POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: गुल्लक ( Gullak )

Blogger: Umesh Pant
यहां रहने वाले किरायेदार ने अपना घर शिफ्ट कर लिया है… नया पता है – http://umeshpant.com/Filed under: Uncategorized... Read more
clicks 142 View   Vote 0 Like   6:40pm 2 Jul 2014 #
Blogger: Umesh Pant
एक दिन अचानक नीद से जागा एक सोया हुआ शब्द लेने लगा तेज़ तेज़ सासें और बिखरने लगे हवा में कई डरे हुए अक्षर उसने अभी अभी देखा था एक सपना जिसमें एक जंग खाती अल्मारी में बंद थी कई … Continue reading →... Read more
clicks 149 View   Vote 0 Like   12:27pm 24 Jun 2014 #Uncategorized
Blogger: Umesh Pant
Mumbai Diary (23  Jun 2014) तकरीबन साड़े तीन महीने बाद मुम्बई लौटा हूं। दिल्ली की लू के बनिस्पत मुम्बई की ठन्डी हवाएं राहत देने वाली हैं। ये इस शहर के और खूबसूरत हो जाने के शुरुआती दिन हैं। दिन में … Continue reading →... Read more
clicks 197 View   Vote 0 Like   6:11am 23 Jun 2014 #Mumbai diary
Blogger: Umesh Pant
Mumbai Diary  15 ( Jun 2012 ) मुम्बई में हूं और खफा हूं। खफा हूं कि देश की आर्थिक राजधानी में बैठा देश के नैतिक दिवालियेपन का शिकार हो रहा हूं। देश के राजनैतिक खोखलेपन का हिस्सा बन रहा हूं। … Continue reading →... Read more
clicks 193 View   Vote 0 Like   4:15am 21 Jun 2014 #
Blogger: Umesh Pant
  Delhi Diary ( Jun 2014)                                                                                      Feeling: IRCTC sucks ये असम्भव सा काम आज बस होने ही वाला था। जिस काम के लिये पिछले हफते भर से तरह तरह के जुगाड़ काम ना आये उस काम को आज मैं घर … Continue reading →... Read more
clicks 140 View   Vote 0 Like   7:11am 17 Jun 2014 #Delhi Diary
Blogger: Umesh Pant
Mumbai Diary : 14 (Mumbai Film Festival 2012) पिछले पांच दिनों से मुम्बई के पांच अलग अलग थियेटरों का पीछा किया है। हर थियेटर जैसे एक ट्रेन सा हो और फिल्म शुरु होने का वक्त जैसे किसी सफर के शुरु … Continue reading →... Read more
clicks 126 View   Vote 0 Like   7:02am 15 Jun 2014 #फिल्म फेस्टिवेल
Blogger: Umesh Pant
Mumbai Diary 13 (Mumbai Film Festival 2012) एक और दिन मुम्बई फिल्म फेस्टिवल के नाम रहा। शुरुआत खराब थी। इतवार की सुबह सुबह सायान के सिनेमेक्स सिनेमाहौल में औडिटोरियम के बाहर 12 बजकर 45 मिनट पर लगने वाली फिल्म गॉड्स … Continue reading →... Read more
clicks 230 View   Vote 0 Like   7:55am 10 Jun 2014 #Mumbai diary
Blogger: Umesh Pant
Mumbai Diary : 12 (मुम्बई फिल्म फेस्टिवल 2012) सुबह सुबह नीद खुली तो देर हो चुकी थी। साढ़े नौ बज चुके थे। रात को सोते वक्त सोचा था कि मुम्बई फिल्म फेस्टिवल के दूसरे दिन की पहली फिल्म से शुरुआत … Continue reading →... Read more
clicks 138 View   Vote 0 Like   5:21am 8 Jun 2014 #Mumbai diary
Blogger: Umesh Pant
Mumbai Diary : 11 (October 2012) गणपति बप्पा ने अलविदा कह दिया है। गणेश के इस बड़े उत्सव को देखकर लगता है कि मुम्बई में लोग मस्त रहना जानते हैं। गणेश उत्सव के तुरन्त बाद ही निर्देशक उमेश शुक्ला की … Continue reading →... Read more
clicks 144 View   Vote 0 Like   9:28am 4 Jun 2014 #
Blogger: Umesh Pant
Mumbai Diary 10 डोंगरी टु दुबई का बुक लांच था। बेंड्रा की कार्टर रोड में समुद्री किनारे के पास औलिव नाम का वो बार। और उस बार का एक छोटा सा अहाता जिसके फर्श पर नदियों के किनारे पाये जाने … Continue reading →... Read more
clicks 139 View   Vote 0 Like   10:24am 3 Jun 2014 #Mumbai diary
Blogger: Umesh Pant
Mumbai Diary 9 अभी अभी कांजुरमार्ग स्टेशन के पास पूरब से पश्चिम की ओर जाने वाले पुल पे कुछ वक्त बिताया। वक्त के साथ साथ पुल के ठीक नीचे बीतती रेलगाडि़यां थी जो अलग अलग ट्रेक पर अपनी अपनी गति … Continue reading →... Read more
clicks 159 View   Vote 0 Like   5:57am 31 May 2014 #Mumbai diary
Blogger: Umesh Pant
Mumbai Diary 8 ( April 2012) मुम्बई पे छतें सरों से कोई खास सरोकार नहीं रखती। अपने अनुभव देखकर तो यही लगता है। व्यक्तिगत अनुभवों से शुरु करुं तो जुम्मा जुम्मा एक साल और कुछ महीने हुए हैं यहां आये … Continue reading →... Read more
clicks 150 View   Vote 0 Like   4:00am 30 May 2014 #
Blogger: Umesh Pant
Mumbai Diary 7 ( February 2012) मुम्बई और मेरे रिश्ते की उम्र आज एक साल एक महीना और कुछ 7 दिन हो चुकी है… ये शहर मेरे लिये अब उतना अजनबी नहीं रह गया है…. जैसे जैसे अजनबियत खत्म होने … Continue reading →... Read more
clicks 142 View   Vote 0 Like   6:09am 28 May 2014 #Mumbai diary
Blogger: Umesh Pant
ये हर चीज़ बिकने के बाज़ार ज़ालिम ये सौदे, ये उनके खरीददार ज़ालिम बस इक चीज़ पर टिक गई है जो दुनिया यूं अनजाने में बिकता संसार ज़ालिम ऐसा नहीं हो तो कितना सही हो ये कागज़ जो सब कुछ … Continue reading →... Read more
clicks 134 View   Vote 0 Like   4:20pm 27 May 2014 #
Blogger: Umesh Pant
Mumbai Diary :6 ( October 2011) देर शाम अंधेरी वैस्ट के रिहायशी इलाके मलाड की एक मीटिंग से लौटते हुए ओशीवारा के लोटस पैट्रोल पंप से गुजरने के दरमियान कुछ यूं होता है…..सड़क पर सरकती रफतार के बीच अचानक एक … Continue reading →... Read more
clicks 138 View   Vote 0 Like   9:21am 26 May 2014 #Gullak
Blogger: Umesh Pant
इस बार अपने गांव चिटगल गया , काफी वक्त हो गया था वहां गए हुए. चिटगल, उत्तराखंड में गंगोलीहाट नाम की एक खूबसूरत सीमान्त तहसील का एक बेहद खूबसूरत गाँव है. पर उस ख़ूबसूरती को संवारने के लिए, उसे महसूस … Continue reading →... Read more
clicks 161 View   Vote 0 Like   6:24am 24 May 2014 #Uncategorized
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post