POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: Holistic Health Care

Blogger: abhishek verma
1. Tadasana (Mountain pose)The Mountain pose helps strengthen the heart and also adds flexibility to the body.2. Vrikshasana (Tree pose)The Tree pose calms and brings equilibrium to the mind. Reposing in this yoga pose is useful as a calm mind leads to a steady and healthy heart functioning.3. Utthita Hastapadasana (Extended Hands and Feet Pose)This yoga posture requires more focus and strength to balance.4. Trikonasana (Triangle pose)This is a heart opening standing yoga posture designed to promote cardiovascular exercise. The chest gets expanded while breathing deep and in rhythm increases stamina.5. Veerabhadrasana (Warrior pose)The Warrior pose improves balance in the body and increases ... Read more
clicks 117 View   Vote 0 Like   5:32pm 3 Jul 2015 #
Blogger: abhishek verma
एक्जिमा रोग शरीर की त्वचा को प्रभावित करता है और यह एक बहुत ही कष्टदायक रोग है। यह रोग स्थानीय ही नहीं बल्कि पूरे शरीर में हो सकता है।एक्जिमा रोग होने के लक्षण :- • जब यह रोग किसी व्यक्ति को हो जाता है तो उसके शरीर पर जलन तथा खुजली होने लगती है। रात के समय इस रोग का प्रकोप... Read more
clicks 115 View   Vote 0 Like   5:30pm 3 Jul 2015 #
Blogger: abhishek verma
(1) पहली बात आयुर्वेद की दवाएं किसी भी बीमारी को जड़ से समाप्त करती है, जबकि एलोपेथी की दवाएं किसी भी बीमारी को केवल कंट्रोल में रखती है|(2) दूसरा सबसे बड़ा कारण है कि आयुर्वेद का इलाज लाखों वर्षो पुराना है, जबकि एलोपेथी दवाओं की खोज कुछ शताब्दियों पहले हुवा |(3) तीसरा सबसे बड... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   5:26pm 3 Jul 2015 #
Blogger: abhishek verma
मिर्गी एक तंत्रिकातंत्रीय विकार (न्यूरोलॉजिकल डिसॉर्डर) है इस रोग में मस्तिष्क में किसी गड़बड़ी के कारण बार-बार दौरे पड़ने की समस्या हो जाती है। मिर्गी के दौरे के समय व्यक्ति का दिमागी संतुलन पूरी तरह से गड़बड़ा जाता है और उसका शरीर लड़खड़ाने लगता है। इसका प्रभाव शर... Read more
clicks 116 View   Vote 0 Like   8:45am 18 Jun 2015 #
Blogger: abhishek verma
1- घी खाएं और बालों के जड़ों में घी मालिश करें।2- गेहूं के जवारे का रस पीने से भी बाल कुछ समय बाद काले हो जाते हैं।3- तुरई या तरोई के टुकड़े कर उसे धूप मे सूखा कर कूट लें। फिर कूटे हुए मिश्रण में इतना नारियल तेल डालें कि वह डूब जाएं। इस तरह चार दिन तक उसे तेल में डूबोकर रख... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   11:16am 17 Jun 2015 #
Blogger: abhishek verma
·         दही को तांबे के बर्तन से ही इतनी देर रगडे़ कि वह हरा हो जाए। इसे सिर में लगाने से गंजेपन की जगह बाल उगना शुरू हो जाते हैं।·         मेथी के बीजों का पेस्ट बालों में लेप करने से बालों का झड़ना बन्द हो जाता है।·         चुकन्दर के पत्ते... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   11:06am 17 Jun 2015 #
Blogger: abhishek verma
क्या आप अपनी लम्बाई बडाना चाहते हैं अगर हाँ तो इस लेख को पड़कर आप अपनी लम्बाई बड़ा सकते हैं|योग में ताड़ आसन होता है जिसको करकर आप अपने शरीर की लम्बाई अच्छी खासी बड़ा सकते हैं| छोटे बच्चे और टीनेजर इस ताड़ आसन को रोज़ करे तो उनकी लम्बाई 6फुट तक आसानी से हो स... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   11:05am 17 Jun 2015 #
Blogger: abhishek verma
 एक विडम्बना है कि ज्यों-ज्यों मानव प्रगति के पथ पर अग्रसर हो रहा है और चिकित्सा जगत में नयी-नयी खोज कर रहा है, वैसे-वैसे दिन-प्रतिदिन रोगियों एवं अस्पतालों की संख्या भी बढ़ रही है। आज इस बात की आवश्यकता है कि सरल, सहज और सस्ती चिकित्सा अधिकांश मनुष्यों को प्राप्त हो ताक... Read more
clicks 115 View   Vote 0 Like   11:02am 17 Jun 2015 #
Blogger: abhishek verma
नंगे पैर चलने से नेत्र ज्योति बढ़ती है।नंगे पैर पृथ्वी के सम्पर्क में रहने से पैर मजबूत, स्वस्थ,सुडौल एवं रक्त संचरण बराबर होने से उनमे से गन्दगी एवं दुर्गन्ध निकल जाती है एवं बिबाई भी नहीं पड़ती।पाचन संस्थान सबल होता है एवं उच्च रक्तचाप व शरीर के बहुत सारे रोग आ... Read more
clicks 110 View   Vote 0 Like   9:18am 16 Jun 2015 #
Blogger: abhishek verma
                                            गठिया (GOUT)गठिया रोग जोड़ों में गाठें पड़ जाने ,जुड़ जाने और दबाने से न सहा जाने वाला दर्द होने का नाम है इसमें हाथ की उंगलियों ,कलाईयों,पाव का टखना ,घुटना आदि टेढ़े हो जाते है यह रोग शुरू शुरू में पांव के टखने एड़ी व तलव... Read more
clicks 112 View   Vote 0 Like   6:22am 13 Jun 2015 #
Blogger: abhishek verma
रेकी जापानी भाषा का शब्द है जो ‘रे’ और ‘की’ दो शब्दों से मिलकर बना है। ‘रे’ का अर्थ है सर्वव्यापी अर्थात् ओम्नीप्रेजेंट तथा ‘की’ का अर्थ है ‘जीवनीशक्ति’ या ‘प्राण’ अर्थात् लाइफ फोर्स एनर्जी। इस प्रकार रेकी व ईश्वरीय ऊर्जा, दिव्य ऊर्जा अथवा आध्यात्मिक ऊर्जा है जो इस ... Read more
clicks 109 View   Vote 0 Like   8:31am 11 Jun 2015 #
Blogger: abhishek verma
योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा शास्त्र सिर्फ घरेलु विधि से उपचार नहीं यह एक सम्पूर्ण चिकित्सा शास्त्र है जो प्रकृति में व्याप्त प्रत्येक वस्तु से जटिल एवं सामान्य रोगों का उपचार करने व उनको जड़ से ख़तम करने में सक्षम है जरूरत सिर्फ इसको जानने व इसका सही ढंग से प्रयोग करने ... Read more
clicks 124 View   Vote 0 Like   11:18am 8 Jun 2015 #
Blogger: abhishek verma
       बवासीर आजकल एक आम बीमारी के रूप में प्रचलित है। इस रोग मे गुदे की खून की नसें (शिराएं) फ़ूलकर शोथयुक्त हो जाती हैं,जिससे दर्द,जलन,और कभी कभी रक्तस्राव भी होता है।बवासीर का प्रधान कारण कब्ज का होना है।जिगर मे रक्त संकुलता भी इस रोग कारण होती है। मोटापा, व्यायाम ... Read more
clicks 126 View   Vote 0 Like   10:01am 8 Jun 2015 #
Blogger: abhishek verma
योगा के कई गुण ऐसे हैं, जिनके बारे में ज्‍यादातर लोग अभी तक अंजान हैं। इनमें से एक गुण यह है कि योग के जरिए आप ना सिर्फ फिट और चुस्त -फुस्त रहा जा सकता है, बल्कि सेक्‍स लाइफ को और भी बेहतर बनाया जा सकात है।आप सेक्स लाइफ में आनंद पाना चाहते हैं तो आपको योगा करना चाहिए। क्या आ... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   6:00pm 18 Apr 2015 #
Blogger: abhishek verma
जब सताए मुंहासे:-<<<<<<>>>>>* आज मुंहासे सिर्फ किशोरों की समस्या नहीं रह गई। बढ़ते प्रदूषण, तनाव,असंतुलित आहार, कम पानी पीने और नशे की आदत के चलते यह आजकल हर उम्र के लोगों की समस्या बन चुका है। इनसे निजात पाने के लिए बाजार में उपलब्ध किसी पिंपल क्रीम को आजमाने के बजा... Read more
clicks 135 View   Vote 0 Like   10:31am 13 Apr 2015 #
Blogger: abhishek verma
प्रकृति एक सम्पूर्ण चिकित्सा शास्त्र है प्रकृति में व्याप्त प्रतेक वास्तु खुद में एक औषधालय परन्तु अपनी रोज की दिनचर्या में व्यस्त हम इससे दूर होते जा रहें है रासयनिक दवाओ से हम तुरंत ठीक तो हो जाते है परन्तु धीरे धीरे अपने स्वस्था को खो देते है हम एक बीमारी के इलाज़ क... Read more
clicks 126 View   Vote 0 Like   10:29am 13 Apr 2015 #
Blogger: abhishek verma
अदरक है काम की चीज!हमारे आस-पास कई ऐसी चीजें होती हैं, जिनका सेवन तो हम रोजाना करते हैं, लेकिन उनके गुणों से अनजान ही रहते हैं। आइए आज हम आपको अदरक (Ginger) के बारे में बताते हैं जो कई गुणों से भरपूर हैं। अदरक सिर्फ खाने और चाय का स्वाद ही नहीं बढ़ाता बल्कि आयुर्वेद के अनुसार ये ... Read more
clicks 107 View   Vote 0 Like   10:28am 13 Apr 2015 #
Blogger: abhishek verma
गाय कोलोस्ट्रम (Cow Colostrum )गाय कोलोस्ट्रम विटामिन, खनिज, और स्वाभाविक रूप से एक सही संयोजन में होने वाली हैं कि अमीनो एसिड का एक संयोजन है. विटामिन ए, बी 1, बी 2, अन्य सभी विटामिन, साथ ही जैसे कैल्शियम, सोडियम, मैग्नीशियम और जस्ता जैसे खनिज के निशान, भी गाय कोलोस्ट्रम में मौजूद है... Read more
clicks 117 View   Vote 0 Like   10:27am 13 Apr 2015 #
Blogger: abhishek verma
सामान्य बुखार में लगतार पेरासिटामोल के सेवन होता है लीवर और किडनी के लिए घातकसामान्य बुखार में विष से खतरनाक पेरासिटामोलपेरासिटामोल से नुकसानबहुत अधिक डोज़ लेने से, जैसे कि 2 ग्राम पैरासीटामोल प्रतिदिन लेने से खून का उल्टी हो सकता है, या टट्टी के रास्ते से खून आ सकता ह... Read more
clicks 129 View   Vote 0 Like   9:02am 13 Apr 2015 #
Blogger: abhishek verma
हमारे देश में हेल्थ टॉनिक के नाम पर कई विदेशी कंपनियाँ अपने उत्पाद बेचती हैं, जैसे होर्लिक्स, मालटोवा, बोर्नविटा, कॉम्प्लान,बूस्ट, प्रोटिनेक्स और खूबी की बात है कि इनमे हेल्थ के नाम पर कुछ भी नहीं है | कैसे ?ये कंपनियाँ इन हेल्थ सप्लीमेंट में मिलाती क्या हैं वो भी आप जान ... Read more
clicks 135 View   Vote 0 Like   9:00am 13 Apr 2015 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post