Hamarivani.com

जिया लागे न ...

बैठी है रूठकर वो इस कदर,के जैसे कोई मनाने वाला ही नहींआँखों में उसकी ऐसा नशा,के जैसे शराब में भी नहीं...!रूखसार उसके ऐसे गुलाबी,के जैसे हो कली गुलाब कीलब उसके ऐसे छलकाए ज़ाम,के न हो कोई मयकदे की महफिले-आमकैसे करूँ  बयां...!मेरा हाल-ए-दिल,उस ज़ालिम से "ऐ जिया"जो बैठी है रूठकर,इ...
जिया लागे न ... ...
Tag :manana
  July 31, 2013, 12:06 am
जाने क्यूँ रूठा है आज,मुझसे मेरा माहीक्या खता हो गई आज,मुझसे कोईजो बिन बोले ही,सब बयां कर रहा हैमेरा माही...के गर ख़ता हो गई मुझसे कोई,तो माफ़ कर देनाओ मेरे माही !के तेरे बिन अब कुछ नहीं,सब कुछ अब तू ही हैमेरे माही...बिन किए तुझसे बातें,दिल मेरा अब लगता नहींजाने कौन सी खता हो ग...
जिया लागे न ... ...
Tag :बयां
  July 23, 2013, 11:42 pm
होती है शाम जब,यूँ ही उदास हो जाता है मेरा मन...जाने क्यों रह - रह कर,मुझको सताता है मेरा मन...वो कौन है जिसके ख्यालों में,डूबा रहता है मेरा मन...हर जगह, हर पल,उसे ही खोजा करता है मेरा मन...जाने कब आएगी वो घड़ीजब होगा उसका और,मेरा मिलन...मुझे तड़पाने वाली,रातों में जगाने वालीजिया...!...
जिया लागे न ... ...
Tag :mera mann
  June 27, 2013, 11:16 pm
अब के सावन आ रही  है तेरी याद,जाने क्यों पागल कर देती है तेरी याद, रोके न रूकती है तेरी याद, के दिल चाहता है, मिलूँ मैं तुझसे,अब के सावन में...पर डर लगता है अपने आप से,के कोई गुनाह न हो जाए कहीं मुझसे, अब के सावन में ...लगी है आगमेरे मन में, तुझसे मिलने की,के शायद तुझे भी हो...
जिया लागे न ... ...
Tag :barish
  June 26, 2013, 1:06 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163576)