POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: हलन्त

clicks 27 View   Vote 0 Like   7:31am 17 Apr 2018 #
Blogger: हलन्त
किसान के घर जन्म लिया है तो एक बार ज़रूर पढ़े_ ​एक किसान की मन की बात​:- कहते हैं.. इन्सान सपना देखता है तो वो ज़रूर पूरा होता है. मगर किसान के सपने कभी पूरे नहीं होते। बड़े अरमान और कड़ी मेहनत से फसल तैयार करता है, और जब तैयार हुई फसल को बेचने मंडी जाता है। बड़ा खुश होते हुए ... Read more
clicks 26 View   Vote 0 Like   6:23am 10 Apr 2018 #
Blogger: हलन्त
  मोदी का विजय रथ दिग्विजय पर है। इसका श्रेय भाजपा के मातृ संगठन संघ को तो है पर मोदी के अपने व्यक्तित्व का इसमें बहुत बड़ा योगदान है। मोदी को विपक्ष और वामपंथी जितना गरिया रहे हैं, उतना ही मोदी का मुकुट चमक रहा है। सोशल मीडिया में मोदी के आलोचक भी वही गलती कर रहे हैं जो ... Read more
clicks 30 View   Vote 0 Like   6:07am 10 Apr 2018 #
Blogger: हलन्त
ज्योतिर्मठ तक पहुंचे अपराधी …..शाक्त ध्यानीपिछले दिनों जिस तरह बद्रीशधाम के रावल का नाम छेड़खानी प्रकरण में उछाला गया, वह हतप्रभ करने वाला है। बद्रीनाथ से गर्भनाल जुड़ी हाने के कारण विशेष रूप से उत्तराखण्ड का पुरोहित समाज इस घटना से आहत है। यह मामला एक पुजारी की गरिमा... Read more
clicks 201 View   Vote 0 Like   11:35am 17 Feb 2014 #
clicks 152 View   Vote 0 Like   11:56am 5 Feb 2014 #
clicks 158 View   Vote 0 Like   7:58am 16 Aug 2013 #
Blogger: हलन्त
गोरी सुने बंगले से, कंगलों का शोर,आर-पार मौसेरे, कौन? पकड़ेगा चोर। इज्जत हुई तार-तार, कोयला नहीं ब्लैक,ब्लेक हुआ तिरंगा! जी, सिर्फ नहीं फ्लैग। आपस में मुंह बजाते, औ’ बोल हुये नीमकोई तो ढ़ूंढ़ो रे! संविधान में हकीम। जिस थाली में खावें, उसी में करते छेदहंसी उड़ावें देश की, नेता कर... Read more
clicks 140 View   Vote 0 Like   7:54am 16 Aug 2013 #
Blogger: हलन्त
त्रासदियों के स्नेह निमंत्रण . डाॅ. प्रीतम अपछ्यांणउत्तराखंड के पूर्व से पश्चिम तक फैली प्राकृतिक आपदा में काल कवलित व जड़हीन हो चुके सभी मनुष्यों के लिए अश्रुपूरित श्रद्धांजली। बाबा केदार व ‘गंगाओं’ के कोप से बच गए हम लोग यदि इस वक्त भी संवेदनहीन हो गए तो यह दूसरी त्र... Read more
clicks 155 View   Vote 0 Like   7:42am 16 Aug 2013 #
Blogger: हलन्त
त्रासदी के बाद . डा0 अ0 कीर्तिबर्द्धनकब मौसम ने घात दी, कब बरसी बरसातजितनी भी लाशें दिखीं,सब किस्मत की बातअपने गुनाहों का दोष, बादलों को न दीजिये,नदियों के रास्ते में रूकावट न कीजिये।अपने स्वार्थ में काटकर वन-वृक्ष सारे,पर्वतों के तन को नंगा न कीजिये। ... Read more
clicks 155 View   Vote 0 Like   7:40am 16 Aug 2013 #
Blogger: हलन्त
केदारनाथ त्रासदीः-बड़ा हो रहा है दुश्वारियों का पहाड़ . बिपिन सेमवालहिमालयी सुनामी का ऐसा कहर बरपा कि, केदारघाटी में अभी तक जिंदगी पटरी पर नहीं लौटी है। त्रासदी को एक माह से ज्यादा का समय बीत गया है, लेकिन फिलहाल केदारघाटी मंे सामान्य स्थिति बहाल होने की संभावना दूर-दूर ... Read more
clicks 165 View   Vote 0 Like   7:27am 16 Aug 2013 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post