Hamarivani.com

पलक

०१मुस्कान तेरी,जीवन की नईया,है खेवईया।        ०२खिलखिलाना,तेरा  मृदुल वाणी,मुस्कान मेरा।      ०३सदाबहार,बने रहे मुस्कान,मन हर्षित।...
पलक...
Tag :
  March 23, 2015, 4:45 pm
यहाँ दूसरों को ना लाओ भाई।पूछेगा अपने सारा लोग भाई।यह वही जगह है सवँरती थी हँसकर,वह मेरे नयनों में रहती थी धँसकर,आँखें उस पर रह जाती थी फँसकर,लहराते थे, घुघराले काले बाल भाई।उसकी हँसीं बहुत ही कुछ कहती थी,फिर भी अपने में सदा मग्न रहती थीं,खुशियाँ बहुत अपने मन में रखती थी,...
पलक...
Tag :
  March 9, 2015, 5:46 am
अकेले   बैठे  हैं,  सोच रहे हैं ।सब  कुछ  है ,  धुप ले रहे हैं ।         प्रकृति के गोद में।।पिला-सफेद,सब देख रहे है ।सरसों फुली है,मटर फुली है।          प्रकृति के गोद में।। फसल उगा है,  हरी  भरी  कलियाँ। सबको सुख देती,हवाओं का बहना।  &...
पलक...
Tag :
  February 13, 2015, 3:49 pm
नव वर्ष "~~~~~~~~~~~~( ज०न०वि०-२जपला पलामू झारखंड  )*संस्मरण *------------------------------------------------                आज भी मेरा ख्याल है किअगर आप ज०न०वि०-२जपला पलामू आप जायें तो और वहाँ पुछे तो कि नया साल  कैसे  मनाया जाता है तो जरूर कुछ बच्चे दो  चार कहानी सुना ही देगे।नव वर्...
पलक...
Tag :
  February 12, 2015, 2:35 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3685) कुल पोस्ट (167967)