POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: अभिव्यक्ति:- मेरे मन की

Blogger: सुब्रत आनंद
पहले गुरु माता- पिता, वंदन शीश झुकाय।बिन इनके संभव नहीं, जीवन सुख है पाय।।नमन उन्हें जो दे गए, जीवन का हर मर्म ।चलूँ सदा मैं नेक पथ, करूँ नेक मैं कर्म।।भले कठिन हो राह पर, करते वो आसान ।ईश तुल्य गुरु हैं सुनो, हरदम रखना मान..!!... Read more
clicks 2 View   Vote 0 Like   5:52am 23 Sep 2019 #
Blogger: सुब्रत आनंद
सपने होते सच वही, दिखें जो खुली आँखपंछी उड़ते तब तलक, जब तक रहते पाँख...!!बचपन के वो दिन कहाँ, बस उसकी है यादवो गाँव की मस्तियाँ, मिली न उसके बाद...!!नहीं शहर भाता मुझे, भूला सका न गाँववो अल्हड़ अठखेलियाँ, वो बरगद का छाँव...!!फ़ीकी है मुस्कान अब, फ़ीकी जग की रीतले चलो कहीं दूर अब, मुझको म... Read more
clicks 1 View   Vote 0 Like   2:48pm 21 Sep 2019 #
Blogger: सुब्रत आनंद
नैनों में चुभने लगा, जैसे कोई तीरकैसे किसको हम कहें, अपने मन की पीर..!!जीवन के हर मोड़ पर, दोगे मेरा साथफिर क्यों तूने थाम ली, अब दूजे का हाथ..?रोग लगा कर प्रेम का, नहीं निभाई प्रीतकहता मेरा मन सदा,  कैसी जग की रीत...?सब कुछ तुझपर वार कर, करना चाहा प्यारदिल से दिल के खेल में , मिली म... Read more
clicks 2 View   Vote 0 Like   2:57pm 19 Sep 2019 #
Blogger: सुब्रत आनंद
सोचता रहता हूँ ख्यालों में मै अक्सरये मुहब्बत ये जुदाई बेवजह तो नहीं होती होगी ना... Read more
clicks 75 View   Vote 0 Like   12:40pm 17 Apr 2017 #
Blogger: सुब्रत आनंद
जिसे दिल ने दिल में बसाया होउसे सोचने के बाद कुछ सोचा नहीं जाताहक़ीक़त है मगर ये भीमुकम्मल न हो प्यार तो कोई दूजा नहीं जाता... Read more
clicks 61 View   Vote 0 Like   12:39pm 17 Apr 2017 #
Blogger: सुब्रत आनंद
नहीं है जिंदगी  शिकायत तुझसे कुछ भीटुट चुका हुँ मै पर जिंदा हुँ मै अभीसाँसो को भी शिकायत रहती है मुझसेखोया हुँ तेरे सवालों में सोया मै भी नहींसाथ थे हम तो सताती थी दुनियाअकेला हुँ मै मगर भुला अब भी नहींअरमाँ है देख लुँ जी भर के उसकोतकती है आँखे उसको आएगी शायद अभीWritten By:- स... Read more
clicks 72 View   Vote 0 Like   10:56am 23 Jul 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
माँ के अंदर बहन के अंदर बसी होती है लङकियाँगर समझो तो अमूल्य होती है लङकियाँघर को सँजोने वाली भी होती है लङकियाँखुद से भी प्यारी होती है सबको अपनी बेटियाँघर सुना-सुना हो जाता है जब रुखसत होती है बेटियाँकाँटे की चुभन सी बितती है एक पल और एक घङियाँहर किसी को प्यारी जब हो... Read more
clicks 106 View   Vote 0 Like   2:33am 8 Mar 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
आपकी मुस्कुराहट भी हमसे कुछ कहती हैखुबसुरती आपके रग-रग मेँ दिखती हैवफा ए मुहब्बत की बेमिशाल मुरत हो आपआप ना सही मगर आपकी नजरेँ ये बयाँ करती है ।... Read more
clicks 117 View   Vote 0 Like   6:02am 29 Feb 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
हर लम्हा मेरे आसपास तेरी यादोँ का पहरा रहता हैये वक्त भी ना जाने अब कहाँ ठहरा रहता हैना रात को करार है ना दिन को सकून हैअब तो बस जहाँ देखुँ तेरा ही चेहरा रहता है । ... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   7:54am 13 Feb 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
हमसफर अच्छा हो तो राह कैसी भी होगुजर जाती है ।मुहब्बत की राह मेँ कोई मिलता है तोकोई साथ छोङ जाती है ।हर किसी को यहाँ नहीँ मिलता मुहब्बत मेँसाथ देने वालामुहब्बत मेँ कोई लुटता है और कोई किसी को आबाद कर जाती है । ... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   7:51am 13 Feb 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
वो कहती है ए दिल क्योँ तुने मुहब्बत की कभी जो तुने ना किया क्योँ ऐसी शरारत कीनहीँ लगता कहीँ भी दिल अब बिना उनके मुझसे बिना पुछे कैसे तुने ये जुर्रत कीमैँ कहता हुँ क्योँ कहती हो तुम इस पागल दिल कोये दिल तो अभी नादान है कैसे बतलाऊँ तुझ कोहाल मेरा वही है जो तुम्हारा हाल हैतु... Read more
clicks 102 View   Vote 0 Like   7:48am 13 Feb 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
वफा-ए-मुहब्बत हम ना करते तो क्या करतेउसकी यादोँ मेँ छुप-छुप कर ना रोते तो क्या करतेउसने तो एक लफ्ज मेँ कह दिया भुल जा मुझेहम जख्म-ए-दिल ना दिखाते तो क्या करते... Read more
clicks 110 View   Vote 0 Like   7:46am 13 Feb 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
मेरी मुहब्बत का युँ इम्तहान ना लोमुहब्बत है तु मेरी बस ये जान लोनहीँ आता मुझे तेरी मुहब्बत के सिवा कुछ भीगर यकीँ ना हो तो मेरा खुन-ए-दिल माँग लो... Read more
clicks 101 View   Vote 0 Like   12:18pm 12 Feb 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
इश्क में मैने ये कैसी ठोकर पाईकी थी मुहब्बत और मिली बेवफाईए खुदा अगर अंजाम ए ईश्क ये थातो क्यों लिखी मेरे किस्मत मे मुहब्बत और फिर जुदाई... Read more
clicks 72 View   Vote 0 Like   8:59am 7 Feb 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
इश्क मेँ मैने ये कैसी ठोकर पाईकी थी मुहब्बत और मिली बेवफाईए खुदा अगर अंजाम ए ईश्क ये थातो क्योँ लिखी मेरे किस्मत मेँ मुहब्बत और फिर जुदाई... Read more
clicks 105 View   Vote 0 Like   8:59am 7 Feb 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
वफा-ए-मुहब्बत हम ना करते तो क्या करतेउसकी यादोँ मेँ छुप-छुप कर ना रोते तो क्या करतेउसने तो एक लफ्ज मेँ कह दिया भुल जा मुझेहम जख्म-ए-दिल ना दिखाते तो क्या करते... Read more
clicks 109 View   Vote 0 Like   8:56am 7 Feb 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
नफरत भरी दुनिया मेँ मुहब्बत कहाँ होती हैदिल तो मिलते हैँ मगर ईबादत कहाँ होती हैमिल कर बिछङ जाते हैँ यहाँ पर दिलदिल से कोई चाहे ऐसी चाहत कहाँ होती है... Read more
clicks 109 View   Vote 0 Like   2:58pm 31 Jan 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
मेरे अंदर कुछ हलचल बस युँ ही चलती हैतेरे बिन मेरी जिँदगी बस माचिस सी जलती हैपास मेरे तुम हो तो परवाह नहीँ अब दुनिया कीमेरी साँसे भी शायद तेरे साँसोँ से चलती है... Read more
clicks 101 View   Vote 0 Like   2:50pm 31 Jan 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
तुझे दिल तुझे धङकन तुझे जानम मैँ लिखुँगातुझे सावन तुझे बादल तुझे रिमझिम मैँ लिखुँगाजो तेरे लब छु गए मेरे लबोँ से अबतुझे अपनी मुहब्बत की तकदीर मैँ लिखुँगारहा जाता नहीँ अब बिन तेरे मेरी जाँ ये तु सुन लेतु सामने बैठो तुझे एक गीत लिखुँगा... Read more
clicks 119 View   Vote 0 Like   8:31am 27 Jan 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
वफा मैनेँ की है वफा चाहता हुँखुद से भी ज्यादा मैँ तुझे चाहता हुँ ना दिन की फिकर ना रात का गम हैजो केवल तुझे देखे वो नजर चाहता हुँबैठे रहो तुम पास मेरे ना हो दुरियाँजुदा ना हो हम कभी ऐसा हमसफर चाहता हुँ... Read more
clicks 121 View   Vote 0 Like   1:17am 24 Jan 2016 #
Blogger: सुब्रत आनंद
तेरी खुबसुरती का ये फसाना हुआये चाँद भी आज तुम्हारा दिवानाहुआजुल्फोँ को तुम बिखराओ तो घटा बरसती हैहर किसी की जान अब तेरी जान मेँ बसती हैदुपट्टा गर लहराओ तो ही हवा भी चलती हैतेरी साँस को छुने को हर अरमाँ तङपती हैतुम हँसो तो बहारोँ के फुल भी तब खिलते हैँभँवर भी तब कहीँ जा... Read more
clicks 107 View   Vote 0 Like   4:40am 11 Oct 2015 #
Blogger: सुब्रत आनंद
बेबसी ने मुझे इस कदर सताया हैखुद की लाचारी पर अब मुझे रोना आया हैजिन्दगी तुझसे मैँ एक सवाल पुँछता हुँतुने दिया किया है मुझे केवल खोया हुँकिरदार भी दिया तुमने तो ये कैसा दियाखुद को ही तुमने खुद से जुदाकियाना खुशी दी ना खुशनुमा संसार दियाना दिल दी ना मुहब्बत और प्यार दि... Read more
clicks 114 View   Vote 0 Like   4:39am 11 Oct 2015 #
Blogger: सुब्रत आनंद
मंजिल वही रहती है बस सफर बदल जाते हैंमुहब्बत भरी दुनिया मे हमसफर बदल जाते हैंआरजू होती है तुझमे खो जाने कीबेवफा तुम ना हो जाओ कहींं.ये सोच ख्यालात बदल जाते है... Read more
clicks 70 View   Vote 0 Like   4:37am 11 Oct 2015 #
Blogger: सुब्रत आनंद
मंजिल वही रहती है बस सफर बदल जाते हैमुहब्बत भरी दुनिया मेँ हमसफर बदल जाते हैँआरजू होती है तुझ मेँ खो जाने कीबेवफा तुम ना हो जाओ कहीँ ये सोच ख्यालात बदल जाते है... Read more
clicks 99 View   Vote 0 Like   4:37am 11 Oct 2015 #
Blogger: सुब्रत आनंद
तमन्ना होती है तुम्हे हमसफर बना लुँदुनिया की नजरो से तुझ को बचा लुँकर के एलान हाँ मुहब्बत है तुमसेसारी दुनिया से कहकर खुद मे छुपा लुँभुल कर दुनिया की रश्म-ओ-रिवाजतेरी झील से आँखो मे खो जाउँ आजतेरी सादगी मे कुछ ऐसा कर जाऊँतुम मेरी गजल बनो मै तेरा शायर बन जाऊँतुम मेरी गजल... Read more
clicks 67 View   Vote 0 Like   4:36am 11 Oct 2015 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post