Hamarivani.com

...Sochtaa hoon......!

समाचार..........!स्थानीय अखबार में एक दफ्तर के पदस्थ अधिकारी के खिलाफ भ्रष्टाचार से जुडी खबर छपी |जनता खुश |''अब बेटा को पता चलेगा ...जब जांच चलेगी .. म्याऊं म्याऊं करता नजर आयेगा ...पहले बहुत गुर्राता था ...|''''काहे इतना खुश हो रहे भाई ...जांच कौन अधिकारी करेगा , जिनके खिलाफ खुद कुछ न कु...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :
  April 19, 2017, 6:36 pm
लघुव्यंग्य –प्रत्युत्तर एक बाप महाविद्यालय की राजनीति में लिप्त अपने बेटे को हिदायत देते हुए कहा-बेटे अब तुम राजनीति करना छोडो और पढाई में मन लगाओ |इसी में तुम्हारा भला है |’’‘’ नहीं पापा.. मैं राजनीति नहीं छोड़ सकता ... कालेज में दाखिला लेना तो मेरे लिए मात्र पढाई का बहान...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुव्यंग्य
  April 5, 2017, 10:09 am
लघुव्यंग्य - आदेश सरदार के सामने वे तीनो सर झुकाए खड़े थे || सरदार ने एक-एक के चहरे पर नजर दौडाते हुए कड़क आवाज में प्रश्न किया – ‘’ आज कितनों को लुढ़काकर आए हो |’’ ‘’सरदार आठ को |’‘’क्यों? मैंने तुम्हें तेरह के लिए कहा था न बेवकूफों |’’‘’ उनमें से पांच तो वैसे भी गंभीर बीमारी ...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुव्यंग्य
  October 31, 2016, 5:30 pm
 लघुव्यंग्य - इष्ट वे पार्टी के छोटे कद के नेता हैं |एक शाम उन्होंने मुझे अपने घर पर बुलाया |मैंने देखा उनके घर में जहां –तहां दीवारों पर वतमान नेताओं के फोटो कीमती फ्रेम में लटके थे | दो –चार फोटो पर फूलमाला भी चढ़ी थी | ‘’ लगता है आप ईश्वर की अपेक्षा इन नेताओं को अपना ई...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :
  October 1, 2016, 4:07 pm
लघुव्यंग्य – दर्शनवे प्रतिदिन मंदिर में देवी-दर्शन के लिए जाते , लेकिन ‘’ देवी-दर्शन’ के बहाने वहां आने वाली महिलाओं के दर्शन में ज्यादा रुचि दिखाते | अक्सर उनके साथ रहने वाले एक मित्र ने एक दिन उनकी इस हरकत पर अंगुली उठाते हुए कहा-‘ क्यों भाई मैं अक्सर देखता हूँ कि तुम म...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुव्यंग्य
  September 15, 2016, 10:23 am
लघुव्यंग्य – कष्ट के पीछे कोर्ट के आदेश के उपरांत नगर की ट्रैफिक पुलिस बिना हेलमेटधारी दोपहिया वाहन चालकों के प्रति हरकत में आ गई थी |उन्हें जबरिया पकड़कर कार्यवाही कराती या फिर उनके साथ चलाकर उन्हें दूकान से हेलमेट खरीदने हेतु बाध्य कर रही थी | उनकी ड्यूटी स्थल ज्यादा...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :पीछे
  September 13, 2016, 5:21 pm
लघुव्यंग्य – अंतत:शिक्षा अधिकारी ने एक स्कूल में निरीक्षण में पाया, छात्रों को दिए जाने वाला मध्यान्ह भोजन मीनू के अनुकूल नहीं दिया जा रहा है | उसने संस्था के कर्मचारियों एवं ठेके पर प्रतिदिन भोजन पकाने वाले समूह के सदस्यों को फटकारते हुए धमकाया | उनकी बातें सुनते-सुन...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :
  September 2, 2016, 8:15 pm
लघुव्यंग्य – धंधा चमन भाई को अपने धंधे में अचानक काफी नुकसान उठाना पडा |धंधे में लगी साड़ी पूंजी मटियामेट हो गयी |थोड़ा बहुत जो पास में था वह साहूकारों के कर्ज पटाने में चला गया |चमन को कुछ नहीं सूझ रहा था कि वे क्या करें ? घर की माली हालत पर तनाव भरे आंसू बहाते उन्हें जाने क्...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :
  August 28, 2016, 5:17 pm
लघुकथा –फोन टेपिंग नेताजी कई दिनों से मायूस चल रहे थे | पार्टी व आम जनता के बीच उनकी कोई खास पूछ-परख नहीं हो रही थी | एक दिन एक चमचे ने उनसे कहा-‘’ अगर यूं ही आप उपेक्षित होते रहे तो समझिये आपकी नेतागिरी का बल्ब एक दिन फ्यूज होकर रह जाएगा |’’‘’ वाही तो मै भी सोच रहा हूँ प्यारे ...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :
  July 6, 2016, 9:49 am
लघुव्यंग्य – अभीतक एक पुलिस कर्मी ने पटाखों की दुकान से पटाखा पैक कराया और बिना भुगतान किये चल दिया | उसके जाने के बाद विक्रेता बुरी गालियाँ देते हुए बोला- ‘’ इन हरामखोरों के कारण धंधा ढंग से नहीं कर सकते |’’साथ खड़े साथी ने उससे कहा-‘’ आपने बिल भुगतान करने को क्यों नहीं क...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुव्यंग्य
  May 14, 2016, 6:45 pm
लघुकथा – कला ‘’ इतनी सुन्दर पेंटिंग कहाँ से खरीदी जीजाजी ....बड़ी सुन्दर लग रही है ....जी चाहता है इसे मैं ले लूं |’’बैठक कक्ष की दीवार पर टंगे चित्र की ओर इशारा करते हुए साली ने कहा | जीजा जी का झट से जवाब था- ‘’ न..भई न ..इसे मैं किसी को नहीं दे सकता .. इसे मेरी भांजी सुषमा ने ख़ास तौर ...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :
  May 13, 2016, 4:00 pm
लघुकथा- इज्जत पिछले साल वर्मा परिवार की नौकरानी सुखिया की बेटी कल्लो ने पड़ोस के विजातीय युवक माधो से प्रेम विवाह कर लिया था | वर्मा जी ने उन्हें काफी ऊटपटांग तरीके से बुरी तरह से अपमानित करते हुए कहा था |’’ तुम गरीब लोगो को वाकई में इज्जत की ज़रा भी परवाह नहीं रहती | अरे तुम...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुकथा
  May 12, 2016, 4:15 pm
लघुकथा- सूत्र आँगन में रखी कुर्सी में धंसे नेताजी ध्यानपूर्वक देख रहे थे कि दानों के लिए चिड़िया आपस में किस तरह लड़ रही थी | वे एक दूसरे पर चोंच व पंजों से हमला कर रही थी | पास खड़े चमचे ने उनकी ध्यान-तन्द्रा तोड़ते हुए कहा-‘’ दादा , इन चिड़ियों को आप बड़े गौर से देख रहे हैं ? कोई ...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :सूत्र
  May 11, 2016, 5:41 pm
लघुकथा-डायनविधवा अहरिन गाँव की पाचवीं औरत थी , जो डायन होने के शक में गाँव की भारी पंचायत में अपमानित होने के बाद नग्न घुमाए जाने का संत्रास भुगत रही थी |इसके पहले रौबदार सरपंच राम कृपाल ने अपने अन्दर चैत की धुप - सी दहकती वासना पर सहयोग की आषाढी फुहार करने का प्रस्ताव रख...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुकथा
  May 8, 2016, 5:07 pm
लघुव्यंग्य   - पानी और ....?जिले की स्वच्छता अभियान से जुडी एक अधिकारी  महोदया सुबह-सुबह एक गाँव की तरफ भ्रमण को निकली | देखा पूरा गाँव शौच के लिए मैदान की तरफ बढ़ रहा है | उन्होंने एक रोका |कहा- ‘’क्यों मिस्टर..! क्या घर में टायलेट नहीं है  ? पंचायत सचिव ने निर्माण नहीं करा...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुव्यंग्य
  May 8, 2016, 11:44 am
लघुकथा  -प्रतिष्ठा ‘’ सरकारी स्कूल....! हूं....!मैं तो भूलकर भी तुम्हारी तरह अपने बच्चों का एडमिशन किसी सरकारी स्कूल में नहीं करा सकती |’’ शीला ने नाक-भौं सिकोड़ते हुए अपनी सहेली से कहा |‘’ पर शीला एक बार ज़रा उस स्कूल के रिजल्ट की तरफ भी तो देखो...| बोर्ड परीक्षा में पांच छात्रो...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुकथा
  May 7, 2016, 6:21 pm
लघुकथा  -बल्कि वह शादी के दस साल बाद मां बनने जा रही थी | पड़ोसनों ने उससे से कहा –‘’ अगर लड़की हुई तो क्या करोगी ...|वैसे भी आजकल लड़की का जन्म होना माता-पिता के सिर पर पहाड़ टूटने के समान है |’’‘’लड़की हो या लड़का......हमें तो संतान होने से मतलब है |’’ उसने सहजता से उत्तर दिया |‘’ शायद ...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुकथा
  May 6, 2016, 5:02 pm
लघुकथा  – फर्ज रेशमा और पिताजी के बीच सुबह-सुबह ही काफी बहस हो गई थी | पिताजी के बाजार चले जाने के बाद मां ने रेशमा को समझाने के अंदाज में डांटते हुए कहा- ‘’ रेशमा तुझे कितनी बार समझाया कि अपने पापा से जुबान मत लड़ाया कर | पर तू मानने से रही | मैं देख रही हूँ कि तमीज के नाम पर त...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुकथा
  May 4, 2016, 4:36 pm
लघुव्यंग्य – बाजार मूल्य रमिया अपनी मां के साथ उसी डाक्टर के पास दूसरी बार गर्भपात कराने पहुंची तो डाक्टर से रहा नहीं गया | ‘’ इस तरह कब तक इसका गर्भपात कराकर इज्जत बचाती रहोगी .....इससे अच्छा इसकी शादी क्यों नहीं कर देती |’’ उसने रमिया की मां को सलाह देते हुए कहा |‘’ दक्ताए...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुव्यंग्य
  May 3, 2016, 5:06 pm
लघुव्यंग्य – पैसा बिजली संकट चल रहा था |पत्नी कई दिनी से जिद कर रही थी  | इनवर्टर खरीद लाओ | लेकिन ठंडी  सिकुड़ी जेब के कारण हर माह मिलाने वाले वेतन के दौर में भी मैं सोच कर रह जाता |एक दिन पत्नी मुझसे से कहा-‘’ बाबूजी के लिए हर माह सात-आठ रुपये की दवाएं तो आती होगीं |’’‘’हाँ ...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुव्यंग्य
  May 2, 2016, 6:16 pm
लघुव्यंग्य – रिकार्ड्स सापों के बीच एक युवक ने चार सौ दिन रहने का रिकार्ड बनाया | पढ़कर खबर वे बोले –‘’ जवानी से बुढापा आ गया हम तो रोज ही आस्तीन में सांप पाले फिर रहे फिर जाने क्यों ... इन ... बुक ऑफ़ रिकार्ड्स वाले हमसे नजर फिराए औरों को ढूंढ रहे हैं |  सुनील कुमार ‘’सजल’’...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :
  May 1, 2016, 8:00 pm
लघुव्यंग्य 01-   भ्रष्ट क्यों ?कसबे की किसी शासकीय शाला में शिक्षकों द्वारा अवैध वसूली की जा रही थी |जो चर्चा का विषय बनी हुई थी |  एक शाम चाय की दूकान में बैठा एक पालक उसी शाला के शिक्षक से कटु शब्दों में कहा –आज के शिक्षक ,शिक्षक नहीं रहे नंबर एक के भ्रष्ट |जब चाहा कभी इ...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुव्यंग्य
  May 1, 2016, 7:55 pm
लघुकथा – आखिर उनके तम्बाखू  खाकर थूकने की आदत पर उंगली उठाते हुए ये बोले –‘’ क्या यार अभी साफ़ – सुथरा किया और तुमने आँगन में पिच्च से थूक दिया .... कम से कम साफ़-सुथरी जगह पर गन्दगी फैलाने पर बाज आया करो |’’‘’ का ... बोले ..हम गन्दगी फैलाते हैं.... अरे भई हमारे पार्टी के मंत्री आदव...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुकथा
  April 16, 2016, 6:04 pm
लघुकथा – परिभाषा दोनों एक पत्रिका में छपी किसी महिला मॉडल की नग्न तस्वीर देखकर खुश हो रहे थे |तभी जंगलों में रहने वाली एक नौजवान आदिवासी युवती अर्ध्दनग्न पोशाक में सर पर लकड़ी का गट्ठर उठाए वहां से गुजारी |उसे देखते ही राकेश बोला ,’’ अबे उस औरत को देख! क्या चीज है अरे , उसके...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :लघुकथा
  April 15, 2016, 4:40 pm
लघुकथा – शान्ति चिकित्सकों द्वारा मरीज को बचाने के सारे प्रयास विफल होते नजर आने लगे तो एक डाक्टर ने आकर मरीज के बेटे से कहा ,- ‘’ अब तो आपके पिताजी को भगवान ही बचा सकते हैं | हमारे सारे प्रयास विफल होते नजर आ रहे हैं , इसलिए आप अब भगवान से ही विनती कीजिए | शायद उनकी कृपा से...|’...
...Sochtaa hoon......! ...
Tag :शांति
  April 14, 2016, 5:26 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163595)