POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: मुहम्मद ज़करिया खान

Blogger: Muhammad Zakariya khan
लीजिए मोदी राज का नया चमत्कार देखिए, मोदी सरकार ने फैसला किया है कि भारतीय ब्यूरोक्रेसी की सबसे अहम नियुक्तिया अब निजी क्षेत्र से की जाएंगी. डिप्टी सेक्रेटरी, डायरेक्टर लेवल के 60 फीसदी पोस्ट अब प्राइवेट सेक्टर से भरी जाएगी . वरिष्ठ आईएसएस अधिकारी अब इनके मातहत काम करे... Read more
clicks 10 View   Vote 0 Like   2:37pm 12 Jun 2019 #Modi government
Blogger: Muhammad Zakariya khan
बचपन उम्र से तय होता है। बचपना कई सवालों की खोज होता है। मनोविज्ञान हमेशा ‘तलाश’ शब्द के इर्द गिर्द घूमती है। जो चीजें समझ नहीं आती बचपन उसके पीछे बेतरतीब हो कर भागता है। एक जवाब ढूंढते ही दूसरे सवाल के जवाब की तलाश में बचपना खोया रहता है। हामिद एक ऐसे कश्मीरी बच्चे की ... Read more
clicks 11 View   Vote 0 Like   1:21pm 12 Jun 2019 #aijaz khan
Blogger: Muhammad Zakariya khan
अगर राम आपके आदर्श हैं तो उनके नाम का इस्तेमाल आप किसी को चिढ़ाने, उकसाने के लिए कैसे कर लेते हैं? अगर आप उनमें श्रद्धा रखते हैं तो उनका नाम इतने हल्के में इस्तेमाल कैसे कर पा रहे हैं? ‘जय श्री राम’ के नारे से किसी को आपत्ति नहीं बशर्ते आप अपनी श्रद्धा से यह नारा लगा रहे हो... Read more
clicks 10 View   Vote 0 Like   12:06pm 3 Jun 2019 #राम
Blogger: Muhammad Zakariya khan
लखनऊ/मुज़फ्फ़रनगर, 27 मई 2019: खतौली मुज़फ्फरनगर के शहजाद को सहारनपुर में पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने पर परिजनों द्वारा सवाल उठाने के बाद रिहाई मंच के प्रतिनिधिमंडल ने मुलाक़ात की। प्रतिनिधिमंडल में रविश आलम, आशू चौधरी, इंजीनियर उस्मान, आश मुहम्मद, अमीर अहमद, आरिश त्यागी और सा... Read more
clicks 11 View   Vote 0 Like   7:02am 3 Jun 2019 #farzi encounter
Blogger: Muhammad Zakariya khan
क्या आपने गुजरात का वह वायरल वीडियो देखा है, जिसमें गुजरात के नरोदा से भाजपा विधायक बलराम थवानी और उनके समर्थक एक महिला की पिटाई कर रहे हैं. सोशल मीडिया में यह वीडियो जमकर वायरल हो रहा है. वीडियो में देखा जा सकता है, कि एक महिला को किस तरह से पीटा जा रहा है, और लोग कुछ कर नही... Read more
clicks 10 View   Vote 0 Like   6:18am 3 Jun 2019 #balram thawani
Blogger: Muhammad Zakariya khan
ओपी रावत देश के पूर्व मुख्य निर्वाचन आयुक्त रह चुके हैं। उन्होंने अपने एक बयान में कहा है कि, ” प्रथम दृष्ट्या यह एक गंभीर मामला लगता है। मुझे यह याद नही कि पहले कभी ऐसा प्रकरण ( कि मतगणना में पड़े हुए मतपत्रों और डाले गए वोटों में कोई अंतर ) मेरे कार्यकाल में आयोग के संज्... Read more
clicks 5 View   Vote 0 Like   6:09pm 2 Jun 2019 #चुनाव आयोग
Blogger: Muhammad Zakariya khan
साबुन और शैंपू में झाग की आवश्यकता नहीं होती। लेकिन इसके बावजूद प्रोडक्ट निर्माता साबुन और शैंपू में ऐसे रसायन मिलाते हैं जिससे झाग बने, क्योंकि लोग जब नहाते और बाल धोते हैं तब उन्हें झाग निकलने की उम्मीद होती है। ये उम्मीद उनके अवचेतन में विज्ञापनों के माध्यम से बैठ... Read more
clicks 7 View   Vote 0 Like   6:54pm 28 May 2019 #abrar multani
Blogger: Muhammad Zakariya khan
23 मई की देर शाम तक लोकसभा चुनाव 2019 के लगभग सभी नतीजे आ गए थे और भाजपा को पूर्ण बहुमत मिल चुका था। 24 मई की सुबह, अपेक्षाकृत शांत और फुसफुसाहट भरी थी। हालांकि एक्जिट पोल ने नतीजों का संकेत दे दिया था, फिर भी अधिकांश लोगों के लिये यह नतीजे अप्रत्याशित रहे। अब एक नयी सरकार 30 मई क... Read more
clicks 7 View   Vote 0 Like   1:33am 28 May 2019 #nationalism
Blogger: Muhammad Zakariya khan
मैं अक्सर कार्टून ढूंढता हूँ और उसे सोशल मीडिया पर मित्रों के लिये  साझा करता रहता हूँ। कार्टून सबसे मारक सम्प्रेषण हैं। नावक के तीर से भी अधिक मारक। एक अच्छा और संवेदनशील कार्टूनिस्ट बिना किसी टेक्स्ट के ही सब कुछ कह देता है और ग़ालिब का कालजयी शेर याद आ जाता है, वही ती... Read more
clicks 6 View   Vote 0 Like   1:18am 28 May 2019 #payal rohtagi
Blogger: Muhammad Zakariya khan
27 मई 1964 के दिन जवाहर लाल नेहरू की मृत्यु हो गयी थी. संसद में भारतीय जनसंघ के नौजवान नेता ,अटल बिहारी वाजपेयी ने 29 मई, 1964 को संसद में उन्हें श्रद्धांजलि दी .उनका भाषण प्रस्तुत है: यह भाषण संसद के रिकार्ड का हिस्सा है. राज्यसभा की 29 मई 1964 की कार्यवाही में छपा है . महोदय, एक सपना था ... Read more
clicks 6 View   Vote 0 Like   9:36am 27 May 2019 #atal bihari vajpeyi
Blogger: Muhammad Zakariya khan
अपना जुक्कू (मार्क जुकरबर्ग) क्या दिमाग और टीम रखा है,भाई ! दाद देना पडेगा ! बोले तो पीठ थपथपा कर शाबाश कहना चाहिये। मगर जुक्कू व्यस्त बहुत है। आजकल फेसबुक का होमपेज पे नये-नये फीचर आये हैं। ब्राऊज़ बटन जो अभी-अभी एड की गयी है नज़र से गुज़री, सोचा ऑरकुट का ज़माना भी याद कर लिया ज... Read more
clicks 217 View   Vote 0 Like   6:21am 31 Mar 2014 #
Blogger: Muhammad Zakariya khan
मामला कुछ ऐसा ही है,गुजरात नरसंहार के बाद से ही प्राशसनिक सपोर्ट मोदी को मिलता रहा है। गृह,रक्षा और न्यायपालिका मे मोदी के द्वारा किये गये नरसंहार से उसके समर्थकों का एक बडा वर्ग तैयार हुआ। असल मे मोदी को कुछ उसी तरह के लोग पसंद करते हैं,जो देश के मुस्लिम समाज को किसी दू... Read more
clicks 206 View   Vote 0 Like   11:36am 26 Mar 2014 #
Blogger: Muhammad Zakariya khan
“कि यारों हम इस धरती को न टूटने देंगे ।कि क़ातिल को गद्दी मे न बैठने देंगे।।ki Yaaro ham is dharti ko na Tootne na Denge.ki Qaatil ko Gaddi me na Baithne Denge. बापू का देश है ये, आज़ाद का मुल्क है ये।कि अब हम,और इसे टूटने न देंगे॥Bapu ka desh hai ye,Azad ka mulk hai ye.ki Ab ham Aur is mulk ko Tootne na denge. देखी थीं लाशें हमने, सालों पहले यहाँ पर।वोह लाशें अब हम, और बिछ... Read more
clicks 215 View   Vote 0 Like   11:40am 25 Mar 2014 #
Blogger: Muhammad Zakariya khan
संदिग्धों को आतंकवादी कह कर सम्बोधित किया और क्या वाहियात वजह बताई कि “मकान मालिक के सामने क़ुरान पढते थे” और हेडिंग मे भी उसका उपयोग । वाह रे वाह, शर्म करो संघ भास्कर और ज़ी संघ टीवी वालों । क्या साबित करना चाहते थे,कि क़ुरान आतंकवाद की शिक्षा देता है । थोडा अकल लगा लेत... Read more
clicks 282 View   Vote 0 Like   4:23am 24 Mar 2014 #
Blogger: Muhammad Zakariya khan
{पेश है, मेरा लेख “संघ का षडयंत्र” का अगला भाग “संघ का षडयंत्र (1947-1999)} देश आज़ाद हुआ, मुल्क जश्न मना रहा थ, और ये देश का झंडा जला रहे थे। सरज़मीन-ए-हिंद के खिलाफ एक साज़िश की शुरूआत कर चुके थे वोह। एक लम्बी फौज इस काम को अंजाम दे रही थी? वोह सिसटम के अंदर घुसे, बाद मे वोह एक खास प... Read more
clicks 208 View   Vote 0 Like   4:28am 14 Mar 2014 #
Blogger: Muhammad Zakariya khan
आज पेपर पढ रहा था, हंसी नही रोक पाया देश के स्वघोषित अर्थशास्त्री, विशुद्ध दवा व्यापारी रामदेव बाबा अपने व्यापारिक गुण का उपयोग भाजपा से सीट के सौदेबाजी मे कर रहे थे। छोटू बोल रहा था आखिर जो तीस सीट्स रामदेव बाबा मांग रहे हैं,कहीं ये उन झूठ के पुलिंदे के बदले मे तो नही, ज... Read more
clicks 156 View   Vote 0 Like   4:34pm 13 Mar 2014 #
Blogger: Muhammad Zakariya khan
भाईसाब बडा विरोध हुआ था, बोल रहे थे ईस्टइण्डिया कम्पनी का दौर वापस आ जायेगा । अब इन लोगों को देखो , विरोध करने वाले ही एफडीआई की बात कर रहे हैं! जब यू.पी.ए. नीत केंद्र सरकार ने एफडीआई लाने की तैयारी की तो इसका विरोध हुआ था, संसद नही चलने दी गयी। संसद के न चलने देने से विदेशी नि... Read more
clicks 220 View   Vote 0 Like   3:50am 28 Feb 2014 #राजनीति
Blogger: Muhammad Zakariya khan
राष्ट्र को समर्पित मेरी ये कविता:-“राजनीति की सांस में.वोह इस क़दरतप गया, रच गया..सौहार्द को छोड़कर, राष्ट्रवाद की चादर ओढ़कर,वोह छुप गया, गुम गया.संगठन है,है एक ऐसा शैतान है,जो देश को, समाज को निगल गया, डकर गया.छल से ,कपट से ,उसने अपनी बात कोफैला दिया, बिठा दिया.हत्याओं का, ऐसा ज... Read more
clicks 235 View   Vote 0 Like   10:16am 27 Feb 2014 #राष्ट्रवाद
Blogger: Muhammad Zakariya khan
बात मर्दानगी की करते हैं, छप्पन इंच की छाती का दावा भी करते हैं। मगर मासूमों के क़ातिल भी हैं, लोकतंत्र के विनाशक भी हैं। इतने बडे घपलेबाज़ हैं कि डर के मारे लोकायुक्त से खुद को मुक्त रखा। इस मुक्ति मे एक युक्ति ये भी है कि जहाँ दस आरटीआई कमिश्नरों की नियुक्ति होना चाहिये, ... Read more
clicks 196 View   Vote 0 Like   7:43am 27 Feb 2014 #नपुंसक
Blogger: Muhammad Zakariya khan
-दर्द खत्म करने के लिए घमंड खत्म करना होगा। -राजनीति में गुस्से, घमंड की जगह नहीं है। क्योंकि हमारे अंदर गुस्सा है, घमंड है तो हम कभी किसी की बात नहीं समझेंगे।-जून महीने में यहां आपदा आई, मैं यहां आया तो शांति से आया और आपके बीच गया। तब दुनिया ने उत्तराखंड की ताकत देखी। यह... Read more
clicks 232 View   Vote 0 Like   2:52pm 23 Feb 2014 #
Blogger: Muhammad Zakariya khan
धर्मनिर्पेक्ष बनने का नाटक करना आसान है, और धर्मनिर्पेक्ष होना बहुत मुशकिल है। मौका परस्ती के हिसाब से गिरगट रंग बदलता है,मगर जब इंसान ये सब करने लगें तो उन इंसानों को ढोंगी कहा जाता है। वोट फोर ईण्डिया का नारा दे रहे थे साहेब । मगर पूर्वोत्तर मे हेड्गेवार वाला रंग लेक... Read more
clicks 217 View   Vote 0 Like   11:36am 22 Feb 2014 #देश और दुनिया
Blogger: Muhammad Zakariya khan
बहस चल रही थी जनाब , ज़ी-टीवी पर ! टॉपिक और बहस दोनो पर ज़मीन और आसमान का फासला था। कह रहे थे मुस्लिमों को आरक्षण देना संविधान के विरुद्ध है। जबकि बहस का विषय #अल्पसंखयक आरक्षण था। और उनकी नज़र मे ये धार्मिक आधार पर दिया जा रहा है। फिर कुछ लोग कह रहे थे कि आर्थिक आधार पर दिया जा... Read more
clicks 223 View   Vote 0 Like   3:24am 21 Feb 2014 #राजनीति
Blogger: Muhammad Zakariya khan
देश की राजधानी दिल्ली और जगह थी होटल रेडिसन ब्लू (Hotel Reddison Blue), मौका था कांग्रेस की एक पहल “अ बिलियन आईडियाज़” (A billion Ideas) के बैनर तले आयोजित ब्लॉगर्स मीट (Bloggers Meet) का ! सभी आमंत्रित मित्र चयनित विषयों पर अपने-अपने आइडियाज़ पेश कर रहे थे। प्रथम सत्र मे मैंने “शिक्षा के केंद्रीयकर... Read more
clicks 252 View   Vote 0 Like   8:13am 20 Feb 2014 #शिक्षा
Blogger: Muhammad Zakariya khan
विरोध और हल्ले की राजनीति करने वाले जिनका कभी देश के विकास से नाता नही रहा, आज खुद को सबसे बडे प्रगतिवादी बताने की कोशिश करते हैं। मगर इतिहास गवाह है कि जब-जब देशहित मे संसद मे कोई बिल लाया गया, जिसके पास होने पर देश को एक नयी दिशा मिली, हर उस बिल का इन संघियों ने विरोध किया... Read more
clicks 145 View   Vote 0 Like   3:43am 12 Feb 2014 #देश और दुनिया
Blogger: Muhammad Zakariya khan
{यह लेख संघ का षडयंत्र का पहला भाग है, अगला भाग (1947-1999) होगा। कृपया इसे पूरा पढें और सार्थक कमेंट करें। गालियों का उपयोग न करें उससे आपकी परवरिश की पहचान हो जाती है! } 1905 में 16 अक्टूबर को भारत के तत्कालीन वायसराय लार्ड कर्जन द्वारा बंगाल का विभाजन किया गया था। बंगाल विभाजन तो ... Read more
clicks 168 View   Vote 0 Like   10:58am 11 Feb 2014 #इतिहास
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post