POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: सिर्फ समय बदलता है हम वैसे ही रह जाते है . बस यादो की डायरी

Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
.header1111container1111{display:block;margin:0 auto;margin:0 auto;background:#fff;z-index:1000;position:relative;width:100%;top:0;left:0;border-bottom:1px solid #51c1f1}.header1111container1111:after{content:'';display:block;clear:both}.header1111space1111{height:1px}.footer1111{margin:0 auto;height:60px;padding:0 0;background:#bbbfbf;font-size:12px;width:100%;border-top:1px solid #51c1f1}@media only screen and (max-width:480px){.copyright{display:none}}@media only screen and (min-width:769px){.header1111container1111{position:fixed}.header1111space1111{height:41px}}body{-webkit-animation:bugfix infinite 1s;-webkit-font-smoothing:antialiased}@-webkit-keyframes bugfix{from{padding:0;}to{padd... Read more
clicks 4 View   Vote 0 Like   4:20pm 16 Oct 2019 #
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
भारत सहित दुनिया भर में हिन्दू देवी-देवताओं के कई मंदिर और तीर्थ स्थान मौजूद है। आज हम जिस धार्मिक स्थल की बात कर रहे हैं , हिंदू भगवान शिव के “जानवरों के स्वामी” के रूप में अवतारित हैं जिन्हें उनके भक्तभोलेनाथ, महादेव, रुद्र,  पचमुखी प्रभु-पशुपति आदि नाम को समर्पित स्... Read more
clicks 12 View   Vote 0 Like   7:38am 24 Jun 2019 #नेपाल
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
आइये कुंभ चले .......शैव, वैष्णव और उदासीन पंथ के संन्यासियों के मान्यता प्राप्त कुल 13 अखाड़े हैं. पहले आश्रमों के अखाड़ों को बेड़ा अर्थात साधुओं का जत्था कहा जाता था. पहले अखाड़ा शब्द का चलन नहीं था. साधुओं के जत्थे में पीर और तद्वीर होते थे. अखाड़ा शब्द का चलन मुगलकाल से श... Read more
clicks 27 View   Vote 0 Like   4:00pm 14 Jan 2019 #
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
खजुराहो की यात्रा 30 September 2017 तो सुबह ५ बजे ही पत्नी जी की मधुर आवाज सुनाई दी, उठो चाय आ चुकी है, चाय पि लो कितने बजे खजुराहो की टैक्सी आएगी ? मैंने कहा ९ बजे यहाँ से ब्रेकफास्ट कर के निकलेगे.. १ घंटे में नाहा धो अपन तैयार हुवे आउर निकल पड़े खजुराहो की तरफ, सुबह ९ बजे अपन की टैक्स... Read more
clicks 47 View   Vote 0 Like   12:34pm 30 Sep 2017 #नग्नता और स्वास्थ्य
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
मैहर यात्रा 28 September 2017हिन्दु धरम में सबसे बड़ी परेशानी है की मेहरारू के साथ धरम करम करना पड़ता है, इस साल कही पत्नी जी को ले कर कही निकले नहीं थे समाधी में, मने मेडिटेशन में क्यों की पत्नी जी के साथ मेडिटेशन करने से शारीरिक रूप से बल्कि मानसिक रूप से हम स्वस्थ्य रह सकते हैं। म... Read more
clicks 60 View   Vote 0 Like   4:19pm 28 Sep 2017 #इतिहास
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
दुनिया चल रही है लोग खोज रहे है लेकिन इधर बीच नेपाल से वेब की खोज में सीमा सुवेदीटाप पर है उसके खिलाफ नेपाल की मिडिया में काफी नाराजगी दिख रही है जो  फेसबुक न्यूज़फ़ीड, ट्विटर, यूट्यूब और सभी सामाजिक प्लेटफार्मों पर है।लेकिन वास्तव में क्या मामला है ? क्यों इतनी खोज बि... Read more
clicks 89 View   Vote 0 Like   4:34pm 27 Jun 2017 #
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
लोगो के सेलिब्रेटिस अलग अलग ही होते है, मेरे आदर्श लोग फेसबुक पर ही मौजूद है, फेसबुक के न आने से पहले मेरा ज्ञान सिमित था, लेकिन फेसबुक से जुड़ने के बाद तमाम सोच के लोगो से परिचय हुवा, हाला की मेरा मानना है की किताबो से अच्छा कोई दोस्त नहीं हो सकता, फेसबुक भी चहरे की एक किताब ... Read more
clicks 74 View   Vote 0 Like   4:04pm 25 Jun 2017 #कल्चर
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
हाला की कभी राजनीती से झुकाव नहीं रहा है क्यों की माँ पिता जी को राजनीती पसंद नहीं, बचपन से यही सिखाया गया की सबसे गन्दी राजनीती ही होती है..यु तो लिखने पड़ने का सुख नेपाल में ही ले पाया क्यों की जब तक भारत में रहे नौकरी के लिए ही संघर्ष करते रहे, बचपन से थे लंठ बनारसी तो हर ज... Read more
clicks 74 View   Vote 0 Like   5:38pm 28 May 2017 #राजनीती की मार्केटिंग
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
आज नेपाली बैशाख महिना का आमवस्या (वैशाख कृष्णऔँसी ) मतलब माता जी का मुख देखने का दिन, नेपाल का त्यौहार मुझे बहुत अच्छा लगता है , बस इसके पीछे एक सिंपल लोजिक है की माँ ने नौ महिनातक अपने गर्भ में रख कर जन्म दिया हैइस सम्मान में आज ये त्यौहार मनाया जाता है जिसे नेपाली में कहा... Read more
clicks 81 View   Vote 0 Like   1:30pm 27 Apr 2017 #लाइफस्टाइल
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
वाराणसी – जिसे बनारस और काशी भी कहते हैं, भारत का सबसे पुराना और आध्यात्मिक शहर है। किसने रचा इस शहर को? क्या शिव खुद यहां रहते थे? क्या है इसका इतिहास? आइये जानते हैं इस संवाद के द्वारा वाराणसी की विशेषताएंप्रसून जोशी:सद्‌गुरु, युगों पहले से लोग बनारस के बारे में बात करत... Read more
clicks 70 View   Vote 0 Like   3:29pm 23 Apr 2017 #कल्चर
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
हम ठहरे खांटी बनारसी, दिमाक से वही तन्नी गुरु स्टाइल, आप समझ सकते है, २००३ में भारत से बाहर निकले तो एक नयी दुनिया देखी, लोग कितने ब्यस्त है, कितनी क्रिएटिविटी है, उनकी सोच कुछ अलग है है, लेकिन वो एक समाज के ऐसे कोने में है की लोगो की नजरे ही नहीं जाती, लेकिन हम सुनते सबकी है, ... Read more
clicks 79 View   Vote 0 Like   8:06pm 12 Apr 2017 #लाइफस्टाइल
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
काठमांडू (२०७३ चैत्र २२, मंगलवार) आज नेपाल में चैते दशाहिं (चैते दशैं), मतलब चैत्र के नवरात्र की Astmi तिथि, नेपाल के सभी सिद्ध देवी मंदिरों में मनाया जाता है, "चैते दशाहिं"में बड़ा दशाहिं (नेपाली हिन्दू का महान पर्व महान चाड बडा दशैं ) जैसे ही माँ दुर्गा भवानी की आराधना की जाती ... Read more
clicks 73 View   Vote 0 Like   3:36pm 4 Apr 2017 #इतिहास
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
ब्रेकिंग न्यूज नरैन्द्र माेदी ने किया कमाल केंद्र सरकार ने लिया अहम निर्णय! पैट्रोल डीजल के दामो में अब तक की सबसे भारी गिरावट के चलते 40 साल के रिकार्ड को तोड़ने वाला रेट 31 मार्च 2017 रात 12.00बजे से लागू होगा पट्राेल रूपये 37.30 प्रति लीटर & डीजल 31.80 रुपये प्रति लीटर होंगे रेट 🙏... Read more
clicks 74 View   Vote 0 Like   4:19pm 31 Mar 2017 #
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
अभी बेटे का एग्जाम ख़तम हुवा, परेशान हो गया था वो ,हफ्ता हो गया अब उने वापसी का टाइम तो तो कल पशुपति नाथ मंदिर मंदिर गया था दीवाल पर एक नया वालतो माँ मने मेरी धर्म पत्नी के साथ आ गए काठमांडू. एक  पेंटिंग लगा था ।। धर्म के लिए जीना सीखिए ।।  चुकी हाथ में पूजा का सामान पकडे थे... Read more
clicks 76 View   Vote 0 Like   4:09pm 25 Mar 2017 #आध्यात्मिक जगत
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
आज फेस बुकिया मित्र भाईManoj Kumar Sharmaजी के मुख पोथी पर देखा की २६ अप्रैल १७ को एक काग्रेस स्वयं सेवको का गेट to गेदर कर रहे है..कल भाई कपिल गर्गकी वाल पर देखा .. आज २ तिन मित्रो के वाल पर देखा जो मेरे मित्र नहीं है.. लेकिन कितने काग्रेसी है...३ दिन पहले मैंने भाई ओमकार सिंह ढिल्लनसे बा... Read more
clicks 95 View   Vote 0 Like   3:39pm 15 Mar 2017 #
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
जब से इन्टरनेट पर सामाजिक बहस छिड़ी है , लोग सोचने समझने लगे है बहस करते है, तर्क देते है, एक संवाद होता है , लेकिन अगर किसी की बात सुनना न चाहे तो फिर एक साधन है ट्रोल, ट्रोल का अर्थ होताहै पीछा करना या किसी के पीछे पड़ जाना , ट्रोलिंग का अर्थ होता है कि किसी की बात पसंद न आये तो... Read more
clicks 79 View   Vote 0 Like   8:24am 11 Mar 2017 #
clicks 92 View   Vote 0 Like   9:46am 15 Feb 2017 #
clicks 87 View   Vote 0 Like   9:46am 15 Feb 2017 #
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
बनारस में चुनाव लहरिया रा है... सब बनारस को समझना चाह रहे है वाराणसी (अंग्रेज़ी: Vārāṇasī, हिन्दुस्तानी उच्चारण: [ʋaːˈɾaːɳəsiː] भारत के उत्तर प्रदेश राज्य का प्रसिद्ध नगर है। इसे 'बनारस'और 'काशी'भी कहते हैं। इसे हिन्दू धर्म में सर्वाधिक पवित्र नगरों में से एक माना जाता है और इसे अवि... Read more
clicks 105 View   Vote 0 Like   3:48pm 4 Feb 2017 #राजनीती
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
आपको आनंद आएगा 👌😊 गौर से पढिए :भारतीय मुद्रा (रुपया ₹) से जुड़े 31 ग़ज़ब रोचक तथ्य :-1. भारत में करंसी का इतिहास2500 साल पुराना हैं। इसकी शुरूआत एक राजा द्वारा की गई थी।2. अगर आपके पास आधे से ज्यादा (51 फीसदी) फटा हुआ नोट है तो भी आप बैंक में जाकर उसे बदल सकते हैं।3. बात सन् 1917 की हैं, ज... Read more
clicks 108 View   Vote 0 Like   3:25pm 1 Dec 2016 #
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
सुबह ६ बजे माता जी ने जगाया... देख चेन्नई आवत हव.. उठ... मै  भी हडबडा के उठा... पूछ ताछ करने पर पता चला की 7 बजे तक पहुचे ही चेन्नई इग्मोर .सामान ले बाहर निकले यात्रियों के पीछे ही.. मुख्य सड़क पर आते ही एक ऑटो वाले से पूछा.. आसपासकोई अच्छा होटल.... ऑटो वाले ने पूछा बजट... मैंने १०००-१२०... Read more
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
(6 May 2016- Friday )कश्मीर भारत माता का मस्तिष्क है तो कन्याकुमारी चरण। कन्याकुमारी, तमिलनाडु राज्य का एक प्राचीन शहर है। इस शहर का नाम कन्याकुमारी ही क्यों हैं? इस नाम के पीछे एक पौराणिक कथा का उल्लेख है।एक कहावत के अनुसार बहुत समय पहले बानासुरन नाम का दैत्या हुआ था। उसने भगवान ... Read more
clicks 89 View   Vote 0 Like   10:59am 6 Jun 2016 #
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
(5 May 2016- Thursday )रामेश्वरम मंदिर की एक खास दर्शन है “मणि दर्शन” जो मंदिर में सुबह 4 बजे से 6 बजे के बीच मणि दर्शन कराया जाता है और मणि दर्शन में स्फटिक के शिवलिंग का दर्शन होता है सुबह सात बजे के बाद मणि दर्शन बन्द कर दिये जाते है उनके दर्शन करने के लिये नहा धोकर सुबह पांच बजे ही तै... Read more
clicks 126 View   Vote 0 Like   10:03am 5 Jun 2016 #
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
(4 May 2016 –Wednesday)सुबह उठकर रामेश्वरम के लिये निकलना था। इसलिये सुबह पाँच बजे ही उठकर नहा धोकर तैयार भी हो गये। बस वाले ने सुबह 7 बजे का समय दिया था। लेकिन जब सवा 7 बजे तक भी हमें लेने कोई नहीं आया तो मन में खटका कि हमें यही छोड़कर तो नहीं भाग गये? लेकिन शुक्र रहा कि ठीक 7:30 पर हमें लेन... Read more
clicks 133 View   Vote 0 Like   10:16am 4 Jun 2016 #माता जी की तीर्थ यात्रा
Blogger: राजीवशंकर मिश्रा बनारस वाले
( 3 May 2016- Tuesday) आज की यात्रा थी तमिलनाडु का हिल स्टेसन “कोडईकनाल” भारत केतमिल नाडु राज्य में बसा एक शहर है। समुद्र तल से २१३३ मीटर ऊंचा तमिलनाडु का कोडईकनाल हिल रिजॉर्ट अपनी सुन्दरता और शान्त वातावरण से सबको सम्मोहित कर देता है। पाली हिल के बीच बसा यह जगह दक्षिण भारत का बेहद... Read more
clicks 106 View   Vote 0 Like   11:36am 3 Jun 2016 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post