तुम्हे रहना होगा ,उस आँचल में | बस सहना होगा तुमको मर- मरकर ,तेज धूप होगी तेज बारिस होगी | तेरी वह कहर भरी ,आवाज से | ब...
बाल सजग...
Tag :
  May 7, 2017, 10:57 pm
"डर" दुनियाँ से परे लोगों से डरे,रहता हूँ मैं पैरों पे खड़े | डर कर जीना मैंने तो सीखा,पर वही था सबसे बुरा तरीका |   लोग कहते है की खुल कर जीना चाहिए,पर कोई नहीं बताता  कब जीना चाहिए | जो डरके जी रहे हैं,वो लोग नहीं बुरे हैं | दुनियां से परे लोगों से डरे,रहता हूँ म...
बाल सजग...
Tag :
  May 6, 2017, 3:34 pm
हिंदी       हिंदी दिवस पर अरमान लगाए रखना,हिंदी में बिंदी लगाकर,इसकी पहचान बनाए रखना | इस संसार में भाषाएँ है अनेक, उनमें से हिंदी भाषा है एक  | रंग लाएगी एक शब्द बोलकर देखो न होगी कोई कठिनाई,बाजार में बाल काट रहा होगा नाइ | नहीं आएगी तो चिल्लाओगे माई -म...
बाल सजग...
Tag :
  April 16, 2017, 3:54 pm
"मुश्किलें"मुश्किलें  की आहत आई ,ओठों में उदासी  सी छाई | वो फूल  का खिलना ,वो तेज हवा का चलना | उससे डटकर खड़े रहना ,पंखुडिया जैसे न छेड़ना |   इसे कहते है जिंदगी की पहले पाँव का चढ़ना | वो चन्द्रमा की प्रकाश की तरह बौछार करना |  अँधेरी सी मुश्किलों में प्रकाश को भ...
बाल सजग...
Tag :
  April 15, 2017, 10:24 pm
कविता =मुश्किलें  की आहत आई ,ओठों में उदासी  सी छाई | वो फूल  का खिलना ,वो तेज हवा का चलना | उससे डटकर खड़े रहना ,पंखुडिया जैसे न छड़ना |   इसे कहते है जिंदगी की पहले ,पाँव का चढ़ना | वो चन्द्रमा की प्रकाश की तरह ,बौछार करना |  अँधेरी सी मुश्किलों में ,प्रकाश को भरना |&n...
बाल सजग...
Tag :
  April 15, 2017, 10:24 pm
खुशियाँ फिर आएंगी अपने घर भी खुशियां आएगी,अपने घर भी रंग छाएगी | बस धैर्यता को साथ चाहिए ,हर वो ख्वाब पूरे होंगें | हम खुशियों के रंग में झूमेंगें,बस थोड़ा सा विश्वास  चाहिए,एक दोस्त का साथ चाहिए |    अपने सपनों को सच कर  पायेंगें,हम नई दुनियाँ बनायेंगें, फिर उ...
बाल सजग...
Tag :
  April 10, 2017, 3:31 pm
"होली  "रंग भरी पिचकारी लाई,होली आई होली आई । रंग भरे इस त्यौहार में,रंगों की बौछार में । भीगे है अपने बदन ,होली में है  सब मगन । अबीर गुलाल और चली पिचकारी,रंगों की गोलिया है भारी । छुप  छुप  कर तुम रह जाओगे,रंगों से कैसे बच पाओगे ।  पूरा शरीर  रंग रंगीला,  हर...
बाल सजग...
Tag :
  April 4, 2017, 10:08 pm
  " साल  "बीत गया साल पता न चला यार,आके गई ऐसे जैसे कोई बयार ।हर चीज को सँभालने में,खुद को इस कदर ढालने में ।किस बात की जीत या हार,बीत  गया साल पता न चला यार  । क्या हुआ समझ न आया,समय पल भर में कैसे गुजर गया ।सबसे मुख मोड़ गया,बीता हुआ कल छोड़ गया ।किसी को ख़ुशी, किसी को ...
बाल सजग...
Tag :
  April 3, 2017, 10:08 pm
"होली"होली आई होली आई ,रंगों की बरसात लाई |तरह तरह के रंग लाई,होली के रंग मुझको भाई |पिचकारी से जब निकली होली,ऐसा लगा बन्दूक से निकली गोली |सुबह भूलो ,शाम को भूलो,पर होली में रंग लगाना न भूलो |बाल कवि: अजय कुमार,  कक्षा 2nd, कानपुर अजय (Ajay) "अपना घर"परिवार के सदस्य है। ये बिहार ...
बाल सजग...
Tag :poetry
  March 20, 2017, 10:33 pm
"होली"होली आया होली आया,साथ में रंगों की गोली लाया | दुश्मनी भूल हाथ मिलाया, दुश्मनी को दूर भगाया |जिन्दगी में खुशियाँ लाया, दोस्तों को जलवा दिखाया|अबीर लगा गले मिलाया, रंगों के साथ खुद को भिगोया|होली आया होली आया,सबके दिल को बहलाया|कवि: कामता, कक्षा 5th, कानपुरकामता (KAMTA) "अपना ...
बाल सजग...
Tag :गीत
  March 11, 2017, 9:20 pm
"मैंने देखा एक सपना"जन्नत जैसा घर है अपना, मैंने देखा रात को सपना |सपने में एक चिड़िया आई,  उसने बोला सुन मेरे भाई |तोता आम है मीठा खाता ,मुझको है बहुत ललचाता |तब तक तोता उड़ कर आया ,अपने साथ वो आम भी लाया |तोते ने फिर मुझसे कहा ,मै कभी न चुपचाप रहा  |हरे रंग का है मेरा बाल ,चोच मे...
बाल सजग...
Tag :poems
  March 9, 2017, 10:01 pm
"चाँद के उस पार"ये कहानी ही है बड़ी अजीब,मेरे नहीं है कुछ भी नसीब .हर चीज में मेरी आती है रुकावट,मैं भरता हूँ हर हौसलों से आहट .दुनियाँ है मेरी उस चाँद के पार, फिर मैं क्या कर रहा हूँ इस पार .मै कोशिश करता हूँ हर बार, पहुँच जाऊ चाँद के उस पार .कई बार लगता पहुँच गया हूँ पास, पर चाँद ...
बाल सजग...
Tag :कविता
  March 7, 2017, 9:40 pm
"उम्मीदों को मत छोड़ो"उम्मीदों को मत छोड़ो, हकीकत को मानो ।पथ को पहचानो,उस पथ  पर  चलना सीखो।उम्मीदों पर खुद को जीना सीखो।। बात को मानो तो , खुद को पहचानो तो ।न मिले कोई तो, अकेले ही चल दो ।थोडा कष्ट  होगा जरूर, लेकिन पथ  को पहचान होगी ।।चलने का अनुभव होगा,न  भोजन हो तो...
बाल सजग...
Tag :ek kaadam
  March 6, 2017, 8:54 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3676) कुल पोस्ट (166920)